Video

Page Views

  • Last day : 8796
  • Last 7 days : 47106
  • Last 30 days : 63782

राजनीति

भोपाल। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि ऑनलाइन माध्यम से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का प्रसार करना हमारा लक्ष्य है। इसके लिये यथा संभव प्रयास किये जाएं। मंत्री डॉ. यादव सोमवार को स्नातक स्तर पर वीडियो व्याख्यान के निर्माण हेतु उच्च शिक्षा विभाग, द्वारा आयोजित ऑनलाइन फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के छठवें बैच का विधिवत शुभारंभ कर रहे थे। मंत्री डॉ. मोहन यादव ने वर्तमान परिस्थिति में ऑनलाइन अध्ययन की आवश्यकता पर बल देते हुए विभाग द्वारा चलाए जा रहे ऑनलाइन कार्यक्रम की सराहना की। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन माध्यम से भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा हमारे विद्यार्थियों तक पहुँचाने के लिए यथा संभव प्रयास किए जाएं। उन्होंने एफडीपी के सफल संचालन के लिए आयोजन समिति को भी बधाई दी।प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा अनुपम राजन ने नई शिक्षा नीति का जिक्र करते हुए कहा कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा हमारी प्राथमिकता है और ऑनलाइन माध्यम में भी इसका विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग ने ओपन बुक से लेकर वीडियो व्याख्यान तक कई अभिनव पहल की हैं, जो विद्यार्थियों के लिए मील का पत्थर साबित होंगी। विभाग की ओपन बुक प्रणाली को अन्य राज्यों ने सराहा एवं अपनाया है।अपर आयुक्त चंद्रशेखर वालिंबे ने पिछले पाँच एफडीपी की उल्लेखनीय उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी और बताया कि यह एफडीपी पूर्णत: विभाग द्वारा संचालित हो रहीं हैं और विभाग के ही विषय-विशेषज्ञों का इसमें योगदान रहा है। उन्होंने बताया कि भविष्य में इस एफडीपी से प्रशिक्षित शिक्षकों द्वारा बनाए गए वीडियो व्याख्यानों से न सिर्फ प्रदेश के अपितु पूरे देश के विद्यार्थी लाभान्वित होंगे।एफडीपी के समन्वयक डॉ. प्रज्ञेष कुमार अग्रवाल ने कहा कि स्नातक स्तर पर वीडियो व्याख्यान के निर्माण का लक्ष्य उच्च शिक्षा विभाग की एक अभिनव पहल है और इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम आयोजित किए जा रहे हैं। इससे पूर्व विभाग द्वारा पाँच एफडीपी को सफलतापूर्वक संपन्न कराया जा चुका है और आज छठवें बैच का आरंभ हुआ है। इन एफडीपी के माध्यम से उच्च शिक्षा विभाग के शिक्षकों को गुणवत्तापूर्ण वीडियो व्याख्यानों के निर्माण हेतु प्रशिक्षित किया जा रहा है। 21 विषयों के लगभग 1400 प्राध्यापक इससे लाभान्वित होने वाले हैं।उल्लेखनीय है कि इस एफडीपी के छठवें बैच में 220 प्रतिभागी सहभागिता कर रहें हैं। इन प्रतिभागियों में मध्यप्रदेश के विभिन्न शासकीय एवं अशासकीय विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में पदस्थ प्राध्यापक, सहप्राध्यापक, सहायक प्राध्यापक एवं अतिथि विद्वान शामिल हैं।  

Kolar News

Kolar News 2 August 2021

भोपाल। प्रदेश के परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत सोमवार को ग्वालियर स्थित भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंधन संस्थाओं में आयोजित शुभारंभ कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि लर्निंग लायसेंस बनवाने की प्रक्रिया का सरलीकरण किया गया है। लोग अब घर बैठे ऑनलाइन लर्निंग लायसेंस बना सकेंगे। परिवहन मंत्री राजपूत ने कहा कि ऑनलाइन लायसेंस बनने से जहाँ एक ओर आम जनता को परिवहन कार्यालय में लगने वाली लम्बी कतारों से मुक्ति मिलेगी वही एजेन्टों से छुटकारा भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश सरकार आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिये बहुत शिद्दत के साथ कार्य कर रही है। इसी अनुक्रम में परिवहन विभाग द्वारा ऑनलाइन लर्निंग लाइसेंस सुविधा प्रारंभ की गई। उन्होंने कहा कि इस सुविधा से हर साल लगभग 10 लाख युवा घर बैठे लर्निंग लायसेंस बनवा सकेंगे।परिवहन आयुक्त मुकेश जैन ने ऑनलाइन लर्निंग लायसेंस सुविधा को सुशासन की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम बताया। उन्होंने कहा कि अब लायसेंस प्रक्रिया को और अधिक सुगम, सरल एवं पारदर्शिता बनाया गया है।आधार कार्ड से बनवायें जा सकेंगे लायसेंस   अपर परिवहन आयुक्त अरविंद सक्सेना ने ऑनलाइन लर्निंग लायसेंस सुविधा के बारे में विस्तारपूवर्क जानकारी दी एवं लायसेंस बनवाने की प्रकिया को व्यवहारिक रूप से समझाया। उन्होंने बताया कि घर बैठे कोई भी व्यक्ति आधार कार्ड के जरिए 'सारथी' वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर डिजिटल रूप से निर्धारित शुल्क जमा करने के बाद लर्निंग लायसेंस बनवा सकेंगे। आधार कार्ड की जानकारी दर्ज करने पर आवेदन स्वत: ही आवेदक, अभिभावक का नाम, जन्मतिथि, पता आदि स्वत: ही दर्ज हो जाता है। आवेदक को फिजिकल फिटनेस संबंधी जानकारी भी ऑनलाइन दर्ज करना होती है। यदि आवेदक कोई शर्त पूरी नहीं करता है तो उसका आवेदन ही सबमिट नहीं होगा। आवेदन सबमिट होते ही आवेदन नम्बर आवेदक को मिल जाता है।महिलाओं के लिये पूर्णत: नि:शुल्क बनेगा लायसेंस   संयुक्त परिवहन आयुक्त अनूप सिंह की महिला आवेदकों के लिये यह सुविधा पूर्णत: नि:शुल्क की गयी है। उन्होंने कहा कि लर्निंग लायसेंस प्राप्त करने के पूर्व आवेदक को एक टेस्ट देना होगा, जिसमें सड़क सुरक्षा संबंधित से 20 प्रश्न पूछे जाएंगे। आवेदक को उत्तीर्ण होने के लिये 60 प्रतिशत जबाव सही देने होंगे। तदोपरांत ही आवेदक को लाईसेंस प्रदान किया जा सकेगा।नवीनीकरण एवं डुप्लीकेट लायसेंस भी ऑनलाइन   अपर परिवहन आयुक्त सक्सेना ने बताया कि लायसेंस नवीनीकरण, डुप्लीकेट प्रति तथा पता परिवर्तन की सुविधा भी आधार कार्ड के आधार पर अगले माह से ऑनलाइन शुरू की जायेगी। आवेदन सबमिट होने तथा डिजिटल फीस एवं पोस्टल चार्ज जमा कराने के बाद लायसेंस डाक के माध्यम से भेजा जाएगा।

Kolar News

Kolar News 2 August 2021

भोपाल। आज श्रावण मास का द्वितीय सोमवार मनाया जा रहा है। श्रद्धालु सुबह से भगवान शिव के पूजन-अर्चन में जुटे हुए हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। साथ ही भगवान महादेव से सभी को आनंददायी जीवन प्रदान करने की कामना की है। मुख्यमंत्री चौहान ने सोमवार को ट्वीट के माध्यम से कहा है,-"ॐ ह्रीं नम: शिवाय।" पवित्र श्रावण मास के द्वितीय सोमवार की हार्दिक बधाई! देवाधिदेव महादेव से यही प्रार्थना कि अपनी कृपा की अनवरत वर्षा करते रहें, सबको सुखद, सफल और आनंददायी जीवन प्रदान करें। हर घर-आंगन में सुख, समृद्धि और खुशहाली रहे; हर चेहरे पर मुस्कान हो, शुभकामनाएं!उन्होंने आगे कहा है कि आज पवित्र श्रावण मास का द्वितीय सोमवार है। भगवान शंकर के इस प्रिय माह में हम सब भोले भंडारी की सादगी, सरलता और सहजता के गुणों से सीखें। हम सब प्रेम, क्षमा, दया और करुणा के पुण्य भाव को आत्मसात कर जगत के मंगल एवं कल्याण में योगदान का हर संभव प्रयास करें। यही भोलेनाथ की सच्ची सेवा और पूजा होगी।

Kolar News

Kolar News 2 August 2021

भोपाल। जल जीवन मिशन, ग्रामीण आबादी से जुड़ी महत्वाकांक्षी योजना है, इसमें सभी को अपनी जिम्मेदारी पूरी निष्ठा और ईमानदारी से निभाना है। आम आदमी के लिए पेयजल की व्यवस्था जैसे पुनीत कार्य में हमारी सहभागिता सौभाग्य की बात है। हमारा प्रयास यही है कि त्वरित गति से मिशन का संचालन कर ग्रामीण आबादी को उनके घर पर ही जल उपलब्ध करवाएं। आमजन को मिले योजना के लाभ से ही सरकार के प्रति जन-विश्वास कायम होता है। यह बातें प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने गुरुवार को जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रदेश में कार्यरत कार्यान्वयन सहायता ऐजेन्सी (आईएसए) और तृतीय पक्ष मूल्यांकन संस्थाओं (टीपीआई) के को-आडिनेटरों की बैठक में कही। उन्होंने कहा कि मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण आबादी को नल कनेक्शन लेने, सहयोग राशि देने, जल संरक्षण, मासिक शुल्क अदायगी, शुद्ध जल के फायदे और भविष्य में जल प्रदाय योजना संधारण के लिए प्रोत्साहित करने एवं उनकी मानसिकता बदलने की जिम्मेदारी कार्यान्वयन सहायता ऐजेन्सी की है। राज्य मंत्री यादव ने कहा कि कार्यान्वयन संस्थायें जन-जागरूकता के कार्य स्थानीय बोली में करें, यह ज्यादा प्रभावी होगा। तृतीय पक्ष मूल्यांकन संस्थाएँ यह सुनिश्चित करें कि डीपीआर के अनुसार कार्य की गुणवत्ता के मापदण्डों का पालन किया गया हो। यह भी जरूरी है कि पहले काम बाद में दाम की नीति अपनाई जाये। उन्होंने कहा कि मिशन के अन्तर्गत कार्यरत संस्थाओं में निरंतर एक वर्ष तक बेहतर परिणाम देने वाली 5 संस्थायें पुरस्कृत की जायेंगी। इसी तरह दायित्व निर्वहन में पीछे रहने वाली संस्थाओं के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही भी की जायेगी। अपर मुख्य सचिव, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग मलय श्रीवास्तव ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था का दायित्व प्राय: हमारी आधी आबादी (महिला वर्ग) पर रहा है। ग्रामीण महिलाएँ पेयजल के लिए होने वाले श्रम और शारीरिक कष्ट को बेहतर जानती हैं। इसीलिए ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति में 50 प्रतिशत महिलाओं को रखे जाने का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि जिलेवार संस्थायें जो जानकारी दे रहीं हैं, उनका परीक्षण अधीक्षण यंत्री स्तर से किया जाए। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि मार्गदर्शिका के अनुसार संस्थाओं के कार्य में जो कमी पाई गई है उसे दूर कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि आगामी अगस्त माह से एजेन्सी के कार्यों की साप्ताहिक समीक्षा प्रारंभ की जायेगी। श्रीवास्तव ने कहा कि तृतीय पक्ष मूल्यांकन संस्था को चाहिए कि वह अपनी व्यावसायिक विश्वसनीयता और साख को बरकरार रखते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करे। बैठक में प्रमुख अभियंता के.के. सोनगरिया एवं प्रमुख अभियंता (सलाहकार) शंकुले, प्रदेश के सभी मुख्य अभियंता, अधीक्षण यंत्री सहित कार्यान्वयन सहायता एवं तृतीय पक्ष मूल्यांकन संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Kolar News

Kolar News 29 July 2021

भोपाल।भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पार्टी पदाधिकारियों एवं कार्यसमिति सदस्यों के बीच कार्य विभाजन कर दिया है। पार्टी के प्रदेश कार्यालय मंत्री राघवेंद्र शर्मा ने कार्य विभाजन की सूची जारी कर दी है। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पार्टी पदाधिकारियों एवं कार्यसमिति सदस्यों के बीच बहुप्रतीक्षित कार्य विभाजन कर दिया है। इसमें प्रदेश के सभी 57 जिलों एवं संभागों के प्रभार तय किए गए हैं। इसके साथ ही पार्टी के विभिन्न मोर्चों एवं प्रकोष्ठों के प्रभारी भी पार्टी पदाधिकारियों को दिये गए हैं।  

Kolar News

Kolar News 29 July 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में गुरुवार को राजधानी भोपाल स्थित स्मार्ट पार्क में अर्जुन का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेशवासियों से विशेष अवसरों पर पौधारोपण कर उनकी देखभाल करने की अपील की। मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा है कि -"आज मैंने भोपाल के स्मार्ट पार्क में अर्जुन का पौधा लगाया। जो धरती व भावी पीढ़ियों से प्रेम करते हैं, वे अपनी वसुंधरा को समृद्ध करने के लिए पौधरोपण करते हैं। मध्यप्रदेशवासी अपनी धरा से अपार प्रेम करते हैं, तभी तो यहां चारों ओर हरियाली है। हम सभी पौधरोपण सतत करते रहें।"उन्होंने आगे कहा है कि -"आयुर्वेद में अर्जुन के पेड़ के फल और छाल का प्रयोग औषधी के रूप में होता है। अर्जुन के पेड़ की छाल और इसके पत्तों के रस का प्रयोग कान दर्द से लेकर हृदय रोग, डायबिटीज और पेट दर्द में भी किया जाता है। इसे अत्यंत ही गुणकारी पौधा माना गया है।"  

Kolar News

Kolar News 29 July 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने तबादलों की तारीख बढ़ाने के फैसले को अनुचित बताते हुये कहा कि लेन-देन पीरियड बढ़ा दिया गया है। उन्होंने कहा कि मंत्रियों और अफसरों में तबादला उद्योग-प्लस को लेकर सहमति नहीं बन पाने से तबादला महोत्सव की तारीख 7 अगस्त तक बढ़ाई गई है। कई मंत्री गण गुप्त स्थानों पर बैठकर इस महोत्सव को सिद्ध करने में लगे हैं। कांग्रेस नेता ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि कमलनाथ सरकार ने 15 साल की जमी कुर्सियों की धूल झड़ाने मे 15 महीने में महज 300 ट्रांसफर किये थे, किंतु भाजपा सरकार ने तो 12 महीने में ही 340 आईएएस अधिकारियों के तबादले कर रिकार्ड बनाकर इसे तबादला उद्योग-प्लस बना दिया है। भूपेन्द्र गुप्ता ने कहा कि बल्लभ भवन को दलाली का अड्डा बताने वाले शिवराज बतायें कि इन तबादलों की दलाली के अड्डे किस गली में हैं। गुप्ता ने कहा भाजपा के कुछ मंत्रियों ने तो अपनी भाव सूची ओपन कर दी है और कुछ छुपा छुपा कर रेट बता रहे है। तबादला उद्योग में भाजपा के दलालों की सक्रिय भूमिका देखकर नकली दलालों ने भी फर्जी पीए बनकर चांदी काट ली है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा का 15 सालों का राज नोट गिनने की मशीनों के काल खंड के रूप में जाना जाता है। इस डेढ़ महीने में गरीब कर्मचारी अपने जीपीएफ और पीपीएफ से पैसा निकालकर दलालों की पूर्ति करते हैं। जितना पैसा ड्रा होगा उसका चार गुना तबादला महोत्सव का टर्न ओवर होगा। यह 15 सालों का कर्मचारियों का अनुभव बताता है।

Kolar News

Kolar News 28 July 2021

भोपाल। जल संसाधन मछुआ कल्याण और मत्स्य विकास मंत्री तुलसीराम सिलावट ने बुधवार को राजधानी भोपाल में नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह से भेंट कर इंदौर मेट्रो परियोजना के संबंध में चर्चा की। मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया कि सभी आवश्यक कामों के टेंडर कर दिए गए हैं और 15 अगस्त के बाद सभी काम शुरू किए जाएंगे। स्टेशन, अंडरग्राउंड स्टेशन, एलिवेटेड स्टेशन, डिपो, विद्युत लाइन ट्रांसमिशन, और कनेक्टिविटी स्टेशन की ड्राइंग और निर्माण के लिए टेंडर कर अनुबंध किया जा रहा है। जल संसाधन मंत्री सिलावट ने कहा कि इंदौर में मेट्रो प्रोजेक्ट में काम लंबित है। सभी कामों की समय सीमा निर्धारित की जाए। नगरीय प्रशासन मंत्री सिंह ने बताया कि गांधीनगर से मुमताज बाग येलो लाइन का काम शुरू होकर दिसंबर 2023 तक पूर्ण किया जाएगा। मुमताज बाग से रेलवे स्टेशन का काम अप्रैल 2024 तक पूरा किया जाने के निर्देश दिए गए हैं इसके साथ ही गांधीनगर से रेलवे स्टेशन का मेट्रो के काम मई 2025 तक पूर्ण किया जाएगा। मंत्री सिलावट ने कहा कि इंदौर मेट्रो परियोजना में मेट्रो के प्रथम चरण में 31 किलोमीटर लंबाई की मेट्रो ट्रैक निर्माणाधीन है । जिसमें 24 किलोमीटर से अधिक लंबाई में एलिवेटेड मेट्रो ट्रैक और 7.48 किलोमीटर लंबाई का अंडरग्राउंड रेलवे मेट्रो ट्रैक बनाया जाना है जिसकी लागत 7500 करोड़ की है । जिसमें केंद्र सरकार और राज्य सरकार के 50: 50 के अनुपात में वित्तीय भार आना है। लगभग 440 करोड़ के काम पीपीपी मोड पर किए जाना प्रस्तावित है। मेट्रो स्टेशन के लिए 30 स्थानों को चिन्हित किया गया है। बताया गया कि प्रथम चरण में येलो लाइन का 31 .54 किलोमीटर लंबाई का मेट्रो ट्रैक बनना है, जिसमें गांधीनगर से सुपर कॉरिडोर ,भोरासला चौराहा, रेडिसन चौराहा, मुमताज बाग कॉलोनी से रेलवे स्टेशन और स्टेशन से गांधीनगर तक मेट्रो ट्रेन का काम तीव्र गति शुरू होगा। गांधीनगर में मेट्रो के डिपो के लिए जगह आरक्षित है जिसका काम भी जल्दी ही शुरू कर दिया जाएगा। नगरी प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि स्टॉक डिपो के लिए डिजाइन के अनुबंध किए जा चुके हैं विद्युत रिसीविंग और फूड डिसट्रीब्यूशन वितरण के डिजाइन कंसलटेंसी सेवा के लिए 5.99 करोड़ की लागत के अनुबंध हो चुके हैं। मेट्रो के अंडरग्राउंड स्टेशन, टनल्स , डिपो के लिए जिओ टेक्निकल इन्वेस्टिंग स्टडी के लिए भी अनुबंध हो चुके हैं विद्युत लाइन संशोधन और विस्थापन के लिए भी 50 करोड़ की लागत से कार्य किया जा रहा है। मंत्री सिंह ने बताया कि इंदौर मेट्रो की येलो लाइन को शीघ्र पूरा करने के लिए तीव्र गति से काम शुरू कराया जा रहा है। 421 करोड़ की लागत से सात एलिवेटेड मेट्रो रेल स्टेशन का डिजाइन निर्माण के लिए फरवरी 20 में ही टेंडर किए जा चुके हैं। इसी प्रकार इंटरफेयर लोकेशन और डिपो कनेक्टिविटी और 9 एलिवेटेड स्टेशन की डिजाइन के लिए 1000 करोड़ की निविदा मार्च में जारी की जा चुकी है। अनुबंध की प्रक्रिया जारी है। 15 अगस्त के बाद सभी कार्य स्थलों पर तीव्र गति से काम शुरू कर दिए जाएंगे।

Kolar News

Kolar News 28 July 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए पौधरोपण करने की अपील की है। साथ ही उन्होंने विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस पर हर्रा का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री चौहान ने बुधवार को ट्वीट किया है कि-"विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस की आप सभी को शुभकामनाएं। प्रकृति से ही हमारा जीवन है। आइए, हम सभी मिलकर प्राकृतिक वातावरण से विलुप्त हो रहे जीव जंतुओं और पेड़-पौधों का सदैव संरक्षण करने और प्रतिदिन एक पौधा अवश्य लगाने का संकल्प अवश्य लें।"उन्होंने आगे कहा है कि -" आइए, विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस पर ऐसे उपयोगी और अमूल्य पौधों को रोपें और मानव जीवन व धरती को समृद्ध बनाएं। प्रकृति को बचाएं, पौधा जरूर लगाएं।"मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में बुधवार को ग्राम धपाड़ा (बोरी रिसोर्ट परिसर) में हर्रा का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेशवासियों से पौधारोपण करने व उसकी देखभाल करने की अपील की।उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि हर्रा का उपयोग अस्थमा, दस्त, पुरानी अल्सर, खांसी, आदि रोगों के उपचार में किया जाता है। हर्रा का पेड़ पूरे भारत में पाया जाता है। हर्रा के फल से गले के रोगों में काफी आराम मिलता है। इसके फल का चूर्ण कफ को खत्म करने में उपयोगी है। औषधीय महत्व का होने की वजह से इसका उपयोग अनेक बीमारियों को दूर करने में किया जाता है।

Kolar News

Kolar News 28 July 2021

जबलपुर। मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ स्थित कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके) की 28वीं क्षेत्रीय कार्यशाला का उद्घाटन सोमवार को केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया। इस अवसर पर तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार गांव-गरीब-किसान-किसानी की प्रगति के लिए प्राथमिकता के साथ काम कर रही है। इस दिशा में कई योजनाएं प्रारंभ की गई है। उन्होंने कहा कि देशभर में गांव-गांव अधोसंरचना विकसित करने के लिए एक लाख करोड़ रूपए के कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड सहित आत्मनिर्भर भारत अभियान में कुल डेढ़ लाख करोड़ रूपए से अधिक के पैकेज शुरू किए गए हैं। हर सप्ताह मंत्रालय में इसकी प्रगति के लिए बैठकें होती है। इसी तरह, 6,850 करोड़ रू. के खर्च से 10 हजार नए एफपीओ के गठन की स्कीम तथा किसानों के सशक्तिकरण के लिए नए कृषि सुधार कानून जैसे ठोस कदम खेती को समृद्धता देने वाले हैं, ये कृषि विकास में मील का पत्थर साबित होंगे। 86 प्रतिशत छोटे-मझौले किसान इनके माध्यम से और मजबूत होंगे, जिससे देश की भी ताकत बढ़ेगी। केंद्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि कोरोना के संकटकाल में भी केवीके के वैज्ञानिक, सूचना-संचार तकनीकों एवं कृषि विभाग के साथ मिलकर किसानों को उचित तकनीकों द्वारा लाभ पहुंचा रहे है, जो सराहनीय है। पशु धन एवं मछली पालन के विकास के लिए भी हमारे केवीके पूरे जज्बे के साथ कार्य कर रहे हैं तथा कृषि व सभी सम्बद्ध क्षेत्रों की सतत प्रगति व किसानों की आय बढ़ाने के लिए काम कर रहे हैं। वर्तमान में 723 केवीके, आईसीएआर की इकाइयों, गैर सरकारी संस्थानों व राज्य कृषि विश्वविद्यालयों द्वारा चलाए जा रहे है, जिनसे किसानों को बहुत मदद मिल रही है। अटारी, जबलपुर के तहत म.प्र. व छग में 81 केवीके हैं। 81 में से 28 छत्तीसगढ़ में हैं, जिनमें से 7 नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में है। यहां तमाम चुनौतियों के बीच भी केवीके सुचारू काम कर रहे हैं, इसके लिए उन्होंने सभी वैज्ञानिकों व अन्य स्टाफ को बधाई-शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए ये सभी विंग बहुत जिम्मेदारी के साथ काम कर रहे हैं। केवीके की टीमें जिलों व गांवों तक बखूबी काम कर रही है और कृषि संबंधी विभागों के साथ मिलकर विभिन्न कृषि कार्यक्रमों को लागू करने में तकनीकी समर्थन व सामयिक जानकारी उपलब्ध कराने के प्रमुख स्त्रोत के रूप में अहम भूमिका का निर्वाहन कर रही है। तोमर ने कहा कि नारी कार्यक्रम के जरिये पोषण संवेदन कृषि को बढ़ावा, क्षमता कार्यक्रम द्वारा आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रों में कृषि व उद्यमता विकास, वाटिका कार्यक्रम के माध्यम रोजगारोन्मुखी क्षेत्रीय उत्पादों का मूल्यसंवर्धन कर महिलाओं के सशक्तिकरण के दायित्व निर्वहन में केवीके की अहम भूमिका है। कोरोना के चलते हम सभी को डिजिटल प्लेटफार्म पर काम करना पड़ रहा है और डिजिटल लिटरेसी, मार्केटिंग एवं आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, मैकेनाइजेशन लर्निंग आज की महती आवश्यकता है, इस दिशा में कृषि विज्ञान केंद्रों को सशक्त एवं आधुनिक बनाया जाएगा। केवीके की संरचनाओं को और सुदृढ़ करने व कार्यक्रमों को प्रभावी बनाने की जरूरत महसूस की जाती है। समय की मांग को ध्यान में रखते हुए केवीके द्वारा जैविक व परंपरागत खेती पर भी विशेष प्रशिक्षण आयोजित किए जा रहे हैं, जो निश्चित ही कृषकों को जैविक खेती अपनाने में मददगार होंगे। साथ ही किसानों के कौशल विकास पर जोर देने की जरूरत है। प्रधानमंत्री जी का भी जोर तकनीकों के सहारे विकास करने पर है, जिससे किसानों को फायदा होगा। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री तोमर ने विभिन्न प्रकाशनों का विमोचन किया तथा केवीके, गोविंद नगर, होशंगाबाद में सोयाबीन बीज हब भंडार गृह की आधारशिला रखी। कार्यशाला को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद-कृषि विस्तार के उप महानिदेशक डा. ए.के. सिंह व सहायक महानिदेशक डा. वी.पी. चहल, केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय इम्फाल के कुलपति डा. अनुपम मिश्रा, ग्वालियर के कुलपति डा. एस.के. राव, जबलपुर के कुलपति डा. पी.के. बिसेन, रायपुर के कुलपति डा. एस.के. पाटिल, अमरकंटक के कुलपति प्रो. प्रकाश मणि त्रिपाठी, दुर्ग के डा. एस.पी. इंगोले, आयोजन सचिव व दीनदयाल शोध संस्थान के संगठन सचिव अभय महाजन तथा भाऊ साहब भुस्कुटे स्मृति लोक न्यास-बनखेड़ी के सह संगठन मंत्री अनिल अग्रवाल, अटारी जबलपुर के कार्यवाहक निदेशक डा. श्याम रंजन कुमार सिंह ने भी संबोधित किया। दीनदयाल शोध संस्थान के संगठन सचिव अभय महाजन ने कहा कि हमारा नाता पृथ्वी के साथ एक तादात्म समन्वय का बना हुआ है। पश्चिम की सोच का हम पर जो प्रभाव पड़ा है उससे समन्वय में कहीं ना कहीं कमी आई है। बीज व पानी हमारी परंपरा है, इस परंपरा को हम भूलते गए और आज इसके दुष्परिणाम हम देख रहे हैं। अभी हम व्यक्ति के पोषण की बात करते हैं, लेकिन हमारी भारतीय संस्कृति में जड़ चेतन सभी के समन्वय की बात है। हमने प्रकृति की सभी चीजों का दोहन किया है, लेकिन पश्चिम की सोच के कारण हम सब लोग शोषण की दिशा में बढ़े हैं। व्यक्ति आत्म केंद्रित हो गया है और स्वार्थी हो गया और अपने अलावा इसमें भी न्यूक्लियर फैमिली की आजकल जो बात चल रही है उसमें मैं, पत्नी और बच्चे इसके आगे हमारी कोई सोच नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री किसानों की आय दुगुनी करना चाहते हैं जो जीवन के मूल्यों का पालन करते हुए अपने देश को फिर से विश्व गुरु के स्थान पर पहुंचाने के लिए हम सबको प्रयत्न करना चाहिए बहुत आवश्यक है।

Kolar News

Kolar News 26 July 2021

भोपाल। सोशल मीडिया का युद्ध के मैदान की तरह उपयोग करते हुए कई व्यक्ति और संगठन देश विरोधी प्रचार कर रहे हैं। हमारी संस्कृति को निशाना बना रहे हैं। सायबर योद्धा इन लोगों और संगठनों को सोशल मीडिया पर तार्किक और सटीक जवाब दें, ताकि ये सफल न हो पाएं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव एवं प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने सोमवार को सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स द्वारा आयोजित ‘सोशल मीडिया में भारत विरोधी प्रचार से मुकाबला’ विषय पर आयोजित संवाद कार्यक्रम के दौरान कही। कार्यक्रम के दौरान राव एवं शर्मा ने सोशल मीडिया योद्धाओं को पौधा भेंट कर सम्मानित किया।   युवा उठाएं संस्कृति के संरक्षण की जिम्मेदारी: मुरलीधर राव पार्टी के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव ने सायबर योद्धाओं को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण का जिम्मा देश के युवाओं को उठाना होगा। भारत की संस्कृति पर लगातार हमला करने वाले लोगों को अपने तर्कों के द्वारा जवाब देते हुए जनमानस में हमारी पुरातन संस्कृति का अधिक से अधिक प्रचार किये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर इस लड़ाई का आशय है कि हम भारत की संस्कृति, विविधता, वैभव, वेद, पुराण, उपनिषदों, ऋचाओं और वैज्ञानिक परंपराओं के बारे में जन जागरुकता लायें। सोशल मीडिया को सशक्त हथियार की तरह प्रयोग करें: विष्णुदत्त शर्मा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने सायबर योद्धाओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमें देश विरोधी ताकतों को जवाब देने के लिए सोशल मीडिया को एक सशक्त हथियार के रूप में इस्तेमाल करना चाहिए। आज के दौर में सोशल मीडिया ही एक ऐसा अस्त्र है जिसके द्वारा देश विरोधी मानसिकता वाले लोगों को परास्त किया जा सकता है। उन्होंने सभी साइबर योद्धाओं से आग्रह करते हुए कहा कि देश में भ्रम और झूठ के आधार पर अराजकता फैलाने और देश विरोधी प्रचार करने वालों को मुंह तोड़ जवाब देना है। कार्यक्रम में पार्टी के प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद जी, प्रदेश महामंत्री भगवानदास सबनानी, प्रदेश मंत्री रजनीश अग्रवाल, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पराशर, शैलेन्द्र शर्मा एवं सोशल मीडिया व आईटी प्रदेश संयोजक शिवराज सिंह डाबी सहित पार्टी पदाधिकारी एवं बड़ी संख्या में सायबर योद्धा उपस्थित थे।  

Kolar News

Kolar News 26 July 2021

भोपाल। देश के साथ-साथ मध्यप्रदेश में भी आज श्रावण मास का प्रथम सोमवार धूमधाम से मनाया जा रहा है। सुबह से श्रद्धालु विभिन्न शिवालयों में पहुंच रहे हैं और पूजन-अर्चन कर दर्शन लाभ ले रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों को भगवान भोलेनाथ के अराधना के पर्व श्रावण सोमवार की शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट किया है कि- "ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् । उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् ॥" आप सभी को महादेव शिव की आस्था और श्रद्धा से परिपूर्ण पवित्र श्रावण मास के प्रथम सोमवार की हार्दिक शुभकामनाएं। यह पावन दिन और मास आपके जीवन को सुख, समृद्धि, आनंद से समृद्ध कर दे। देवाधिदेव महादेव की आप पर सदैव कृपा बनी रहे। समस्त दु:खों का नाश हो, सबका कल्याण हो। ॐ नमः शिवाय।

Kolar News

Kolar News 26 July 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश में बुधवार को ईदुज्जुहा का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस अवसर पर राज्यपाल राज्यपाल मंगुभाई पटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों को ईदुज्जुहा पर्व की शुभकामनाएं दी हैं। राज्यपाल पटेल ने कहा है कि ईदुज्जुहा का त्यौहार त्याग और बलिदान का महत्व बताता है। यह पर्व प्रेम और इंसानियत का प्रतीक है जो मानवता और भाईचारे की शिक्षा देता है। उन्होंने प्रदेशवासियो से अपील की है कि शांति, सद्भाव और एकता के साथ भाईचारे की गौरवशाली परम्परा अनुसार पर्व मनाएं। उन्होंने कोरोना संक्रमण को देखते हुए कोविड-19 अनुकूल व्यवहार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए संक्रमण से अपनी और परिवार की सुरक्षा का भी ध्यान रखने के लिये कहा है। वहीं, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा है कि-ईदउल अज़हा की सभी को बधाई और शुभकामनाएं! इस पर्व पर आपकी जिंदगी में खुशहाली आये, तरक्की हो, आनंद बढ़े। उन्होंने कहा है कि यह पर्व त्याग, बलिदान और आपसी विश्वास का संदेश देता है। उन्होंने ईदुज्जुहा का पर्व परम्परानुसार शांति, सद्भाव, समरसता और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मनाने की अपील की है।

Kolar News

Kolar News 21 July 2021

अशोकनगर। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर की अध्यक्षता में सोमवार को विभागीय योजनाओं की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संपन्न हुई। प्रथम वार जिले के आगमन पर आयोजित बैठक में प्रभारी मंत्री तोमर ने विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि शासन की योजनाओं का क्रियान्वयन बेहतर ढंग से हो, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा जन-कल्याण के लिए अनेकों योजनाएं संचालित की जा रही हैं। इन योजनाओं का जिले में बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। बैठक में प्रभारी मंत्री तोमर ने कहा कि जिले में शासकीय योजनाओं की क्रियान्वयन तथा बेहतर कार्यो से अच्छा वातावरण बनेगा। वातावरण को दूषित करने वालों को संरक्षण न दें। जिले के अधिकारियों,कर्मचारियों एवं जनप्रतिनिधियों की टीम मेहनत करके जिले को शीर्ष मुकाम तक पहुंचा सकती है। उन्होंने कहा कि मैं सदैव आपके सम्मान के लिए हमेशा साथ रहूंगा। भावना के विपरीत कार्य करने वालों पर समझौता नही करूंगा। ऊर्जा विभाग की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिए कि जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 24 घंटे विद्युत प्रदाय हो यह सुनिश्चित किया जाए। कृषकों एवं आमजनों को बिजली के लिए किसी भी प्रकार की परेशानी नही होना चाहिए। उन्होंने बिजली राशि की वसूली समय पर की जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि विद्युत की व्यवस्था के लिए मेंटीनेंस एवं दुरूस्त कराई जाए। उन्होंने विद्युत संबंधी कार्यो की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विद्युत उपभोक्ताओं हेतु वर्तमान में लागू योजनाओं समान कृषकों के स्थाई एवं अस्थाई पंप कनेक्शन,3 प्रतिशत सुपर विजन पर स्वंय का ट्रांसफार्मर योजना,अनुसूचित जाति,जनजाति पंप ऊर्जीकरण योजना, सामान्य घरेलू एवं अनुसूचित जाति जनजाति स्थाई विद्युत कनेक्शन योजना की विस्तार से समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने जिला मुख्यालय अशोकनगर पर 50 ट्रांसफॉर्मर की क्षमता वाले स्टोर के निर्माण के लिए प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए। बैठक में विद्युत विभाग के जे ई से संबंधित शिकायतों पर सख्त कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिए गए। बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि जिले में आंनगवाडी केन्द्रों के लिए वितरित होने वाले पोषण आहार वितरण व्यवस्था की जांच गंभीरता के साथ कराये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट रूप से निर्देशित किया कि जिले में पोषण आहार के वितरण में पूर्ण रूप से पारदर्शिता दिखनी चाहिए। इस दौरान वर्ष 2002 से वर्ष 2004 के बाद हितग्राहियों को दिये गये पट्टों पर अमल हेतु अभियान चलाकर राजस्व अभिलेख में दर्ज कराये जाने के निर्देश समस्त एसडीएम को दिए गए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणा के अनुरूप गरीबों को निःशुल्क खाद्यान्न वितरण पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए। खाद्यान्न वितरण में किसी भी प्रकार की अनियमितता न हो। जरूरतमंदों को सुगमता से राशन प्राप्त हो।उन्होंने नवीन पात्रता पर्ची के संबंध में निर्देशित किया कि 24 कैटेगरी में आने वाले पात्र हितग्राहियों को पात्रता पर्ची का वितरण कराया जाए। कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए आवश्यक तैयारियां पूर्ण हो   बैठक में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव एवं रोकथाम हेतु किए गए इंतजामों की जानकारी लेने पर कलेक्टर ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर के नियंत्रण हेतु कार्ययोजना की जानकारी दी। प्रभारी मंत्री तोमर द्वारा जिले में कोरोना नियंत्रण एवं आगामी तीसरी लहर की संभावना संबंधी व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि जिले में स्वीकृत ऑक्सीजन प्लांट का कार्य शीघ्र पूर्ण कराया जाए। साथ ही पाईप लाईन का विस्तार कर स्वास्थ्य संस्थाओं के वार्डो तक ऑक्सीजन की सप्लाई कराई जाए। उन्होंने जिले के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में इमरजेंसी के लिए बेड तैयार रखें जाने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए सभी सर्तक रहें,जिससे कोरोना की तीसरी लहर से बचा जा सके।बैठक के प्रारंभ में कलेक्टर अभय वर्मा ने जिले की प्रारंभिक जानकारी दी। उन्होंने जिले में चल रहे विकास कार्यों एवं योजनाओं की जानकारी प्रदान कर वर्तमान प्रगति के साथ भविष्य के लिए क्रियान्वयन के बारे में भी जानकारी प्रदान की। इस दौरान लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्यमंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव, विधायक जजपाल सिंह जज्जी, कलेक्टर अभय वर्मा, पुलिस अधीक्षक रघुवंश भदौरिया एवं संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Kolar News

Kolar News 19 July 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में सोमवार को राजधानी भोपाल स्थित स्मार्ट उद्यान में सप्तपर्णी का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने नागरिकों से पौधरोपण करने की अपील भी की। मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट पर इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा है कि-"आज मौने भोपाल में सप्तपर्णी का पौधा लगाया। पेड़-पौधे हमें ऑक्सीजन देने के साथ बाढ़ और मिट्टी कटाव को रोकते हैं। जल को अवशोषित कर धरा के जलस्तर को बेहतर बनाये रखने में योगदान व प्राणियों को जीवन देते हैं।"उन्होंने कहा कि -"पेड़-पौधों के बिना जीवन की कल्पना असंभव है। अत: पौधरोपण कीजिये। सप्तपर्णी का आयुर्वेद में महत्वपूर्ण स्थान है। इसके औषधीय गुणों का प्रयोग अनेक प्रकार की बीमारियों को ठीक करने में किया जाता है।"

Kolar News

Kolar News 19 July 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में बहुजन समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका लगा है। यहां बसपा के कई पदाधिकारियों ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है। पूर्व सीएम कमलनाथ की मौजूदगी में बसपा के पदाधिकारी कांग्रेस में शामिल हुए। बसपा छोडक़र कांग्रेस का दामन थामने वाले नेताओं में पूर्व मेयर प्रत्याशी भी शामिल हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले भी एक बसपा नेता ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की थी। इस तरह मध्य प्रदेश में अपनी जगह बनाने की कोशिश कर रही बसपा को तगड़ा झटका लगा है। एमपी में दलित वोटर्स परंपरागत तौर पर कांग्रेस और बसपा के बीच बंटे हुए हैं। ऐसे में प्रदेश में बसपा का कमजोर होने का सीधा फायदा कांग्रेस को मिलेगा और भाजपा को कई सीटों पर कांग्रेस से कड़ी टक्कर मिल सकती है। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि कांग्रेस की कोशिश है कि राज्य में बसपा कमजोर हो ताकि दलित वोटर्स उनके पाले में चले जाएं।

Kolar News

Kolar News 19 July 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण के संकल्प के क्रम में शनिवार सुबह राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में आयुर्वेदिक चिकित्सा में महत्वपूर्ण माने गए करंज के पौधे का रोपण किया। इस अवसर पर उन्होंने नागरिकों से पौधरोपण करने की अपील भी की। मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा कि आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में करंज का पौधा लगाया। भारतीय संस्कृति में पेड़-पौधों को पूजने की परंपरा है। विभिन्न वृक्षों में विभिन्न देवताओं का वास माना जाता है। पौधरोपण करने से धर्म, संस्कृति के साथ पर्यावरण भी बचेगा। करंज के पौधे का इस्तेमाल धार्मिक कार्यों में भी किया जाता है। आइये, खुशहाली व समृद्धि के लिए पौधे रोपें।करंज का तेल कृमिनाशक होता है। मधुमेह, वबासीर, दंत रोगों में भी करंज का इस्तेमाल किया जाता है। इसकी लकड़ी दातून के रूप में भी उपयोग में लाई जाती है। इसकी प्रजातियों में करंज, कट करंज और चिरबिल्व शामिल हैं।  

Kolar News

Kolar News 17 July 2021

ग्वालिय। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया व केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वी.के. सिंह ने शुक्रवार को ग्वालियर से पांच शहरों के लिए हवाई सेवा का वर्चुअल शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट ने ग्वालियर में झंडी दिखाई, इसके बाद दोपहर एक बजे ग्वालियर से पुणे के लिए फ्लाइट रवाना हुई। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने वर्चुअल माध्यम से हवाई सेवाओं का शुभारंभ किया। इस अवसर पर ग्वालियर एयरपोर्ट पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए समारोह का आयोजन किया गया था। जिसमें स्थानीय जनप्रतिनिधि भी शामिल हुए। शुभारंभ के बाद दोपहर एक बजे ग्वालियर से पुणे के लिए विमान रवाना हुआ। गौरतलब है कि पुणे के लिए सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को ग्वालियर से हवाई सेवा उपलब्ध रहेगी। वहीं अहमदाबाद और मुंबई के लिए मंगलवार, गुरुवार, शनिवार और रविवार को फ्लाइट रहेगी। गौरतलब है कि लंबे समय से छात्र-छात्राएं पुणे के लिए विमान सेवा शुरू करने की मांग कर रहे थे। अब जाकर उनकी यह मांग पूरी हुई है। इसी प्रकार अहमदाबाद, जबलपुर एवं मुंबई की फ्लाइट शुरू होने से व्यापारी वर्ग को खासा फायदा होगा।  

Kolar News

Kolar News 16 July 2021

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने आरोप लगाया है कि प्रदेश में किसानों से छ: हजार रूपये समर्थन मूल्य की उड़द दो हजार रूपये में खरीद कर उन्हें खुले आम लूटा जा रहा है। गेहूं खरीदी की हर तौल पर किसानों से पैसे लिए गए। गरीबों को दिए जाने वाले राशन में पिछले साल की तरह फिर से भेड़ बकरियों के खाने लायक खऱाब चावल बंटना शुरू हो गया है। किसान पुत्र शिवराजसिंह चौहान ने लूट की खुली छूट दे रखी हैं। अजयसिंह ने कहा कि जबलपुर की पाटन मंडी में खुली नीलामी में व्यापारी उड़द की बोली दो हजार रूपये लगा रहे हैं। जबकि समर्थन मूल्य छ: हजार रूपये पर निर्धारित किया गया है। किसानों से सस्ते में उड़द खरीद कर व्यापारी उसी माल को छ: हजार रूपये समर्थन मूल्य पर बेच रहे हैं। कई दिनों से मंडियों में उड़द का स्टाक रखा हुआ है। व्यापारियों की मनमानी का आलम यह है कि वे सस्ती बोली लगाकर पांच बजे ही बोली बंद कर देते हैं। किसान सस्ते दामों पर अपनी उपज बेचने के लिए मजबूर हो रहे हैं। यहाँ पर कुछ माह पहले मक्का की खरीदी में भी इस तरह के घपले का मामला मैंने उठाया था। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाया कि गेहूं खरीदी में सिलाई तुलाई के नाम पर हर क्विंटल पर 25 से 50 रूपये वसूले गए। अपनी उपज के लिए किसानों को कमीशन देना पड़ रहा है, नहीं तो उनकी फसल रिजेक्ट कर दी जाती है। जबलपुर के पनागर थाने में इसकी एफआईआर भी दर्ज हुई है। जांच में 27 लाख रूपये से ज्यादा की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। पूरे प्रदेश में इस तरह के घपले से इन्कार नहीं किया जा सकता। इसलिए मुख्यमंत्री इसकी जांच के आदेश दें ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके औए दोषी पकड़े जायें। अजयसिंह ने यह भी कहा कि जिस चावल को बियांड रिजेक्शन लिमिट (बीआरएल) किया गया, वही चावल चोरी चुपके वेयर हाउस से निकाल कर राशन की दुकानों के माध्यम से गरीबों को बांटा जा रहा है। पिछले वर्ष भी इसी तरह की शिकायत मैंने की थी जिसमें करोड़ो का घोटाला सामने आया था। फिर से वही प्रक्रिया दोहरायी जा रही है। खुद खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह के गृह जिले अनूपपुर में धांधली हुई है। यहाँ के गोदाम नम्बर 14 से 12 सौ क्विंटल अमानक चावल सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत बाँट दिया गया। यहाँ आठ हजार छ: सौ बोरी चावल अमानक स्तर का मिला था। यह करीब पांच हजार क्विंटल होता है। इसमें से तीन हजार से अधिक बोरियां गायब हैं। क्वालिटी कंट्रोलर ने यह चावल मनुष्य के खाने लायक नहीं बताया था। जब खाद्य मंत्री के यहाँ यह सब हो रहा है तो पूरे प्रदेश में गरीबों को कैसा अन्न खिलाया जा रहा है इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है।  

Kolar News

Kolar News 16 July 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया कि शिवराज सरकार ने इस कोरोना महामारी में भी आपदा में अवसर तलाशे हैं। कोरना महामारी के नाम पर इलाज-खरीदी में जमकर भ्रष्टाचार के मामले सामने आए हैं। पीपीई किट से लेकर मास्क खरीदी, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनें, वेंटिलेटर, जीवन रक्षक इंजेक्शनों की खरीदी में भी भ्रष्टाचार के मामले सामने आए हैं और अब ताजा मामला दक्षिण कोरिया की कंपनी की बायोक्रेडिट कोविड-19 एजी नाम की 15 लाख रैपिड टेस्ट किट खरीदी में किया गया फर्जीवाड़ा व भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है ? नरेन्द्र सलूजा ने बताया कि दक्षिण कोरिया की कंपनी की यह किट मध्य प्रदेश पब्लिक हेल्थ सर्विसेज ने गुडग़ांव की इंपीरियल लाइफ साइंस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से 7.18 करोड़ में खरीदी है। आश्चर्यजनक बात है कि यह खरीदी इसी वर्ष 2021 में मई-जून माह में की गई ,जब कोरोना की दूसरी लहर प्रदेश में चरम पर थी ? इस किट की खऱीदी 47.89 रुपये प्रति किट के हिसाब से 7.18 करोड रुपए में की गई। उन्होंने कहा कि आश्चर्यजनक बात यह है कि आईसीएमआर ने इस किट को नॉन अप्रूव्ड वाली सूची में डाल रखा है और इस किट से होने वाली जांच आईसीएमआर के पोर्टल पर दर्ज भी नहीं हो रही है क्योंकि पोर्टल पर यह किट रजिस्टर्ड नहीं है? उसके बावजूद भी इस किट को खरीदा गया, इससे समझा जा सकता है कि इस किट की खरीदी के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार हुआ? खुद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी इसकी गुणवत्ता पर सवाल उठा रहे हैं। भोपाल के सीएमएचओ ने ख़ुद चि_ी लिखकर इसे निम्न गुणवत्ता वाली और घटिया किट बताते हुए इस पर सवाल उठाये है ? उन्होंने बताया कि इस कीट के कारण कोरोना के वास्तविक रोगियों का आकलन नहीं हो पा रहा है और जो लक्षण वाले पॉजिटिव मरीज है यह किट उनकी रिपोर्ट भी नेगेटिव बता रही है? इस किट पर प्रतिबंध की मांग भी उठ रही है क्योंकि इसका सक्सेस रेट भी काफी कम है ? आश्चर्यजनक बात यह है कि इस किट को योग्य बताकर ,नियम विरुद्ध इसकी खरीदी कर, इसे प्रदेश के कई जिलों में से बांट दिया गया और पिछले 2 माह से इस किट के द्वारा ही जांच की जा रही है? इसी से समझा जा सकता है कि शिवराज सरकार कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की कैसी तैयारी कर रही है? कांग्रेस नेता ने कहा कि बताया जा रहा है कि पूरा मामला सामने आने के बाद भ्रष्टाचार में लिप्त वरिष्ठ अधिकारी सरकार के इशारे पर इस मामले को दबाने में लग गए हैं और अधिकारियों पर दबाव डालकर अब इसकी क्वालिटी को योग्य और संतुष्ट बताने का काम किया जा रहा है? नरेन्द्र सलूजा ने शिवराज सरकार से मांग करते हुए कहा कि इस पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई जा कर, इस पूरे भ्रष्टाचार के मामले का खुलासा हो, इसके दोषियों पर कड़ी कार्रवाई हो, साथ ही सरकार यह भी बताएं कि भ्रष्टाचार की यह काली कमाई किसकी जेब में गई, किसने आपदा में भी अवसर तलाशे है ?  

Kolar News

Kolar News 16 July 2021

ग्वालियर। जिला चिकित्सालय में समाज के सबसे गरीब तबके के लोग बड़ी उम्मीद के साथ आते हैं। इसलिये संसाधनों का बेहतर उपयोग कर ऐसी व्यवस्था बनाएं, जिससे यहाँ पर आने वाले मरीजों को छाया, पेयजल, दवा, पैरामेडीकल स्टाफ और चिकित्सकों की कमी महसूस न हो। यह निर्देश जिले के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने गुरुवार को जिला चिकित्सालय मुरार के निरीक्षण के समय सिविल सर्जन को दिए। उन्होंने कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से कहा कि जिला चिकित्सालय में निर्माणाधीन ऑक्सीजन प्लांट 8 दिन में चालू कराएँ। साथ ही कोविड की तीसरी लहर को ध्यान में रखकर एहतियात बतौर बच्चों व महिलाओं के लिये सर्वसुविधायुक्त वार्ड विकसित किए जाएं। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से भी कहा कि वे हर हफ्ते जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाएँ देखने पहुँचें। इससे निश्चित ही अस्पताल की व्यवस्थाएँ और बेहतर होंगी। जिला चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री ने ओपीडी काउण्टर के समीप मरीजों एवं अटेण्डरों के लिए लगे पंखे खराब मिलने पर नाराजगी जताई। उन्होंने सिविल सर्जन को निर्देश दिए कि जिला चिकित्सालय परिसर में बुनियादी सुविधाएँ सुदृढ़ करें। वे जल्द ही जिला चिकित्सालय के हर वार्ड और विभाग का बारीकी से निरीक्षण करने आयेंगे। सिलावट ने जिला चिकित्सालय के उन्नयन की विस्तृत कार्ययोजना सिविल सर्जन से माँगी है। अस्पताल के निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री ने मरीजों एवं उनके अटेण्डर्स से चर्चा कर उनकी समस्यायें भी सुनीं। साथ ही सिविल सर्जन को इन समस्याओं का जल्द से जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए। इस दौरान पूर्व विधायक रामबरन सिंह गुर्जर, मदन कुशवाह व मुन्नालाल गोयल, भाजपा जिला अध्यक्ष शहर कमल माखीजानी व ग्रामीण कौशल शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि तथा कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा, सिविल सर्जन डॉ. डी के शर्मा समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे। कोविड संकट से निपटने में अथक योगदान के लिए जताया आभार प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कोविड-19 की पहली और दूसरी लहर के दौरान पैरामेडीकल स्टाफ और चिकित्सकों द्वारा की गई अथक मेहनत के लिए आभार जताया। उन्होंने प्रदेश सरकार की ओर से सभी के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया और बधाई भी दी। साथ ही विश्वास व्यक्त किया कि आगे भी इसी समर्पण भाव से स्वास्थ्य विभाग का अमला काम करता रहेगा। अस्पताल परिसर में रोपा कदम का पौधा प्रभारी मंत्री इस दौरान अंकुर अभियान के तहत जिला चिकित्सालय परिसर में आयोजित सामूहिक पौधरोपण कार्यक्रम में भी शामिल हुए। उन्होंने स्वयं कदम का पौधा रोपा। साथ ही अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ विभिन्न प्रजातियों के पौधे रोपे। इस अवसर पर सिलावट ने कहा कि हम सभी मिल-जुलकर स्व. माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय मुरार को स्वच्छ, सुंदर एवं सर्वसुविधायुक्त चिकित्सालय बनाने में सहभागी बनें। प्रभारी मंत्री ग्वालियर में वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों से सौजन्य भेंट करने पहुंचे जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने ग्वालियर प्रवास के दौरान गुरुवार को विभिन्न स्थानीय कार्यक्रमों में भाग लिया। प्रभारी मंत्री का दायित्व मिलने के बाद पहली बार ग्वालियर जिले के प्रवास पर आए सिलावट ने ग्वालियर में वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों के निवास पर पहुँचकर उनसे सौजन्य भेंट भी की और जिले के विकास के लिये सुझाव सुने। साथ ही सभी से जिले के सुनियोजित विकास में सहयोग देने का आग्रह किया। सिलावट उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह, पूर्व मंत्री इमरती देवी, पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा, पूर्व विधायक रामबरन सिंह गुर्जर व मुन्नालाल गोयल तथा वेदप्रकाश शर्मा सहित अन्य वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों के निवास पर सौजन्य भेंट करने पहुँचे। साथ ही पूर्व सांसद अशोक अर्गल के पारिवारिक वैवाहिक कार्यक्रम में भी शामिल हुए।

Kolar News

Kolar News 15 July 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश में शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत बच्चों को निजी स्कूलों में लाटरी के माध्यम से प्रवेश दिया गया। गुरुवार को स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार ने आरटीई के तहत निजी विद्यालयों की प्रथम प्रवेशित कक्षा में वंचित समूह और कमजोर वर्ग के बच्चों के निःशुल्क प्रवेश के लिये ऑनलाइन लॉटरी खोली। बच्चों को लाटरी के माध्यम से अपने मनचाहे स्कूलों में प्रवेश मिला। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मार्गदर्शन अनुसार ऑनलाइन लॉटरी सिस्टम में कोविड-19 से प्रभावित बच्चों को प्राथमिकता दी गई है। मध्यप्रदेश देश में आरटीई के तहत ऑनलाइन लॉटरी सिस्टम अपनाने वाला अग्रणी राज्य है। इस पारदर्शी व्यवस्था से अभिभावकों को उनके क्षेत्र के स्कूल और उनमें उपलब्ध सीटों की जानकारी के साथ ही ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से उनके बच्चों को स्कूल में सीट आवंटित हो जाएगी। परमार ने लॉटरी में चयनित बच्चों को उनकी स्कूल आवंटित होने पर बधाई दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। श्री परमार ने स्कूल शिक्षा विभाग और एनआईसी को ऑनलाइन पारदर्शी व्यवस्था निर्मित करने के लिए प्रशंसा भी की। लोक शिक्षण आयुक्त जयश्री कियावत ने कहा कि आरटीई के तहत निजी विद्यालयों में प्रवेश के लिए पारदर्शी और तकनीक आधारित व्यवस्था अपनाई गई है। ऑनलाइन लॉटरी के लिए दस्तावेज सत्यापन के उपरांत 1 लाख 72 हज़ार 440 बच्चे पात्र हुए हैं, जिन्हें रैंडम पद्धति से स्कूल का आवंटन किया जा रहा है। जिन बच्चों को स्कूल का आवंटन हो रहा है, उन्हें एसएमएस से भी सूचना दी जा रही है। बच्चे उनके आवंटित स्कूलों में 26 जुलाई तक प्रवेश ले सकेंगे। इन बच्चों की फीस सरकार द्वारा नियमानुसार स्कूल के खाते में सीधे ऑनलाइन ट्रांसफर की जाएगी। राज्य शिक्षा केंद्र संचालक धनराजू एस ने बताया कि इस वर्ष 1 लाख 99 हजार बच्चों के आवेदन आरटीई के तहत ऑनलाइन आए हैं। इनमें 1 लाख 5 हज़ार बालक और 94 हज़ार बालिकाएँ हैं। नर्सरी की कक्षा के लिए 1 लाख 9 हजार 258, केजी-1 के लिए 55 हज़ार 996, केजी-2 के लिए 4080 और कक्षा पहली के लिए 29 हज़ार 407 आवेदन आए है। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा विभाग और एनआईसी से संबंधितइअधिकारी उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 15 July 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री व मीडिया प्रभारी के.के.मिश्रा ने शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार में विभिन्न किस्म के जो भयभीत माफिया प्रदेश से पलायन कर गए थे,वे आज सरकार, मंत्रियों के अघोषित ओएसडी बन उन्हें संचालित कर रहे हैं। यही कारण है कि प्रदेश अपराधियों का अभ्यारण बन गया है, कानून व्यवस्था चौपट है और माफिया अपनी समानांतर सरकार चला रहे हैं! केके मिश्रा ने चम्बल इलाके में रेत माफियाओं के खिलाफ़ मात्र 94 दिनों में 15 हमले सहने वाली आयरन लेडी एसडीओ (वन) श्रद्धा पांढरे के रेत माफियाओं के दबाव में किये गए तबादले के उल्लेख करते हुए कहा कि यह या ऐसे अन्य तबादला व निलम्बन आदेश जहां ईमानदार कर्मचारियों/अधिकारियों के मनोबल तोड़ रहे हैं,वहीं यह साबित कर रहे हैं कि सरकार माफियाओं के समक्ष आत्मसमर्पण कर चुकी है। उन्होंने कहा कि एक खरीदी हुई सरकार में चौथी बार मुख्यमंत्री के रूप में काबिज मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा था "अपराधी,माफिया प्रदेश छोड़ दें, उन्हें 10 फीट गड्ढों में गाड़ दूंगा या वे जेल के सींखचों में होंगे? यही नहीं उन्होंने यह भी कहा था कि रेत का अवैध उत्खनन करने वाले वाहन भी राजसात होंगे?" मुख्यमंत्री जी, आप कृपापूर्वक बताएंगे इन घोषणाओं का कितना व क्या अमल हुआ? कांग्रेस नेता ने मुख्यमंत्री से पूछा कि क्या यह झूठ है कि आपके कार्यकाल में आपके ही गृह जिले सीहोर में रेत माफियाओं ने ही एक वरिष्ठ आईएएस पर चार पहिया वाहन चढ़ाकर उन्हें मार डालने का प्रयास किया गया? रेत माफियाओं ने ग्वालियर- चम्बल संभाग में एक आईएएस नरेंद्र प्रसाद की डम्पर चढ़ाकर हत्या की? राज्यमंत्री आर.पी.एस. भदौरिया के मेहगांव स्थित निवास पर फायरिंग की, पुलिस, एसएएफ, खनिज, वन विभाग के कर्मचारियों पर हमले/हत्या के दर्जनों प्रयास हुए, हाल ही में मुंगावली में भाषण दे रहे राज्यमंत्री ब्रजेंद्रसिंह यादव के सामने अवैध रेत का डम्पर गुजर रहा था और स्थानीय एसडीओपी व थाना प्रभारी उसे मंत्री जी के सामने निकल जाने के सरकारी प्रयास कर रहे थे? सरकार को यह सब दिखाई क्यों नहीं दे रहा? इन सब स्पष्ट व प्रामाणिक मामलों के दोषियों के खिलाफ क्या असरकारक व दिखाई देने वाली वैधानिक कार्यवाही हुई? कार्यवाही यदि हुई तो चम्बल एसडीओ (वन) श्रद्धा पांढरे,सीहोर की तत्कालीन निरीक्षक सुश्री पांडेय के खिलाफ़ जिसने एक प्रभावी परिवार के अवैध रेत से भरे डम्पर पकड़े? इंदौर जिले के महू में पदस्थ रेंजर श्री आर.एस.पांडेय के खि़लाफ़ निलम्बन जिन्होंने मंत्री उषा ठाकुर के समर्थक भाजपा नेता खिलाफ़ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए नियमानुसार कारवाही की? मिश्रा ने कहा यह सांकेतिक बानगियाँ अपराधियों/माफियाओं के विरुद्ध सरकार के कथित संकल्पों व सांठगांठ को उजागर करने के लिए पर्याप्त हैं, जिसे लेकर सरकार को अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए।

Kolar News

Kolar News 15 July 2021

भोपाल। प्रदेश के जल-संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सोमवार को चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग से उनके निवास पर पहुँचकर मुलाकात की। उन्होंने एमवायएच को सुपर स्पेशलिटी सहित आदर्श अस्पताल बनाने और सभी सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मांग पत्र सौंपा। सिलावट ने बताया कि इंदौर का महाराजा यशवंत राव अस्पताल (एमवायएच) प्रदेश का सबसे बड़ा शासकीय अस्पताल है तथा यहाँ पर मालवा-निमाड़ एवं अन्य प्रान्तों से हजारों की संख्या में प्रतिदिन मरीज इलाज के लिए आते हैं। इनमें अधिकांश गरीब एवं मजदूर वर्ग के होते हैं। महाराजा यशवंत राव अस्पताल एवं उससे संबंधित अस्पतालों को आदर्श अस्पताल बनाने के लिए विकास एवं उन्नयन के लिये 200 बेड का अत्याधुनिक ट्रामा सेंटर बनाया जाए। एमवाय अस्पताल में रोज 400 से 500 मरीज ट्रामा एवं एमएलसी के मरीज आते हैं। इसके साथ ही केजुअल्टी मेडिकल अफसर के और पद निर्मित किये जाएं। मंत्री सिलावट ने बताया कि कैंसर अस्पताल का भवन पुराना हो गया है। अभी वहाँ कोबाल्ट पद्धति से मरीजों का इलाज हो रहा है, जो कि पुरानी हो गयी है। लीनियर एक्सीलेरेटर की नई पद्धति स्थापित करने की आवश्यकता है, इसलिए कैंसर अस्पताल को नया बनाया जाए। अस्पताल के सभी ऑपेरशन थिएटर को मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर में बदला जाए। अस्पताल में बहुत से मरीज ऐसे आते हैं, जिन्हें भर्ती करने की आवश्यकता नहीं होती है। उन्हें निगरानी में कुछ घंटे रखना पड़ता है। इसके लिए 200 बेड का एक डे-केयर सेंटर बनाया जाये। अस्पताल में एयर कंडीशनिंग सिस्टम का आधुनिकीकरण किया जाये, जिससे अस्पताल के आईसीयू ऑपेरशन थिएटर एवं वार्ड में मरीजों को ज्यादा सुविधाएँ मिल सकें। एमवाय अस्पताल में आधुनिक वाइरोलॉजी लैब की स्थापना की जाये, जिसमें जीनोम सिक्वेंसिंग से लेकर सभी आधुनिक जाँचें हो सकें। साथ ही अन्य डाइग्नोस्टिक लैब जैसे– बायो केमिस्ट्री, माइक्रो बायोलॉजी का आधुनिकीकरण किया जाये। न्युक्लियर स्कैन जैसे- नए डाइग्नोस्टिक सिस्टम की स्थापना की जाए। सिलावट ने कहा कि जिन विषयों में पी.जी. का कोर्स नहीं चल रहा है, उसमें डीएनबी/एफएनबी कोर्स शुरू किए जाए। चाचा नेहरू अस्पताल का विस्तार किया जाना चाहिए। इसकी बेड क्षमता को बढ़ाना एवं ऑपेरशन थिएटर बनाना ताकि पीडियाट्रिक मेडिसिन एवं पीडियाट्रिक सर्जरी दोनों काम एक जगह हो। अस्पताल में पृथक से इम्यूनाइजेशन क्लिनिक बनाया जाए, जहाँ सभी प्रकार की बीमारियों का टीकाकरण हो सके। मानसिक चिकित्सालय में आधुनिक डी-एडिक्शन सेंटर की स्थापना हो। अस्पताल में और लिफ्ट लगाने की आवश्यकता है। अस्पताल के आंतरिक रख-रखाव के किये एक अस्पताल भवन प्रबंधन प्रणाली एवं अस्पताल यांत्रिकी एवं विद्युत सेवाएँ का गठन किया जाए, जो अस्पताल एवं उसके मेडिकल इक्विपमेंट का भी रख-रखाव कर सकें। मशीनों के रख-रखाव के लिये इंजीनियर और ए.एम.सी., सी.एम.सी. के लिये पूरा सेटअप स्थापित किया जाए। मेडिकल एवं सर्जिकल इंडोक्रिनोलॉजी ब्रांच की स्थापना की जाए। अत्याधुनिक सॉफ्टवेयर एवं हार्डवेयर सभी अस्पतालों में स्थापित किये जायें। मंत्री सिलावट ने कहा कि अस्पताल को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाना चाहिये। बेड क्षमता बढ़ाने के साथ नए आधुनिक मॉड्यूलर ऑपेरशन थिएटर बनाया जाये। वाटर रीसाइक्लिंग प्लांट का सुदृढ़ीकरण किया जाए। सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में रोबोटिक सर्जरी की स्थापना की जाए। एमवायएच अस्पताल और एमजीएम मेडिकल कॉलेज के कैंपस के सौंदर्यकरण, सड़कों का चौड़ीकरण, वृक्षारोपण, मल्टी लेवल पार्किंग, ट्रैफिक व्यवस्था आदि कार्य किये जाए। डॉक्टर, नर्सिग एवं पैरामेडिकल स्टाफ के रहने के लिए नए क्वार्टर्स का निर्माण कराया जाए। पुलिस चौकी को मेडिकल थाने में परिवर्तित किया जाये।

Kolar News

Kolar News 12 July 2021

अनूपपुर। किरर घाटी में क्षतिग्रस्त मार्ग का मरम्मत कार्य जल्द शुरु कराने, कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की संभावना को दृष्टिगत रखते हुए अभी से समुचित तैयारी करें। जिले में सर्व सुविधायुक्त बेडों की संख्या और कोरोना जांच की संख्या भी बढ़ाई जाए। लोग भले ही जांच कराने आगे ना आए, लेकिन उनके जांच कराना सुनिश्चित किया जाए। सोमवार को जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री तथा जिले की प्रभारी मंत्री मीना सिंह ने जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु किए गए उपायों की समीक्षा करते हुए कही। बैठक में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह, उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, क्षेत्रीय सांसद हिमाद्री सिंह, कलेक्टर सोनिया मीना, पुलिस अधीक्षक मांगीलाल सोलंकी, विधायक पुष्पराजगढ़ फुन्देलाल सिंह मार्को, विधायक कोतमा सुनील सराफ, जिला पंचायत अध्यक्ष रूपमती सिंह, बृजेश गौतम, रामदास पुरी, पूर्व विधायक पुष्पराजगढ़ सुदामा सिंह सिंग्राम समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने जिले में सर्वसुविधायुक्त बेडों की संख्या बढ़ाने पर जोर एवं नजदीक स्थान पर ही वैक्सीनेशन सेंटर बनाने का सुझाव दिया। स्वास्थ्य समितियों की बैठकें नियमित रूप से आयोजित करने, कोरोना की रोकथाम के संबंध में सदस्यों से सुझाव लिए जाएं। अघोषित बिजली की कटौती ना किए जाने के निर्देश दिए। जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री ने कहा कोरोना से निपटने के लिए अभी हमारे पास जो स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध थीं, उन स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया जाए। संसाधनों को बढ़ाया जाए और संसाधनों के मामले में कहीं कोई कसर ना छोड़ी जाए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी फील्ड में कार्यरत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को निर्देशित करें कि सर्दी, जुकाम, खांसी से पीडि़त व्यक्तियों की तत्काल स्वास्थ्य अधिकारियों को जानकारी दें, जिसके आधार पर उनका कोरोना टेस्ट कराना सुनिश्चित किया जाए। वैक्सीनेशन के डोजेज बढ़ाने के निर्देश दिए, शत-प्रतिशत टीकाकरण होगा सकें। नगरीय क्षेत्रों में शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने हेतु जरूरी कदम उठाने के विभिन्न मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री ने आपदा प्रबंधन समितियों में नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के अधिक से अधिक लोगों को जोडऩे पर बल दिया,कोरोना संकट की रोकथाम हेतु सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक को निर्देशित किया कि लोगों से मास्क लगवाने हेतु जरूरी कदम उठायें। मास्क के उपयोग के प्रति किसी तरह की ढिलाई ना बरती जाए। जनता को समझाने की जरूरत है कि कोरोना से बचाव के लिए उनका मास्क लगाना बेहद जरूरी है। कलेक्टर से कहा कि वे विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करें कि वे भी लोगों को मास्क लगाने हेतु आवश्यक कदम उठायें। जिला आपूर्ति अधिकारी शासकीय उचित मूल्य दुकानों पर खाद्यान्न लेने,समितियों में खाद एवं बीज लेने आने वाले किसानों के लिए भी मास्क लगाना अनिवार्य करने के निर्देश दिए। कार्यपालन यंत्री म.प्र. विद्युत मंडल को निर्देशित किया कि जिले में कहीं भी अघोषित बिजली की कटौती ना की जाए। अगर बिजली काटी जाए तो पहले उपभोक्ताओं को इसकी सूचना अवश्य दी जाए। ट्रांसफार्मर जलने की सूचना आती है, उनको प्राथमिकता से ठीक कराया जाए। सौभाग्यवती योजना के अंतर्गत कोई भी पात्र गांव एवं घर बिजली की सुविधा से वंचित नहीं रहना चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अधूरे पड़े मकानों को पूर्ण कराने,किसी का मकान अधूरा है और उसकी ओर से कोई शिकायत प्राप्त होती है तो तत्काल समाधान किया जाए।  

Kolar News

Kolar News 12 July 2021

भोपाल। पर्यावरण, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग ने पशुपालन मंत्री प्रेमसिंह पटेल के साथ सोमवार को प्रभार के जिले बड़वानी में लगभग 15 करोड़ रुपये के 16 विकास कार्यों का भूमि-पूजन किया। विकास कार्यों में 14 नल-जल योजना, 2 सड़क, सीमेंट काँक्रीटीकरण और नाला निर्माण शामिल हैं। सांसद राज्य सभा सदस्य डॉ. सुमेर सिंह सोलंकी और लोक सभा सांसद गजेन्द्र सिंह पटेल भी मौजूद थे। हर ग्रामीण को मिलेगा 55 लीटर शुद्ध पेयजल मंत्री डंग ने जिले में जल जीवन मिशन की "हर घर जल" योजना में 12 करोड़ 53 लाख रुपये से अधिक की 14 नल-जल योजनाओं का भूमि-पूजन किया। योजना के तहत वर्ष 2024 तक सभी घरों में नल जल कनेक्शन प्रदाय किया जाना है। इसमें जल स्त्रोतों का संरक्षण कर उन्हें सतत् बनाने और जल के पुन: उपयोग करने जैसे उपायों की जरूरत पर भी अभियान चलाया गया है। सभी गाँवों में नल जल उपलब्ध कराने के प्रयास जारी हैं। प्रस्तावित नवीन योजनाओं के पूरा होने पर प्रत्येक परिवार को 55 लीटर प्रति व्यक्ति प्रति दिन के मान से शुद्ध जल मिलने लगेगा। डंग ने ग्राम हतोला में एक करोड़ 75 लाख 59 हजार रुपये लागत की नल-जल योजना का भूमि-पूजन किया। गाँव की वर्तमान जनसंख्या 3130 है और 15 हैण्ड पंप चालू अवस्था में है। पर्यावरण मंत्री ने 2390 की जनसंख्या वाले रणगाँव (दवाना) में एक करोड़ 37 लाख 94 हजार रुपये लागत के 544 कनेक्शन, कोयडिया में एक करोड़ 16 लाख 25 हजार लागत के 444 नल कनेक्शन, बांदरकच्छ में एक करोड़ 10 लाख 87 हजार लागत के 328, मोहिपूरा में एक करोड़ 9 लाख 95 हजार के 301, टिटगारिया में 85 लाख 47 हजार के 244, सेमल्दा डेब में 68 लाख 8 हजार रुपये के 221, ग्राम गवला में 69 लाख 9 हजार रुपये के 207, ग्राम नन्दगाँव में 47 लाख 89 हजार के 140, ग्राम कपाल्याखेडी में 84 लाख 45 हजार लागत के 230, अभाली में 91 लाख 6 हजार के 332, ग्राम अजन्दी में 42 लाख 14 हजार के 171, लहडगॉव में 32 लाख 82 हजार के 50 और मेहगाँव डेब में 81 लाख 42 हजार के 278 प्रस्तावित नल-जल कनेक्शन का भूमि-पूजन किया।

Kolar News

Kolar News 12 July 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश में गैर अनुदान प्राप्त अशासकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के अभिभावकों या पालकों को केवल शिक्षण-शुल्क (Tuition Fee) ही जमा करनी पड़ेगी। निजी स्कूल इसके अतिरिक्त अन्य कोई फीस आगामी आदेश तक नहीं वसूल सकेंगे। इसके साथ ही कोई भी निजी विद्यालय शैक्षणिक सत्र 2021-22 में आगामी आदेश तक कोई फीस वृद्धि नहीं कर सकेगा। यह जानकारी प्रदेश के स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) और सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार ने गुरुवार को दी। स्कूल शिक्षा मंत्री परमार ने बताया कि प्रदेश के समस्त सीबीएसई, आईसीएसई, म.प्र. माध्यमिक शिक्षा मण्डल और अन्य बोर्ड से संबद्ध गैर अनुदान प्राप्त अशासकीय विद्यालयों पर यह निर्देश समान रूप से लागू होंगे। शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए यदि किन्ही अशासकीय विद्यालयों द्वारा फीस वृद्धि की गई है तो ऐसी वृद्धि के द्वारा एकत्र की गई फीस को संबंधित छात्रों की आगामी देय फीस से समायोजित की जायेगी। मंत्री परमार ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण की विगत वर्ष की परिस्थितियों से विद्यार्थी और पालक प्रभावित हुए हैं। वर्तमान में भी उसी तरह की परिस्थितियां बनी हुई है। इसलिए विगत वर्ष में माननीय उच्च न्यायालय द्वारा पारित 4 नवंबर 2020 के निर्णय के अनुक्रम में इस वर्ष भी शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए यह निर्देश जारी किए गए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग ने इस संबंध में सभी जिलों के कलेक्टर्स, सभी संभागीय संयुक्त संचालक लोक शिक्षण और जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किए है। शैक्षणिक सत्र 2020-21 के संबंध में एक मार्च 2021 को जारी विभागीय परिपत्र द्वारा जारी निर्देश की कण्डिका 2 की उप-कण्डिका 4 को आगामी आदेश तक निष्प्रभावी किया है। इसके साथ ही अशासकीय विद्यालयों के द्वारा फीस वृद्धि के संबंध में लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा 29 जून 2021 को जारी निर्देश को आगामी आदेश तक निष्प्रभावी किया गया है।

Kolar News

Kolar News 8 July 2021

भोपाल। प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया तथा नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने गुरुवार को सागर जिले के बामोरा में निर्माण किये जाने वाले स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का वर्चुअल माध्यम से भूमि-पूजन किया। लगभग 5.630 हेक्टयर भूमि पर 5 करोड़ 90 लाख की लागत से निर्मित होने वाले स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स को म.प्र. पुलिस हाउसिंग एण्ड इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा तैयार किया जायेगा। इस स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में बेडमिंटन कोर्ट, फुटबाल, एथलेटिक्स ट्रेक, बॉस्केटबॉल, व्हालीबॉल, टेबिल-टेनिस, जिम, स्टोर आदि की सुविधाएँ उपलब्ध रहेंगी। सभी जिला मुख्यालयों में बनेगा इंडोर/आउटडोर स्टेडियम खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि हमारी यह कोशिश रहेगी कि भविष्य में सभी जिला मुख्यालयों पर युवाओं और खिलाड़ियों के लिये इंडोर एवं आउटडोर स्टेडियम बने। इससे हर मौसम में खिलाडी अपने प्रशिक्षण को निर्विघ्न जारी रख सकेगें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुसार हम प्रदेश के खिलाड़ियों को बेहतर अधोसंरचना और आधुनिक तकनीकों से लैस स्टेडियम की सुविधा उपलब्ध कराने के लिये प्रतिबद्ध हैं। खेल मंत्री ने कहा कि भूमि-पूजन के बाद तत्काल गुणवत्तापूर्ण बाउण्ड्रीवॉल का कार्य शुरू करवायें, जिससे अतिक्रमण न हो सके। बचपन का सपना हो रहा पूरा नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बचपन का सपना था कि स्टेडियम का निर्माण हो, आज वह पूरा हो रहा है। उन्होंने कहा कि यह सागर का सबसे आधुनिक स्टेडियम होगा। इस स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स से युवाओं को लाभ मिलेगा। युवाओं को गति प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि खेल के क्षेत्र में आज प्रदेश अग्रणी है। इन प्रयासों और सुविधाओं से छुपी प्रतिभाओं को अपना हुनर दिखाने का मौका मिलेगा। इस अवसर पर नरयावली विधायक प्रदीप लारिया, जिला पंचायत अध्यक्ष दिव्या अशोक सिंह सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 8 July 2021

भोपाल। पिछले सवा दो महीने से शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में भर्ती 87 वर्षीय वयोवृद्ध कांग्रेस नेता और हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का गुरुवार तड़के निधन हो गया। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने वीरभद्र सिंह के निधन को देश के सार्वजनिक जीवन में अपूरणीय क्षति बताया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा है कि -"हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह जी के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन पीड़ा सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। विनम्र श्रद्धांजलि! वीरभद्र सिंह के निधन से भारत के सार्वजनिक जीवन को अपूरणीय क्षति हुई है।"

Kolar News

Kolar News 8 July 2021

भोपाल। प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री प्रेमसिंह पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश दिव्यांगजनों को पहचान-पत्र (यूडीआईडी) देने में देश में शीर्ष स्थान पर है। केन्द्र शासन द्वारा निर्धारित 6 लाख 7 हजार 313 लक्ष्य के विरुद्ध प्रदेश में अब तक 5 लाख 97 हजार से अधिक दिव्यांगजनों को पहचान-पत्र जारी किये जा चुके हैं। ट्रांसजेंडर को पहचान-पत्र देने में भी मध्यप्रदेश देश में प्रथम स्थान पर है। देश में सर्वप्रथम 8 जनवरी, 2021 को भोपाल कलेक्टर द्वारा ट्रांसजेंडर व्यक्तियों को प्रमाण-पत्र जारी किये गये। मंत्री पटेल ने यह बात गुरुवार को अपने प्रभार जिले बुरहानपुर में प्रथम प्रवास के दौरान 3 दिव्यांगजन को परिचय एवं प्रमाण-पत्र, 4 नव-विवाहित जोड़ों को नि:शक्त विवाह प्रमाण-पत्र और मुख्यमंत्री शिक्षा प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत दिव्यांग कुमारी हर्षाली को लेपटॉप और आर्थिक सहायता प्रदान करते हुए कही। उन्होंने मुख्यमंत्री नि:शक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना में प्रत्येक जोड़े को 2-2 लाख रुपये की राशि प्रदान की। विधायक सुमित्रा कास्डेकर और पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस भी मौके पर उपस्थित थीं। मंत्री पटेल ने विभागीय और हितग्राहीमूलक योजनाओं की प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने जिला प्रशासन के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि बेहतर प्रबंधन के परिणाम स्वरूप आज बुरहानपुर जिले में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या शून्य है। चिकित्सालय का औचक निरीक्षण कर कोरोना तीसरी लहर की तैयारियाँ देखीं पशुपालन मंत्री पटेल ने गुरुवार को बुरहानपुर जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण कर कोरोना की तीसरी लहर की तैयारी के लिये की गई व्यवस्थाओं का भी अवलोकन किया। तैयारियों पर संतोष व्यक्त करते हुए उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और स्टॉफ से चर्चा भी की। चिकित्सालय में बच्चों के लिये 10 बेड गहन चिकित्सा इकाई, बच्चों के लिये वेंटीलेटर, बाईपेप, आईसीयू वार्ड, सीटी स्केन, सोनोग्राफी, सर्जिकल वार्ड, कोविड के उपचार के लिये पर्याप्त दवाइयाँ और उपकरण आदि की विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने चिकित्सालय की 'अन्नपूर्णा रसोई' में तैयार किये गये पौष्टिक आहार का स्वाद लेकर सराहना की।

Kolar News

Kolar News 8 July 2021

नीमच। प्रदेश के सूक्ष्म लघु मध्यम उद्यम एवं विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने सोमवार को शासकीय चिकित्सालय परिसर जावद में 200 लीटर प्रतिमिनट क्षमता के नवीन ऑक्सीजन प्लांट निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया। इस मौके पर श्याम काबरा, सचिन गोखरू एंव अन्य जनप्रतिनिधि, एसडीएम राजेन्द्रसिंह, डॉ.राजेश मीणा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। मंत्री सखलेचा ने जावद में नवीन ऑक्सीजन प्लांट के भूमिपजून के बाद अस्पताल परिसर में बन रहे 50 बेड के नवीन वार्ड निर्माण कार्य का अवलोकन कर, निर्माण कार्य को तेजी से पूरा करवाने के निर्देश दिए। उन्होने निर्देश दिए,कि नवीन वार्ड का एक द्वार मेनरोड की तरफ रखा जावे, ताकि मरीजों और उनके परिजनों को सुविधा हो। मंत्री सखलेचा ने चिकित्सालय परिसर में बगीचे का सुव्यवस्थित विकास कर बगीचे में झूले व बैठने के लिए सीमेंट की चेयर लगाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने जावद अस्पताल का निरीक्षण कर, मरीजों के लिए उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया और चिकित्सकों को आवश्यक निर्देश भी दिए।

Kolar News

Kolar News 5 July 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने सोमवार को नेमावर पहुंच कर, नेमावर में आदिवासी परिवार के साथ घटित नृशंस व जघन्य हत्याकांड के पीडि़त परिवार से मुलाकात कर अपनी शोक संवेदनाए व्यक्त की। उन्होंने पीडि़त परिवार से चर्चा कर इस हत्याकांड व घटना की पूरी विस्तृत जानकारी ली। यहां मीडिया से बातचीत करते हुए कमलनाथ ने कहा कि नेमावर में आदिवासी परिवार के साथ घटित इस नृशंस व जघन्य हत्याकांड ने मुझे बेहद आहत किया है। मैंने आज पीडि़त परिवार से मुलाक़ात की है। परिजन आज भी ख़ौफ़ में है, उन्होंने बताया कि उनकी रिपोर्ट लिखने में आनाकानी की गयी, पूरी घटना को दबाने- छिपाने का काम किया गया। अपराधी बेख़ौफ़ घूमते रहे, पुलिस को गुमराह करते रहे। आज भी दबाने- छुपाने का काम किया जा रहा है।कमलनाथ ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आज अपराधी पूरे प्रदेश में हावी है। बेखौफ होकर घटनाओं को अंजाम दे रहे है। क़ानून व्यवस्था नाम की कोई चीज़ प्रदेश में नजऱ नही आती है। इस पूरे मामले की सीबीआई जाँच होना चाहिये। आखिर सरकार इसकी जाँच से क्यों भाग रही है ? कांग्रेस पीडि़त परिवार के साथ इस दु:ख की घड़ी में खड़ी है। उन्हें न्याय मिलने तक हम उनकी पूरी लड़ाई लड़ेंगे।  

Kolar News

Kolar News 5 July 2021

भोपाल। विधायक विश्राम गृह में स्थित कात्यायनी माता मंदिर के पीछे की बस्ती में रहने वाले नागरिकों ने भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से मंदिर के पुजारी द्वारा दरवाजा बंद करने की शिकायत की थी। रहवासियों का आरोप है कि बस्ती में रहने वाले श्रद्धालु मंदिर के पीछे स्थित दरवाजे से आसानी से आ जाते थे लेकिन मंदिर के पुजारी ने दरवाजा निकलवा के उसकी जगह दीवार बनवा दी जिसके कारण भक्तों को लंबा चक्कर लगाकर भगवान के दर्शन करना पड़ रहे हैं। रहवासियों की शिकायत पर आज माननीय सांसद साध्वी ने बस्ती का दौरा किया इसके अलावा मंदिर में जाकर बंद हुए दरवाजे का भी मौका मुआयना किया। इस दौरान मंदिर की देखरेख करने वाले पुजारी अपना पक्ष रखने सांसद के सामने नहीं आए उनके शिष्यों ने बताया कि पुजारी जी कहीं बाहर गए हुए हैं हालांकि वहां मौजूद लोगों ने सांसद को बताया कि पुजारी जानबूझकर सामने नहीं आ रहे हैं। बस्ती के रहवासियों को सांसद साध्वी प्रज्ञा ने आश्वस्त किया कि उनकी परेशानी को जल्दी हल किया जाएगा।  

Kolar News

Kolar News 3 July 2021

दतिया। प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान जब कोरोना संक्रमित व्यक्ति से मिलने या उसके पास जाने में परिजन संकोच करते थे, ऐसे समयमें कोरेाना योद्धाओं ने अपनी जान की परवाह किए बिना अपना फर्ज अदा किया। जिससे हम अपने को गौरान्वित महसूस कर रहे हैं। गृह मंत्री डॉ. मिश्र शनिवार को अपने निज निवास राजघाट कालोनी पर कोरोना से मृत व्यक्तियों के दाह संस्कार करने वाले कोरोना योद्धाओं को सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कोरोना योद्धाओं को पुष्पहार एवं सील्ड प्रदान कर सम्मान किया।गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमण को पूरी दुनिया देख चुकी है। जिसमें संक्रमित व्यक्ति के पास जाने में लोग संकोच करते थे एवं कतराते थे। ऐसे में कोरोना योद्धा के रूप में भीषण गर्मी में पीपीटी किट पहनकर एवं कोविड पोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी जान की परवाह करते हुए कोरोना से मृत व्यक्तियों का दाह संस्कार किया। कोरोना योद्धाओं के इस कार्य की जितनी सराहना की जाए उतनी कम है। उन्होंने कहा कि मां पीताम्बरा की कृपा से जिले में केारोना काल में मरीजों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं आने दी गई। इस दोरान ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था, रेमिड सीवर इंजेक्शन, दवाओं एवं विस्तरों की भी कमी नहीं आने दी गई। उन्होंने कहा कि एक समय में संक्रमण की दर जिले में अधिक होने के बाद भी मृत्यु दर बढ़ने नहीं दी गई।डॉ. मिश्र ने कहा कि पूरे प्रदेश में दतिया की पुलिस ने अन्नदान वितरण कार्यक्रम एवं पुलिस कर्मियों द्वारा एक दिन का वेतन देकर पुलिस चिकित्सालय में आयुष वार्ड की स्थापना कर मानवता की मिशाल पेश की। इसके लिए पुलिस कर्मी बधाई एवं साधुवाद के पात्र हैं।कोरोना योद्धाओं को हुआ सम्मान   गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कोरोना से मृत व्यक्तियों के दाह संस्कार करने वाले कोरोना योद्धा के रूप में चंदन बाल्मीकी, सत्यम, विक्रम, पवन, रामकुमार, लखन, निखिल और पंकज को पुष्पहार पहनाकर एवं सील्ड प्रदान कर सम्मान किया। कार्यक्रम को पूर्व विधायक प्रदीप अग्रवाल एवं नगरपालिका उपाध्यक्ष योगेश सक्सेना ने भी संबोधित किया। शुरू में कार्यक्रम के आयोजक डॉ. राजू त्यागी ने संचालन करते हुए कहा कि इसके पूर्व कोरोना योद्धा के रूप में सफाईकर्मी, समाचार पत्र वितरक (हॉकर्स) नर्सेस डॉक्टर आदि का भी सम्मान किया जा चुका है।  

Kolar News

Kolar News 3 July 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष गिरीश गौतम ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस के अवसर पर रचना टावर्स आवासीय परिसर में पौधरोपण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं में लगातार वृद्धि हो रही है, इन्हें रोकने के लिए प्रकृति में संतुलन जरूरी है। आज आवश्यकता है पौधरोपण की। पेड़ नहीं तो कल नहीं यह सिर्फ एक नारा नहीं है, अपितु एक चेतावनी है।रचना टावर्स परिसर का निर्माण विधानसभा/लोकसभा सदस्यों, पूर्व सदस्यों तथा विधानसभा सचिवालय के कर्मचारियों−अधिकारियों के लिए किया जा रहा है। पौधरोपण कार्यक्रम में सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, विधानसभा की आवास समिति के अध्यक्ष यशपाल सिसौदिया, अन्य अधिकारी एवं प्रबुद्धजन उपस्थित थे। विधानसभा अध्यक्ष गौतम ने कहा कि आज ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्याएं खड़ी हुई है। हम अपने लालच की पूर्ति के लिए जंगलों को उजाड़ रहे हैं, पहाड़ों को खोद रहे हैं। यह गंभीर स्थिति के संकेत हैं। हमें यह समझना चाहिए की एक पेड़ की क्या कीमत होती है। उन्होंने कहा कि विकास को रोका नहीं जा सकता है। सड़क, बांध, घर सबकुछ बनेंगे, लेकिन प्रकृति में संतुलन भी जरूरी है। यह तय करना आवश्यक है कि यदि हम एक पेड़ काटे तो उसके बदले में दस पेड़ लगाएं।विधानसभा अध्यक्ष ने प्रकृति संरक्षण के लिए विंध्य अंचल की समृद्ध परंपराओं की जानकारी देते हुए बताया कि वहां पर वृक्ष को पुत्र मान कर उसके पालन पोषण के साथ ही बगीचे के विवाह तक की परंपरा है। इन परंपराओं के पीछे का उद्देश्य प्रकृति को बचाना ही है। पहले जब ऑक्सीजन की कमी नहीं थी तब भी वृक्ष के संरक्षण का भाव था, तो आज की स्थिति में तो हमें इसके महत्व को अवश्य समझना चाहिए।

Kolar News

Kolar News 3 July 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश में पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों के लिये आवास निर्माण का कार्य त्वरित गति से किया जा रहा है। आवश्यकतानुसार प्रदेश में पीपीपी मोड में पुलिस के आवास निर्मित किये जायेंगे। एक भी अधिकारी-कर्मचारी को आवासहीन नहीं रहने दिया जायेगा।    यह बात प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को झाबुआ जिले के प्रभारी एवं पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग के साथ झाबुआ में नवनिर्मित 64 पुलिस आवास गृहों का लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए यह बात कही। इस अवसर पर क्षेत्रीय सांसद गुमान सिंह डामोर, क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया और पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी भी उपस्थित थे।   पुलिस आवास लोकार्पण समारोह के पूर्व गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने सर्किट हाऊस में कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए अपराध नियंत्रण के लिये किये जा रहे उपायों में निरंतर सख्ती बनाये रखने के निर्देश दिये। डॉ. मिश्रा ने झाबुआ में कोरोना नियंत्रण के लिये उठाये गये कदमों जिनके फलस्वरूप झाबुआ में कोरोना के प्रकरण सर्वप्रथम शून्य आने के लिये स्वास्थ्य विभाग, पुलिस, प्रशासन, जन-प्रतिनिधि और जनता की सराहना की। उन्होंने स्थानीय लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुना और निराकरण के लिये आश्वस्त किया।   गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि विगत डेढ़ वर्ष में कोरोना के संकटकाल में पुलिस की कार्यप्रणाली में न केवल बदलाव आया है बल्कि पुलिस की छवि आम जनमानस के समक्ष निखर कर सामने आई है। प्रदेश की पुलिस अच्छा काम कर रही है। सरकार का दायित्व है कि पुलिस विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों को बेहतर आवास की सुविधा मिले इसके लिये निरंतर प्रयास किये जाकर नव-निर्मित आवास मुहैया कराये जा रहे हैं।    उन्होंने कहा कि कोरोना काल में पुलिस के प्रति लोगों का विश्वास बढ़ा है। स्वास्थ्य विभाग का अमला जहाँ अस्पतालों के अंदर अपनी लगातार सेवाएँ देकर लोगों की कोरोना से रक्षा में लगा था वहीं पुलिस ने स्वयं और परिवार की परवाह न करते हुए लोगों की सेवा की। डॉ. मिश्रा ने लोगों की माँग पर पिटोल और बरझर चौकी का थाने में उन्नयन करने का भी आश्वासन दिया। डॉ. मिश्रा ने झाबुआ जिले की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस आदिवासी बहुल जिले ने बिना किसी बहकावे में आये कोरोना के विरूद्ध टीकाकरण कराया है।   झाबुआ जिले में घटा है अपराध नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा और जिले के प्रभारी मंत्री हरदीप सिंह डंग ने कहा कि जिला प्रशासन और पुलिस ने बेहद संवेदनशीलता और कर्मठता से काम करते हुए आज झाबुआ जिले में अपराधों की संख्या और कोरोना पर काफी नियंत्रण पा लिया है। प्रदेश के प्रथम कोरोना शून्य 5 जिलों में झाबुआ का नाम भी शामिल था। सांसद गुमान सिंह डामोर ने कहा कि प्रभारी मंत्री के लगातार दौरे, सतर्कता और गतिविधियों की समीक्षा का परिणाम है कि झाबुआ जिले में अपराध तेजी से घटे हैं।

Kolar News

Kolar News 30 June 2021

भोपाल। कांग्रेस ने शिवराज सरकार के अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम को बंद करने के निर्णय का तीखा विरोध किया है। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री सुरेन्द्र चौधरी ने बुधवार को कहा कि सबका साथ सबका विकास की बात करने वाली भाजपा सरकार के दावे खोखले साबित हुए हैं जिसका स्पष्ट प्रमाण है कि अनुसूचित जाति वर्ग के उत्थान का एकमात्र उपक्रम राज्य अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम को प्रदेश की भाजपा सरकार सुनियोजित रणनीति के तहत प्रशासन के माध्यम से प्रबंध संचालक अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम मध्य प्रदेश शासन द्वारा प्रस्ताव वुलाया जिससे की उक्त निगम को आसानी से बंद किया जा सके।   उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पहले शासकीय पद समाप्त कर निजी क्षेत्रों में आरक्षण का लाभ न देकर बेरोजगारों को आरक्षण के लाभ से वंचित किया जाता रहा और अब स्वरोजगार उपलब्ध कराने वाले एकमात्र उपक्रम को बंद किया जा रहा है जिससे प्रदेश के लाखों बेरोजगारों के प्रभावित होने के साथ-साथ मध्य प्रदेश भर में उक्त निगम में लगे कर्मचारी भी प्रभावित होंगे।   पूर्व मंत्री ने कहा कि एक तरफ यह देश के प्रधानमंत्री और प्रदेश के मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों के पैर धोकर उनके घर खाना खाने का पाखंड करते दिखाई पड़ते हैं वहीं दूसरी ओर इस समाज की आर्थिक उन्नति को बंद करना चाहते हैं। जो भाजपा सरकार के चाल चरित्र चेहरे को उजागर करता है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि मुख्यमंत्रीजी में अगर थोड़ी सी भी नैतिकता बची हो तो प्रबंध संचालक अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम के शासन को भेजे प्रस्ताव को तत्काल निरस्त कर अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम का संचालन किया जाए, अन्यथा कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी और उक्त निगम को बंद होने से बचाने और अनु. जाति वर्ग के लोगों के सम्मान में चरणबद्ध आंदोलन को बाध्य होगी, जिसका संपूर्ण उत्तरदायित्व शासन प्रशासन का होगा।

Kolar News

Kolar News 30 June 2021

इंदौर। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट की पहल पर उमड़ीखेड़ा में एडवेंचर पार्क विकसित किए जाने की योजना बनायी जा रही है। बुधवार को रालामंडल में आयोजित बैठक में इस विषय पर भी विचार विमर्श किया गया। वन मंत्री विजय शाह को इस संबंध में मंत्री सिलावट ने विस्तार से जानकारी दी। बैठक में संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, कलेक्टर मनीष सिंह भी उपस्थित थे।   बैठक में यह तय किया गया कि उमड़ीखेड़ा में वॉकिंग ट्रेल और साइकिलिंग ट्रैक बनाया जाए। उमड़ीखेड़ा के विकास की संपूर्ण कार्ययोजना बनाने के लिए कलेक्टर इंदौर श्री मनीष सिंह की अध्यक्षता में पाँच सदस्यीय कमेटी गठित करने का भी निर्णय लिया गया। कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि तीन जुलाई के बाद वे संबंधित अधिकारियों के साथ इस स्थान का विस्तृत निरीक्षण करेंगे।     नवसज्जित इतिहास दीर्घा का उद्घाटन वन मंत्री विजय शाह, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट और सांसद शंकर लालवानी ने बुधवार को रालामंडल में इतिहास गैलरी का उद्घाटन किया। रालामंडल पहाड़ी के शीर्ष पर बने होलकर कालीन शिकार गृह में यह गैलरी बनायी गई है। यहाँ होलकर राज घराने के साथ-साथ इंदौर की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत को दर्शाने वाली सामग्री, पेंटिंग्स इत्यादि रखी गई है।    वन संरक्षक हरिशंकर मोहन्ता ने बताया कि सन् 1905 में बने इस शिकार गृह को आंतरिक रूप से नया रूप दिया गया है। रालामंडल पहाड़ी के इस शीर्ष से इंदौर शहर का सुंदर नज़ारा भी दिखाई देता है।

Kolar News

Kolar News 30 June 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सोमवार को कोविड अनुकूल व्यवहार की मंत्री समूह की बैठक में निर्णय लिया गया है कि नगरीय निकयों में स्थित व्यापारी संस्थाओं, प्रमुख व्यापारिक प्रतिष्ठानों तथा दुकानदारों को कोविड अनुकूल व्यवहार किये जाने के लिए प्रोत्साहित किया जाए।    नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने सभी नगरीय निकायों के व्यापारी बंधुओं से आग्रह किया है कि होटल प्रतिष्ठानों में 50 प्रतिशत की क्षमता में बैठक व्यवस्था करें। दुकानों में अनावश्यक भीड़ को रोकने के लिए कूपन सिस्टम अपनायें। दुकानों में प्रवेश के लिए ग्राहकों की सीमित संख्या रखें। बिना मास्क के दुकान में प्रवेश करने से रोकें। दुकान में प्रवेश तथा दुकान में सामान लेने में सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित करें। भोजन, नास्ता, दूध, मिठाई इत्यादि को यथासंभव होम डिलीवरी के लिए प्रोत्साहित किया जाये।   मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा है कि सघन बाजारों में सीमित संख्या में प्रवेश का पर्यवेक्षण व्यापारिक संघों द्वारा स्वयं सुनिश्चित किया जाये तो बेहतर परिणाम मिलेंगे। समस्त व्यापारियों, सब्जी/ फेरी वालों का वैक्सीनेशन तथा कोविड सेंपल जाँच सघन रूप से कराया जाये।   नगरीय विकास मंत्री ने कहा है कि नगरीय निकायों द्वारा कोविड अनुकूल व्यवहार करने वाले व्यापारियों, दुकानदारों इत्यादि को पुरुस्कृत किया जायेगा। इसके साथ ही नगरीय निकायों द्वारा काविड अनुकूल व्यवहार की सघन मॉनिटरिंग की जाएगी। इसकी जानकारी संचालनालय स्तर पर एकत्रित की जाएगी। कोविड अनुकूल व्यवहार न पाये जाने पर चालानी कार्यवाही भी की जा सकती है। अत: व्यापारी बंधुओं से आग्रह है कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचने के लिए यह सभी उपाय जरूर करें।

Kolar News

Kolar News 28 June 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण के करने के संकल्प के क्रम में सोमवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट पार्क में चंदन का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेशवासियों से पौधरोपण करने की अपील भी की।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा है कि -"आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में चंदन का पौधा लगाया। चंदन का उपयोग मूर्तिकला तथा अगरबत्ती, हवन सामग्री आदि के निर्माण में होता है। एसिडिटी, त्वचा रोग, गठिया आदि से छुटकारा दिलाने में भी यह उपयोगी है। आप भी पौधे लगाकर धरा के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन कीजिये।"

Kolar News

Kolar News 28 June 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में सिनेमा, मल्टीप्लेक्स, कोचिंग सेंटर, कालेज जैस स्थानों पर कोविड वैक्सीन के दोनों डोज लगवान चुके लोगों को ही प्रवेश दिया जाएगा। प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण को लेकर पूरी तरह सचेत है। नागरिकों की जीवन रक्षा को लेकर किसी तरह की रिस्क लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण लगभग समाप्ति की ओर है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 138 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जबकि कोरोना के केवल 37 नए केस आए हैं। कोरोना की संक्रमण दर 0.06प्रतिशत और रिकवरी रेट 98.70 प्रतिशत है। मध्य प्रदेश में रविवार को कोरोना के 63370 टेस्ट हुए हैं।   कमलनाथ पर साधा निशानापूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा प्रदेश सरकार पर कोरोना योद्धाओं के साथ भेदभाव के आरोपों पर मंत्र मिश्रा ने कहा कि सरकार प्रदेश में किसी भी कोरोना योद्धा के साथ भेदभाव नहीं कर रही है। उनके लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं बनाई और लागू की जा रही हैं। मध्यप्रदेश पहला ऐसा राज्य है जिसने कोरोना योद्धाओं के दिवंगत होने पर उनके परिजनों को आर्थिक सहायता से लेकर अनुकंपा नियुक्ति तक का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व सीएम कमल नाथ अब झूठे सपने देखना और दिखाना छोड़ दें। जनता एक बार कमल नाथ सरकार के धोखे, झूठ और फरेब के साथ 15 महीने झेल चुकी है। युवा बेरोजगारी भत्ते और किसान 2 लाख रुपये तक की कर्जमाफी के वचन के बाद उनकी वादाखिलाफी देख चुके हैं।   दिग्विजय सिंह को घेरादिग्विजय सिंह के क्लब हाउस चैट मामले में प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह चर्चा में बने रहने के लिए साइबर सेल जाते रहे हैं। पहले भी ऐसा कर चुके सिंह, हाईकोर्ट भी गए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी विलक्षण दूरद्रष्टा प्रधानमंत्री हैं। एक तरफ कांग्रेस एवं दूसरे दल हैं, जिन्होंने देश में वैक्सीन के प्रति लोगों में भ्रम और भय फैलाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। वहीं प्रधानमंत्री जी को देखिए उन्होंने सीधे गांव वालों से बात कर सभी प्रकार के भ्रम और भय को दूर कर दिया।    नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि भाजपा और उसकी सरकार जमीन से जुड़ी है। भारतीय संस्कृति का सम्मान करने वाली भाजपा महिलाओं के सम्मान के प्रति हमेशा संकल्पित रही है। 'बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ' का अभियान चलाने वाले मध्य प्रदेश में महिला अत्याचार के खिलाफ सबसे कड़े कानून हैं, जिनका दूसरे राज्यों ने भी अनुसरण किया है।

Kolar News

Kolar News 28 June 2021

भोपाल। दुनियाभर में आज (रविवार को) अंतरराष्ट्रीय एमएसएमई दिवस मनाया जा रहा है। इस दिवस की स्थापना साल 2017 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा की गई थी। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) के स्थानीय और वैश्विक स्तर पर समावेशी व सतत विकास में योगदान के लिए इस दिवस की स्थापना हुई थी। अंतरराष्ट्रीय एमएसएमई दिवस पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उद्यमियों को बधाई दी है।    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को ट्वीट करते हुए कहा है कि "एमएसएमई उद्योग सदैव विकास का इंजन रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत सरकार की एमएसएमई अनुकूल योजनाओं से मध्यप्रदेश में हम इन उद्योगों के लिये सतत विकास का वातावरण बनाने में सफल रहे हैं।"   उन्होंने कहा कि "इस वर्ष अप्रैल में प्रदेश में 1,891 उद्योगों का शुभारंभ किया गया है तथा नई विकास परक एमएसएमई नीति लागू की गई है। उद्योगों के लिये और बेहतर वातावरण बनाने के हमारे प्रयास निरंतर जारी हैं। अंतरराष्ट्रीय एमएसएमई दिवस पर सभी उद्यमियों को बधाई।"

Kolar News

Kolar News 27 June 2021

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर कोरोना से मौत होने वाले पुलिसकर्मियों की जानकारी साझा की है। कमलनाथ की मानें तो कोरोना से 152 पुलिसकर्मियों की मौत हुई है। लेकिन सरकार ने सिर्फ 7 लोगों को ही 50 लाख का मुआवजा दिया है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने बाकी मृतकों के परिजनों को भी कोविड योद्धा कल्याण योजना का मुआवजा देने की गुहार लगाई है।   कमलनाथ ने ये जानकारी सरकार के संज्ञान लाने की कोशिश की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘प्रदेश में कोविड-19 महामारी के दौरान ड्यूटी निभाते हुए 152 पुलिसकर्मी शहीद हो गए, लेकिन सिर्फ 7 पुलिसकर्मियों के परिजनों को ही मुख्यमंत्री कोविड-19 योद्धा कल्याण योजना से 50 लाख रुपए मुआवजा दिया गया है। ऐसा भेदभाव गलत है, सभी को शीघ्र मुआवजा दिया जाए।

Kolar News

Kolar News 27 June 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने बताया कि आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के वैक्सीन महा अभियान की पोल खोल कर रख दी है? मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जिस वैक्सीन महाअभियान के तहत 21 जून को बड़े-बड़े रिकॉर्ड के दावे कर रहे थे, बढ़ चढक़र इसका प्रचार प्रसार कर रहे थे एवं बार-बार वैक्सिंग के मामले में मध्यप्रदेश के देश में नंबर वन पर आने का दावा कर रहे थे, उनकी पोल आज खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही खोल कर रख दी है और जो काम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और उनके मंत्रियों को करना चाहिए था, वह काम देश के प्रधानमंत्री को करना पड़ रहा है, इससे शर्मनाक कुछ नहीं हो सकता है?   नरेन्द्र सलूजा ने बताया कि बेतूल जिले के 47 से अधिक गांव में आज तक एक भी व्यक्ति ने वैक्सीन नहीं लगवाई है, इसकी जानकारी मिलने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात में बेतूल जिले के ग्राम डुलारिया के लोगों से बात कर उन्हें जागरूक करने का काम किया, यह काम कायदे से मुख्यमंत्री और उनकी सरकार को करना चाहिए था? इस पोल खुलने के बाद व प्रदेश में वैक्सिनेशन की वास्तविकता सामने आने के बाद शिवराज सिंह अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी को कोस रहे हैं कि उनके भ्रम के कारण लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवायी? कांग्रेस नेता ने कहा कि "अच्छा गप-गप , कड़वा थू-थू " की तर्ज पर उनका यह तर्क बेहद बचकाना है? जब मध्यप्रदेश वैक्सीन को लेकर रिकॉर्ड बनाता है तो उसका श्रेय शिवराज जी खुद लेते हैं, बड़े-बड़े विज्ञापन देते हैं और तमाम प्रचार-प्रसार में खुद का महिमामंडन करते हैं और जब बेतूल जिले की वास्तविकता सामने आती है तो उसका श्रेय राहुल गांधी जी को देते हैं? तो इस हिसाब से तो प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को पद पर रहने का एक मिनट भी अधिकार नहीं है? यदि उनके मुख्यमंत्री रहते हुए राहुल गांधी की बातों के प्रभाव के कारण बैतूल जिले में लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं तो उनका मुख्यमंत्री पद पर रहने का कोई अधिकार नहीं है और वो खुद यह बता रहे हैं कि प्रदेश में राहुल गांधी जी का प्रभाव है? उसके अलावा प्रदेश में जिन 51 जिलों में वैक्सीन लोग लगभग बढ़-चढक़र लगवा रहे हैं, उसका श्रेय शिवराज जी फिर खुद कैसे ले रहे हैं? भाजपा की शुरू से ही आदत है कि अच्छी बातों का श्रेय वह खुद लेती है और अपनी असफलता छिपाने के लिए हमेशा वह कांग्रेस पर झूठे दोषारोपण का काम करती है?   नरेन्द्र सलूजा ने कहा कि बैतूल जिले के वैक्सीन के मामले में पिछडऩे के कारण जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई होना चाहिए लेकिन शायद यह संभव नहीं है और शिवराज जी में भी इसका साहस नही है क्योंकि वहां पर पदस्थ जिम्मेदार अधिकारी, प्रदेश में पदस्थ एक उच्च प्रमुख अधिकारी के परिवार से है? शायद इसीलिए शिवराज जी उन पर कार्यवाही की बजाय अपनी इस असफलता का दोषारोपण कांग्रेस पर कर रहे हैं?  

Kolar News

Kolar News 27 June 2021

भोपाल/सागर। सागर जिले में खुरई विधानसभा क्षेत्र की हड़ली ग्राम पंचायत ने कोरोना वैक्सीनेशन का शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया है। नगरीय विकास और आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने शुक्रवार को हड़ली पहुंचकर लोगों को इस सफलता के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि हड़ली के विकास में राज्य सरकार की तरफ से कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।   नगरीय विकास मंत्री सिंह ने जिले की शत-प्रतिशत वैक्सीनेट ग्राम पंचायत हड़ली का सम्मान करते हुए कहा कि पंचायत के तीनों गाँवों का शत-प्रतिशत विकास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भले ही यह गाँव जंगलों के बीच बसे हैं, लेकिन यहाँ के लोग इतने जागरूक हैं कि उन्होंने वैक्सीनेशन महाअभियान की 3 दिनों में ही शत प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने का कार्य कर सागर जिले के साथ मध्यप्रदेश में अपना स्थान सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि हड़ली ग्राम पंचायत के निवासियों से संपूर्ण जिले के निवासियों को प्रेरणा लेकर शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराना चाहिए। आपके इस कार्य से जिले के साथ संपूर्ण खुरई विधानसभा क्षेत्र गौरवान्वित हुआ है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी का सुनिश्चित इलाज एक मात्र वैक्सीनेशन ही है, इसलिए सभी लोग मास्क अवश्य लगाएं और वैक्सीनेशन अवश्य कराएं।   मंत्री सिंह ने कहा कि कोरोना बीमारी में हमने एवं आप लोगों में से किसी न किसी को खोया है, जिसका दुख आज भी है। अब हमें पूर्ण रूप से सावधान रहना होगा कि अब ऐसी लहर फिर न आ पाए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना काल में 24 घंटे कार्य करके मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के संकट से उबारने के लिए लिए हर संभव प्रयास किए, जिससे मध्यप्रदेश अन्य प्रदेशों की तुलना में अधिक संक्रमित नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान ने कोरोना काल में लॉकडाउन के चलते हमारे अनेक गरीब परिवारों को पालन पोषण के लिए 3 माह का नि:शुल्क राशन वितरण करने की घोषणा की साथ ही केंद्र सरकार के द्वारा भी नवंबर माह तक नि:शुल्क राशन वितरण किया जा रहा है।   मंत्री सिंह ने कहा कि स्व-सहायता समूह की महिलाओं को उनकी आमदनी बढ़ाने के लिए उनके समूह उत्पादित सामग्री को खरीदने के साथ उन्हें बीच बाजार में दुकान उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा कोरोना संक्रमण के कारण मानव क्षति के चलते अनेक कल्याणकारी योजनाएँ आरंभ की है, जिसका मध्यप्रदेश के व्यक्तियों को लाभ मिलना प्रारंभ हो गया है।   मंत्री सिंह ने शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने पर  महिला बाल विकास विभाग की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा, उषा कार्यकर्ताओं, राजस्व विभाग के तहसीलदार, नायब तहसीलदार, पटवारी, राजस्व अधिकारी, रोजगार सहायक, स्वास्थ्य विभाग के एएनएम एवं पैरामेडिकल स्टाफ सदस्य एवं शिक्षा विभाग के शिक्षकों सहित अन्य अधिकारी कर्मचारियों का स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। उन्होंने सरपंच लीला बाई, उप सरपंच गुड्डी बाई सहित सभी जन-प्रतिनिधियों के कार्यों की सराहना की।   सौगातें मंत्री सिंह ने हडली ग्राम पंचायत को अनेक सौगातें देते हुए घोषणा की, कि हडली ग्राम पंचायत में विकास की गंगा बहेगी। इसी क्रम में उन्होंने हड़ली, सागौनी में आंगनवाड़ी भवन, रजवांस से हड़ली होते हुए हड़ुआ तक नई डामर रोड, हड़ली में नदी पर पुल एवं घाट निर्माण, बोबई के सिद्धधाम राजावर में सामुदायिक भवन निर्माण के लिए राशि स्वीकृत करते हुए पेयजल व्यवस्था के लिए नलजल की कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए।   भूपेन्द्र सिंह ने देवी मंदिर हड़ली में फर्श निर्माण, बोबई, मड़ावनमार एवं हड़ली सहित सागौनी में खेल मैदान, लिधौरा में सड़क निर्माण आदि कार्य करने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में जो कार्य 50 वर्ष में नहीं हुए वह मैंने 5 वर्ष में किये हैं। उन्होंने शीशम का पौधा रोप कर पौधा रोपण की शुरुआत की। साथ ही हडली में बनाई गई गौशाला का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मंत्री सिंह  ने गौशाला को आत्म-निर्भर बनाने के लिए गो-कास्ट बनाने एवं अन्य संसाधन उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए। मंत्री सिंह ने कार्यक्रम की शुरुआत में कन्या पूजन भी किया।

Kolar News

Kolar News 25 June 2021

भोपाल। पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने शुक्रवार की सुबह एन.सी.सी. कैडेट्स के साथ मन्दसौर से नीमच तक की 60 कि.मी. की पर्यावरण सुरक्षा-संरक्षण और कोविड-19 टीकाकरण के प्रति जन-जागरूकता साइकिल रैली में सहभागिता की। डंग ने अपनी इस साढ़े चार घंटे की साइकिल यात्रा में जगह-जगह लोगों को मानसून के दौरान पौध-रोपण करने, पर्यावरण संरक्षण और कोविड टीकाकरण के लिए अपील की। डंग ने मल्हारगढ़ में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नमन किया।   साइकिल रैली का शुभांरभ सुबह मन्दसौर में मंत्री डंग के साथ सांसद सुधीर गुप्ता और विधायक यशपाल सिसोदिया ने किया। डंग ने पिपलिया मंडी, मल्हारगढ़, हिंगोरिया बालाजी आदि विभिन्न गाँव में लोगों को वैक्सीनेशन से मानव जीवन और अधिक से अधिक पौध-रोपण से पर्यावरण को होने वाले लाभों के बारे में समझाया। उन्होंने कहा वैक्सीनेशन से हम कोरोना से निजात पाने में सफल होंगे वहीं अधिक से अधिक पौध-रोपण से वातावरण में प्रचुर मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध होगी। नीमच में विधायक दिलीप सिंह परिहार ने साइकिल रैली का स्वागत किया। डंग ने रैली के बाद मन्दसौर जिले के सीतामउ में कान्हा मांगलिक भवन और आशा कार्यकर्ताओं के कार्यक्रम में भाग भी लिया।

Kolar News

Kolar News 25 June 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने धरा की समृद्धि के लिए प्रतिदिन पौधे लगाने के संकल्प के क्रम में शुक्रवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में नीम व कदंब का पौधा लगाया। इस दौरान भाजपा के प्रदेश प्रभारी पी. मुरलीधर राव ने भी मुख्यमंत्री चौहान के साथ पौधरोपण किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर नागरिकों से पौधरोपण करने की अपील भी की।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा है कि आज भोपाल में पी. मुरलीधर राव जी के साथ नीम व कदंब का पौधा लगाया। उन्होंने आगे कहा कि नीम के औषधीय गुणों के कारण इसे धरती का कल्प वृक्ष कहते हैं, तो वहीं कदंब के वृक्ष का अपना विशिष्ट पौराणिक महत्व है। आप भी पौधे रोपकर धरती के साथ व मनुष्य जीवन को भी समृद्ध कीजिये।

Kolar News

Kolar News 25 June 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश का पार्टी संगठन आदर्श संगठन है। इसे और आगे किस तरह बढ़ाया जाए, इस बार कार्यसमिति की बैठक में विचार हुआ। संगठन की मजबूती के लिए हमने तय किया है कि हमारे मंडल स्वाबलंबी बनें तथा बूथ अधिक सक्रियता से काम करें, इसे लेकर भी चर्चा हुई और पार्टी नेताओं ने इस बात पर भी अपने विचार प्रस्तुत किए कि कार्यसमिति सदस्य इस काम में किस तरह अपनी भूमिका का निर्वाह कर सकते हैं। प्रत्येक कार्यकर्ता के लिए काम हो और प्रत्येक काम के लिए कार्यकर्ता तैयार रहे, इसकी योजना बनाने पर भी चर्चा की गई।    यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने गुरुवार शाम को मीडिया को प्रदेश कार्यसमिति की बैठक संबंधी जानकारी देते हुए कही। उन्होंने कहा कि संगठन तंत्र की मजबूती और कार्यकर्ता को सक्षम बनाने के लिए ई-प्रशिक्षण चल रहा है। 26 तारीख से जिला स्तर के प्रशिक्षण शुरू होंगे। इसे प्रभावी बनाने पर भी विचार हुआ। आने वाले दिनों में पार्टी के कार्यकर्ता केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं का हितलाभ सुनिश्चित कराने की दिशा में एक वॉलिंटियर की तरह काम करेंगे, जिससे कोई भी जरूरतमंद सरकार की योजनाओं से वंचित नहीं रहे।    ऐतिहासिक रही बैठक शर्मा ने कहा कि नवगठित कार्यसमिति की यह पहली बैठक कई मायनों में ऐतिहासिक रही। पहली बार कार्यसमिति की बैठक का आयोजन सेमी वर्चुअल तरीके से किया गया। इसमें कोविड गाइडलाइन के तहत निर्धारित संख्या में भोपाल में प्रतिनिधि उपस्थित रहे। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिल्ली से कार्यसमिति का उद्घाटन किया। प्रदेश के सभी 57 जिलों से कार्यसमिति सदस्य वर्चुअल तरीके से बैठक में शामिल हुए। बैठक के लिए जिस तरह की तैयारियां की गई थीं और जैसा उत्साह प्रदेश कार्यालय में दिखाई दे रहा था, उसी तरह का वातावरण सभी जिलों में भी था। उन्होंने कहा कि पं. दीनदयाल जी ने कहा था कि जो संगठन, समाज या संस्था समयानुकूल बदलाव नहीं करते, वो समाप्त हो जाते हैं। कोरोना संकट को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने जिन अपनी कार्यपद्धति में जो बदलाव किए हैं, यह बैठक उसी की प्रतीक रही।   राष्ट्रीय अध्यक्ष ने की प्रदेश सरकार और संगठन की सराहना भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि बैठक को राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने संबोधित किया। उन्होंने कोरोना नियंत्रण के काम में, सेवा ही संगठन अभियान में, वैक्सीनेशन के अभियान में मध्यप्रदेश में जिस तरह के काम हुए हैं, उसके लिए प्रदेश सरकार और प्रदेश के भाजपा संगठन की सराहना की। उन्होंने विस्तार से बताया कि मध्यप्रदेश किस तरह से राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाने पर प्रदेश की जनता, सरकार और संगठन को शुभकामनाएं दी हैं। उनकी प्रशंसा से हमारा मनोबल और बढ़ा है।   तीन प्रस्ताव हुए पारित प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि कार्यसमिति की बैठक में तीन प्रस्ताव पारित किए गए। इनमें से एक शोक प्रस्ताव था, जो दिवंगत पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समाजजनों के लिए था। प्रदेश की वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों पर एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया। इसके अलावा कोविड-19 को लेकर भी एक प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक में सेवा ही संगठन अभियान को लेकर एक प्रेजेंटेशन भी रखा गया। इसे लेकर राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री शिवप्रकाश जी ने टिप्पणी रखी और बैठक में उपस्थित लोगों का प्रबोधन भी किया।   झूठ बोलने वालों, अराजकतावादियों को कार्यकर्ता देंगे जवाब शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश ने जब वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाया, तो कुछ लोगों के पेट में दर्द होने लगा। ये वैक्सीनेशन पर सवाल उठाने लगे। पहले ये देश के खिलाफ काम कर रहे थे, अब मानवीयता पर प्रहार कर रहे हैं। ऐसे झूठ बोलने वालों, अराजकतावादियों, देश विरोधियों के साथ खड़े होने वालों को जवाब देने का काम हमारे कार्यकर्ता करेंगे। इन लोगों को बूथ-बूथ पर करारा जवाब दिया जाएगा। कार्यसमिति की बैठक में इस पर भी विचार-विमर्श किया गया।   स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की भर्ती और प्रशिक्षण होगा भाजपा गांव-गांव में दो स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की भर्ती करने जा रही है, इनमें से एक महिला और एक युवा कार्यकर्ता होगा। मंडल और जिला स्तर पर तीन लोगों की समिति होगी। इन कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण भी कराया जायेगा। ये समितियां और स्वास्थ्य स्वयंसेवक कोरोना जैसे किसी भी संकट के समय लोगों को सलाह देने, उनकी सहायता करने का करेंगे। शर्मा ने बताया कि कार्यसमिति की बैठक में इस योजना पर भी चर्चा की गई।

Kolar News

Kolar News 24 June 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने पद पर रहने का अधिकार खो दिया है। उच्च न्यायालय ग्वालियर द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग की नाबालिक दुष्कर्म पीड़ित व उसके परिजनों को थाने में पीटने के मामले में न्यायप्रिय फैसला सुनाते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार की जांच एजेंसी को कटघरे में ही खड़ा नहीं किया, बल्कि सरकार पर अविश्वास करते हुए मामले की जांच सीबीआई को सौंपने के आदेश दिए हैं।   पूर्व मंत्री चौधरी ने गुरुवार को जारी बयान में कहा कि उच्च न्यायालय के फैसले से यह स्पष्ट हो गया है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को अपने पद पर बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं रहा है। मुख्यमंत्री जी को चाहिए कि नैतिकता के आधार पर वे अपने पद से इस्तीफा दे दें।    उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग पर ग्वालियर में घटित यह कोई पहली घटना नहीं है बल्कि संपूर्ण मध्य प्रदेश में अनुसूचित जाति वर्ग पर अन्याय, अत्याचार, उत्पीडऩ आदि की घटनाओं में लगातार वृद्धि होने के साथ-साथ जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर या तो प्रकरण दर्ज नहीं होने दिए जाते अगर प्रकरण दर्ज हो जाते हैं तो ग्वालियर के मामले की तरह कार्यवाही नहीं की जाती परिणाम स्वरूप अनुसूचित जाति वर्ग के लोग अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।   चौधरी ने  शासन/ प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा है कि भाजपा सरकार की दलित विरोधी नीतियों का कांग्रेस पार्टी डटकर मुकाबला करेगी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी के द्वारा नैतिकता के आधार पर इस्तीफा न देने की स्थिति में कांग्रेस पार्टी संपूर्ण प्रदेश में मुख्यमंत्री की बर्खास्तगी को लेकर आंदोलन चलाएगी।

Kolar News

Kolar News 24 June 2021

भोपाल। प्रदेश शासन के पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने कहा है कि देश जिस समय कोरोना की महामारी, महंगाई की महामारी और बेरोजगारी की महामारी से जूझ रहा है, तब इस संकट से निपटने की जिम्मेदारी केंद्र और राज्य सरकारों की हो जाती है। लेकिन देश और प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा की सरकारें पूरी तरह गैरजिम्मेदारी से काम कर रही हैं। इन तीनों महामारियों से ध्यान भटकाने के लिए ही दिल्ली में कश्मीर के मुद्दे पर बैठक बुलाई गई है और भोपाल में भाजपा कार्यसमिति की बैठक हो रही है। जिस समय देश और प्रदेश प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की ओर कोई रास्ता दिखाने को देख रहा है, तब इनकी पार्टी रोज कोई नया तमाशा करके जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है।   पीसी शर्मा ने गुरुवार को जारी बयान में कहा कि प्रदेश में चल रही भाजपा कार्य समिति की बैठक भी इसी तमाशे का हिस्सा है। इस तरह के कार्यक्रम विशुद्ध रूप से किसी पार्टी का आंतरिक मामला होते हैं, लेकिन एक नाकाम सरकार और नाकाम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने इस कार्यक्रम को मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ की झूठी निंदा करने का माध्यम बना लिया। मीडिया से प्राप्त खबरों के मुताबिक नड्डा ने विकासपुरुष कमलनाथ पर अनर्गल आरोप लगाए। नड्डा की मजबूरी को समझा जा सकता है, जनता ने कमलनाथ के नेतृत्व में पांच साल के लिए मध्य प्रदेश में जनादेश की सरकार बनाई थी, लेकिन सत्ता और धन के मद में लोकतंत्र की रोज हत्या करने वाली भाजपा ने पैसे के दम पर जनादेश को धनादेश से खरीद लिया।   पूर्व मंत्री ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने डेढ़ साल में मध्य प्रदेश में 27 लाख किसानों का कर्ज माफ किया, प्रदेश के हर वर्ग को सौ रुपये में सौ यूनिट बिजली दी, वृद्धावस्था पेंशन को 300 रुपया से बढ़ाकर 600 रुपये किया, कन्या विवाह राशि को 27000 से बढ़ाकर 51000 रुपये किया, प्रदेश में हज़ारों गौशालाओं का निर्माण कराया, राम वन गमन पथ के लिए बजट स्वीकृत कर निर्माण कार्य प्रारंभ कराया। विकास की नई योजनाएं पेश कीं और विकसित मध्य प्रदेश का रोडमैप सामने रखा। उन्होंने कहा कि जब कमलनाथ मध्य प्रदेश को भाजपा के 15 साल के कुशासन, भ्रष्टाचार और सरकारी लूट से आजाद कर रहे थे, माफिया पर नकेल कस रहे थे तो इससे भाजपा के नेताओं में खलबली मच गई. इन सबने षडय़ंत्र करके विधायकों को खरीदा। पीसी शर्मा ने कहा कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने वाले अपने गरेबां में झांकें और बताएं कि विधायक खरीदने के लिए जो 1000 करोड़ रुपये खर्च किए गए, वह काली कमाई से नहीं कमाया था तो और कहां से कमाया था. 15 साल के राज में भाजपा के नेताओं की संपत्ति में जो सैकड़ों गुना की वृद्धि हुई है, वह कौन सी कमाई है?   उन्होंने कहा कि बेहतर होता कि नड्डा जी अपनी पार्टी के नेताओं को सत्ता की रस्सकशी और लूट छोडक़र जनता की सेवा की सलाह देते। लेकिन वे ऐसा कर ही नहीं सकते, क्योंकि झूठ और लूट ही उनकी पार्टी का चाल, चेहरा और चरित्र है. बेहतर तो यही होता कि नड्डा जी अपने मुख्यमंत्री और मंत्रियों को विकास के कमलनाथ मॉडल का अनुसरण करने की सलाह देते। नड्डा जी को पता ही होगा कि उनसे पहले बीजेपी अध्यक्ष और अब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी विकास के कमलनाथ मॉडल की सार्वजनिक रूप से तारीफ कर चुके हैं।

Kolar News

Kolar News 24 June 2021

भोपाल। राहुल गांधी के कोरोना पर श्वेत पत्र जारी करने को लेकर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा दिए गए बयान के बाद कांग्रेस आक्रामक हो गई है। कांग्रेस प्रदेश मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने पलटवार करते हुए कहा है कि गृह मंत्री डा. मिश्रा अपने बयान से भले पुलकित हों, किंतु उन्होंने खुद ही अपनी पार्टी को कटघरे में खड़ा कर दिया है।   कांग्रेस नेता भूपेंद्र गुप्ता ने बुधवार को अपने बयान में कहा कि कोरा कागज ही मूल्यवान होता है क्योंकि वह निष्कलंक होता है। जिन कागजों पर पूर्व से ही गुचड़-पुचड़ लिखा होता है, वे डस्टबिन में फेंके जाते हैं, उन पर कुछ भी नया लिखने की गुंजाइश नहीं होती। उन्होंने भाजपाइयों को गुदा हुआ पेपर बताया और कहा कि इन पर कुछ भी नया नहीं लिखा जा सकता।   उन्होंने कहा कि अगर भाजपा के लोग राहुल गांधी की तरह साफ-सुथरे कोरे कागज होते तो उन्हें कैबिनेट की बैठक में अवैध रेत खनन और पाइप खरीदी की चोरी के लिए झगड़े नहीं करने पड़ते। कोरा कागज ही देश का भविष्य है, क्योंकि उसी पर नई पीढ़ी की अपेक्षाओं के लिए नया लिखा जा सकता है। बासी उबाऊ और पूर्वाग्रह से लिखे भरे हुए कागज अब केवल गुड़ी मुड़ी करके फेकने योग्य रह गए हैं।

Kolar News

Kolar News 23 June 2021

भोपाल। राहुल गांधी के कोरोना पर श्वेत पत्र जारी करने को लेकर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा दिए गए बयान के बाद कांग्रेस आक्रामक हो गई है। कांग्रेस प्रदेश मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने पलटवार करते हुए कहा है कि गृह मंत्री डा. मिश्रा अपने बयान से भले पुलकित हों, किंतु उन्होंने खुद ही अपनी पार्टी को कटघरे में खड़ा कर दिया है।   कांग्रेस नेता भूपेंद्र गुप्ता ने बुधवार को अपने बयान में कहा कि कोरा कागज ही मूल्यवान होता है क्योंकि वह निष्कलंक होता है। जिन कागजों पर पूर्व से ही गुचड़-पुचड़ लिखा होता है, वे डस्टबिन में फेंके जाते हैं, उन पर कुछ भी नया लिखने की गुंजाइश नहीं होती। उन्होंने भाजपाइयों को गुदा हुआ पेपर बताया और कहा कि इन पर कुछ भी नया नहीं लिखा जा सकता।   उन्होंने कहा कि अगर भाजपा के लोग राहुल गांधी की तरह साफ-सुथरे कोरे कागज होते तो उन्हें कैबिनेट की बैठक में अवैध रेत खनन और पाइप खरीदी की चोरी के लिए झगड़े नहीं करने पड़ते। कोरा कागज ही देश का भविष्य है, क्योंकि उसी पर नई पीढ़ी की अपेक्षाओं के लिए नया लिखा जा सकता है। बासी उबाऊ और पूर्वाग्रह से लिखे भरे हुए कागज अब केवल गुड़ी मुड़ी करके फेकने योग्य रह गए हैं।

Kolar News

Kolar News 23 June 2021

ग्वालियर। वैश्विक महामारी कोविड-19 को हराने का एक मात्र शस्त्र टीकाकरण है। इसे स्वयं भी लगवाएं और अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण कराने हेतु प्रेरित करें। यह बात पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कोरोना टीकाकरण महाअभियान के शुभारंभ अवसर पर कही। सिंधिया ने सोमवार को ग्वालियर में हजीरा अस्पताल, जिला अस्पताल मुरार तथा प्रसूति गृह लक्ष्मीगंज पहुँचकर टीकाकरण अभियान का श्रीगणेश कराया।   इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोविड महामारी हमारे सामने आएगी, ऐसा हमने सोचा भी नहीं था। कोविड संक्रमण की पहली एवं दूसरी लहर में अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना योद्धाओं ने जो अनुकरणीय कार्य किया है, उसके लिये उनकी जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है। चिकित्सक, पैरामेडीकल स्टाफ, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगर निगम के अमले ने कोविड के दौरान अपनी सर्वश्रेष्ठ सेवायें देकर यह सिद्ध किया है कि जब भी कोई विपदा आयेगी तो हम सब एकजुट होकर उसका सामना करेंगे और उसे परास्त भी करेंगे।   कार्यक्रम में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, साडा के पूर्व अध्यक्ष राकेश जादौन, वरिष्ठ नेता अशोक शर्मा सहित आईजी  अविनाश शर्मा, डीआईजी राकेश हिंगणकर, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।   ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में कोविड संक्रमण से निपटने के लिये ऐतिहासिक काम किया गया है। मेडीकल सुविधाओं के विस्तार के साथ-साथ आम लोगों के जीवन को बचाने के लिये हर संभव प्रयास किए गए हैं। समाज के सभी वर्गों का सहयोग प्राप्त कर संक्रमण पर काबू भी पाया गया। उन्होंने कहा कि अभी संक्रमण समाप्त नहीं हुआ है और हमारी लड़ाई अभी जारी है। हम सब लोगों को पूरी सावधानी बरतते हुए कोविड को पूरी तरह से परास्त करना है।   राज्यसभा सांसद ने कहा कि ग्वालियर में स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने की दिशा में भी विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। एक हजार बिस्तर का निर्माण, 500 बिस्तर के नवीन अस्पताल का निर्माण करने के साथ-साथ निजी क्षेत्र में भी एक आधुनिक अस्पताल लाने के प्रयास जारी हैं। इसके साथ ही डबरा, भितरवार, मोहना में भी स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर करने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हजीरा अस्पताल और मुरार अस्पताल के उन्नयन की दिशा में भी कार्य किए जा रहे हैं। आने वाले समय में ग्वालियर जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाया जायेगा। स्वास्थ्य सुविधायें बेहतर होने से ग्वालियर के निवासियों को इलाज के लिये दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा।   श्रीमंत सिंधिया ने यह भी कहा कि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर टीकाकरण का महाअभियान प्रारंभ किया गया है। टीकाकरण से कोरोना से छुटकारा मिलेगा वहीं योग से सम्पूर्ण जीवन रोगमुक्त होगा। उन्होंने यह भी कहा कि “दो गज दूरी और मास्क है जरूरी” को हमें जीवन में उतारना होगा। संक्रमण जब तक समाप्त नहीं हो जाता तब तक इसका पालन हम सबको करना जरूरी है।   सिंधिया ने हजीरा अस्पताल का अवलोकन भी किया इसके साथ ही टीकाकरण दल के सदस्यों से चर्चा की। उन्होंने टीका लगवा रहे आम लोगों से भी चर्चा कर अन्य लोगों को टीकाकरण हेतु प्रेरित करने को कहा। हजीरा अस्पताल के विकास के लिये किए जा रहे कार्यों के संबंध में भी चिकित्सकों और प्रशासनिक अधिकारियों से चर्चा की। अस्पताल विकास के लिये जो कार्य स्वीकृत है उन्हें तत्परता से करने के निर्देश भी दिए।   उन्होंने जिला अस्पताल मुरार में भी अस्पताल का अवलोकन किया और टीकाकरण दल के सदस्यों से चर्चा की। मुरार अस्पताल के विकास के लिये जो प्रस्ताव शासन स्तर पर लंबित हैं उन्हें स्वीकृत कराने का आश्वासन भी दिया। इसके साथ ही प्रसूति गृह लक्ष्मीगंज पहुँचकर प्रसूति गृह का निरीक्षण किया और चिकित्सकों से स्वास्थ्य सुविधाओं के संबंध में चर्चा की।   सिंधिया ने दिलाया संकल्प राज्यसभा सांसद जयोतिरादित्य सिंधिया ने हजीरा अस्पताल, मुरार जिला अस्पताल और लक्ष्मीगंज प्रसूति गृह में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों को कोविड से बचाव का संकल्प दिलाया। उन्होंने संकल्प का वाचन किया, जिसका सभी लोगों ने अनुसरण किया।  

Kolar News

Kolar News 21 June 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष तथा पूर्व मंत्री अजय सिंह  ने केंद्र सरकार खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन छह सौ से बढ़ाकर तीन हजार रूपये करने की मांग की है। यह राशि सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी दर की लगभग आधी है। इसके साथ ही इसे महंगाई दर से जोड़ा जाएद्य उन्होंने वरिष्ठ नागरिक नीति बनाने का भी सुझाव दिया हैद्य साथ ही रेल यात्रा में वरिष्ठ नागरिकों को पूर्व में दी जा रही 50 प्रतिशत छूट को पुन: बहाल करने और उनके लिए लोकल ट्रेनों में स्वतंत्र डिब्बा लगाने की भी मांग की है। अजय सिंह ने सोमवार को एक बयान जारी कर कहा कि सरकार का धर्म है कि वह वृद्धावस्था को जीवन की अनिवार्यता के रूप में स्वीकार करे न कि बोझ के रूप में वरिष्ठ नागरिकों को देश भर में दवाइयों पर तीस प्रतिशत छूट मिलना चाहिये। साथ ही सरकार घरों से बाहर निकलने में अक्षम लोगों के लिए डोर टू डोर कोरोना से बचाव की वेक्सीन लगाने की सुविधा शीघ्र शुरू करे। उनके लिए स्वास्थ्य सुविधाएँ नि:शुल्क होना चाहिये।   पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि आज से सौ साल पहले भारत में औसत आयु 25 वर्ष हुआ करती थी, जो अब 65 वर्ष हो गई है। वर्तमान में भारत में आठ करोड़ लोग 60 वर्ष की आयु पूरी कर चुके हैं। यह संख्या 2025 तक 18 करोड़ तक पंहुचने की सम्भावना है। अधिकतर बुजुर्ग अपनी संतान पर निर्भर हैं। आर्थिक पराधीनता वृद्ध समाज की मुख्य समस्या है। सरकार को अभी से अधिक से अधिक ओल्ड एज होम बनाने को प्रोत्साहित करने की जरूरत है। इनको सरकारी सहायता से चलाया जा सकता है। अजय सिंह ने कहा कि शिक्षित वृद्धों के अनुभव का लाभ प्रौढ़ शिक्षा और साक्षरता जैसी योजनाओं के लिए लिया जा सकता है। कई बुजुर्ग स्वप्रेरणा से यह काम कर रहे हैं जिसके अच्छे परिणाम देखने को मिले हैं। इससे उन्हें अंशकालिक रोजगार मिलेगा और वे व्यस्त भी रहेंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से राज्यों को प्रति पेंशनर दौ सौ रूपये का योगदान दिया जा रहा है जो पिछले 12 साल से जस का तस बना हुआ है। जबकि बजट आवंटन 11 सौ करोड़ से बढाकर साढ़े छह हजार करोड़ से अधिक कर दिया गया है। इस योगदान को भी बढ़ाने की जरूरत है।   अजय सिंह ने याद दिलाया कि एनजीओ हेल्पेज इण्डिया और पेंशन परिषद् के बैनर तले 30 अक्तूबर 2018 को देश भर से आये लगभग दस हजार वरिष्ठ नागरिकों ने इन्हीं सब मांगों को लेकर राजधानी दिल्ली में जोरदार प्रदर्शन किया था। अफसोस है कि आज तक केंद्र सरकार ने सीनियर सिटीजन्स के लिए कोई ठोस काम नहीं किया है।

Kolar News

Kolar News 21 June 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रदेशवासियों से सोमवार को राज्य में शुरू हुए वैक्सीनेशन महाअभियान में टीका लगवाने का अनुरोध किया। इस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व सीएम कमलनाथ का अभिनंदन किया है।       मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि मप्र में वैक्सीनेशन अभियान से जुड़ने और जनता से वैक्सीनेशन के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी का अभिनंदन करता हूं। हम सभी को साथ मिलकर मध्यप्रदेश की जनता को एक सुरक्षा कवच प्रदान करना है।     इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट किया था कि मध्य प्रदेश को कोरोनावायरस से मुक्त करना हम सबकी जिम्मेदारी है। कोरोना को हराने के लिए वैक्सीन ही सबसे बड़ा हथियार है। प्रदेशवासियों से मेरा अनुरोध है कि वे 21 जून से शुरू हो रहे वैक्सीनेशन अभियान में टीका अवश्य लगवाएं। अफवाहों में न आएं, स्वस्थ मध्य प्रदेश बनाएं।

Kolar News

Kolar News 21 June 2021

ग्वालियर। मूलभूत सुविधाएं प्राप्त करना हरेक नागरिक का हक है। प्रदेश सरकार इसी सोच के साथ और बिना किसी भेदभाव के हर बस्ती में मूलभूत सुविधाओं का विस्तार कर रही है। यह बात प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने शनिवार को ग्वालियर शहर के वार्ड-66 के अंतर्गत सालूपुरा कॉलोनी और‍ सिकरौदी में विकास कार्यों के भूमिपूजन व लोकार्पण कार्यक्रम में कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने की।राज्यमंत्री कुशवाह एवं सांसद शेजवलकर ने वार्ड-66 के अंतर्गत लैण्डफिल साइट से अनुसूचित जाति बहुल बस्ती सालूपुरा कॉलोनी तक लगभग 68 लाख 61 हजार रुपये की लागत से बनने जा रही डाम्बरीकृत सड़क की आधारशिला रखी। यह सड़क मुख्यमंत्री अधोसंरचना मद से बनने जा रही है। इसके बाद उन्होंने वार्ड-66 के अंतर्गत ही लगभग 44 लाख 27 हजार रुपये की लागत से बड़ोरी रोड़ से सिकरौदी तक नाला व पुलिया सहित बनाई गई सीसी रोड़ का लोकार्पण किया। शनिवार को इन विकास कार्यों के भूमिपूजन एवं लोकार्पण कार्यक्रम में राज्यमंत्री कुशवाह ने कहा कि कोरोना संकट के बाबजूद सरकार ने विकास का पहिया थमने नहीं दिया है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सालूपुरा बस्ती की बिजली संबंधी समस्या के समाधान के लिए जल्द ही नया ट्रांसफार्मर स्थापित किया जाएगा। साथ ही यहां सामुदायिक भवन सहित अन्य निर्माण कार्य भी कराए जायेंगे।     सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर शुरू हुए जल जीवन मिशन के तहत घर-घर नल से पानी पहुँचाने का काम किया जा रहा है। इस योजना के तहत सालूपुरा, बड़ोरी व सिकरौदी सहित वार्ड-66 की सभी बस्तियों में भी पेयजल व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा केन्द्र व राज्य सरकार पूरी जिम्मेदारी के साथ पिछड़ी बस्तियों में विकास को अंजाम दे रही हैं। कार्यक्रम में प्रेम सिंह राजपूत, केशव सिंह गुर्जर व चेतराम बाबा सहित अन्य स्थानीय जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे।कोरोना को हराने के लिए सभी लोग लगवाएं वैक्सीनराज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह एवं सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने इस अवसर पर संयुक्त रूप से आह्वान किया कि कोरोना को हराने के लिए सभी का टीकाकरण जरूरी है। इसलिए सभी लोग अनिवार्यत: वैक्सीन लगवाएं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 18 वर्ष से अधिक आयु के युवाओं को भी नि:शुल्क वैक्सीन लगवाने का निर्णय लिया है। मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री की मंशा के अनुरूप मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर विश्व योग दिवस 21 जून को कोरोना टीकाकरण महाअभियान चलाया जाएगा। आप सब लोग भी इसमें सहभागी बनें और सभी को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें।

Kolar News

Kolar News 19 June 2021

भोपाल। देश के महान एथलीट फ्लाइंग सिख के नाम से विख्यात महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह का एक महीने तक कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद बीती देर रात निधन हो गया। मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनके निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है, साथ ही उनके निधन को देश के लिए अपूरणीय क्षति बताया है।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को ट्वीट के माध्यम से कहा है कि भारत के गौरव, महान एथलीट फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह जी के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। देश का गौरव बढ़ाने में मिल्खा सिंह का योगदान यह देश हमेशा याद रखेगा। उनका जाना पूरे देश के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दे।

Kolar News

Kolar News 19 June 2021

भोपाल।  नकली वैक्सीन लगे तो मुम्बई में मगर सप्लाई करने वाले सतना के। प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने कहा कि सरकार बताये कि नकली प्लाज्मा, नकली रेमडेसिविर, नकली ब्लेक फंगस के इंजेक्शन, नकली फेवीमेक्स, अस्पतालों के दवा चोर सारे माफिया मध्यप्रदेश में ही पैदा हो रहे हैं और सरकार कह रही है कि हम ऐसा माहौल बना.देंगे कि 21 जून को वैक्सीन लगवाने की होड़ मच जायेगी।   भूपेन्द्र गुप्ता ने सरकार से सतर्क रहने की मांग की कि कहीं इस होड़ में सतना वाले वैक्सीन भी न लग जायें। प्रदेश को माफिया की धुरी बना देने के बाद भी सरकार  माफिया पर मेहरबान है। कांग्रेस नेता ने सरकार से मांग की है कि तत्काल सतना से नकली वैक्सीन प्रदाय करने वाले माफिया की जांच कराये अन्यथा वैक्सीन महोत्सव की होड़ में गरीब जनता को नकली वैक्सीन भी न ठुक जाये।

Kolar News

Kolar News 19 June 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को सुबह महारानी लक्ष्मी बाई के बलिदान दिवस पर निवास पर उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री चौहान ने नमन कर उन्हें स्मरण करते हुए कहा कि रानी लक्ष्मीबाई  झाँसी राज्य की रानी और 1857 की राज्य क्रान्ति की शहीद वीरांगना थीं। उन्होंने सिर्फ 29 वर्ष की उम्र में अंग्रेज साम्राज्य की सेना से युद्ध किया और रणभूमि में वीरगति को प्राप्त हुईं। लक्ष्मीबाई का जन्म वाराणसी में 19 नवम्बर 1828 को हुआ था। उनका बचपन का नाम मणिकर्णिका था लेकिन प्यार से उन्हें मनु कहा जाता था। मनु ने बचपन में शास्त्रों की शिक्षा के साथ शस्त्र की शिक्षा भी ली। सन् 1842 में उनका विवाह झाँसी के राजा गंगाधर राव के साथ हुआ और वे झाँसी की रानी बनीं। विवाह के बाद उनका नाम लक्ष्मीबाई रखा गया। झाँसी 1857 के संग्राम का एक प्रमुख केन्द्र बन गया था। 18 जून 1858 को ब्रिटानी सेना से लड़ते-लड़ते रानी लक्ष्मीबाई शहीद हो गईं।

Kolar News

Kolar News 18 June 2021

भोपाल। बारिश से पहले जर्जर मकानों को तोडऩे का काम नगर निगम हर साल करता है, लेकिन विस्थापन के बिना आम लोगों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। माता मंदिर के नजदीक स्थित नेहरू कॉलोनी के जर्जर मकान खाली करने के लिए भोपाल नगर निगम ने नोटिस जारी किए हैं। नोटिस मिलने के बाद घबराए रहवासियों ने भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से मकान तोडऩे से पहले विस्थापन की गुहार लगाई।   स्थानीय नागरिकों ने शुक्रवार को सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को बताया कि बारिश के मौसम में अचानक मकान शिफ्ट किया जाना संभव नहीं है। सांसद साध्वी प्रज्ञा ने नगर निगम कमिश्नर को पत्र लिखकर निर्देशित किया है कि नेहरू कॉलोनी वासियों को पहले मूलभूत सुविधा युक्त प्रधानमंत्री योजना में आवास आवंटित किए जाएं। इसके साथ ही बारिश को देखते हुए मकान खाली करने के लिए एक माह का समय भी दिया जाए।

Kolar News

Kolar News 18 June 2021

इंदौर। शहर के तुकोगंज थाना क्षेत्र में गुरुवार को सुबह एक निर्माणाधीन भवन की दीवार अचानक गिर जाने से वहां कार्यरत एक मजदूर पंकज पुत्र अंतर सिंह निवासी जिला खरगोन की मृत्यु हो गई। प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने दुर्घटना की जानकारी मिलते ही दुर्घटना स्थल का दौरा किया व मृतक के परिजनों से भेंट कर शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होंने पीड़ित परिवार को जिला प्रशासन की ओर से हर संभव मदद दिलाने के लिये आश्वस्त किया।मंत्री सिलावट ने इस दुर्घटना की विस्तृत जांच कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने मृतक के परिवार को एक लाख रूपये की आर्थिक सहायता तत्काल उपलब्ध के भी निर्देश दिये। इस दौरान अपर कलेक्टर पवन जैन सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

Kolar News

Kolar News 17 June 2021

इंदौर। इंदौर जिले के प्रभारी तथा प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट में हुई बैठक में 21 जून को आयोजित होने वाले प्रदेश व्यापी टीकाकरण महा-अभियान की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने अभियान की रूपरेखा तैयार करते हुये बताया कि अभियान को सफल बनाने के लिये जिले में विधानसभा, वार्डवार तथा टीकाकरण केन्द्रवार कार्ययोजना तैयार की जा रही है। उन्होंने कहा कि अभियान में टीकाकरण के प्रति जन-जागरूकता के लिये समाज के हर वर्ग के प्रभावशाली व्यक्तियों की सहभागिता सुनिश्चित की जाए।बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह, सांसद शंकर लालवानी, विधायक रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय, मालिनी गौड़, महेन्द्र हार्डिया, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता, डॉ. राजेश सोनकर तथा मनोज पटेल, इंदौर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष मधु वर्मा, राज्य स्तरीय आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य डॉ. निशांत खरे सहित जिला आपदा प्रबंधन समिति के अन्य सदस्य मौजूद थे। बैठक में मंत्री सिलावट ने टीकाकरण महा-अभियान के संबंध में राज्य शासन द्वारा बनाई गई कार्ययोजना के संबंध में चर्चा की और अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिला स्तर पर भी सुक्ष्म कार्ययोजना बनाये। जिले में यह अभियान पूरी तरह से सफल हो, इसके लिये सभी संभव प्रयास किये जाये। समाज के हर वर्ग की भागीदारी सुनिश्चित की जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि आमजन को टीकाकरण हेतु प्रेरित करने के लिये सभी धर्मगुरूओं, पद्म सम्मान प्राप्त विभुतियों, जिले के वरिष्ठ खिलाड़ियों, कलाकारों, शिक्षाविदों, व्यापारिक तथा समाजिक संगठनों के वरिष्ठजनों सहित समाज में प्रभाव रखने वाले सम्मानीय व्यक्तियों को प्रेरक बनाये। इनसे संपर्क कर अपने-अपने क्षेत्रों में नागरिकों को प्रेरित करने का आग्रह किया जाये।सिलावट ने कोविड से मृत हुये शासकीय कर्मचारियों के पात्र आश्रित को शीघ्र अनुकंपा नियुक्ति दी जाये। यह प्रक्रिया शीघ्र पूरी करें। बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह ने इंदौर जिले में 21 जून से शुरू होने वाले टीकाकरण महा-अभियान  की कार्ययोजना के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में पहले दिन 21 जून को एक लाख व्यक्तियों को टीका लगाने का लक्ष्य है। जिले में अभी 350 टीकाकरण केन्द्र है। आवश्यकता के अनुसार इनकी संख्या और बढाई जायेगी। बैठक में उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों ने अभियान को सफल बनाने के लिये अपने-अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिये।

Kolar News

Kolar News 17 June 2021

अनूपपुर। काफी हद तक कोरोना संक्रमण पर काबू पा लिया गया है, किन्तु अभी भी कोरोना के प्रति सचेत रहने और टीकाकरण कार्य में तेजी लाना आवश्यक है। यह बात गुरुवार को जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा करते हुए प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कही। बैठक में कलेक्टर सोनिया मीना, पुलिस अधीक्षक मांगीलाल सोलंकी,बृजेश गौतम, रामदास पुरी, पूर्व विधायक मनोज अग्रवाल,रामअवध सिंह समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं समिति सदस्य उपस्थित रहे।खाद्य मंत्री ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए हमारे लिए अभी कोरोना की किसी भी रूप में अनदेखी करना जोखिम भरा हो सकता है। इसलिए इससे बचाव के लिए आगे भी पर्याप्त सावधानी बरतने की जरूरत है। आम जीवन में मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आवश्यक है। साथ ही कोरोना से बचाव के लिए लोगों को टीके लगवाना भी आवश्यक है। टीकाकरण कार्य में तेजी लाने के लिए 1 से 3 जुलाई तक मंत्री, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक समेत अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि हरेक गांव में जाएंगे और लोगों के बीच बैठकर टीकाकरण कराएंगे। जबकि मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम को 21 जुलाई से करनें की बात प्रधानमंत्री से चर्चा के बाद कहीं हैं।समिति सदस्यों एवं जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि गांव-गांव जाकर लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक करें और टीकाकरण अभियान में तेजी लाने हेतु प्रशासन को सहयोग दें। कोरोना पर काबू पाने के लिए किए गए प्रयासों में सहयोग देने के लिए सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।मंत्री ने कहा कि जिले में कोरोना की रोकथाम के लिए प्रभावशील प्रतिबंधात्मक आदेश का पालन करना जरूरी है। आगे भी परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए अभी से कोरोना से बचाव की तैयारी शुरु कर देनी चाहिए और इसमें किसी प्रकार की ढिलाई एवं उदासीनता ना नहीं दिखानी चाहिए।

Kolar News

Kolar News 17 June 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को बाला साहब देवरस की पुण्यतिथि पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री चौहान ने अपने निवास पर बाला साहब देवरस के चित्र पर माल्यार्पण किया।    गौरतलब है कि बाला साहब देवरस राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तृतीय सरसंघचालक थे। देवरस का जन्म 11 दिसंबर 1915 को नागपुर में हुआ। स्थाई रूप से उनका परिवार मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले के आम गाँव के निकटवर्ती ग्राम कारंजा का था। उनकी संपूर्ण शिक्षा नागपुर में ही हुई। उन्होंने गुरू जी के स्वर्गवास के बाद 6 जून 1973 को सरसंघचालक के दायित्व को ग्रहण किया। उनके कार्यकाल में संघ कार्य को नई दिशा मिली। उन्होंने सेवा कार्य पर बल दिया। परिणाम स्वरूप उत्तर पूर्वांचल सहित देश के वनवासी क्षेत्रों में हजारों की संख्या में सेवा कार्य आरंभ हुए। नागपुर में 17 जून 1996 को उनका स्वर्गवास हुआ।

Kolar News

Kolar News 17 June 2021

भोपाल। पिछले वर्ष आज ही के दिन यानी 15 जून को लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से हुई झड़प में देश के 20 जवान शहीद हो गए थे। गलवान घाटी में हुई झड़प की पहली बरसी पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शहीद हुए वीर जवानों के चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित किये हैं।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा है कि अदम्य साहस, शौर्य और वीरता के साथ चीनी सेना से अंतिम सांस तक लड़ते-लड़ते गलवान घाटी में शहीद हुए मां भारती के वीर सपूतों के चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूं। आज एक बरस बीत गये, लेकिन अपने वीर सपूतों के असमय जाने की पीड़ा से आंखों में आज भी नमी है।उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा है कि -आंखों में नमी, लेकिन हृदय में अभूतपूर्व गर्व की अनुभूति है कि मां भारती के सपूतों ने मातृभूमि के गौरव और सम्मान की रक्षा अपना सर्वोच्च बलिदान देकर भी किया। देश का कण-कण अपने साहसी और वीर सपूतों का अनंत काल तक ऋणी रहेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने आगे लिखा है कि-मध्यप्रदेश के रीवा के वीर जवान दीपक सिंह भी देश की सेवा एवं रक्षा करते हुए गलवान में अपने प्राणों को बलिदान कर अमर हो गये। मैं फरेंदा गांव की उस पावन माटी को भी प्रणाम करता हूं, जो वीर शहीद की चरण रज से धन्य हुई। यह प्रदेश और देश अपने लाल को कभी भुला न सकेगा।

Kolar News

Kolar News 15 June 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को सीहोर के पास एक रिसोर्ट में आयोजित विशेष बैठक कैबिनेट की मीटिंग ली। राजधानी से दूर सीहोर में हुई इस बैठक को लेकर अब राजनीति तेज हो गई है। कांग्रेस ने बैठक पर सवाल उठाते हुए सीएम शिवराज पर निशाना साधा है।   मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया कि कोरोना की इस महामारी के संकट काल में मध्यप्रदेश की कैबिनेट की बैठक आज भोपाल छोडक़र, लाखों रुपए खर्च कर पिकनिक की तरह सीहोर के एक निजी आलीशान होटल में आयोजित की गयी। जब भोपाल में करोड़ों की सचिवालय बनाया गया है, कई ऐसे सरकारी भवन है, जहां बिना खर्च के यह कैबिनेट बैठक आयोजित की जा सकती थी, तो फिर क्या कारण है कि इसे लाखों रुपए खर्च कर सीहोर में एक निजी आलीशान होटल में पिकनिक की तरह रखी गई ?   कांग्रेस नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री व भाजपा नेतृत्व स्पष्ट करें कि ऐसा करने के पीछे क्या ओचित्य, प्रदेश का इससे क्या फ़ायदा? क्या पिछली कैबिनेट बैठक के अंदर नर्मदा परियोजना के टेंडर के कमीशन व हिस्से के बँटवारे को लेकर हुए झगड़े सामने आने के कारण इस बैठक को भोपाल से दूर रखा गया? क्या आज की बैठक में भी कोई बड़ा भ्रष्टाचार का खेल खेला गया, जिसके कारण इस बैठक को भोपाल से दूर रखा गया ? नरेन्द्र सलूजा ने बताया वर्तमान में एक तरफ कोरोना महामारी का संकट का दौर चल रहा है, अभी भी कोरना का डर खत्म नहीं हुआ है, अभी भी हमें संभल कर चलने की आवश्यकता है। बेहतर होता पहले तो यह मीटिंग वर्चुअल तरीके से होती लेकिन यदि उसके बाद भी मिलकर यह बैठक करने की आवश्यकता थी तो यह भोपाल में करोड़ों की लागत से बने वल्लभ भवन व अन्य किसी भी सरकारी भवनों में बिना खर्च के हो सकती थी लेकिन एक तरफ जहाँ मध्यप्रदेश में हजारों लोगों की कोरोना के कारण जान जा चुकी है, हजारों लोगों ने अपनों को खोया है, कई लोग आज भी अस्वस्थ होकर जीवन -मृत्यु से संघर्ष कर रहे हैं और ऐसे में संकट के इस दर्दनाक माहौल में भी शिवराज सरकार अपनी कैबिनेट की बैठक भोपाल छोडक़र, सीहोर के एक आलीशान होटल में लाखों रुपए खर्च कर पिकनिक की तरह आयोजित कर रही है? भाजपा नेताओं को अभी भी पर्यटन ही सूझ रहा है?   सलूजा ने तंज कसते हुए कहा कि बड़ा ही शर्मनाक है कि इस बैठक में कोरोना की समीक्षा की बात की जा रही है , कोरोना पर नियंत्रण की चर्चा होने की बात की जा रही है? इस कैबिनेट बैठक में होने वाले लाखों रुपए के खर्च को बचाकर सरकार इसका उपयोग प्रदेश में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को सुधारने में लगा सकती थी। इस अनावश्यक खर्च को बचाया जा सकता था लेकिन जिन्होंने अपने 15 वर्ष के शासनकाल में भी पूर्व में भी करोड़ों रुपए सिर्फ़ अपने प्रचार-प्रसार, अभियान, आयोजन और खुद की ब्रांडिंग पर खर्च किए हो, प्रदेश को दो लाख करोड़ के कर्ज में धकेला हो, वह यह कैसे कर सकते थे? उन्हें तो सरकारी पैसे को लुटाने की आदत है?   सलूजा ने कहा कि मुख्यमंत्री व भाजपा नेतृत्व यह स्पष्ट करें कि भोपाल के सरकारी भवन छोडक़र सीहोर के आलीशान होटल में लाखों रुपए खर्च कर पिकनिक की तरह आयोजिट की गई आज की कैबिनेट की बैठक से, प्रदेशवासियों को क्या फायदा होगा, इस बैठक का क्या औचित्य और किस कारण से आज की कैबिनेट की बैठक निजी होटल में आयोजित की गई?

Kolar News

Kolar News 14 June 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधारोपण के संकल्प के क्रम में सोमवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट पार्क में अशोक का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेश के नागरिकों से भी पौधारोपण करने की अपील की।मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए लिखा है कि-आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में अशोक का पौधा लगाया। अशोक का पेड़ सुंदर होने के साथ अपार औषधीय गुणों से भी भरा है। यह दर्द निवारक होने के साथ-साथ पेट संबंधी विकारों एवं ज्वर से मुक्ति में प्रभावी माना जाता है। अशोक वृक्ष सिर्फ पर्यावरण को ही शुद्ध नहीं करते, बल्कि हमारे शरीर को भी स्वस्थ करने में सक्षम हैं। पेड़-पौधे प्राणदायी हैं, इन्हें रोपिये और देखभाल कीजिये।

Kolar News

Kolar News 14 June 2021

भोपाल/होशंगाबाद। मध्य प्रदेश में पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की मूल्य वृद्धि के खिलाफ शुक्रवार को कांग्रेस पूरे प्रदेश में हल्ला बोल प्रदर्शन कर रही है। इसी क्रम में होशंगाबाद जिले में भी जगह-जगह प्रदर्शन किए जा रहे हैं। बाबई में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का काफिला गुजरने से पहले ही पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।   मध्यप्रदेश में पेट्रोल के दाम करीब 104 रुपये और डीजल के दाम 95 रुपये के करीब पहुंच गए हैं। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और महंगाई के खिलाफ छह महीने बाद कांग्रेस एक बार फिर सड़क पर आ गई है। भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर समेत सभी जगह अपने क्षेत्रों में वरिष्ठ नेता इसमें शामिल हो रहे हैं। इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान परिवार के साथ शुक्रवार को पचमढ़ी से भोपाल लौट रहे थे। जिले के बाबई में मेन रोड पर कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ता पेट्रोल और डीजल के दाम को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। सीएम के सामने प्रदर्शन की संभावना थी, इसलिए पुलिस ने सीएम के काफिला पहुंचने से पहले ही प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। गिरफ्तार किए गए कांग्रेस कार्यकर्ताओं में राहुल गांधी युवा शक्ति संगठन उप प्रभारी शैलेंद्र जोशी, गुरुजी संभाग अध्यक्ष शैलू दुबे, जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर राजपूत, जनाब रशीद खान और अन्य कार्यकर्ता शामिल हैं।

Kolar News

Kolar News 11 June 2021

भोपाल। जल संसाधन मंत्री तुलसी राम सिलावट ने गुरुवार को विभाग के कर्मचारी की कोविड से मृत्यु होने पर कोलार कॉलोनी, भोपाल स्थित उनके घर पहुंचकर सांत्वना दी और उनके परिवार के लड़के को नियुक्ति- पत्र प्रदान किया। दरअसल, जल संसाधन विभाग में चौकीदार पद पर पदस्थ स्वर्गीय उत्तम मेश्राम की कोविड से मृत्यु हो गई थी। जिसके बाद मंत्री सिलावट उनके निवास पर पहुंचे और उनके पुत्र मनीष को नियुक्ति-पत्र दिया और अधिकारियो के साथ भेजकर आज ही ज्वाइनिंग भीं करवाई।    मंत्री सिलावट इसके बाद दूसरे कर्मचारी स्वर्गीय आशोक कुमार खरे के निवास पर पहुँचकर परिवार से मिले और उनकी पत्नी प्रतिभा खरे को शासकीय सेवा के लाभ अवकाश नगदीकरण, ग्रुप इंश्योरेंस, और प्रोविडेंट फंड की राशि लगभग 3 लाख 25 हजार रुपए का स्वीकृति-पत्र प्रदान किया। साथ ही परिवार को शेष सुविधा उपलब्ध कराने के लिए एक अधिकारी को अधिकृत किया और परिवार से संबंधित अधिकारी के फोन नंबर भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है।   मंत्री सिलावाट ने विभाग के अधिकारियो को कोविड के कारण मृत कर्मचारियों के परिवारों को नियुक्ति-पत्र और शासकीय सेवा के अन्य लाभ पेंशन , ग्रेच्युटी, प्रोविडेंट फंड आदि के स्वीकृति-पत्र 8 दिन में दिए जाने के निर्देश दिए है। जलसंसाधन विभाग के 86 अधिकारी और कर्मचारियों की मृत्यु कोविड के कारण हुई थी। ऐसे परिवारों के लिए संभागवार अधिकारी को उनकी समस्याओं को हल करने के लिए भी अधिकृत किया गया है। साथ ही उन परिवार के सदस्यों को भी उनसे लगातार संपर्क रखने के लिये कहा।     इसके अलावा मंत्री सिलावट ने ईएनसी ऑफिस पहुँचकर जल संसाधन विभाग के वरिष्ठ संभागीय अधिकारियों को फोन लगाकर सभी अनुकंपा नियुक्त के प्रकरणों को तुरंत निराकृत करने और नियुक्ति-पत्र देने के निर्देश दिए है और कहा कि विभाग के वरिष्ठ अधिकारी संबंधित के घर जाकर नियुक्ति-पत्र प्रदान करे।    मंत्री सिलावट ने विभाग के अधिकारियो को निर्देश दिए की 8 दिन में ऐसे सभी अधिकारी और कर्मचारियों जिनकी मृत्यु कोविड के कारण हुई है। उनके परिवार के योग्य और पात्र सदस्य को अनुकंपा नियुक्ति दी जाए, पेंशन प्रकरण और ग्रेच्युटी की राशि भी 8 दिन में उपलब्ध करा दी जाए। अनुकम्पा नियुक्ति के सभी प्रकरणों में ज्वाइनिंग की सूचना तुरंत ईएनसी ऑफिस को प्रदान करे।

Kolar News

Kolar News 10 June 2021

भोपाल। उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण (स्वतंत्र प्रभार) राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह ने कहा है कि उद्यानिकी से जुड़ी उत्पादन, भंडारण और प्र-संस्करण की संयुक्त इकाई लगाने वालों को खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को देय विशिष्ट वित्तीय सहायता योजना में प्राथमिकता दी जायेगी। राज्य मंत्री कुशवाह ने गुरुवार को अपने निवास स्थित कार्यालय पर विभागीय वेबसाइट www.mphorticultre.gov.in के माध्यम से https://mpfsts.mp.gov.in/mphd/#/ पोर्टल का शुभारंभ किया।   राज्य मंत्री कुशवाह ने कहा कि वर्ष 2018-19 में खाद्य प्र-संस्करण की राज्य योजना मध्यप्रदेश उद्योग संवर्धन नीति 2014 में खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को देय विशिष्ट वित्तीय सहायता के ऑनलाइन आवेदन प्राप्त करने के लिये संचालित पोर्टल को बंद कर दिया गया था, जिसे आज से पुन: प्रारंभ किया जा रहा है। प्रदेश की उपज को प्र-संस्कृत किये जाने के क्षेत्र में उद्यमियों से ऑनलाइन आवेदन प्राप्त किये जायेंगे। इस योजना का उद्देश्य प्रदेश में कच्चे उत्पाद को प्र-संस्कृत करने की प्रक्रिया को बढ़ावा देना है।    उन्होंने बताया कि उत्पादन से जुड़े कृषक और उद्यमी उत्पादन, भंडारण और प्र-संस्करण की इकाई को संयुक्त रूप से स्थापित करेंगे, उन्हें योजना में प्राथमिकता दी जायेगी। मध्यप्रदेश उद्योग संवर्धन नीति 2014 के क्रम में खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को देय विशिष्ट वित्तीय सहायता में लागत पूंजी अनुदान सहायता 35 प्रतिशत और अधिकतम राशि 2.5 करोड़ रूपये देय है। प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना केन्द्र प्रवर्तित में अधिकतम राशि 10 लाख रूपये अनुदान देने का प्रावधान है।   मंत्री कुशवाह ने बताया कि राज्य और केन्द्र के द्वारा संचालित खाद्य प्र-संस्करण को बढ़ावा देने की योजनाओं में 600 से 750 करोड़ रूपये का नवीन निवेश होना अनुमानित है। इसके माध्यम से 30 से 40 हजार प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोजगार का सृजन भी होगा। उन्होंने कहा कि खाद्य प्र-संस्करण योजनाओं के अतिरिक्त प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, एकीकृत बागबानी विकास मिशन एवं शीतगृह भंडारण में भी उद्यानिकी कृषकों और उद्यमियों को आकर्षक अनुदान का लाभ दिया जा रहा है। इससे उद्यानिकी कृषकों को बढ़ावा मिलेगा। पोर्टल के लोकार्पण के अवसर पर उद्यानिकी आयुक्त एम.के. अग्रवाल भी उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 10 June 2021

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास कैलाश सारंग ने गुरुवार को नगर निगम अधिकारियों के साथ नरेला क्षेत्र का दौरा कर नाले-नालियों का जायजा लिया। जहां नाले-नालियों की मरम्मत होना है, वहां मरम्मत करने तथा जहां सफाई होना है, वहां मानसून पूर्व सभी नाली-नालों की सफाई के निर्देश नगर निगम के अधिकारियों को दिये।   मंत्री सारंग ने कहा कि भोपाल शहर के सभी नालों का सर्वे कराकर एक प्लानिंग रिपोर्ट तैयार करायी जाये और कैलेण्डर के हिसाब से नालों का रख-रखाव किया जाये। सफाई और मरम्मत का कैलेण्डर निर्धारित हो। उन्होंने कहा कि वाटर डिस्ट्रीब्यूटर की पाइप-लाइन अलग हो। नाले में जल-भराव की स्थिति निर्मित न हो, इसके लिये कचरा जमा न होने दें।   ज्ञात हो की नरेला क्षेत्र में करोड़ों रूपये की लागत से आदर्श ड्रेनेज सिस्टम का निर्माण किया जा चुका है, जिसमें नाली और नालों का निर्माण कराकर नालों का चैनेलाइजेशन कराया गया है। चूँकि नरेला क्षेत्र की बस्तियाँ निचले क्षेत्र में स्थित हैं और भोपाल शहर का जल-निकास भी यहीं से होता है। इस कारण वर्षा ऋतु में तीन वर्ष पहले तक अक्सर यहाँ बाढ़ की स्थिति निर्मित हो जाती थी। सारंग ने क्षेत्र में नालियों का निर्माण कराकर और उनको नालों से जोड़कर चैनेलाइजेशन कराया है, जिससे तेजी से जल-निकास हो जाता है और निचले क्षेत्र में जल-भराव की स्थिति निर्मित नहीं होती है।   सारंग ने बताया कि नाले-नालियों के निर्माण और नालों का चैनेलाइजेशन हो जाने से पिछले दो वर्षों से भारी बरसात के बाद भी बस्तियों में जल-भराव की स्थिति निर्मित नहीं हो रही है। निचले क्षेत्र की बस्तियों में भी किसी प्रकार की हानि नहीं हो रही है। मंत्री सारंग के निरीक्षण के दौरान नगर निगम अधिकारी-कर्मचारी सहित क्षेत्रीय गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 10 June 2021

भोपाल। जल संसाधन मंत्री तुलसी राम सिलावट ने गुरुवार को विभाग के कर्मचारी की कोविड से मृत्यु होने पर कोलार कॉलोनी, भोपाल स्थित उनके घर पहुंचकर सांत्वना दी और उनके परिवार के लड़के को नियुक्ति- पत्र प्रदान किया। दरअसल, जल संसाधन विभाग में चौकीदार पद पर पदस्थ स्वर्गीय उत्तम मेश्राम की कोविड से मृत्यु हो गई थी। जिसके बाद मंत्री सिलावट उनके निवास पर पहुंचे और उनके पुत्र मनीष को नियुक्ति-पत्र दिया और अधिकारियो के साथ भेजकर आज ही ज्वाइनिंग भीं करवाई।    मंत्री सिलावट इसके बाद दूसरे कर्मचारी स्वर्गीय आशोक कुमार खरे के निवास पर पहुँचकर परिवार से मिले और उनकी पत्नी प्रतिभा खरे को शासकीय सेवा के लाभ अवकाश नगदीकरण, ग्रुप इंश्योरेंस, और प्रोविडेंट फंड की राशि लगभग 3 लाख 25 हजार रुपए का स्वीकृति-पत्र प्रदान किया। साथ ही परिवार को शेष सुविधा उपलब्ध कराने के लिए एक अधिकारी को अधिकृत किया और परिवार से संबंधित अधिकारी के फोन नंबर भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है।   मंत्री सिलावाट ने विभाग के अधिकारियो को कोविड के कारण मृत कर्मचारियों के परिवारों को नियुक्ति-पत्र और शासकीय सेवा के अन्य लाभ पेंशन , ग्रेच्युटी, प्रोविडेंट फंड आदि के स्वीकृति-पत्र 8 दिन में दिए जाने के निर्देश दिए है। जलसंसाधन विभाग के 86 अधिकारी और कर्मचारियों की मृत्यु कोविड के कारण हुई थी। ऐसे परिवारों के लिए संभागवार अधिकारी को उनकी समस्याओं को हल करने के लिए भी अधिकृत किया गया है। साथ ही उन परिवार के सदस्यों को भी उनसे लगातार संपर्क रखने के लिये कहा।     इसके अलावा मंत्री सिलावट ने ईएनसी ऑफिस पहुँचकर जल संसाधन विभाग के वरिष्ठ संभागीय अधिकारियों को फोन लगाकर सभी अनुकंपा नियुक्त के प्रकरणों को तुरंत निराकृत करने और नियुक्ति-पत्र देने के निर्देश दिए है और कहा कि विभाग के वरिष्ठ अधिकारी संबंधित के घर जाकर नियुक्ति-पत्र प्रदान करे।    मंत्री सिलावट ने विभाग के अधिकारियो को निर्देश दिए की 8 दिन में ऐसे सभी अधिकारी और कर्मचारियों जिनकी मृत्यु कोविड के कारण हुई है। उनके परिवार के योग्य और पात्र सदस्य को अनुकंपा नियुक्ति दी जाए, पेंशन प्रकरण और ग्रेच्युटी की राशि भी 8 दिन में उपलब्ध करा दी जाए। अनुकम्पा नियुक्ति के सभी प्रकरणों में ज्वाइनिंग की सूचना तुरंत ईएनसी ऑफिस को प्रदान करे।

Kolar News

Kolar News 10 June 2021

भोपाल।  प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ के निर्देशानुसार डीजल और पेट्रोल की बढ़ती हुई महंगाई के खिलाफ 11 जून को कांग्रेस पार्टी प्रांत व्यापी प्रदर्शन करेगी। डीजल और पेट्रोल की बढ़ती हुई कीमतें आम आदमी के जीने की सारी परिस्थितियों को जर्जर कर चुकी हैं । कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को एक बयान जारी कर बताया कि जनवरी में जो पेट्रोल 91 रुपये प्रति लीटर था आज 105 रुपये लीटर पर पहुंच गया है। यह बेतहाशा वृद्धि महंगाई में बदल गई है ,परिवहन लागत डेढ़ गुनी हो गई है। खाने के तेल की कीमतें दोगुनी हो गई हैं और बेरोजगारी से पीडि़त जनता खून के आंसू रो रही है। कांग्रेस ने अपने जिलाध्यक्षों और कार्यकर्ताओं को निर्देशित किया है कि प्रत्येक जिला स्तर पर महंगाई के खिलाफ आम जनता की आवाज को बुलंद करें और सरकार की नीतियों का विरोध दर्ज कराएं। इस संबंध में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने सभी जिला इकाइयों को निर्देश दे दिए हैं।

Kolar News

Kolar News 10 June 2021

भोपाल। अपनी मांगों के लिए आंदोलन कर रहे प्रदेश भर के जूनियर डाक्टर्स की जायज मांगों पर चर्चा करने के बजाय अड़ियल रुख अपनाकर भाजपा सरकार सिर्फ कर्मचारी विरोधी ही नहीं बल्कि अपने तानाशाह और जनविरोधी चरित्र को भी उजागर कर रही है। यह कहना है मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह का ।    उन्‍होंने भाजपा और उसकी सरकार के दौहरे चरित्र का होने का आरोप लगाया है। एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्‍यम से मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने कहा है कि पिछले साल यह सरकार जिन कोरोना वॉरियर्स पर पुष्पवर्षा कर रही थी, अब उन्हीं कोरोना वॉरियर्स से बात करने की बजाय उनका रोजगार ही छीन रही है, जबकि वे सरकार से उन्हीं मांगों को स्वीकार करने की मांग कर रहे हैं, जिन्हें पूरा करने का सरकार ने आश्‍वासन दिया था।   माकपा नेता ने कहा है कि केवल डाक्टर्स ही नहीं, प्रदेश के 19 हजार संविदा स्वास्थ्य कर्मी भी हड़ताल पर हैं। इतना ही नहीं कोरोना की पहली और दूसरी जंग मे जान जोखिम में डाल कर कोरोना को मात देने वाली 55 हजार आशा-ऊषा कर्मी भी मजबूरी में हड़ताल का रास्ता अपनाने पर मजबूर हैं।   जसविंदर सिंह ने कहा है कि सरकार का यह संवेदनहीन रवैया कोरोना के खिलाफ लड़ाई को भी कमजोर कर रहा है, साथ ही प्रदेश भर के हजारों कोरोना मरीजों की जिंदगी को भी दांव पर लगा रहा है।  मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने संघर्षरत डाक्टरों की मांगों का समर्थन करते हुए सरकार से तानाशाही रुख त्यागने और संवेदनशील रुख अपनाने का मांग की है।

Kolar News

Kolar News 7 June 2021

भोपाल। संस्कृति विभाग की विभिन्न अकादमियों द्वारा बहुविध कलानुशासनों की गतिविधियों पर एकाग्र श्रृंखला 'गमक' के अंतर्गत आज सायं सात बजे से प्रकाश पाठक और साथी, विदिशा का 'शास्त्रीय गायन' एवं हनीफ़ हुसैन और जावेद खान की 'सारंगी जुगलबंदी' का प्रसारण का आयोजन वर्चुअल तौर पर किया जाएगा।    संस्‍कृति विभाग के इस कार्यक्रम को सोमवार शाम यूट्यूब चैनल- http://youtube.com/channel/UCL_bmi2Ls6zFZdM3re6QzAQ और फेसबुक पेज https://www.facebook.com/MPTribalMuseum/live पर देखा जा सकता है।    इस संबंध में संस्कृति, पर्यटन और आध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि कोविड महामारी के अवसादपूर्ण वातावरण से आमजनों को बाहर निकलने के लिए संस्कृति विभाग ने गमक श्रृंखला का वर्चुअल आयोजन कर सकारात्मक प्रयास किया है। यह संस्कृति और संस्कारों का संरक्षण तो करेगी ही साथ ही कलाकारों का मनोबल बढ़ाएगी और आजीविका भी प्रदान करेंगी।    उल्‍लेखनीय है कि संस्कृति विभाग की जनजातीय लोककला एवं बोली विकास अकादमी द्वारा कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत ऑनलाइन गतिविधियों का प्रसारण ट्राइबल म्यूजियम के सोशल मीडिया प्लेटफोर्म पर किया जा रहा है। आठवें वर्षगाँठ समारोह के अवसर पर संग्रहालय और उसके द्वारा पूर्व में आयोजित विविध कलानुशासन की गतिविधियों को पुनरावलोकी के अंतर्गत दिखाया गया है। मासिक शलाका चित्र प्रदर्शनी के अंतर्गत जनजातीय चित्रकारों द्वारा प्रकृति और उससे जुड़े जीवन के विविध आयामों को दर्शाती ऑनलाइन चित्र प्रदर्शनी संयोजित की गई है।    इस चित्र प्रदर्शनी की खासीयत को लेकर सूचना प्रसार अधिकारी अनुराग उइके ने बताया है कि जनजातीय चित्रकार- दुर्गा बाई व्याम- गोंड चित्रकार, राम सिंह उर्वेती-गोंड चित्रकार, भूरी बाई- भील चित्रकार, रमेश तेकाम- गोंड चित्रकार, टेकी श्याम- गोंड चित्रकार, संतोषी तेकाम-गोंड चित्रकार, नर्मदा प्रसाद तेकाम- गोंड चित्रकार, देव नन्कुसिया श्याम- गोंड चित्रकार, लाडो बाई- भील चित्रकार, कुमुदिनी श्याम- गोंड चित्रकार, राजेंद्र कुमार श्याम- गोंड चित्रकार, प्रसाद सिंह कुशराम- गोंड चित्रकार एवं  सोनी व्याम- गोंड चित्रकारों के चित्रों को प्रदर्शित किया गया है। यह चित्र प्रदर्शनी विभागीय वेबसाइट पर एक माह के लिए अवलोकनार्थ उपलब्ध रहेगी। 

Kolar News

Kolar News 7 June 2021

भोपाल। प्रदेश में वैक्सीनेशन के लिए प्रॉक्टर एंड गैम्बल होम प्रॉक्टर प्राइवेट लिमिटेड द्वारा मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को गुरुवार पांच करोड़ रुपये का चेक भेंट किया गया।    उल्‍लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना का टीका मुफ्त लगाया जा रहा है । इसके लिए 45 लाख कोविशील्ड का पहला ऑर्डर दिया गया है। कोविशील्ड की कीमत कम होने के चलते सरकार ने पहला ऑर्डर सीरम इंस्टीट्यूट को दिया है। इस पर 180 करोड़ रुपये खर्च होने हैं । देश में वैक्सीन खरीदने का ऑर्डर देने वाला एमपी पहला राज्य है। प्रदेश में 18 साल से अधिक उम्र के 3.40 करोड़ लोगों को टीका लगना है, जिस पर सरकार 2710 करोड़ रुपये खर्च करेगी।    मुख्यमंत्री चौहान को प्रॉक्टर एंड गैम्बल की ओर से प्लांट मैनेजर माहिम अग्रवाल और सीनियर मैनेजर संजय सिंह ने चेक भेंट किया। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 3 June 2021

भोपाल। पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक तरुण भनोट ने कहा है कि कोविड-19 को फैलने से रोकना निश्चित तौर पर बहुत जरूरी है और इसके लिए बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कराना भी बेहद आवश्यक है। लेकिन कोविड-19 प्रोटोकॉल के नाम पर छोटे दुकानदारों का उत्पीडऩ करना एकदम गलत है। उन्होंने कहा कि राज्य के अलग-अलग शहरों से जो सूचनाएं मिल रही हैं, उन्हें देखकर ऐसा लगता है, जैसे राज्य सरकार छोटे दुकानदारों के चालान काटकर और दुकानें सील करके मोटी रकम वसूली कर राजस्व उगाही करना चाहती है। वहीं छोटे दुकानदारों को बुरी तरह से भयभीत करना चाहती है और ऐसा माहौल बनाना चाहती है ताकि सरकारी अफसर और कर्मचारी कोविड-19 प्रोटोकॉल के नाम पर दुकानदारों का उत्पीडऩ कर सकें।   पूर्व मंत्री ने कहा कि बीते 2 जून को ही सिर्फ भोपाल में 319 दुकानें सील की गई और 208 दुकानों पर जुर्माना लगाया गया। इसी तरह की स्थिति दूसरे शहरों में भी है, जबकि सरकार और अधिकारियों को साफ पता है कि पिछले 1 महीने से लॉकडाउन के कारण दुकानें बंद रहने से व्यापारियों को बहुत ज्यादा घाटा हुआ है। उनके यहां काम करने वाले छोटे कर्मचारियों की नौकरी चली गई है। राज्य सरकार गिद्ध की तरह आपदा में राजस्व कमाने का अवसर खोजने में लगी है। लेकिन कांग्रेस पार्टी ऐसा नहीं होने देगी।   उन्होंने कहा कि जरूरत इस बात की है कि बाजार खोलने के नियम एकदम स्पष्ट बनाए जाएं और अगर कोई दुकानदार भूल से नियमों का उल्लंघन करता है तो उसे समझाइश दी जाए, लेकिन किसी भी सूरत में चालान काटना या सीलिंग करना मध्य प्रदेश को पुलिस स्टेट बना देने के बराबर है। कांग्रेस विधायक ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान यह भी देखा गया है कि पुलिस ने आम नागरिकों और यहां तक कि मरीजों के साथ तक ज्यादती की है। एक लोकतांत्रिक देश में किसी भी सूरत में नागरिक अधिकारों का हनन नहीं होना चाहिए। अगर सरकार ने छोटे व्यापारियों का उत्पीडऩ नहीं रोका तो कांग्रेस का कार्यकर्ता जमीन पर उतर कर हर तरह के संघर्ष के लिए तैयार है। बेहतर होगा सरकार ऐसी स्थिति ना आने दे।

Kolar News

Kolar News 3 June 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में जूनियर डाक्टर्ज की हड़ताल के समर्थन में अब मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया ने सरकार से माँग की है कि जूडा की माँगों को तुरंत माना जाए ताकि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाएँ सार्थक रूप से चलती रहें।   भूरिया पहले जूडा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं और अब कांग्रेस के युवा संगठन के प्रदेश अध्यक्ष हैं। विक्रांत भुरिया का कहना है कि जूडा की माँगे सही हैं, उनको सरकार ने आश्वासन दिया था कि उनकी माँगों को पूरा किया जाएगा पर आज सरकार अपनी बात से पलट रही है जो कि इस सरकार की शोषण वाली सोच दर्शाती है। भूरिया ने जूनियर डाक्टर्ज़ के घरों पर पुलिस के द्वारा परिवार को प्रताडि़त करने की भी निंदा की है, उनका कहना है कि सरकार को इस तरह से आवाजें दबाने का काम नहीं करना चाहिए, वो जूडा की हर जायज माँग के साथ खड़े हैं।

Kolar News

Kolar News 3 June 2021

पन्ना। मध्य प्रदेश भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने पूर्व सीएम कमलनाथ पर जमकर निशाना साधा है। सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र खजुराहो के दौरे पर पहुंचे वीडी शर्मा ने कमलनाथ को झूठ का पुलिंदा बताते हुए सीडी कांड के मुद्दे पर हमला करते हुए कहा कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री के पद और गोपनीयता का दुरुपयोग किया है, साक्ष्यों को छुपाया है। अगर उनके पास सीडी है तो पेश करें नहीं तो झूठ बोलने पर मध्यप्रदेश की जनता से माफी मांगे।   वीडी शर्मा ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को झूठ का पुलिंदा बताते हुए कहा कि कमलनाथ झूठ बोलने में माहिर है। वे झूठ बोलने के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा कि कमलनाथ पूर्व मंत्री उमंग सिंघार को बचाने के लिए राजनीति कर रहे हैं। कमलनाथ सीडी के नाम पर सरकार को ब्लैकमेल कर रहे हैं, लेकिन कमलनाथ की हकीकत सब लोग जानते हैं। अगर उनके पास कोई भी सबूत है तो उन्हें पेश करना चाहिए। वीडी शर्मा ने कहा, संवैधानिक पद पर बैठे हुए कमलनाथ आपने साक्ष्यों के साथ छेडख़ानी करते हुए आपने संविधान का उल्लंघन किया है।

Kolar News

Kolar News 31 May 2021

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को पत्र लिखा है। उन्होंने अपने पत्र में प्रदेश में किसान भाइयों को समर्थन मूल्य पर उपार्जन में निरंतर आ रही परेशानियों की ओर उनका ध्यान आकृष्ट कराते हुए सीएम शिवराज से माँग की है कि गेहूं व चने के उपार्जन उपरांत किसान भाइयों को देय राशि में से फसल ऋण की राशि की कटौती की जा रही है, जो इस कोरोना महामारी के दौरान अव्यवहारिक है, इस संकट काल  को देखते हुए इस ऋण वसूली को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि अभी खरीफ की फसल की बुवाई के लिए किसानों को आवश्यक खाद-बीज का क्रय भी करना है, उपार्जन की पूर्ण राशि नहीं मिलने से किसानों को भारी संकट का सामना करना पड़ रहा है।   कमलनाथ ने बताया कि इसके साथ ही प्रदेश में पिछले 2 वर्षों से सोयाबीन की फसल प्रभावित होने से, सोयाबीन के बीज की उपलब्धता कम हैं और सोयाबीन के बीज की क़ीमतें भी काफी बढ़ चुकी है, जिससे किसान भाइयों के लिए सोयाबीन की लागत निरंतर बढ़ रही है। वही खरीफ की फसल के संबंध में प्रदेश सरकार की कोई मैदानी तैयारी भी नजर नहीं आ रही है? जिसके कारण प्रदेश का किसान परेशान व अक्रोशित है। पूर्व सीएम ने कहा कि इसलिए सरकार किसान भाइयों को उपार्जन की पूर्ण देय राशि का भुगतान सुनिश्चित करने तथा सोयाबीन के बीज को कम दरों पर पर्याप्त मात्रा में किसान भाइयों को उपलब्ध कराए जाने का निर्णय तत्काल किसान हित में ले।

Kolar News

Kolar News 31 May 2021

भोपाल। जिनके पास बीपीएल कार्ड नहीं है, उन्हें भी 3 माह का राशन दिया जायेगा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की इस घोषणा के बाद भी गरीब पात्र परिवारों को 3 महीने का राशन नही मिल पा रहा है। यह आरोप पूर्व मंत्री एवं विधायक पीसी शर्मा ने वार्ड 46 कार्यालय, माचना कालोनी पहुंच कर पात्रता पर्चियों के खुलासे के दौरान कही।   विधायक शर्मा का आरोप है कि सरकार द्वारा 3 महीने का राशन देने के लिए गरीबों से आवेदन मंगाए थे, भोपाल के हर वार्ड कार्यालय में 400 से 500 आवेदन लोगों ने जमा किए लेकिन उनके नाम पोर्टल पर नही चढाए गए। केवल 8-10 पात्रता पर्ची गरीबों को दी गई, जब वे पर्ची लेकर राशन की दुकानों पर गए तो उन्हें राशन नही दिया गया। वहां उनसे कहा गया कि उन्हें पात्रता पर्ची पर राशन देने के सरकार से निर्देश नही मिले है। वही पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके वार्ड कार्यालय में राशन के लिए 400 से अधिक आवेदन आये लेकिन पोर्टल पर 23 मई तक केवल 155 नाम ही चढाए गए और पोर्टल बंद कर दिया गया और केवल 10 लोगों को ही पात्रता पर्ची दी गई है लेकिन उन्हें भी राशन नही मिल पा रहा है गरीब दर दर भटकने को मजबूर है।   पूर्व पार्षद मोनू सक्सेना ने कहा कि यह गरीबों के साथ धोखा एवं छलावा किया है सरकार ने घोषणा कि थी कि जिनके पास राशन कार्ड नही होगा उन्हें भी 3 माह का राशन आधार कार्ड, समग्र आईडी के आधार पर दिया जायेगा लेकिन उसके बावजूद 31 मई तक मजदूरों, गरीबों को राशन नही मिल पाया है अब 1 जून से अनलाक की प्रक्रिया चालू हो रही है अब कांग्रेस पार्टी विधायक पीसी शर्मा के नेतृत्व में भोपाल के सभी वार्ड कार्यालयों में जाकर पात्रता पर्चियों पर लोगों को राशन मिला कि नही इसका खुलासा करेगी। विधायक शर्मा ने वार्ड 46 में वार्ड प्रभारी से इस संबंध में बात की लेकिन वे संतुष्टपूर्ण जबाव नही दे सके।

Kolar News

Kolar News 31 May 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा का निधन हो गया है। वे 55 वर्ष के थे, और कोरोना संक्रमित थे। दुर्गेश शर्मा का लंबे समय से भोपाल के एम्स अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां शनिवार दोपहर ईलाज के दौरान उनका निधन हो गया है। कांग्रेस नेता के निधन से पार्टी में शोक की लहर है। सीएम शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ समेत कांग्रेस नेताओं ने दुर्गेश शर्मा के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि दी है।   सीएम शिवराज ने कांग्रेस प्रवक्ता के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा ‘ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता श्री दुर्गेश शर्मा जी के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। विनम्र श्रद्धांजलि!   कमलनाथ ने दुर्गेश शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘ मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता श्री दुर्गेश शर्मा के दुखद निधन का समाचार प्राप्त हुआ। वे सदैव पार्टी के प्रति समर्पित, संघर्षशील, सक्रिय व मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे। उनका निधन कांग्रेस परिवार के लिये क्षति है। परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणो में स्थान व पीछे परिजनों को यह दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करे।  

Kolar News

Kolar News 29 May 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से कमी आ रही है। यहां पॉजिटिव प्रकरण कम होने के साथ ही रिकवरी प्रतिशत में बढ़ोत्तरी हुई है। वही आगरमालवा जिले के बाद प्रदेश प्रदेश के डिंडौरी में कोरोना संक्रमण के एक भी मामले शनिवार को सामने नहीं आए है। डिंडौरी के कोरोना मुक्त होने पर सीएम शिवराज ने बधाई दी है।   सीएम शिवराज ने अपने संदेश में कहा कि मध्यप्रदेश में कोविड19 संक्रमण लगातार नियंत्रित होता जा रहा है। रिकवरी रेट 95प्रतिशत है, जबकि पॉजिटिविटी की दर 2.1 प्रतिशत रह गई है। डिंडौरी की जनता को बधाई देता हूं कि वहां एक भी पॉजिटिव प्रकरण नहीं आया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्थिति तेजी से सुधर रही है, लेकिन मुरैना में कल 48 और आज 75 पॉजिटिव केस आये हैं, यह चिंता की बात है। मैं मुरैना के भाइयों-बहनों से कहना चाहता हूं कि हमको स्थिति को संभालने के लिए गंभीरता से कोविड19 गाइडलाइन का पालन करना पड़ेगा, अन्यथा संकट बढ़ सकता है।   मुरैना जिले में पॉजिटिव प्रकरण बढऩे पर सीएम शिवराज ने कहा कि मुरैना जिले में 75 पॉजिटिव केस आये हैं जबकि 19 मरीज रिकवर हुए हैं। स्थानीय जिला प्रशासन और जनता से मेरी अपील है कि समस्त गाइडलाइंस का पालन करते रहें। अगर हमने लापरवाही बरती, तो स्थिति पुन: भयावह हो सकती है। यह समय अंतिम चोट करने का है, इसलिए आप सभी पूरी सावधानी बरतें।   साथ ही उन्होंने कहा कि आज डिंडौरी जिले में कोविड19 का एक भी पॉजिटिव केस नहीं आया है। जिले की जागरुक जनता और जिला प्रशासन की सजगता के कारण हमारी स्थिति ठीक होती जा रही है। हमें इसी तरह सतर्क रहना होगा। सावधानी बरतना नहीं छोडऩा है। जल्द ही यह जिला कोरोना मुक्त होगा।

Kolar News

Kolar News 29 May 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना की रफ्तार कम होने के बाद अब अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। एक जून से प्रदेश सरकार धीरे-धीरे प्रदेश को अनलॉक करने जा रही है, जिसके लिए तैयारी शुरू हो गई है। इस बीच शुक्रवार को प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग लोगों का हाल जानने और जनता को जागरूक करने खुद ही साइकिल से सड़क पर उतर गए। उनके साथ कलेक्टर और प्रशासनिक अधिकारियों की टीम भी मौजूद रही।   शुक्रवार सुबह भोपाल की सड़कों पर साइकिल के साथ जनता को जागरूक करने निकले मंत्री सारंग ने इस दौरान होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों का हाल जाना। उनके साथ कलेक्टर अविनाश लवानिया भी लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करते नजर आए। उन्होंने लोगों से पूछा कि वे ठीक और कोरोना से बचने के लिए क्या कर रहे हैं? सारंग ने बताया कि मुख्य रूप से होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के बारे में जानकारी के लिए यह दौरा किया है। इसमें लोगों से उन्होंने होम आइसोलेशन में रहने के दौरान सरकार द्वारा मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी ली। लोगों से ठीक रहने के लिए करने वाले उपायों के बारे में भी जानकारी ली। जहां कमी दिखी, वहां अधिकारियों को तत्काल सुधार करने के लिए कहा। अधिकारियों को निर्देशित किया कि मरीजों के प्रति किसी भी तरह की लापरवाही न की जाए।    उन्होंने कहा कि कोरोना से बचने के लिए मास्क जरूरी है। किसी से भी बात करते समय कम से कम दो गज की दूरी जरूर बनाए रखें। मंत्री के साथ भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया भी मौजूद रहे।    कलेक्टर ने कहा कि अब हम अनलॉक हो रहे हैं, ऐसे में अनुशासित रहना अब और भी जरूरी हो गया है। जन जागरुकता अभियान जारी रहेगा। इस जनजागरुकता अभियान में एसपी साउथ साईं कृष्णा व निगमायुक्त भी मौजूद थे। एसपी कृष्णा ने बताया कि अब पुलिस पर दोहरी जिम्मेदारी है। क्राइम कम करने के साथ उन्हें कोविड गाइडलाइंस का भी पालन करवाना है।

Kolar News

Kolar News 28 May 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा शुरू से ही झूठ व भ्रम फैलाने में, झूठे मुद्दों को हवा देने में, वास्तविक मुद्दों से ध्यान भटकाने में माहिर है, अब वो एक नया झूठ लेकर मैदान में आ गई है?   नरेन्द्र सलूजा ने कहा कि कमलनाथ जी की मैहर की पत्रकार वार्ता कही गई एक बात को तोड़-मरोड़ कर, शब्दों को पकडक़र अधूरे रूप से प्रसारित कर, झूठ का प्रपोगंडा फैलाने के काम में भाजपा लग गई है? कमलनाथ जी ने इस पत्रकार वार्ता में भारतीय कोविड वैरियंट को लेकर कहा कि मैंने कभी भारतीय कोविड वैरियंट नहीं दिया, यह नाम तो विश्व के कई देशों ने दिया है और खुद मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दायर अपने हलफनामे में यह नाम शपथ पत्र में लिखा है फिर भी भाजपा ने जानबूझकर मुझ पर झूठे आरोप लगाए। जो लोग भारत को महान बनाने की बात करते थे, आज उनकी नीतियों, नाकारापन के कारण भारत विश्व भर में बदनाम हो रहा है।   कांग्रेस नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि कमलनाथ जी की इस कही गयी बात को भाजपा के लोग अधूरे रूप में प्रचारित कर झूठ परोसने में लग गए है? भाजपा के लोग कह रहे है कि कमलनाथ जी भारत को बदनाम करने की बात कर रहे हैं? जबकि आज हर देशवासी जानता है कि किसकी नीतियों व निक्कमेपण के कारण भारत आज विश्व भर में बदनाम हो रहा है, शर्मसार हो रहा है? उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर की तमाम मीडिया रिपोर्टों में भारत के मुक्तिधामों, गंगा नदी के किनारे दफन व बह रहे शवों की व अस्पतालों की वास्तविक तस्वीरें सामने आ रही है। किस प्रकार अंतरराष्ट्रीय मीडिया भारत में मौत के आंकड़े छुपाये जाने की वास्तविक तस्वीर उजागर कर रही है, किस प्रकार पांच राज्यों के चुनाव में पूरी मोदी सरकार लगी रही और देश में कोरोना फैलता रहा ?   नरेन्द्र सलूजा ने निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार के नाकारापन और लापरवाही के कारण आज लाखों लोगों की जाने गई, इससे हमारा देश विश्व भर में बदनाम हुआ है। कमलनाथ जी ने भी यही कहा है लेकिन उनके शब्दों को तोड़ मरोड़ कर, पकड़ कर, उसका गलत अर्थ निकाल कर, उसे अधूरे ढंग से प्रचारित करने में भाजपा लग गई है। भाजपा की इस झूठी राजनीति को प्रदेश वासी भली-भांति जानते हैं और वे जानते हैं कि भाजपा इसी प्रकार झूठे मुद्दों को हवा देने का काम करती है। वह भाजपा की सच्चाई को जानते हैं  और जनता भाजपा के झूठ में आने वाली नहीं है।

Kolar News

Kolar News 28 May 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश में विद्युत उत्पादन इकाइयां मात्र 35 परसेंट प्लांट फैक्टर पर काम कर रही हैं और इसकी कीमत मध्य प्रदेश के गरीब उपभोक्ताओं को लूटकर चुकाई जा रही है।  प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि शासकीय विद्युत इकाइयों की स्थापित 5400 मेगावाट क्षमता के विरुद्ध आज केवल 2029 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जा रहा है इसके बावजूद भी सरकार एनर्जी सरप्लस होने का दावा कर रही है।   भूपेन्द्र गुप्ता ने कहा कि अगर 35 परसेंट प्लांट फैक्टर के बाद भी राज्य एनर्जी सर प्लस है तो इसका अर्थ है कि मध्य प्रदेश की सारी औद्योगिक इकाइयां ठप्प पड़ी हुई है और भयानक बेरोजगारी से प्रदेश की जनता दो-चार हो रही है। बंद पड़ी हुई विद्युत इकाइयों पर जो ब्याज वेतन और अन्य खर्चे हो रहे हैं उसकी कीमत उपभोक्ता के बिलों में जोड़ी जा रही है। कोरोना की भीषण महामारी में जब जनता के पास दवा खरीदने पैसे नहीं हैं तब सरकार महंगी बिजली, महंगा पेट्रोल ,महंगे डीजल से उसे मार रही है। कांग्रेस नेता ने मांग की है कि सरकार विद्युत उत्पादन की वास्तविक स्थिति से प्रदेश को अवगत कराये और बताएं कि क्षमता का 3300 मेगावाट  का उत्पादन क्यों नहीं किया जा रहा है और इस आपराधिक लापरवाही के खर्चे उपभोक्ता पर क्यों मुंड़े जा रहे हैं। इन्हीं इकाइयों के माध्यम से बिजली पैदा करके कमलनाथ सरकार ने 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली दी थी आज वही बिजली लगभग सारी ड्यूटी मिलाकर सात रुपए यूनिट में उपभोक्ता खरीद रहा है। मध्य प्रदेश सरकार जजिया टैक्स की तरह कीमतें बढ़ाकर  महंगाई से लोगों को कुचल रही है।

Kolar News

Kolar News 28 May 2021

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह की निजी बिजली कम्पनियों से सांठ-गांठ स्पष्ट नजर आ रही है। विद्युत मंडल के बिजली घरों में जानबूझ कर निर्धारित क्षमता की एक तिहाई बिजली बनाई जा रही है। यह सब खेल जानबूझ कर किया जा रहा है ताकि महँगी बिजली खरीदकर निजी कंपनियों को बेजा फायदा पंहुचाया जा सके। जाहिर है कि इससे व्यक्तिगत हित भी सध रहे होंगे।   अजयसिंह ने कहा कि शिवराज सिंह बताएं कि बिजली उत्पादन केवल 18 सौ मेगावाट के आसपास क्यों किया जा रहा है जबकि हमारी क्षमता थर्मल इकाइयों से 54 सौ मेगावाट बिजली बनाने की है। जरुर दाल में कुछ काला है। वे मध्यप्रदेश की जनता को सच- सच बताएं कि यह खेल कब से चल रहा है। पिछले एक साल में प्रतिदिन औसतन कितने मेगावाट बिजली बनाई गई। एक मेगावाट की लागत कितनी आती है और एक मेगावाट खरीदी गई बिजली की कीमत कितनी होती है। दोनों की कीमत में कितने रुपयों का अंतर है? इस तरह साल भर में तय सीमा से कितनी ज्यादा बिजली निजी कंपनियों से खरीदी गई।   पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कि संजय थर्मल पावर बिरसिंहपुर की कुल 420 मेगावाट की दो यूनिट तो पूरी तरह ठप्प हैं। बाकी तीन यूनिट में केवल 6 सौ मेगावाट के लगभग ही बिजली बन रही है जबकि यहाँ की  कुल क्षमता 1340 मेगावाट है। यही हाल सतपुड़ा थर्मल पावर सारणी के हैं। यहाँ चार यूनिट बंद हैं, केवल दो चालू हैं। इनमें केवल 300 मेगावाट बिजली बन रही है जबकि कुल क्षमता 1330 मेगावाट है। लगभग 1030 मेगावाट कम बिजली बन रही है। इसके अलावा संत सिंगाजी थर्मल खंडवा में भी दो यूनिट बंद रखी गई हैं और बाकी दो में 713 मेगावाट का उत्पादन हो रहा है। जबकि इस पावर स्टेशन की कुल क्षमता 2520 मेगावाट है।   अजयसिंह ने मांग की है कि शिवराजसिंह बिजली उत्पादन और निजी कम्पनियों से पिछले एक साल में खरीदी गई बिजली के सम्बन्ध में तत्काल एक श्वेत पत्र जारी करें ताकि जनता के सामने पूरे खेल का खुलासा हो सके। उसमें यह भी बताया जाए कि विद्युत् मंडल की यूनिटें कब से और क्यों बंद हैं। उन्हें चालू करने के प्रयास क्यों नहीं किये गये।

Kolar News

Kolar News 27 May 2021

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह की निजी बिजली कम्पनियों से सांठ-गांठ स्पष्ट नजर आ रही है। विद्युत मंडल के बिजली घरों में जानबूझ कर निर्धारित क्षमता की एक तिहाई बिजली बनाई जा रही है। यह सब खेल जानबूझ कर किया जा रहा है ताकि महँगी बिजली खरीदकर निजी कंपनियों को बेजा फायदा पंहुचाया जा सके। जाहिर है कि इससे व्यक्तिगत हित भी सध रहे होंगे।   अजयसिंह ने कहा कि शिवराज सिंह बताएं कि बिजली उत्पादन केवल 18 सौ मेगावाट के आसपास क्यों किया जा रहा है जबकि हमारी क्षमता थर्मल इकाइयों से 54 सौ मेगावाट बिजली बनाने की है। जरुर दाल में कुछ काला है। वे मध्यप्रदेश की जनता को सच- सच बताएं कि यह खेल कब से चल रहा है। पिछले एक साल में प्रतिदिन औसतन कितने मेगावाट बिजली बनाई गई। एक मेगावाट की लागत कितनी आती है और एक मेगावाट खरीदी गई बिजली की कीमत कितनी होती है। दोनों की कीमत में कितने रुपयों का अंतर है? इस तरह साल भर में तय सीमा से कितनी ज्यादा बिजली निजी कंपनियों से खरीदी गई।   पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कि संजय थर्मल पावर बिरसिंहपुर की कुल 420 मेगावाट की दो यूनिट तो पूरी तरह ठप्प हैं। बाकी तीन यूनिट में केवल 6 सौ मेगावाट के लगभग ही बिजली बन रही है जबकि यहाँ की  कुल क्षमता 1340 मेगावाट है। यही हाल सतपुड़ा थर्मल पावर सारणी के हैं। यहाँ चार यूनिट बंद हैं, केवल दो चालू हैं। इनमें केवल 300 मेगावाट बिजली बन रही है जबकि कुल क्षमता 1330 मेगावाट है। लगभग 1030 मेगावाट कम बिजली बन रही है। इसके अलावा संत सिंगाजी थर्मल खंडवा में भी दो यूनिट बंद रखी गई हैं और बाकी दो में 713 मेगावाट का उत्पादन हो रहा है। जबकि इस पावर स्टेशन की कुल क्षमता 2520 मेगावाट है।   अजयसिंह ने मांग की है कि शिवराजसिंह बिजली उत्पादन और निजी कम्पनियों से पिछले एक साल में खरीदी गई बिजली के सम्बन्ध में तत्काल एक श्वेत पत्र जारी करें ताकि जनता के सामने पूरे खेल का खुलासा हो सके। उसमें यह भी बताया जाए कि विद्युत् मंडल की यूनिटें कब से और क्यों बंद हैं। उन्हें चालू करने के प्रयास क्यों नहीं किये गये।

Kolar News

Kolar News 27 May 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में वैक्सीन की कमी को लेकर हो रही समस्या पर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि वैक्सीन की पूर्ति के लिए हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है, वैक्सीन की पूर्ति के लिए ग्लोबल टेंडर कर रहे हैं।   मंत्री सांरग ने गुरुवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि 18 प्लस के लिए स्पॉट बुकिंग की सुविधा की गई है। ग्रामीण वेक्सीनेशन सेंटर्स में अब पंचायत के लोगों को ही टीका लगेगा। भोपाल, इंदौर को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट्स को लेकर उन्होंने कहा कि अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है, क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप निर्णय लेंगे। प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया पर मंत्री सारंग ने कहा कि कोविड अनलॉक से लेकर तमाम व्यवस्थाओं के लिए मंत्रियों के 6 समूह बनाये गए हैं।   स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल पर उन्होंने कहा कि इस समय समाज को स्वास्थ्य कर्मियों की बेहद ज़रूरी है, इस समय हड़ताल सही नहीं है, हम बातचीत करने के लिए तैयार हैं। मंत्री सारंग ने बताया कि ब्लेक और व्हाइट फंगस के मामलों में भी अब थोड़ी कमी आयी है, ज़रूरी इंजेक्शन की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। वैक्सीन वेस्टेज की दर हमारे आंकड़ों में 1.3 फीसदी है, केंद्र के आंकड़े ज़्यादा बता रहे हैं, हम केंद्र सरकार से बात कर रहे हैं, मिस कम्युनिकेशन के कारण ऐसा हो सकता है।

Kolar News

Kolar News 27 May 2021

मंदसौर। वित्त, वाणिज्यकर, योजना,आर्थिक एवं साख्यिकी मंत्री एवं मंदसौर जिले के कोविड-19 प्रभारी जगदीश देवड़ा ने मंगलवार को जिला कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समिति की बैठक ली। कोरोना की परिस्थितियों की समीक्षा करते हुए जनता कर्फ्यू एवं आगामी रणनीति को लेकर चर्चा की गई।   मंत्री देवड़ा ने घटती पॉजिटिविटी दर एवं जिले में कोरोना के उपचार को लेकर किए गए विभिन्न नवाचारों को लेकर स्थानीय प्रशासन की सराहना की। उन्होंने कहा कि अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है। अत: सतर्कता बरतते हुए मरीजों का प्रभावी उपचार किया जाये। देवड़ा ने मंदसौर जिले में खोले गए कोविड केयर सेंटर पर सभी प्रकार की आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने पर जोर दिया है। उन्होंने निर्देश दिए कि जिले में चल रहे ऑक्सीजन प्लांट के निर्माण कार्य को अतिशीघ्र पूरा किए जाये।    मंत्री देवड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जिस तरह कोरोना के खिलाफ सभी को एकजुट कर अनिवार्य सेवाओं को प्राथमिकता दी है, उसी तर्ज पर पॉजिटिविटी रेट शून्य पर ले जाने तक हमें सतर्कता बनाए रखना होगा। इसके बाद भी सभी नागरिक मास्क का प्रयोग एवं अन्य सावधानियां बनाये रखे। बैठक में सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया, कलेक्टर सहित जिले के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Kolar News

Kolar News 25 May 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस महासचिव एवं वरिष्ठ प्रवक्ता रवि सक्सेना ने प्रदेश की चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मंत्री जी आपके बयान जिसमें आपने कहा है कि "मध्यप्रदेश में कहीं भी इंजेक्शन, दवाई, बेड और ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं तो हाथ कंगन की आरसी क्या पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या। आप भोपाल के हमीदिया अस्पताल में जाकर देख लें जहां तीन दिन से ब्लैक फंगस बीमारी के इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हैं, इसके चलते मरीजों के परिजन दर दर की ठोकरें खा रहे हैं, उन्हें कभी भोपाल आयुक्त कार्यालय, तो कभी जीएमसी के डीन के दफ़्तर दौड़ाया जा रहा है।   कांग्रेस नेता ने तंज कसते हुए कहा कि सभी संबंधित अधिकारियों ने विभिन्न बहाने बनाकर हाथ खड़े कर दिए हैं। मैं स्वयं इसका भुक्त भोगी हूँ,  तीन दिन से मंत्रीजी, प्रमुख सचिव, आयुक्त, डीन महोदय से कई बार रिक्वेस्ट कर चुका हूँ पर कहीं से भी इंजेक्शन नहीं दिए जा रहे मरीज दम तोड़ रहे हैं और आप गलत ब्यानी कर अपने आपको और प्रदेश की जनता को धोखा में रख उनके जीवन से खिलवाड़ कर रहे हैं !   रवि सक्सेना ने कहा कि आपसे निवेदन है आप अपनी ही पीठ थपथपाने के बजाय कुछ ठोस कदम उठाकर दम तोड़ते हुए मरीजों को ब्लैक फंगस के इलाज हेतु इंजेक्शन्स तत्काल उपलब्ध करवाने के सख्त दिशा निर्देश देने का कष्ट करें, जिससे इस संकट की घड़ी में महामारी से मरीजों की जान बचायी जा सके। लोगों की जान जिंदगी से खिलवाड़ करने की राजनीति न करें। राजनीति करने के लिए तो पूरी जिंदगी पड़ी है।  

Kolar News

Kolar News 22 May 2021

भोपाल। पूर्व मंत्री और कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि राष्ट्र द्रोह का केस सिर्फ कमलनाथ जी पर नहीं, बल्कि सभी कांग्रेसियों, उन मीडियाकर्मियों जिन्होंने कोरोना से हुई मौतों का सच दिखाया तथा छापा और जिन लोगों के परिजनों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है उन पर भी होना चाहिए।    उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने मार्च-अप्रैल में कोरोना से 01 लाख से ज्यादा मौतें होने की जो बात कही जिससे प्रदेश की बौखलाई सरकार के प्रवक्ता डॉ. नरोत्तम मिश्रा उन पर राष्ट्रद्रोह का केस दर्ज करने की बात कह रहे है। हजारों "हत्याओं" के बाद भी शिवराज सरकार की बेशर्मी भाजपा की सरकार की सोच बताती है। उन्होंने कहा कि यदि कमलनाथ जी की बात गलत है, तो मुझ पर भी मामला दर्ज किया जाए जिसके लिए मैं तैयार हूं।    कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी के इंदौर दौरे के दौरान मैंने उन्हें इंदौर और राउ विधानसभा क्षेत्र में हुई मौत के आंकड़े बताए थे, यह आंकड़े यहां के शमशानों और कब्रिस्तानों के रजिस्टर में दर्ज किए गए अंत्येष्ठि के थे, जो खुद अपने आप मे प्रमाण है। इसके बाबजूद भी अगर शिवराज सरकार प्रदेश में कोरोना से हुई मौत के आंकड़ों को झुठलाकर कमलनाथ जी पर राष्ट्रद्रोह का केस दर्ज करना चाहती है तो उसे उन सभी मीडियाकर्मियों, अखबारों और इन आंकड़ों की सच्चाई बताने वालों पर भी राष्ट्रद्रोह का केस  करना होगा।   जीतू पटवारी ने कहा कि जब सिर्फ इंदौर के शमशान घाट से एकत्र किए आंकड़ो में ही 30 हजार के आसपास हुई मौत का आंकड़ा है तो पूरे प्रदेश में कितनी मौतें हुई होगी इसका अंदाजा लगाया जा सकता है, जबकि इंदौर तो प्रदेश का सबसे अधिक कोरोना संक्रमित शहर है। माननीय गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा जी को बयान देने से पहले सच की जांच कर लेनी चाहिए कि  प्रदेश को उनकी सरकार ने कैसे मौतों का प्रदेश बना दिया है। क्या भाजपा सरकार के स्वर्णिम मध्य प्रदेश की यही सच्चाई है, जहाँ आपदा के दौरान न जीवन रक्षक दवाईयां मिली, न ऑक्सीजन मिली, न अस्पतालों में मरीजों को बिस्तर मिले बल्कि इनके नेता और कार्यकर्ता आपदा में अवसर ढूढ़ते मिल रहे है।    इंदौर में रेमदेसीवीर इंजेक्शन की कालाबाजरी में जिस तरह से इनकी पार्टी में आयातित नेताओं के सम्पर्क वाले लोगों से तार जुड़ रहे है वह सच्चाई किसी से छुपी नहीं है। अब यही आपदा में अवसर तलाशने वाले लोग मौतों की सच्चाई से मुँह छिपाते घूम रहे है।    जीतू पटवारी ने कहा कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष जी किसी वरिष्ठ नेता पर टिप्पड़ी करने से पहले अपने गिरेवान में झांक के देख लिया करें क्योंकि आपकी पार्टी के चाल, चरित्र और चेहरे को लोग भली भांति समझ चुके है।    

Kolar News

Kolar News 22 May 2021

भोपाल। मध्‍य प्रदेश में होम आइसोलेट कोरोना मरीजों को मेडिकल किटों का वितरण लगातार जारी है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार अभी तक 52 जिलों में दो लाख 92 हजार 751 मेडिकल किट वितरित की जा चुकी हैं।   उल्‍लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशों के अनुसार प्रदेश में इस वक्‍त आक्रामक टेस्टिंग रणनीति, कांटेक्ट ट्रेसिंग‍ और माइक्रो कंटेंनमेंट जोन बना कर काम किया जा रहा है । जहाँ आवश्यक हो, वहाँ एरिया स्पेसिफिक रणनीति लागू की गई है । प्रदेश को 31 मई तक कोरोना मुक्त बनाने के लिए क्राइसेस मेनेंजमेंट ग्रुप के सभी सदस्य और शासकीय अमला पूरी सजगता और सचेत होकर इस दिशा में कार्य करने में जुट गया है । संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सभी आवश्यक उपाय लगातार यहां जारी हैं।    नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया है कि 18 अप्रैल से 21 मई के मध्य नगरीय क्षेत्रों में फ़ीवर क्लीनिक एवं होम डिलीवरी के माध्यम से दो लाख 92 हजार 751 मेडिकल किट कोविड मरीज़ों को उपलब्ध कराई गई हैं। फिलहाल प्रदेश के सभी जिलों में  "मेरा जिला कोरोना मुक्त जिला" का संकल्प लिया गया है और इस दिशा में सब मिलकर प्रयास करने में जुटे हैं । जिलों में योग, मनोचिकित्सक, फीजियोथ्रेपिस्ट व चिकित्सक से संपर्क किए जाने का सतत उपक्रम जारी है। अस्पतालों में हेल्प डेस्क स्थापित किये गये हैं। जहाँ जन-अभियान परिषद तथा स्वयं सेवी संगठनों के सहयोग से भोजन तथा मरीज व उनके परिजनों की सहायता के लिए अन्य व्यवस्थाएँ उपलब्ध कराई जा रही है। किल कोरोना अभियान में भी स्वयं सेवी संस्थाओं  का सहयोग लिया जा रहा है।

Kolar News

Kolar News 22 May 2021

भोपाल।  मध्‍य प्रदेश में मंगलवार को 5412 कोरोना के नए प्रकरण आए हैं, 11 हजार 358 मरीज पिछले 24 घंटों में स्वस्थ हुए हैंऔर  प्रदेश की कोरोना ग्रोथ रेट एक प्रतिशत पर आ गई है। इसी के साथ साप्ताहिक पॉजिटिविटी 11 प्रतिशत है। आज की पॉजिटिविटी 7.8 प्रतिशत है तथा साप्ताहिक प्रकरण 51 हजार 486 हैं।   इस संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि प्रदेश में कोरोना प्रकरणों में निरंतर गिरावट जारी है। संक्रमण लगातार कम हो रहा है तथा बड़ी संख्या में रोज मरीज स्वस्थ हो रहे हैं। किल कोरोना अभियान में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में एक-एक मरीज की पहचान कर उसका इलाज किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब हम एग्रेसिव स्ट्रेटेजी अपनाकर कोरोना को प्रदेश से शीघ्र समाप्त करें। शहरों एवं ग्रामों में मोबाइल टेस्टिंग यूनिट प्रारंभ करें तथा एग्रेसिव टैस्टिंग की जाए। अधिक से अधिक टेस्ट किए जाए। एक भी मरीज छूटे नहीं यह सुनिश्चित करें। साथ ही वैक्सीनेशन कार्य भी युद्ध स्तर पर किया जाए।   झाबुआ एवं खंडवा को बधाई उन्होंने कोरोना संक्रमण न्यूनतम होने पर झाबुआ एवं खंडवा जिलों को बधाई दी। झाबुआ में साप्ताहिक पॉजिटिविटी 0.8 प्रतिशत  तथा खंडवा में 0.2 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यहां कोरोना संक्रमण शून्य करने के सघन प्रयास किए जाएं।   23 हजार 445 मरीजों का नि:शुल्क इलाज प्रदेश में कोविड के 23 हजार 445 मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया जा रहा है। इनमें से 15 हजार 112 का शासकीय अस्पतालों में, 2396 का अनुबंधित अस्पतालों में तथा 5937 का मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना के अंतर्गत सम्बद्ध निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में मरीजों के इलाज पर शासन द्वारा आज की स्थिति में 6 करोड़ 10 लाख 19 हजार 628 रुपये का व्यय हुआ।   एक-दो दिन में प्रारंभ करें योजना का लाभ देना मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि प्रदेश में ऐसे बच्चे जिनके माँ-बाप दोनों का निधन कोरोना से हो गया है, उनके लिए बनाई गई योजना का लाभ देना 1-2 दिन में प्रारंभ कर दिया जाए। प्रदेश के 28 जिलों में 155 ऐसे बच्चे चिन्हित किए गए हैं, जिन्हें योजना का लाभ दिया जाना है।   कोरोना वॉलेंटियर्स को सम्मानित करें उन्होंने कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले कोरोना वॉलेंटियर्स को सम्मानित किया जाए। जबलपुर जिले की समीक्षा में बताया गया कि जिले में 1925 करोना वॉलेंटियर्स सक्रिय है, जिनके द्वारा लावारिस कोरोना मरीजों का अंतिम संस्कार जैसे विभिन्न सेवा कार्य किए जा रहे हैं।

Kolar News

Kolar News 18 May 2021

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा है कि कोरोना टेस्टिंग के लिये अभियान बनाकर काम किया जाये। मोबाइल यूनिट हर जोन में जगह-जगह जाकर टेस्टिंग अभियान शुरू करे। इसके लिये लोगों को पहले से पूर्व सूचना भी दी जाये। किसी घर में हुई मृत्यु की दशा में अथवा पॉजिटिव मरीज के परिजनों की टेस्टिंग अनिवार्यत: की जाये। मंत्री सारंग ने मंगलवार को स्मार्ट सिटी कार्यालय में कोरोना नियंत्रण के उपायों पर विचार-मंथन किया।   मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि यह अभियान 7 दिन तक चलाया जाये। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी विशेष ध्यान दिया जाये। इसके लिये ग्रामीण क्षेत्र में 15 और शहरी क्षेत्र में 20 मोबाइल यूनिट द्वारा टेस्टिंग कार्य किया जाये। उन्होंने कहा कि ब्लेक फंगस की रोकथाम के लिये अगले तीन दिन ईएनटी चिकित्सकों के सहयोग से मुहिम शुरू की जायेगी। मेडिकल कॉलेज में ब्लेक फंगस के मरीज की केस स्टडी एकत्र की जायेगी। इससे यह मालूम किया जायेगा कि यह लक्षण ग्रामीण अथवा शहरी, किस क्षेत्र में ज्यादा हैं। आगे इसकी रोकथाम के लिये यह स्टडी काम आयेगी। उन्होंने कहा कि ब्लेक फंगस को लेकर राज्य सरकार ने सबसे पहले काम करना शुरू किया। अगले 3 दिन प्रदेश में ब्लेक फंगस की प्राथमिक पहचान की जायेगी। हर मेडिकल कॉलेज को निर्देश दिये गये हैं कि जो व्यक्ति नेजल एण्डोस्कोपी करवाना चाहते हैं, उनकी जाँच करें। इसके मरीजों के लिये कोविड और नॉन कोविड ऑपरेशन थियेटर की सुविधा अलग-अलग उपलब्ध कराने को कहा गया है।   बैठक में प्रमुख सचिव खाद्य फैज अहमद किदवई, कलेक्टर अविनाश लवानिया, नगर निगम आयुक्त के.व्ही.एस. चौधरी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी विकास मिश्रा और भोपाल स्मार्ट सिटी के सीईओ आदित्य सिंह उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 18 May 2021

भोपाल। प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने मंगलवार को सागर जिले के अनेक गांव के खाद्यान्न वितरण केंद्र पर जाकर स्वयं गरीबों को 5 माह का खाद्यान्न वितरण करते हुए कहा की मध्यप्रदेश की सरकार किसान गरीब की सरकार है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना महामारी के समय हर वर्ग की सहायता करने में लगे हैं। ऐसे में राज्य का कोई भी गरीब काम के अभाव में अब भूखा नहीं सोएगा। आज भाजपा सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आप सब के लिए 5 माह की नि:शुल्क खाद्य सामग्री दी जा रही है।   उन्होंने इस अवसर पर दवाइयों की किट एवं आम जनता को मास्क वितरित किया एवं सभी से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के लिए आग्रह किया। मंत्री राजपूत ने कहा है कि कोरोना को परास्त करने के लिए निर्धारित गाइड लाइन का नागरिकों द्वारा पालन करना अतिआवश्यक है। उन्होंने कहा कि महामारी के इस आपात स्थिति में आम जनता के हित में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णयों का प्रत्येक नागरिक को समर्थन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार और समाज मिलकर जल्द ही कोरोना जैसी विपदा से मुक्ति पा लेंगे। राजस्व एवं परिवहन मंत्री ने कहा कि सरकार के साथ समाज को भी सक्रिय होना है तभी कोरोना संक्रमण को रोककर समाधान प्राप्त किया जा सकता है। श्री राजपूत ने आम जनता से अपील की है कि फेस मास्क के उपयोग के प्रति सभी गंभीर रहें तथा किसी प्रकार की लापरवाही न बरतें। यह संक्रमण को रोकने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों को कोरोना संक्रमण की इस समस्या का मुकाबला कर विजय प्राप्त करना है।

Kolar News

Kolar News 18 May 2021

भोपाल। शासकीय उचित मूल्य दुकान संचालक पूरी ईमानदारी से गरीबों के राशन वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित करें। दुकान समय पर खुले, निर्धारित मात्रा में राशन गरीब जनता को प्राप्त हो। इसमें कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। कोरोना कफ्र्यू के दौरान गरीब मजदूरों के पास काम-धंधा नहीं होने के बाद भी उनके भोजन की व्यवस्था होती रहे, यह प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के स्पष्ट निर्देश हैं। राज्य मंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं कोविड-19 के अशोकनगर जिला प्रभारी मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने मुंगावली के कस्बारेन्ज स्थित उचित मूल्य दुकान का निरीक्षण करते हुए यह बातें कहीं।   राज्य मंत्री ने उचित मूल्य दुकान पहुँचकर दुकान में उपलब्ध खाद्य सामग्री, भण्डार पंजी और पोर्टल का निरीक्षण किया। उन्होंने दुकान संचालक और पात्र हितग्राहियों से भी राशन वितरण के संबंध में जानकारी ली। कोविड-19 प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा उचित मूल्य दुकानों का खाद्य एवं राजस्व अमले से सतत निरीक्षण करवाया जायेगा। कोरोना कफ्र्यू के दौरान पात्र हितग्राहियों को मुफ्त राशन देने में कोताही करने वाले दुकान संचालकों के विरूद्ध त्वरित और कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि 'गरीब की थाली न रहे खाली' यह शासन, प्रशासन तथा मैदानी अमले की संयुक्त जिम्मेदारी है।   राज्य मंत्री ने शासकीय उचित मूल्य दुकान ढुंडेर बंद पाये जाने पर फूड इंस्पेक्टर से चर्चा की। फूड इंस्पेक्टर ने बताया कि पोर्टल पर राशन वितरण दर्शाया गया है। इस दुकान से जुड़े पात्र हितग्राहियों ने बताया कि उन्हें राशन प्राप्त नहीं हुआ है क्योंकि पिछले 15 दिनों से दुकान ही नहीं खुली है। राज्य मंत्री श्री यादव ने तहसीलदार दिनेश सॉवले को निर्देश दिए कि पोर्टल पर राशन वितरण और दुकान में स्टॉक से मिलान कर दो दिन में जाँच रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

Kolar News

Kolar News 15 May 2021

इंदौर। गांवों में फैल रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए मंत्री तुलसी सिलावट, मंत्री उषा ठाकुर, कलेक्टर मनीष सिंह के साथ शनिवार को महू के गांवों में पहुंचे। यहां ग्रामीणों को कोरोना के बारे में जानकारी देते हुए मंत्री ठाकुर ने कहा कि यदि पहले दिन से ही इलाज मिल जाए तो आप जल्द स्वस्थ्य हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है। यदि आप राधा स्वामी कोविड सेंटर में आते हैं तो 5 दिन में ठीक होकर अपने घर जा सकते हैं। कोविड केयर सेंटर आपको स्वस्थ करने का केंद्र है,  कोई यातना केंद्र नहीं हैं।   मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जो संक्रमण फैल रहा है, उसकी चैन को तोड़ने के लिए प्रशासनिक, मेडिकल अधिकारियों की टीम के साथ गांव पहुंचे थे। लोगों को यही कहा जा रहा है कि कोरोना से घबराने की जगह पहले दिन से ही इलाज करवाएं। जिनका घर छोटा है वो ग्राम पंचायत के आइसोलेशन सेंटर पर जा सकता है,  राधा स्वामी कोविड केयर सेंटर पहुंचे। कोविड केयर सेंटर स्वस्थ्य करने के लिए बनाया गया केंद्र है, वह कोई सजा यातना का केंद्र नहीं है। वहां, समय से नाश्ता, खाना, डॉक्टर की निगरानी, योगा सबकुछ है। पहले दिन से ही आप वहां आ गए तो 5 दिन में स्वस्थ्य होकर आप अपने घर पहुंच जाएंगे। जनता इस चैन को तोड़ने में सहायक बने। किसी को सर्दी, खांसी या अन्य लक्षण नजर आए तो टीम को बताएं और दवाएं लें। इस दौरान खास बात यह रही कि ज्यादातर समय मास्क नहीं लगाने वाली मंत्री ठाकुर ने अपने चेहरे को गमछे से ढंक रखा था। वे ग्रामीणों को कोविड प्रोटोकाल का पालन करने की सीख देती भी नजर आईं।

Kolar News

Kolar News 15 May 2021

भोपाल। मप्र के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कोरोना संक्रमण की स्थिति को लेकर कहा है कि ग्रामीण क्षेत्र में किल कोरोना अभियान चल रहा है। प्रत्येक घर में जाकर देख रहे हैं कि कोई क़ोरोना के लक्षण वाले व्यक्ति तो नहीं है? अगर कोई लक्षण होता है तो उनका टेस्ट किया जा रहा है। पॉजिटिव आने के बाद उनका इलाज किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि क्वारंटीन सेंटर में मरीज़ों को रखा जा रहा है। स्टडी ये कहती है की मेडिकल किट बाटना सही निर्णय रहा है ।   मंत्री सारंग ने कहा कि मुख्यमंत्री ने गरीब बच्चों को लिए योजना शुरू की है। सीएम की सोच है कि समाज में वो तबका जो आर्थिक रूप से कमज़ोर है, उसके घर में किसी तरह की कोई दिक्कत ना आए। 5 महीने का राशन ऐसे परिवारों को दिया। स्ट्रीट वेंडर्ज़ को पैसा दिया गया। किसानों को राहत दी गई। उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग को सरकार ने आर्थिक लाभ देने की कोशिश की है। हमने तय किया है कि गऱीबों को 5 महीने का राशन मिले। अगर किसी के पास आधार कार्ड नहीं है तो उसे भी राशन दिया जाएगा । जो नहीं देगा उसके खिलाफ़ कार्यवाही की जाएगी।   मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि ब्लैक फ़ंगल इन्फ़ेक्शन को रोकने के लिए उच्च स्तरीय बैठक की गई है। अमेरिका से भी डॉक्टर जुड़े थे। वहीं राजधानी के भोपाल मेमोरियल अस्पताल में रेप के मामले पर मंत्री ने कहा कि इस मामले कि जाँच की जा रही है। आखिर क्यू पुलिस ने मामले को दबाया, पुलिस ने कार्यवाही तो की है। आरोपी को पकड़ लिया गया है। जो भी दोषी होगा उस पर कार्यवाही की जाएगी।

Kolar News

Kolar News 13 May 2021

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्‍यक्ष विष्‍णुदत्‍त शर्मा ने गुरुवार को राजधानी भोपाल में कांग्रेस को फटकार लगाते हुए कहा कि यह समय राजनीति करने का नहीं, बल्कि समस्या के समाधान के लिए प्रयास करने का है। ऐसे समय में जबकि हम सभी को मानवीयता की रक्षा के लिए जुट जाना चाहिए, कांग्रेस के लोग अभी भी भ्रम फैलाकर लोगों को डराने, गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं, जिसे कहीं से भी सही नहीं ठहराया जा सकता है ।    शर्मा ने कहा कि पहले कांग्रेस ने वेक्सीन के बारे में भ्रम फैलाया, लेकिन हमारे युवाओं ने कांग्रेस की इन कोशिशों को असफल कर दिया, जिसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस की इन हरकतों से दुखी होकर ही हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने पर विवश हुए।  प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कमलनाथ जी जो स्वयं प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं, कहते हैं पन्ना की एक नदी में 6 लाशें मिलीं। जबकि वास्तव में नदी में सिर्फ दो लाशें पाई गईं। जांच में पता चला कि ये लाशें भी उन व्यक्तियों की थीं, जिन्हें किसी विशेष बीमारी से मौत होने के कारण स्थानीय परंपरा के अनुसार जल में प्रवाहित किया गया था। कमलनाथ जी ने सिर्फ राजनीतिक वजूद बचाने के लिए जिस तरह से प्रदेश की जनता को गुमराह करने का प्रयास किया है, उसके लिए उन्हें प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।    शर्मा ने इस दौरान यह भी कहा कि विदिशा के कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव अपने मोबाइल से एक वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित करते हैं और उसे विदिशा का बताते हैं। लेकिन गौर से देखने पर वह वीडियो किसी और जगह का पाया जाता है। श्री शर्मा ने कहा कि ये वो लोग हैं, जिन्होंने पूरे संकट में एक बेसहारा व्यक्ति को भोजन नहीं कराया, कभी कोविड केयर सेंटर देखने नहीं गए, बस लोगों को गुमराह करके अपनी राजनीति चलाना चाहते हैं। लेकिन प्रदेश की जनता इनसे ऐसी हरकतों का जवाब मांगेगी।

Kolar News

Kolar News 13 May 2021

अशोकनगर। राज्यमंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि जीवन में सबसे सुखी मनुष्य वह है जिसे अस्पताल और अदालत कभी ना जाना पड़े। लेकिन कोरोना महामारी ने अस्पताल में बार-बार जाने के लिए इंसान को मजबूर कर दिया है। चिकित्सक इलाज करने, रोगी उपचार कराने, परिजन देखरेख करने और मैं सबका मनोबल बढा़ने के लिए अस्पताल आता हूं। यह बात राज्यमंत्री यादव ने बुधवार को चंदेरी सिविल अस्पताल में रोगियों और चिकित्सकों से कही। उन्होंने चिकित्सकों को उनके द्वारा की जा रही सेवा के लिए धन्यवाद देते हुए रोगियों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की शुभकामनाएं दीं।   इस दौरान मंत्री यादव ने भर्ती मरीजों का हाल जाना और उनके उपचार की जानकारी ली । साथ ही डॉक्‍टरों से भी चर्चा की। चंदेरी अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा कि हम सभी ने बेहतर सेवा का संकल्प लिया है। हमें केवल रोगी एवं परिजनों से सहयोग की अपेक्षा है। कोरोना महामारी के इस दौर में हमने आमजन की मनोवृत्ति और अपेक्षाओं को समझ लिया है, इस कारण अब नाराजगी अथवा विवाद की स्थितियाँ निर्मित नहीं होती हैं।   अखंड भारत समिति ने राज्यमंत्री यादव तथा विधायक जजपाल सिंह जज्जी को फेस शील्ड भेंट की। समिति द्वारा उपलब्ध करवाये गये मास्क तथा भाप लेने की मशीनें राज्यमंत्री यादव ने जरूरतमंद रोगियों, स्वास्थ्य, पुलिस एवं राजस्व विभाग के कर्मचारियों को वितरित की।

Kolar News

Kolar News 12 May 2021

भोपाल। राजधानी भोपाल के 6 बड़े कोविड -अस्पतालों में आज सोमवार से हेल्प डेस्क शुरू किए गए हैं। आज पीपुल्स अस्पताल के सामने जन अभियान परिषद मद्ययप्रदेश शासन और कादम्बिनी शिक्षा समिति के सहयोग से लगाये गए सहायता केंद्र का शुभारम्भ भाजपा जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी ने माँ सरस्वती की तस्वीर पर माल्यार्पण कर किया।   पचौरी ने कहा कि यह सहायता केंद्र जनता के लिये जन उपयोगी सिद्ध होगा। इस अवसर पर जन अभियान परिषद की जिला समन्यक कोकिला चतुर्वेदी ने बताया कि भोपाल के चिरायु, एम्स, पीपुल्स, आरकेडीएफ, जेके और टी वी अस्पताल में यह डेस्क शुरू हो गए हैं जिसमें सामाजिक संस्थाओं के कार्यकर्ताओं को पूर्ण जानकारी के साथ डेस्क पर बिठाया गया है। इस हेल्प डेस्क पर दो- दो सदस्य में वालियन्टर उपस्थित रहेंगे। जो अस्पताल में बेड रिक्त की जानकारी से लगाकर अन्य आवश्यक जानकारी लोगों को दी जाएगी। अस्पताल के बहार टेंट लगाकर हेल्प डेस्क की व्यवस्था की गई है। जो सुबह से श्याम तक यहां से जानकारी मिल सकेगी।   इन संस्थाओं ने ली सेवा की जवाबदारीहेल्प डेस्क पर समाज सेवी संस्थाओं में कायनात ह्यूमन डवल्वपमेंट सोसायटी, सहारा साक्षरता एजुकेशन एन्ड सोशलवेल्फेयर सोसायटी, अक्षय नारी कल्याण समिति, कादम्बिनी शिक्षा एवम समाज कल्याण सेवा समिति, फाउंडेशन ऑफ संकल्पश्री सोशल वेलफेयर सोसायटी द्वारा यह कार्य अपने हाथों में लिया है।

Kolar News

Kolar News 10 May 2021

भोपाल। इंदौैर से कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला द्वारा कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट के बेटे और परिवार पर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी का आरोप लगाने के बाद मामला तूल पकड़ता जा रहा है। अब मंत्री सिलावट के परिवार की तरफ से कानूनी कार्यवाही की गई है। मंत्री के बेटे नीतीश सिलाावट ने कांग्रेस विधायक को पांच करोड़ की मानहानि का नोटिस भेजा गया है। साथ ही नीतिश सिलावट ने कांग्रेस विधायक को मानसिक रोगी भी बताया है।   मध्यप्रदेश मंत्री तुलसी सिलावट के बेटे नीतीश सिलावट ने आरोपों पर जवाब देते हुए विधायक को मानसिक रोगी बताते हुए मानहानि का आरोप लगाया है। मंत्री के बेटे ने विधायक को 5 करोड़ की मानहानि का नोटिस भेजा है। इस मामले में अभी तक कांग्रेस नेताओं के बयान सामने नहीं आए हैं। बता दें कि विधायक संजय शुक्ला ने मंत्री सिलावट के बेटे नीतीश पर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी का आरोप लगाया था। जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए मंत्री सिलावट ने इसे ओछी राजनीति बताया था।

Kolar News

Kolar News 8 May 2021

अनूपपुर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेश के अधिमान्य पत्रकारों को कोविड -19 योद्धा का दर्जा देने के बाद अब सम्पूर्ण प्रदेश से जमीनी स्तर पर कार्य करने वाले गैर अधिमान्य पत्रकारों, कैमरामैन को कोविड 19 योजना का लाभ दिये जाने की मांग उठने लगी है। लोगों ने पत्रकारों को अधिमान्य / गैर अधिमान्य श्रेणी में बांटने की जगह जिला / तहसील स्तर पर सक्रिय,वास्तविक पत्रकारों को भी इस दायरे में रखने की आवाज निरन्तर उठाई जा रही है।   सांसद हिमाद्री सिंह ने गुरूवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र प्रेषित कर प्रदेश में जिला और तहसील स्तर पर समाचार कव्हरेज करने वाले पत्रकारों,कैमरामैन को भी कोविड योद्धा की मान्यता देने की मांग की है।    मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में सांसद ने गैर अधिमान्य पत्रकारों, कैमरामैन, जन संपर्क विभाग सहित सहकारिता और विद्युत विभाग के कर्मचारियों को कोविड योद्धा योजना का लाभ दिये जाने की अपील की है। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व पत्रकारों एवं जनप्रतिनिधियों की मांग पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी अधिमान्य पत्रकारों को कोविड योद्धा योजना के दायरे मे लिये जाने की घोषणा की थी। इसका सभी ने स्वागत् किया है तथा मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट करते हुए अन्य सभी क्षेत्रीय पत्रकारों को इसका लाभ देने की मांग की गयी है। 

Kolar News

Kolar News 6 May 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार 7 मई को 'मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना' अंतर्गत प्रदेश के 75 लाख किसानों के खाते में 1500 करोड़ रुपये अंतरित करेंगे। अपरान्ह 3 बजे आयोजित होने वाले इस वर्चुअल कार्यक्रम का संचार के विभिन्न माध्यमों से सीधा प्रसारण होगा। कार्यक्रम में मंत्रि-परिषद के सदस्य, जन-प्रतिनिधि, कलेक्टर्स, कमिश्नर्स और 'मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना' के किसान हितग्राही शामिल होंगे।मुख्यमंत्री शिवराज ने प्रदेश के किसानों के लिये 'मुख्यमंत्री किसान-कल्याण सम्मान निधि योजना' की शुरूआत कर किसानों को मध्यप्रदेश शासन की और से प्रतिवर्ष 4 हजार रुपये दो बराबर किश्तों में दिये जाना शुरू किया है। इन किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में भी प्रतिवर्ष तीन किस्तों में 2-2 हजार रूपये मिल रहे हैं। इस प्रकार किसानों को अब कुल 10 हजार रूपये प्रतिवर्ष किसान सम्मान निधि मिल रही है।

Kolar News

Kolar News 6 May 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार 7 मई को 'मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना' अंतर्गत प्रदेश के 75 लाख किसानों के खाते में 1500 करोड़ रुपये अंतरित करेंगे। अपरान्ह 3 बजे आयोजित होने वाले इस वर्चुअल कार्यक्रम का संचार के विभिन्न माध्यमों से सीधा प्रसारण होगा। कार्यक्रम में मंत्रि-परिषद के सदस्य, जन-प्रतिनिधि, कलेक्टर्स, कमिश्नर्स और 'मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना' के किसान हितग्राही शामिल होंगे।मुख्यमंत्री शिवराज ने प्रदेश के किसानों के लिये 'मुख्यमंत्री किसान-कल्याण सम्मान निधि योजना' की शुरूआत कर किसानों को मध्यप्रदेश शासन की और से प्रतिवर्ष 4 हजार रुपये दो बराबर किश्तों में दिये जाना शुरू किया है। इन किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में भी प्रतिवर्ष तीन किस्तों में 2-2 हजार रूपये मिल रहे हैं। इस प्रकार किसानों को अब कुल 10 हजार रूपये प्रतिवर्ष किसान सम्मान निधि मिल रही है।

Kolar News

Kolar News 6 May 2021

रायसेन, 05 अप्रेल | पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद जो तृणमूल कांग्रेस कार्यकताओं द्वारा भाजपा के कार्यकर्ताओं की हत्या लूटपाट आगजनी को अंजाम दिया जा रहा है, उसके विरोध में भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार के नेतृत्व में भाजपा जिला कार्यालय रायसेन समेत जिले के 22 मण्डलों में कोविड 19 के गाइड अनुसार धरना दिया गया। धरना प्रदर्शन में वरिष्ठ भाजपा नेता धीरेंद्र कुशवाहा, मंडल अध्यक्ष आदित्य शर्मा, पूर्व मंडल अध्यक्ष मिट्ठू लाल धाकड़, मनोज यादव, देवेंद्र बघेल, शुभम बघेल, सुमन शर्मा, ऋषि यादव धरना प्रदर्शन में जिला अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार ने कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के नतीजे आने के बाद ममता बनर्जी के इशारे पर जिस तरह टीएमसी कार्यकर्ता भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ हिंसा कर रहे हैं वो किसी नरसंहार से कम नहीं है। सारा देश इस बर्बरता को देख रहा है। नक्सलवाद से प्रेरित पश्चिम बंगाल की इस सरकार के खिलाफ हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी के नेतृत्व में पूरे देश का भाजपा कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल के कार्यकर्ता बंधुओं के साथ खड़ा हुआ है।  पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ हो रही हिंसा के विरोध में सांची विधानसभा से रायसेन नगर मंडल अध्यक्ष आदित्य शर्मा (जीतू), सांची मंडल अध्यक्ष संतोष शर्मा, खरवई मंडल अध्यक्ष लीला किशन मीणा, सांचेत मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र बघेल, देवनगर मंडल अध्यक्ष अमन सक्सेना, गैरतगंज मंडल अध्यक्ष संजीव जैन एवं सिलवानी विधानसभा से बेगमगंज नगर मंडल अध्यक्ष कमल साहू, बेगमगंज ग्रामीण मंडल अध्यक्ष जगदीश लोधी, सुल्तानगंज ग्रामीण मंडल अध्यक्ष जगन्नाथ यादव, सिलवानी नगर मंडल अध्यक्ष विजय शुक्ला, सिलवानी ग्रामीण मंडल अध्यक्ष दीपक रघुवंशी तथा उदयपुरा विधानसभा से देवरी नगर मंडल अध्यक्ष अरविंद दुबे, उदयपुरा नगर मंडल अध्यक्ष ऋषिराज परमार, बरेली नगर मंडल अध्यक्ष अभिषेक राजपूत, बरेली ग्रामीण नगर मंडल अध्यक्ष रेवासिंह गोदारा, भारकच्छ नगर मंडल अध्यक्ष मोहरव सिंह, बाड़ी नगर मंडल अध्यक्ष पंकज श्रीवास्तव, सुल्तानपुर नगर मंडल अध्यक्ष हेमराज सिंह मीणा, औबेदुल्लागंज मंडल अध्यक्ष सोनू चोकसे, मंडीदीप नगर मंडल अध्यक्ष पवन श्रीवास्तव, मंडीदीप ग्रामीण मंडल अध्यक्ष सुशील शर्मा, भोजपुर नगर मंडल अध्यक्ष शैलेंद्र गिरी समेत भाजपा पदाधिकारियों ने अपने-अपने मंडलों में धरना देकर पश्चिम बंगाल टीएमसी के गुंडों का कड़ा विरोध किया। 

Kolar News

Kolar News 5 May 2021

रायसेन, 05 अप्रेल | पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद जो तृणमूल कांग्रेस कार्यकताओं द्वारा भाजपा के कार्यकर्ताओं की हत्या लूटपाट आगजनी को अंजाम दिया जा रहा है, उसके विरोध में भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार के नेतृत्व में भाजपा जिला कार्यालय रायसेन समेत जिले के 22 मण्डलों में कोविड 19 के गाइड अनुसार धरना दिया गया। धरना प्रदर्शन में वरिष्ठ भाजपा नेता धीरेंद्र कुशवाहा, मंडल अध्यक्ष आदित्य शर्मा, पूर्व मंडल अध्यक्ष मिट्ठू लाल धाकड़, मनोज यादव, देवेंद्र बघेल, शुभम बघेल, सुमन शर्मा, ऋषि यादव धरना प्रदर्शन में जिला अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार ने कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के नतीजे आने के बाद ममता बनर्जी के इशारे पर जिस तरह टीएमसी कार्यकर्ता भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ हिंसा कर रहे हैं वो किसी नरसंहार से कम नहीं है। सारा देश इस बर्बरता को देख रहा है। नक्सलवाद से प्रेरित पश्चिम बंगाल की इस सरकार के खिलाफ हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी के नेतृत्व में पूरे देश का भाजपा कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल के कार्यकर्ता बंधुओं के साथ खड़ा हुआ है।  पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ हो रही हिंसा के विरोध में सांची विधानसभा से रायसेन नगर मंडल अध्यक्ष आदित्य शर्मा (जीतू), सांची मंडल अध्यक्ष संतोष शर्मा, खरवई मंडल अध्यक्ष लीला किशन मीणा, सांचेत मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र बघेल, देवनगर मंडल अध्यक्ष अमन सक्सेना, गैरतगंज मंडल अध्यक्ष संजीव जैन एवं सिलवानी विधानसभा से बेगमगंज नगर मंडल अध्यक्ष कमल साहू, बेगमगंज ग्रामीण मंडल अध्यक्ष जगदीश लोधी, सुल्तानगंज ग्रामीण मंडल अध्यक्ष जगन्नाथ यादव, सिलवानी नगर मंडल अध्यक्ष विजय शुक्ला, सिलवानी ग्रामीण मंडल अध्यक्ष दीपक रघुवंशी तथा उदयपुरा विधानसभा से देवरी नगर मंडल अध्यक्ष अरविंद दुबे, उदयपुरा नगर मंडल अध्यक्ष ऋषिराज परमार, बरेली नगर मंडल अध्यक्ष अभिषेक राजपूत, बरेली ग्रामीण नगर मंडल अध्यक्ष रेवासिंह गोदारा, भारकच्छ नगर मंडल अध्यक्ष मोहरव सिंह, बाड़ी नगर मंडल अध्यक्ष पंकज श्रीवास्तव, सुल्तानपुर नगर मंडल अध्यक्ष हेमराज सिंह मीणा, औबेदुल्लागंज मंडल अध्यक्ष सोनू चोकसे, मंडीदीप नगर मंडल अध्यक्ष पवन श्रीवास्तव, मंडीदीप ग्रामीण मंडल अध्यक्ष सुशील शर्मा, भोजपुर नगर मंडल अध्यक्ष शैलेंद्र गिरी समेत भाजपा पदाधिकारियों ने अपने-अपने मंडलों में धरना देकर पश्चिम बंगाल टीएमसी के गुंडों का कड़ा विरोध किया। 

Kolar News

Kolar News 5 May 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने सरकार से जानना चाहा है कि पूरे प्रदेश में कितने सेंटरों से 100 वैक्सीन प्रतिदिन लगाए जाने पर प्रदेश के इस आयु वर्ग के साढे तीन करोड़ लोगों को वैक्सीनेट करने में कितने वर्ष लगेंगे? यह सार्वजनिक किया जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 18 से 45 वर्ष तक की आयु के लोगों को प्रतिदिन 100 वैक्सीन ही लगाए जाने का समाचार मध्य प्रदेश सरकार की दोषपूर्ण व्यवस्था का द्योतक है।   कांग्रेस नेता ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध नहीं है। वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों ने खुलेआम यह कहा है कि वह जुलाई के पूर्व वैक्सीन पूरी तरह प्रदाय नहीं कर सकती हैं। एक कंपनी का मालिक देश छोडक़र लंदन में अपना व्यवसाय जमा रहा है। सरकार को बताना चाहिये कि क्या केवल अभियान चलाने के लिए इमरजेंसी कोटे से तो वैक्सीन नहीं लगाये जा रहे हैं? क्योंकि जिन्हें अभी प्रथम डोज लगेगा उन्हें जून के प्रथम सप्ताह में बूस्टर डोज भी लगाना होगा। तब वैक्सीन उपलब्ध नहीं हुआ तो क्या करेंगे? उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा अपर्याप्त मात्रा के साथ वैक्सीन अभियान चलाना अंतत: वैक्सीन लगाने के उद्देश्य को प्रभावित करेगा और वैक्सीनेशन के माध्यम से  मिल सकने वाले लाभों से समाज को वंचित करेगा।

Kolar News

Kolar News 5 May 2021

शाजापुर।कोरोना संक्रमण से प्रभावित मरीज को समय पर एंबुलेंस सुविधा नहीं मिलने पर म.प्र.के मंत्री इन्दरसिंह परमार ने जनसमर्पित जननायक की भूमिका निभाते हुए अपने निजी वाहन से मरीज को उपचार के लिए देवास अस्पताल के लिए रेफर किया। संकटकाल में मंत्री परमार की यह सेवा भावना लोगों के लिए प्रेरणा बन रही है।    इन दिनों एक तरफ बढ़ते कोरोना संक्रमण ओर दूसरी तरफ सीमित स्वास्थ्य संसाधनों ने प्रदेश में हालात चिंताजनक बना दिए हैं जिसके चलते मरीजों को उपचार संबंधी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में शासन और प्रशासन भले ही अपने स्तर पर इस आपदा से निपटने के हरसंभव प्रयास कर रहे हैं फिर भी मरीजों की बढ़ती संख्या राहत कार्यों के लिए बड़ी चुनौती पैदा कर रही है। ऐसा ही एक मामला मंगलवार को प्रकाश में आया, जिसमें शुजालपुर में स्थापित किए गए "अपनों के लिए अपना कोविड केयर सेंटर" में कोरोना संक्रमित मरीज रामस्वरूप परमार का उपचार हो रहा था। यहां से मरीज को देवास के अमलतास अस्पताल रेफर किया जाना था लेकिन उस समय एंबुलेंस दूसरे मरीजों को लेकर गई हुई थी।  इस बारे में जानकारी मिलते ही प्रदेश के मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक इन्दरसिंह परमार ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए अपनी सेवा भावना के अनुरूप बिना देर किए तत्काल अपने निजी वाहन से मरीज को देवास के लिए रैफर करवा दिया। जिससे समय पर उन्हें उचित उपचार सुविधा मिलना शुरू हो गई। जनता के प्रति जननायक परमार द्वारा दिखाए गए समर्पण की जहां लोग सोशल मीडिया के माध्यम से सराहना कर रहे हैं वहीं उनकी सेवा भावना दूसरे जनप्रतिनिधियों के लिए भी अनुकरणीय प्रेरणा साबित हो रही है। 

Kolar News

Kolar News 5 May 2021

भोपाल। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने जानकारी दी है कि प्रदेश की 23 नवगठित नगरीय निकायों को अग्नि सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए फायर वाहन क्रय हेतु 4 करोड़ 20 लाख रुपये आवंटित किए गए हैं। प्रत्येक निकाय को 18 लाख 75 हजार  की राशि जारी की गई है।   नवगठित नगरीय निकायों में सागर जिले की बांदरी, मालथौन, बिलहरा, सुरखी, भिंड जिले की रौन, सिवनी जिले की केवलारी, अशोकनगर जिले की पिपरई, रीवा जिले की डभौरा, गुना जिले की मधुसूदनगढ़, अनूपपुर जिले की बनगवां, शहडोल जिले की बकहो,  उमरिया जिले की मानपुर, सिवनी जिले की छपारा, बड़वानी जिले की निवाली बुजुर्ग, ठीकरी, खरगोन जिले की बिस्टान,  मंदसौर जिले की भैंसोंदा मंडी, शिवपुरी जिले की मंगरौनी, भिंड जिले की मालनपुर, हरदा जिले की सिराली, पन्ना जिले की गुन्नौर और बैतूल जिले की घोड़ाडोंगरी एवं शाहपुर नगरीय निकाय को फायर वाहन खरीदने के लिए राशि आवंटित की गई है।   मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया है कि 53 ऐसे नगरीय निकाय जहाँ पर 2012 के पूर्व फायर वाहन क्रय किए गए थे, उन्हें भी नए  फायर वाहन खरीदने के लिए 9 करोड़ 93 लाख रुपये आबंटित किये गए हैं। भारत सरकार द्वारा जारी मापदंडों के अनुसार फायर वाहनों की आयु 10 वर्ष निर्धारित की गई है।

Kolar News

Kolar News 4 May 2021

भोपाल।  वैश्विक कोरोना संकटकालीन समय में पर्यावरण की शुद्धता और मन में सकारात्मकता के लिए भारतीय परंपरा में प्रचलित यज्ञ कर्म को बढ़ावा देना चाहिए। पर्यटन, संस्कृति एवं आध्यात्म मंत्री ऊषा ठाकुर ने 'भारतीय परंपरा में यज्ञ के महत्व' पर ऑनलाइन वेबिनार को संबोधित कर रही थी।    मंत्री  ठाकुर ने कहा कि भारतीय संस्कृति में हमेशा से ही प्रकृति व आस-पास के जीव- जंतुओं के साथ समन्वय बनाकर, सभी के कल्याण के लिए कार्य किया जाता रहा है। कोरोना महामारी संकटकालीन समय में यह और भी आवश्यक हो गया है कि हम अपने आसपास के वातावरण और वायुमंडल को शुद्ध रखें। इस कार्य में यज्ञ की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। सुश्री ठाकुर ने आग्रह किया कि यज्ञ दिवस पर सब संकल्प ले कि प्रतिदिन यज्ञ करेंगे और वातावरण को बेहतर बनाकर मानवता की सेवा में अपना योगदान देंगे।    आध्यात्म विभाग के राज्य आनंद संस्थान द्वारा आयोजित ऑनलाइन वेबिनार में इंदौर के वैदिक विद्वान स्वामी प्रकाश आर्य ने अपने उद्बोधन में कहा कि यज्ञ भारतीय सांस्कृतिक परंपरा में महत्वपूर्ण कृत्य के रूप में जाना जाता है। यज्ञ का अर्थ केवल हवन करना व अग्नि में आहुति देना भर नहीं है। अपितु यह दान, पुण्य के साथ ईश्वर से जुड़ने का एक सशक्त माध्यम हैं। यज्ञ हमारी सांस्कृतिक परंपरा में काफी व्यापक महत्व रखता है। वेबिनार में मुख्य कार्यपालन अधिकारी अखिलेश अर्गल, सत्य आर्य सहित सत्य सनातन वैदिक जीवन पद्धति में विश्वास रखने वाले देश और प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से लोग शामिल हुए।

Kolar News

Kolar News 3 May 2021

भोपाल। दमोह उपचुनाव में हार के बाद अब भाजपा का दर्द खुलकर सामने आ रहा है। भाजपा उम्मीदवार राहुल सिंह ने पूर्व मंत्री मलैया पर निशाना साधा, तो अब प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने भी हार के लिए अंदरूनी कलह को जिम्मेदार बताया है।   गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि दमोह हम हारे हैं अपने जयचंदों से। हालांकि उन्होंने अपनी हार की जगह कांग्रेस पर ज्यादा निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ज्यादा खुशी न मनाए कांग्रेस। कमलनाथ का ध्यान वहां नहीं जा रहा है, जहां पूरे देश से कांग्रेस साफ हो गई है। कांग्रेस अब कहीं नहीं है। डॉ. मिश्रा ने कहा कि उन्हें पता होना चाहिए के उनका शीर्ष नेतृत्व ऐसा है कि वे कहीं नहीं जीतने वाले। हम बंगाल में 3 से बढ़कर 76 हो गए। भाजपा का सभी राज्यों में वोट शेयर बढ़ा है। मोदी जी के नेतृत्व में वोट परसेंटेज बढ़ रहा है। उन्होंने ममता बनर्जी पर भी तंज कसा है।   बंगाल में नौटंकी की जीत हुई डॉ. मिश्रा ने कहा कि बंगाल में नौटंकी जीत गई, राष्ट्रवादी हार गए। उन्होंने ममता बनर्जी पर चुटकी लेते हुए कहा कि हड्डी जुड़ने का यह नया तरीका देखा। परिणाम आने के बाद दीदी खड़ी हो गई।

Kolar News

Kolar News 3 May 2021

भोपाल। मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष और दिग्गज कांग्रेस नेता अजय सिंह ने विन्ध्य में करोना से हर रोज हो रहीं सैकड़ों मौतों पर दुख जताते हुए सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि सरकार का सिस्टम पूरी तरह से फेल हो चुका है और लोगों को अपने हाल पर छोड़ दिया गया है। अजय सिंह ने कहा कि तड़प- तड़प कर लोगों की सांसे टूट रहीं हैं और सत्ता में बैठे लोग मौतों का तमाशा देख रहे हैं।   अजय सिंह ने सोमवार को एक बयान जारी कर सतना और रीवा में ऑक्सीजन सिलेंडर का जखीरा बरामद होने की घटना का हवाला देते हुए कहा की यह सीधी, सिंगरौली सहित प्रदेश के हर जिले में हो रहा है। 7,600 रुपये का सिलेंडर 30 से 35 हजार मे बेचा जा रहा है, लोग अपने परिजनों की जान बचाने के लिए गहने जेवर तक गिरवी रख रहे हैं।    अजय सिंह ने कहा कि इससे बड़ी शर्मनाक बात और क्या हो सकती है कि सरकारी अस्पतालों में बेड दिलाने के लिए सौदेबाजी की जा रही है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने साफ कहा कि ऑक्सीजन, दवा और बेड की कालाबाजारी बिना सियासी संरक्षण के सम्भव नही है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सतना जिले के मैहर में प्रदेश सरकार के मंत्री रामखेलावन पटेल के सामने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी के खुलासे के हवाला देते हुए कहा कि मौत के इन सौदागरों को सत्ताधारी दल के नेताओं का संरक्षण हासिल है।   श्री सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि अगर कालाबाजारियों को सियासी संरक्षण हासिल नही है तो मंत्री के सामने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही क्यों नही की गयी। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि ऑक्सीजन की कालाबाजारी और सांसों का सौदा करने वाले व्यक्ति को जेल में डालने की बजाय उसके पेपर मांगे जा रहे हैं। सिंह ने कहा कि आपदा में अवसर तलाशने वालों को किसी भी सूरत में नही छोड़ा जाना चाहिए।    उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री से विन्ध्य की स्वास्थ्य सुविधाओं की समीक्षा करने एवं उसे दुरस्त करने की मांग करते हुए कहा कि अगर अभी भी ध्यान न दिया गया तो आने वाले समय में स्थिति और भी भयावह व विकराल हो जाएगी।

Kolar News

Kolar News 3 May 2021

भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को दोपहर तीन बजे प्रदेश के तीन लाख 10 हजार शहरी पथ व्यवसायियों के बैंक खाते में एक-एक हजार रुपये की अनुदान राशि डाली है। इस प्रकार लगभग 61 करोड़ रुपये डीबीटी के माध्यम से पथ व्यवसायियों के खाते में डाले गए हैं।    इस संबंध में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया है कि कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए विभिन्न जिलों में लगे कोरोना कर्फ्यू के कारण पथ व्यवसायियों की आजीविका प्रभावित हो रही है। इसी परिप्रेक्ष्य में शहरी पथ व्यवसायियों को राहत पहुँचाने के लिए इन्हें अनुदान देने का निर्णय लिया गया है।    उल्‍लेखनीय है कि मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार समाज के हर तबके के लिए कोई ना कोई योजना बनाकर काम कर रही है। सरकार ने शहरी पथ व्यवसायियों को ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराते हुए प्रदेश में अब तक तीन लाख 13 हज़ार पथ व्यवसायियों को 313 करोड़ रुपए की ऋण राशि वितरित कर दी है।   प्रदेश सूचना कार्यालय के वरिष्‍ठ सूचना अधिकारी राजेश पाण्डेय ने बताया कि पीएम स्व-निधि योजना के क्रियान्वयन में मध्यप्रदेश देश में अग्रणी राज्यों में से एक है। प्रदेश में कुल छह लाख 10 हजार सत्यापित पथ व्यवसायियों में से लगभग चार लाख 81 हजार के आवेदन बैंक में लगाए जा चुके हैं। इसमें से अब तक तीन लाख 44 हजार पथ व्यवसायियों को ऋण भी स्वीकृत किया गया है।    उन्‍होंने कहा कि सरकार का प्रयास है, इस कोरोनाकाल में भी सभी का परिवार आवश्‍यक संसाधनों की पूर्ति करते हुए आराम से चल सके, इसी सोच को ध्‍यान में रखकर अब तक तीन लाख 13 हज़ार पथ व्यवसायियों को 313 करोड़ रुपए की ऋण राशि वितरित करवाई जा चुकी है।   प्रदेश में कोविड-19 के संबंध में शहरी पथ व्यवसायियों को रोजगार से पुनः जोड़ने के लिए एवं आजीविका के साधन उपलब्ध कराने हेतु भारत सरकार द्वारा आत्म-निर्भर फेस-2 में पीएम स्व-निधि योजना एक जुलाई 2020 को शुरू की गई थी। इस योजना में पथ व्यवसायियों को 10 हजार का ऋण उपलब्ध कराया जाता है। योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा 7 फीसद का ब्याज अनुदान दिया जाता है। डिजिटल ट्रांजेक्शन करने पर प्रति वर्ष 2000 रुपये तक की सीमा की कार्यशील पूँजी के ऋण का प्रावधान भी है। मध्यप्रदेश द्वारा शेष ब्याज का अनुदान उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके अंतर्गत 31 मार्च 2021 तक लगभग एक करोड़ रुपए की ब्याज अनुदान राशि बैंकों को दी जा चुकी है।

Kolar News

Kolar News 30 April 2021

इंदौर। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद कोरोना संक्रमितों के उपचार में काम आने वाली दवाओं और मेडिकल सामग्री की कालाबाजारी जारी है। इसे लेकर भाजपा नेता गोविन्द मालू ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पत्र लिखा है और कालाबाजारी तथा मुनाफाखोरी करने वालों पर रासुका लगाने की मांग की है।   इंदौर में लगातार कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच दवाई और मेडिकल सामग्री में जमकर मुनाफाखोरी की जा रही है। इसे देखते हुए खनिज विकास निगम के पूर्व उपाध्यक्ष गोविंद मालू ने जीवनरक्षक औषधियों और उपकरणों पर मुनाफाखोरी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने मुनाफाखोरों पर रासुका लगाने की भी मांग की है।    मालू ने कहा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और ऑक्सीजन सिलेंडर वर्तमान समय में जीवन रक्षक हैं। लेकिन मुनाफाखोर  इस आपदा में भी अवसर खोज रहे हैं। वे 30 हजार की मशीन एक लाख से भी ज्यादा कीमत में बेच रहे हैं। इतना ही नहीं वे सिलेंडर पर भी भारी मुनाफा कमा रहे हैं। उन्होंने इस पर लगाम लगाने की मांग करते हुए कहा कि इनका स्टॉक जब्त कर अधिकतम खुदरा मूल्य पर इन्हें बिकवाना चाहिए। इसी तरह कई दवाइयों, पल्स ऑक्सीमीटर पर भी भारी मुनाफाखोरी हो रही है। ऐसे लोगों पर रासुका लगाई जाना चाहिए।

Kolar News

Kolar News 30 April 2021

भोपाल। वित्त, वाणिज्यिक कर, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी एवं कोविड प्रभारी मंत्री जगदीश देवड़ा ने मंदसौर जिले में मल्हारगढ़ तहसील के अंतर्गत नारायणगढ़ में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किये जाने की स्वीकृति प्रदान की है। मंत्री देवड़ा ने प्लांट की स्थापना के लिये 50 लाख 31 हजार की राशि अपनी विधायक निधि से स्वीकृत की है।   मंत्री देवड़ा ने राशि स्वीकृत करने के लिये कलेक्टर मंदसौर को लिखित में सूचित किया है। साथ ही मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को तत्काल कार्यवाही के लिये निर्देश भी दिये है। वित्त मंत्री के निर्देश पर जिला प्रशासान एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिये स्थल अवलोकन भी किया जा चुका है। मंत्री देवड़ा ने कहा कि नारायणगढ़ में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित हो जाने से नगरवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिल सकेगी।

Kolar News

Kolar News 29 April 2021

देवास। मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी के भयानक दौर में लगातार निधन की खबरें सामने आ रही हैं। महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष मांडवी चौहान के बाद अब एक और दिग्गज कांग्रेसी नेता का कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया। देवास जिले के दिग्गज कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक ठा.राजेंद्र सिंह बघेल का निधन हो गया है। बघेल ने गुरुवार को अंतिम सांस ली। वे पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे। उनके निधन के बाद पार्टी और जिले में शोक की लहर है।   राजेंद्र सिंह बघेल पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के खास सहयोगी थे। जिले में अपनी दबंग कार्यशैली के लिए वे जाने जाते रहे हैं। वे कुछ समय से बीमार थे और आज इंदौर के एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। बघेल के पुत्र कु.राजवीर सिंह बघेल बीते हॉटपिपल्या उपचुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार थे। उनके निधन के समाचार से पूरे इलाके में शोक की लहर है। प्रदेश कांग्रेस समेत भाजपा नेताओं ने उनके निधन पर दुख व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि दी है।   पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पूर्व विधायक को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट कर लिखा, पूर्व विधायक व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजेन्द्र सिंह बघेल के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ। उनका निधन कांग्रेस परिवार के लिए बड़ी क्षति है। परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं। ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें और परिजनों को यह दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करें।   पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने शोक संदेश में कहा, मेरे परम मित्र और सहयोगी पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह बघेल के निधन का समाचार सुनकर बेहद दुख हुआ। मुझे व मेरे समस्त परिवार जनों को निजी क्षति हुई है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।   मुख्यमंत्री चौहान ने जताया दुखमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कांग्रेस नेता के निधन पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा, हाटपिपल्या के पूर्व विधायक राजेन्द्र सिंह बघेल के निधन की दु:खद सूचना मिली है। ईश्वर दिवगंत आत्मा को शांति दें और शोकाकुल परिजनों को इस गहन दु:ख को सहने की क्षमता दें, यही प्रार्थना है।

Kolar News

Kolar News 29 April 2021

भोपाल। मप्र के जेल एवं गृहमंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा गुरुवार सुबह 11.00 बजे भोपाल सेंट्रल जेल पहुंचे। यहां उन्होंने जेल का भ्रमण कर कैदियों का हालचाल जाना।   उन्होंने कहा कि जेल के बंदी भी उनके परिजनों की तरह ही है। कोरोना संकट की घड़ी में उनकी चिंता करना हमारा दायित्व है, इसीलिए आज जेल का भ्रमण कर उनका हालचाल जाना है। इस दौरान गृहमंत्री ने जेल प्रबंधन को कैदियों की सुरक्षा को लेकर सभी आवश्यक प्रबंध करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि बंदियों के परिजनों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। जेल प्रशासन सभी आवश्यक  सुविधाएं मुहैया करा रहा है और किसी को भी किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं आने दी जाएगी ।

Kolar News

Kolar News 29 April 2021

भोपाल।  भारतीय जनता पार्टी सेवा ही संगठन अभियान-2 के अंतर्गत कोरोना महामारी के पीड़ितों की सेवा के लिए प्रदेश भर में अभियान चला रही है। इसी अभियान के अंतर्गत पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने एक व्हाट्सएप नंबर और चेट मोड लिंक जारी की है। इन दोनों ही माध्यमों से अपनी समस्या पार्टी तक पहुंचाकर सहायता प्राप्त कर सकता है।   इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि भाजपा ने सेवा ही संगठन अभियान-2 के अंतर्गत एक व्हाट्सएप हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इस वाट्सएप नंबर 9893638888 के माध्यम से लोगों की जो भी समस्याएं जो आयेंगी उन्हें कॉल सेंटर के माध्यम से हल करने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने कहा कि मैं भाजपा के कार्यकर्ता और आम नागरिकों से अपील करता हूं कि इस नंबर पर वाट्सअप करेंगे तो समस्या का समाधान निकालने का प्रयास किया जायेगा।   शर्मा ने कहा कि भाजपा के कोविड सहायता केन्द्र में चेट मोड लिंक  https://bit.ly/3tUfyYZ  के माध्यम से भी लोगों की समस्याओं को जानने का प्रयास किया जा रहा है। इस चेट मोड लिंक पर जो  भी समस्याएं आएंगी, उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से हल किया जाएगा और पार्टी कार्यकर्ता उस समस्या को हल करने का हरसंभव प्रयास करेंगे।     शर्मा ने कहा कि इस महामारी के संकट में भारतीय जनता पार्टी पीड़ितों की सेवा और सहायता के लिए हमेशा तत्पर है। आपकी जो भी आवश्यकताएं और समस्याएं है,  उन्हें इस वाट्सअप नंबर और चेट मोड लिंक के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी तक पहुंचायें, उनके समाधान का पूरा प्रयास किया जाएगा।

Kolar News

Kolar News 28 April 2021

भोपाल। मध्‍य प्रदेश के जिन जिलों के जिन क्षेत्रों में संक्रमण दर अधिक है वहाँ  'किल कोरोना अभियान-2' चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत रीवा, सीहोर, सतना, रायसेन, दतिया, अनूपपुर, नीमच, शिवपुरी, नरसिंहपुर और श्योपुर आदि जिले हैं। उक्‍त जानकारी मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दी है।    मुख्‍यमंत्री ने बुधवार बताया कि सभी अधिकारियों एवं जिम्‍मेदार लोगों को बता दिया गया है कि संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में माइक्रो कन्टेनमेंट क्षेत्र घोषित कर संक्रमण को वहीं रोक दें। सर्वे में संभावित मरीजों को तत्काल मेडिकल किट एवं सावधानी संबंधी ब्रोशर उपलब्ध करावाकर होम आईसोलेट करायें।   होम आइसोलेशन एवं कोविड सेंटर्स हों सक्रिय- चौहान ने कहा कि प्रदेश में आज तक 69 हजार मरीज होम आइसोलेटेड हैं। प्रयास यह होना चाहिए कि मरीजों को अस्पताल ले जाने की जरूरत नहीं पड़े। वे होम आइसोलेशन में ही ठीक हो जायें। होम क्वारेन्टाइन एवं कोविड केयर सेंटर में मरीजों की देखभाल के लिए उनसे सतत संवाद रखें। जिन क्षेत्रों में संक्रमण केस अधिक आ रहे हैं, वहाँ माइक्रो प्लानिंग कर माइक्रो कन्टेन्मेंट एरिया बनायें। नए केस नहीं बढ़ने देना है, जहाँ कोरोना हो वहीं उसे खतम करें।   रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं ऑक्सीजन की आपूर्ति- मुख्यमंत्री श्री शिवराज ने यह भी कहा है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन के उपयोग के लिए निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन कराये। अनावश्यक रूप से इंजेक्शन की माँग पर अंकुश लगायें। इंजेक्शन उसे मिले जिसे जरूरत हो और उतना जितनी आवश्यकता हो। सप्लाई एवं वितरण की अनावश्यक प्रतिस्पर्धा की प्रवृति जिले नहीं रखें। जितनी आवश्यकता हो उतना ही माँग रखें।   सभी संभाग में बनेगा बड़ा ऑक्सीजन प्लाँट- चौहान का कहना यह भी है कि प्रत्येक संभाग में अधिकतम 6 माह में एक-एक बड़ा ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया जाये। उसके लिए स्थान सुनिश्चित करें। पीथमपुर में पुराने गैस प्लांट को सुधारा गया है, जिससे 30 से 32 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त होगी। मालनपुर में भी ऐसे ही प्रयास किये गये हैं। बीना रिफायनरी में ऑक्सीजन तो है परंतु उसे टैंकर में नहीं भरा जा सकता है अत: वहीं पर हॉस्पिटल निर्माण कराया जा रहा है। ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए हम रेल, सड़क और वायु मार्ग से जरूरी ऑक्सीजन प्राप्त कर रहे हैं। इसके साथ ही भारत सरकार के साथ समन्वय कर आपूर्ति के प्रयास जारी हैं।   सरकार चल रही इन लक्ष्‍यों को सामने रखकर-  किसी भी कीमत पर संक्रमण की चेन तोड़ना। जिलों में पॉजिटिवटी दर को तेजी से घटाना। जहाँ-जहाँ संक्रमण अधिक है, वहाँ माइक्रो कन्टेनमेंट एरिया बनाना। होम आइसोलेशन और कोविड केयर सेंटर में ही लोगों को स्वस्थ करना। कोरोना कर्फ्यू में सख्ती बढ़ाकर लोगों का अनावश्यक मूवमेंट बंद करना। किल कोरोना अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन कर हर संभावित मरीज की पहचान। अस्पताल में बेड्स, ऑक्सीजन और दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करना। नागरिकों की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि।

Kolar News

Kolar News 28 April 2021

गुना। कोरोना संक्रमण की बढ़ती विपदा के बीच राघौगढ़ सहित ब्लाक के विभिन्न गांवों का जायजा लेने के बाद पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं राघौगढ़ विधायक जयवर्धन सिंह जामनेर स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचे। उन्होंने यहां स्वास्थ्य सुविधाओं का निरीक्षण किया। विधायक ने यहां मौजूद चिकित्सक एवं स्टाफ से चर्चा की और संक्रमण काल में सुविधाओं और संसाधनों की कमी को जाना। कर्मचारियों ने अपनी समस्याएं भी बताईं, जिसे शीघ्र पूरा करने विधायक ने समस्याओं को दूर करने आश्वासन दिया। संक्रमण काल में बेहद आवश्यक जीवन रक्षक दवाओं की आपूर्ति कराने की भी बात उन्होंने की।  विधायक सिंह ने कोविड की जानकारी दवाई, ऑक्सीजन को लेकर डॉ. देवेंद्र सोनी से चर्चा की। उन्होंने कहा कि अस्पताल में अगर कोई दिक्कत आ रही है तो इसको लेकर आप कभी भी मुझे बता सकते हैं। विधायक ने कहा कि इस कोरोना महामारी से बचने हम सबको बहुत ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है। ऑक्सीजन और दवाई का अस्पतालों में टोटा पड़ा हुआ है, लेकिन मैं हमेशा आपकी सेवा में तत्परता से खड़ा हूं। जब भी कोई जरूरत पड़े तो मुझे आप कभी भी फोन कर सकते हैं या मेरे पास आ सकते हैं। मैं हरसंभव मदद करने का प्रयास करूंगा।  विधायक ने कथा व्यास पं. चंपालाल व्यास के घर जाकर शोक संवेदना व्यक्त की। सिंह ने डॉ. सोनी को जामनेर छात्रावास को कोविड-19 सेंटर बनाने को कहा। इस दौरान उन्होंने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में निर्मित टीन शेड देखा जो उनकी विधायक निधि से तैयार किया गया है। इससे अब मरीजों को बाहर धूप और बारिश से बचाव हो सकेगा। उन्होंने इसके बाद नए पंचायत भवन में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।  इस अवसर पर सरपंच प्रतिनिधि कल्याण सिंह यादव के साथ पंचायत मेंबर मोनू मेर ने विधायक को कस्बे में गहरा रहे जल संकट से अवगत कराया। इस पर विधायक ने तुरंत वरिष्ठ अधिकारियों से फोन लगाकर समस्या हल करने के निर्देश दिए।  इस दौरान महेंद्र सिंह वापचा, कल्याण सिंह यादव राजकुमार जैन, शिवचरण धाकड़, विपिन शर्मा, राजू सैनी, जंगसिंह यादव सहित अन्य मौजूद रहे।

Kolar News

Kolar News 28 April 2021

भोपाल। मध्‍य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार होम आइसोलेट कोरोना मरीजों को मेडिकल किटों का वितरण जारी है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया है कि अभी तक 52 जिलों में एक लाख 2 हजार 897 मेडिकल किट वितरित की जा चुकी हैं।।   सिंह  ने बताया  है कि  18 अप्रैल से 26 अप्रैल के मध्य नगरीय क्षेत्रों में फ़ीवर क्लीनिक व होम डिलीवरी के माध्यम से एक लाख 2  हजार 897 मेडिकल किट कोविड मरीज़ों को उपलब्ध कराई गई हैं।    उन्होंने  जानकारी दी है कि  18 अप्रैल को 12 हजार 583, 19 अप्रैल को 16 हजार 914, 20 अप्रैल को 11 हजार 465, 21 अप्रैल को 10 हजार 327, 22 अप्रैल को 11 हजार 76,  23 अप्रैल को 11 हजार 17,  24 अप्रैल को 10 हजार 658, 25 अप्रैल को 9 हजार 497 और 26 अप्रैल को 9 हजार 360 कोविड मरीजों को मेडिकल किट वितरित की गई हैं।    

Kolar News

Kolar News 27 April 2021

इंदौर। वरिष्ठ भाजपा नेता और किसान नेता प्रेम नारायण पटेल का मंगलवार सुबह निधन हो गया। वे धाकड़ समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रह चुके थे। इसके अलावा भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष, धाकड़ महासभा के प्रदेश अध्यक्ष (युवा), देपालपुर विधानसभा से दो बार चुनाव लड़ चुके, पूर्व विधायक मनोज पटेल के काका थे। उनके निधन पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दुख जताते हुए विनम्र श्रद्धांजलि दी है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि देते हुए अपने संदेश में कहा ‘मप्र भाजपा परिवार के हमारे कर्मठ साथी, श्री प्रेम नारायण पटेल जी के निधन से दु:ख पहुंचा है। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन पीड़ा सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। विनम्र श्रद्धांजलि!   सीएम शिवराज ने एक अन्य ट्वीट में लिखा ‘मेरे मित्र, भाजपा के वरिष्ठ नेता और धाकड़ समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहे, श्री प्रेम नारायण पटेल जी का संपूर्ण जीवन जनसेवा, असमर्थों के उत्थान व प्रदेश की उन्नति के लिए समर्पित था। श्री प्रेम नारायण पटेल जी के रूप में प्रदेश ने आज अपने एक अमूल्य रत्न को खो दिया। वे अपने पुण्य विचारों और कार्यों के माध्यम से सदैव हमारे दिलों में रहेंगे।

Kolar News

Kolar News 27 April 2021

भोपाल। मध्‍य प्रदेश के शहरों पर विशेष फोकस करने के बाद अब कोरोना टीकारण के लिए ग्रामीण क्षेत्रों पर विशेष ध्‍यान दिया जाएगा। इसके लिए सोमवार को विशेष कार्ययोजना बनाई गई। रेसीडेंसी कोठी इंदौर में आयोजित बैठक में इंदौर के प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट ने प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोरोना की वर्तमान स्थितियों की समीक्षा करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना के उपचार और शहरी क्षेत्र में माइक्रो कंटेंनमेंट ज़ोन के संबंध में विशेष तौर पर योजना बनाई है । साथ ही एक मई से प्रारंभ हो रहे वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाने पूरा खाका तैयार किया गया ।    मंत्री सिलावट ने निर्देश दिये कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड मरीज पाये जाने पर उन्हें तत्काल कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि वर्तमान में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 46 माइक्रो कंटेनमेंट झोन बनाये गये है, इसके अतिरिक्त लगभग 25-30 क्षेत्रों को चिन्हित कर उन्हें भी माइक्रो कंटेनमेंट झोन बनाये जाने की कार्यवाही कर सख्ती से पालन कराया जाये।   उन्होंने जनता कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराने के भी निर्देश दिये। साथ ही उल्लंघन करने पर दण्ड स्वरूप सांकेतिक रूप से अस्थाई जेल भेजने के भी निर्देश दिये, ताकि जनता कर्फ्यू का सख्ती से पालन किया जा सके। इस हेतु जनता कर्फ्यू के दौरान पुलिस फोर्स के सहयोग के लिये फॉरेस्ट गार्ड, होम गार्ड, नगर सुरक्षा समिति, एनसीसी कॅडेट की सेवाऐं लेने के भी निर्देश दिये गये ताकि बल की कमी न हो सके।   रेमडेसिविर कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध रासुका की कार्रवाई हो  श्री सिलावट ने निर्देश दिये कि रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध रासुका की कार्रवाई की जाये। उन्होंने कलेक्टर श्री मनीष सिंह को ऑक्सीजन ऑडिट एवं स्टेप डाउन की समुचित व्यवस्था करने एवं निगरानी रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अस्पतालों के बाहर मरीजों के परिजनों के लिये टेंट लगाकर, बैठने एवं पानी इत्यादि की समुचित व्यवस्था की जाये। उन्होंने वैक्सीनेशन अभियान को शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में प्रभावी रूप से संचालित करने के निर्देश भी दिये।   मंत्री सिलावट ने बैठक में कहा कि होम आइसोलेशन की समुचित व्यवस्था की समीक्षा प्रतिदिन मेरे द्वारा कंट्रोल सेंटर पर जाकर की जा रही है तथा प्रतिदिन 25-30 मरीजों से मेरे द्वारा विडियो कालिंग पर चर्चा भी की जा रही है। उनकी कठिनाईयों एवं परेशानियों को तुरंत हल करने तथा होम आइसोलेशन में मरीजों का मनोबल बढाने हेतु प्रतिदिन 2 बार फोन पर बात करने के निर्देश भी मेडिकल टीम को दिये गये।

Kolar News

Kolar News 26 April 2021

भोपाल। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार को मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (मेनिट) में पुलिस विभाग के लिये तैयार किये गये कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया। उन्होंने कोरोना प्रोटोकॉल अनुसार पीपीई किट पहनकर जवानों से उनका हालचाल जाना।    इस दौरान डॉ. मिश्रा ने उपचाररत पुलिस जवानों की हौंसला अफजाई करते हुए कहा कि शीघ्र ही सभी जवान स्वस्थ होकर अपने घर लौटेंगे। सभी और अधिक हौंसले और जज्बे के साथ अपने कर्त्तव्यों को अंजाम देंगे।    उल्‍लेखनीय है कि मेनिट में कोविड-19 से पीड़ित जवानों के लिये 100 बिस्तरीय केयर सेंटर बनाया गया है। इसके पूर्व दतिया में भी शनिवार को डॉ. मिश्रा ने जिला अस्पताल और एक अन्य कोविड केयर सेंटर का अवलोकन कर उपचाररत लोगों को ढाँढस बँधाते हुए शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करने पहुंचे थे। 

Kolar News

Kolar News 26 April 2021

भोपाल। मध्‍य प्रदेश में घरों में होम कोरंटाइन मरीजों को निगम द्वारा मेडिकल किट वितरित करने का सिलसिला जारी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार अब तक होम आइसोलेट कोरोना मरीजों को मेडिकल किटों का वितरण अनवरत जारी है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने सोमवार को बताया है कि अभी तक 52 जिलों में 93 हजार 537 मेडिकल किट वितरित की जा चुकी हैं।।   श्री सिंह  ने बताया  है कि  18 अप्रैल से 25 अप्रैल के मध्य नगरीय क्षेत्रों में फ़ीवर क्लीनिक व होम डिलीवरी के माध्यम से 93  हजार 537 मेडिकल किट कोविड मरीज़ों को उपलब्ध कराई गई हैं। उन्होंने  जानकारी दी है कि  18 अप्रैल को 12 हजार 583, 19 अप्रैल को 16 हजार 914, 20 अप्रैल को 11 हजार 465, 21 अप्रैल को 10 हजार 327, 22 अप्रैल को 11 हजार 76,  23 अप्रैल को 11 हजार 17,  24 अप्रैल को 10 हजार 658 और 25 अप्रैल को 9 हजार 497 कोविड मरीजों को मेडिकल किट वितरित की गई हैं।    

Kolar News

Kolar News 26 April 2021

भोपाल। पश्चिम मध्य रेलवे की स्थायी समिति की आज बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में समिति की सदस्य भोपाल सांसद माननीय प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी वर्चुअली शामिल हुई। बैठक के दौरान सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए भोपाल रेलवे स्टेशन की तरह सीहोर रेलवे स्टेशन पर भी आइसोलेशन कोच लगाने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने रेलवे द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों की गति धीमी होने पर नाराजगी जाहिर की है और जल्द से जल्द उन्हें पूरा करने के लिए कहा। रेलवे स्थायी समिति की बैठक में सासंद प्रज्ञा ने सीहोर स्टेशन की नई बिल्डिंग के कार्य में अपेक्षित गति नही होने और कार्य संपन्न होने में लग रही देरी पर नाराजगी जताई। उन्होंने कार्य को तीव्रता से पूर्ण कर बिल्डिंग का निर्माण कराये जाने के लिए निर्देशित किया। इसके अलावा सांसद प्रज्ञा ने रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर पैसेंजर गाइडेंस (डिस्प्ले फॉर कोच) लगाने, फन्दा रेलवे स्टेशन पर जनहित को ध्यान में रखते हुए शेड का निर्माण कार्य करवाने और यात्रियों की सुविधा को देखते हुए फन्दा रेलवे स्टेशन पर इंदौर- भोपाल की ओर आने जाने वाली रेलगाडिय़ों का स्टापेज देने की मांग की। सांसद प्रज्ञा ने सीहोर नगर के व्यावयायिक एवं पर्यटन महत्व को देखते हुए यात्रियों की सुविधानुसार यहां से गुजरने वाली भुज शालीमार एक्सप्रेस नं. 22829, इंदौर- गोहाटी एक्सप्रेस नं. 19305, इंदौर-यशवंतपुर एक्सप्रेस नं. 19301/02, क्षिप्रा एक्सप्रेस नं. 22911, अहिल्या नगरी एक्सप्रेस नं. 22645, जयपुर हैदराबाद एक्सप्रेस नं. 12719, जबलपुर- बांदा एक्सप्रेस नं. 01706 को भी स्टापेज देने की मांग रखी। रेलवे प्रबंधन द्वारा सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को शीघ्र ही सभी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया गया है।

Kolar News

Kolar News 26 April 2021

भोपाल। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कोरोना संक्रमण को रोकने एवं संक्रमित मरीजों के लिए उपलब्ध करवाई जा रही चिकित्सा सुविधाओं की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया है कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मोहल्ला क्लीनिकों का भी सहयोग लें। मोहल्ला क्लीनिकों पर कोरोना की जाँच की व्यवस्था भी हो, जिससे जिला चिकित्सालय पर अनावश्यक दबाव न रहे। उन्होंने निजी चिकित्सकों की बैठक कर इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करने को कहा है। मंत्री डॉ. मिश्रा शनिवार को मेडिकल कॉलेज दतिया में जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति एवं उपलब्ध व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे।   मंत्री डॉ. मिश्रा ने जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड एवं कोविड केयर सेन्टर में भर्ती मरीजों एवं स्वस्थ होकर जाने वाले मरीजों की जानकारी ली। उन्होंने चिकित्सकों को निर्देश दिए कि मरीजों के उपचार में किसी प्रकार की कोताही न हो। दवाइयों, ऑक्सीजन एवं वेंटिलेटर के समुचित प्रबंध सुनिश्चित करें। उन्होंने जिला चिकित्सालय में दवाईयों, रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं गैस सिलेण्डऱों की उपलब्धता के साथ उपलब्ध वेंटिलेटरों की समीक्षा की। डॉ. मिश्रा ने दूरभाष पर संयुक्त संचालक स्वास्थ्य को जिला चिकित्सालय में आवश्यकतानुसार  वेंटिलेटर  की व्यवस्थाएँ तत्काल  सुनिश्चित करवाने को  निर्देशित किया। कलेक्टर को वेंटिलेटर की व्यवस्था पर सतत निगरानी रखने के निर्देश दिए।गैस वेल्डिंग वालों से चर्चा कर आवश्यक सहयोग लेडॉ. मिश्रा ने कहा कि जिले में गैस वेल्डिंग करने वालों से चर्चा कर उनसे आग्रह करें कि इस संकट की घड़ी में उपलब्ध ऑक्सीजन सिलेण्डर मरीजों के उपचार के लिए जिला प्रशासन को उपलब्ध कराने में सहयोग दें।जिले में 200 कोविड बेड का है प्रबंधदतिया कलेक्टर ने जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं लोगों को कोरोना गाइड-लाइन का पालन कराये जाने के लिये संचालित गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में लगभग 200 कोविड बेड की व्यवस्था है, जिसमें 140 मेडीकल कॉलेज में जबकि शेष बेडों की व्यवस्था जिला चिकित्सालय में की गई है। वर्तमान में 99 कोरोना पॉजिटिव मरीज भर्ती है। उन्होंने बताया कि मेडीकल कॉलेज में बनाये गये वार्ड में ऑक्सीजन की सप्लाई पाइप लाइन के और जिला चिकित्सालय में सिलेण्डऱ के माध्यम से की जा रही है। जिले में ऑक्सीजन की पर्याप्त और 35 वेटीलेटर की व्यवस्था है। संक्रमण के प्रसार को रोकने घर-घर कराया जा रहा है सर्वेमंत्री डॉ. मिश्रा ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वे करने की व्यवस्था को और पुख्ता करने को कहा है।

Kolar News

Kolar News 24 April 2021

शिवपुरी। गुना-शिवपुरी के सांसद केपी यादव ने शनिवार को शिवपुरी मेडिकल कॉलेज में पहुंचकर जहां आईसीयू वार्ड में पहुंचकर कोरोना मरीजों से मुलाकात की। आईसीयू में पीपीपी किट पहनकर सांसद केपी यादव ने भर्ती मरीजों से बात की और यहां उन्हें दी जा रही स्वास्थ सुविधाओं को लेकर बातचीत की।   सांसद केपी यादव ने शिवपुरी मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर आईसीयू में भर्ती मरीजों का हाल चाल जाना। इस दौरान मरीजों की सेवा कर रहे डॉक्टर्स व पैरामेडिकल स्टाफ  की लगन देखकर उन्होंने डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ की तारीफ की। इस अवसर पर मेडिकल कॉलेज के डीन अक्षय निगम, पुलिस अधीक्षक राजेश चंदेल सहित मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर्स के साथ बैठक कर आ रही समस्याओं को भी जाना।

Kolar News

Kolar News 24 April 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष गिरीश गौतम ने मध्यप्रदेश जोबट विधायक कलावती भूरिया के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि भूरिया अपने क्षेत्र के विकास और जनकल्याण के लिए सतत सक्रिय रहती थीं। उनके निधन से हमने एक ओजस्वी नेता को खो दिया है।   विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि 1990 में सरपंच के रूप में अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत करने वाली कलावती भूरिया आदिवासी समाज के कल्याण एवं उसे समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए सदैव समर्पित एवं सक्रिय रहती थीं। वे झाबुआ जिला पंचायत की अध्यक्ष भी रहीं और 2018 में पहली बार विधायक निर्वाचित हुई थीं। गौतम ने अपने शोक संदेश में कहा है कि प्रभु स्व. कलावती भूरिया को श्री चरणों में स्थान प्रदान करें और उनके परिवार को यह शोक सहन करने की शक्ति दें।

Kolar News

Kolar News 24 April 2021

भोपाल। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि 24 अप्रैल से 9 मई तक सभी जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में किल कोरोना अभियान-2 चलाया जाएगा।   उन्होंने बताया कि अभियान के अंतर्गत समस्त जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में जिला कलेक्टर तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा चयनित हॉट स्पॉट, जहाँ कोविड-19 पॉजिटिविटी दर में वृद्धि हो रही हो, में कोविड-19 की ट्रांसमिशन चेन को तोडऩे हेतु गठित दल द्वारा घर-घर जाकर बुखार के लक्षण वाले कोरोना के संभावित रोगियों की खोज की जाएगी।   मुख्यमंत्री ने की अभियान में सहयोग की अपीलमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोडऩे और घर-घर जाकर संभावित रोगियों की पहचान एवं उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये किल कोरोना अभियान-2 प्रांरभ किया जा रहा है। इस अभियान में प्रशासन द्वारा गठित प्रशिक्षित दल गाँव-गाँव जाकर सर्वे करेगा। जिस विकासखंड में कोरोना के पॉजिटिव प्रकरण या सर्दी, खाँसी, जुकाम से प्रभावित अधिक व्यक्ति होंगे, वहाँ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, आँगनवाड़ी कार्यकर्ता और स्वास्थ्य विभाग का अमला प्रभावित लोगों को मेडिकल किट उपलब्ध करवायेगा। मुख्यमंत्री ने जन-प्रतिनिधियों, समाजसेवी संगठनों, कोरोना वॉलेंटियर्स और आम नागरिकों से अपील की है कि सभी मिलकर किल कोरोना अभियान-2 को सफल बनाये।   स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि किल कोरोना अभियान-2 के लिये प्रदेश के सभी जिलों में दलों का गठन कर प्रशिक्षित किया गया है। प्रशिक्षित दल विकासखंडवार अभियान को संचालित करेंगे। अभियान में शामिल स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा आशा कार्यकर्ताओं के पास पर्याप्त सर्वेलेंस के संसाधन ( Non Contact Thermometer, Pulse Oximeter, Triple Layer Mask, Face Shields, Gloves) एवं उपचार हेतु आवश्यक औषधियाँ भी उपलब्ध रहेंगी। अभियान में जन-प्रतिनिधियों, एनजीओ तथा सामाजिक कार्यकर्ताओं का सहयोग भी लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभियान का उद्देश्य संभावित संक्रमित तथा कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों को समुदाय से पृथक रखकर संक्रमण की चेन को तोडऩा है।स्वास्थ्य मंत्री द्वारा सभी जिला कलेक्टर्स एवं स्वास्थ्य विभाग के अमले को निर्देशित किया गया है कि अभियान का संचालन पूरी गंभीरता से किया जाए। पूरा प्रदेश-देश एवं संपूर्ण विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। संकट की इस घड़ी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में कोरोना महामारी से निपटने के लिए जरूरी संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित कर रहे हैं। डॉ. चौधरी ने कहा कि इसके बावजूद हम सबको सतर्कता बरतना बहुत जरूरी है। प्रत्येक व्यक्ति को अपनी नैतिक जवाबदारी के साथ कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए दूसरों को भी उसका पालन करने की समझाइश देना होगी। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये प्रदेश में आईआईटीटी की रणनीति के तहत Identification, Isolation, Testing तथा Treatment का पालन किया जा रहा है। इसके तहत मरीजों की शीघ्र पहचान कर त्वरित उपचार की व्यवस्था की जा रही है।      

Kolar News

Kolar News 23 April 2021

भोपाल। पशुपालन एवं सामाजिक न्याय मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने शुक्रवार को बड़वानी जिला चिकित्सालय को कोलकाता से मंगवाए गए 100 ऑक्सीजन कंसंनट्रेटर, 25 बाई पेप और 5 वेंटिलेटर प्रदान किए। मंत्री पटेल ने अस्पताल में उपचाररत मरीजों को अपने समक्ष मशीन लगवाई। ऑक्सीजन कंसंनट्रेटर स्वत: ही हवा के माध्यम से प्रति मिनट लगभग 4-5 लीटर ऑक्सीजन बनाएगा, 100 मशीनों के द्वारा 100 मरीजो को 24 घण्टे पर्याप्त  ऑक्सीजन उपलब्ध होगी।बड़वानी जिले के कोविड- प्रभारी मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए बड़वानी जिले में पर्याप्त व्यवस्थाएँ की जा रही है। राज्यसभा सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, सांसद गजेन्द्र सिंह  पटेल, भाजपा जिलाध्यक्ष ओम प्रकाश सोनी और कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 23 April 2021

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग को भोपाल में विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से कोविड सेंटर का निर्माण और भोपाल के अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने की जिम्मेदारी दी गई है। इसी के मद्देनज़र गुरूवार को उनके निवास पर बैठक रखी गई।मंत्री श्री सारंग के साथ बैठक में कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया सहित मध्यप्रदेश नर्सिंग होम एसोसिएशन भोपाल ब्राँच के सदस्य उपस्थित थे। बैठक में निर्णय लिया गया कि सी.पी.ए. के गेस्ट हाउस, पी.डब्ल्यू.डी. गेस्ट हाउस, पलाश होटल आदि को कोविड केयर सेंटर बनाया जायेगा। कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीजों के चिकित्सकीय सहायता के लिये एसोसिएशन के सदस्यों ने रजामंदी दी है।श्री सारंग ने बताया कि जल्द ही दो हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध होने वाले हैं। साथ ही इन सेंटरों के लिये स्टाफ भी उपलब्ध करवाया जायेगा। बैठक में डॉ. एस.पी. दुबे, डॉ. अभिजीत देशमुख, डॉ. अनूप हजेला, डॉ. संजय गुप्ता, डॉ. शेखर श्रीवास्तव, डॉ. रणधीर सिंह, डॉ. शैलेश लुनावत, डॉ. राहुल खरे, डॉ. उमेश शारदा, डॉ. मनोज वर्मा और श्री राजीव मिश्रा उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 22 April 2021

भोपाल। भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी को झूठ बोलने के कारण कोरोना होने के बयान पर मप्र कांग्रेस ने नाराजगी जाहिर की है और इसे देश की दो करोड़ संक्रमितों का अपमान बताया है। प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने विजयवर्गीय के बयान पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि कैलाश विजयवर्गीय अपने अहंकारी होने का परिचय दिया है। ऐसा बोलकर उन्होने अपने घमंड को तुष्ट किया है। दंभ से आदमी फूल तो सकता है, फल नहीं सकता। जिसने गर्व किया उसका पतन निश्चित है। भूपेंद्र गुप्ता ने गुरुवार को बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भाजपा सरकार के सर्वशक्तिमान अमित शाह, नितिन गडकरी, प्रहलाद पटेल, धर्मेंद्र प्रधान, गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, श्रीपद नायक, कैलाश चौधरी, बनवारीलाल पुरोहित, शिवराज सिंह चौहान, कमल रानी  बनोद, स्वतंत्र देव सिंह, बीसी पाटील, सीटी रवि, येदुरप्पा, आनंद सिंह, तुलसी सिलावट, जय प्रताप सिंह आदि क्या कोरोना संक्रमित इसलिये हुये कि वे लगातार झूठ बोल रहे थे। कैलाश विजयवर्गीय क्या यही कहना चाहते हैं?उनके अनुसार क्या ये सभी लोग झूठ का पुलिंदा हैं। कांग्रेस नेता ने यह भी सवाल पूछा कि अगर झूठ से भी बड़ा कोई पाप होता हो तो बतायें कि इस बीमारी से शिवलोक गामी हुए उनकी सरकार के मंत्रियों ने ऐसा क्या अपराध किया था कि उन्हें कोरोना हुआ। विजयवर्गीय ने ऐसा कहकर उन तमाम लोगों का अपमान किया है जिनकी सरकार की गफलत के चलते कोरोना से मृत्यू हुई है। उनमें अगर थोड़ी सी भी शरम बाकी हो तो उन्हें अपने इस अहंकारी बोल के लिये देश की जनता के सामने घुटने टेककर क्षमा याचना करना चाहिये। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि सत्ता का मद जब सर चढक़र बोलने लगता है और जब व्यक्ति बीमारों का उपहास उड़ाने लगता है तब दिव्य शक्तियां रोती हैं और आसुरी प्रवृत्तियों को नष्ट करती हैं।  गुप्ता ने कहा प्रकृति सब देख रही है और दंभ का सर कुचलने की तैयारी कर रही है। जब लोगों को ईश्वर के श्री चरणों में प्रार्थना निवेदन करना चाहिए तब हुंकारें भरना सात्विक व्यक्तियों का कार्य नहीं है।

Kolar News

Kolar News 22 April 2021

भोपाल। सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ. अरविन्द सिंह भदौरिया ने गुरूवार को अरेरा हिल्स स्थित मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ सर्विसेस कॉर्पोरेशन लिमिटेड के कार्यालय पहुँच कर ऑक्सीजन की उपलब्धता के संबंध में अधिकारियों से चर्चा की।   अधिकारियों द्वारा मंत्री डॉ. भदौरिया को जानकारी दी गई कि प्रदेश में ऑक्सीजन की प्रतिदिन की माँग लगभग 397 मीट्रिक टन है, जबकि आपूर्ति लगभग 400 मीट्रिक टन है। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश और राजस्थान आदि प्रदेशों की सीमा पर परिवाहन विभाग एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को ऑक्सीजन की निर्वाध आपूर्ति के लिए तैयार किया गया है। ऑक्सीजन टैंकर की उपलब्धता बढ़ाने के लिए अधिकारियों के आग्रह पर मंत्री डॉ. भदौरिया ने आश्वस्त किया कि टैंकर के लिए भारत सरकार के मंत्रियों एवं उद्योगो से जुड़े व्यक्तियों से चर्चा कर टैंकर की उपलब्धता बढ़ाई जाएगी।

Kolar News

Kolar News 22 April 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने सरकार से मांग की है कि मेडिकल कॉलेजों में लगाई जाने वाली सीटी स्कैन की मशीनें स्थाई तौर पर खरीद कर लगाई जायें ना कि पीपीपी मॉडल पर।   भूपेन्द्र गुप्ता ने मंगलवार को अपने बयान में कहा कि मेडिकल कॉलेज किसी भी प्रदेश में डॉक्टर निर्मित करने वाले शिक्षा संस्थान होते हैं। जहां पर प्रयुक्त की जाने वाली मशीनें और स्थाई संयंत्र छात्र चिकित्सकों को मशीनों की बारीकी उनके संचालन और मशीनों में भविष्य में आने वाली तकनीकी समस्याओं की भी जानकारी देते हैं। पीपीपी मॉडल पर लगाई गई मशीनें ना तो छात्रों को शिक्षा में काम आएंगी ना ही इससे बड़ी मात्रा में मरीजों को लाभ पहुंचेगा। मशीनें स्थापित करने वाली कंपनी लाभ कमाकर जरूर इसे आपदा का अवसर बना सकती है।   उन्होंने कहा है कि प्रदेश की जनता जब अपने टैक्स के धन का अंधाधुंध दुरुपयोग झेल सकती है तो इन मशीनों के स्थाई करण की कीमत भी झेल लेगी। कांग्रेस नेता ने सरकार को आगाह किया कि मुख्यमंत्री की सारी मानवीय कोशिशों के बावजूद अफसरशाही के इस तरह के फैसले मध्यप्रदेश को शिक्षा और सेवा पहुंचाने की बजाय एक और प्रॉफिट सेंटर बना देंगे। गुप्ता ने कहा कि इस समय लोकप्रिय फैसलों से अधिक लोकहित के फैसले लिए जाना जरूरी है।

Kolar News

Kolar News 20 April 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष माननीय गिरीश गौतम ने रीवा के श्यामशाह मेडिकल कॉलेज में कोविड-19 के उपचार के लिए आवश्यक उपकरणों की खरीदी के लिए अपनी विधायक निधि से 50 लाख रुपये की धनराशि प्रदान की है। रीवा जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर विस अध्यक्ष ने कहा है कि उपचार के लिए आवश्यक उपकरणों की खरीद शीघ्र सुनिश्चित की जाए ताकि विंध्य अंचल में कोविड-19 की विभिषिका झेल रहे आमजन को पर्याप्त उपचार समय पर प्राप्त हो सके। गिरीश गौतम ने इससे पूर्व श्यामशाह मेडिकल कालेज के अधिष्ठाता डा मनोज इंदुलकर को भी पत्र लिखकर कोविड-19 के उपचार में आवश्यक उपकरणों की सूची मांगी थी। उन्होंने अपने पत्र में रीवा कलेक्टर को निर्देशित किया है कि जिन उपकरणों की आवश्यकता है उसकी जानकारी तत्काल प्रेषित करें एवं चूंकि वे योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी के भी प्रभारी है इसलिए मेरे विधानसभा क्षेत्र देवतालाब की विधायक निधि से 50 लाख रुपये तक की कटौती करके इन उपकरणों की आपूर्ति करें।  विस अध्यक्ष ने रीवा कलेक्टर को यह भी आश्वस्त किया है कि यदि अतिरिक्त धनराशि की आवश्यकता है तो उसके बारे में भी सूचित करें, ताकि उसकी भी व्यवस्था की जा सके। गिरीश गौतम ने कहा है कि इस प्रतिकूल परिस्थिति में उनकी पहली प्राथमिकता क्षेत्र की जनता को उत्तम स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करके उनकी जान बचाना है एवं इसके लिए वे सदैव तत्पर हैं।

Kolar News

Kolar News 20 April 2021

भोपाल। कांग्रेस ने कोविड संक्रमण के बीच प्रदेश में चरमराई स्वास्थ्य सेवा को लेकर अस्पतालों में चारों तरफ अराजकता फैलने का आरोप लगाया है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा है कि एक कहानी खत्म नहीं हो पाती और दूसरी शुरू हो जाती है। अभी शहडोल में आक्सीजन की कमी से हुई 20 से अधिक मौतों की चिता की आग शांत भी नहीं हुई कि नरसिंहपुर में दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है।   भूपेंद्र गुप्ता ने सोमवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा कि नरसिंहपुर के अस्पताल में 2 दिन से कोरोना संक्रमित मरीज का शव पड़ा रहा, उसी वार्ड में मरीज भर्ती किये जाते रहे और अस्पताल प्रबंधन उस मृतक के संक्रमित भाई को भी भर्ती कर उपचार देने के बजाय मजबूर करता रहा कि वह शव को उठा ले जाए। गुप्ता ने कहा कि मामला तूल पकडऩे के बाद अस्पताल प्रबंधन ने मरीज को अस्पताल में भर्ती किया और शव को कोरोना गाइडलाइन के अनुसार अंतिम संस्कारों के लिए भेजने तैयार हुआ। क्या यह दृश्य मध्य प्रदेश के गौरव को बढ़ाने वाला है? प्रशासन शासन और सच्चे आंकड़ों को छुपाने वाली व्यवस्था के पास इसका क्या जवाब है?   इसके अलावा रेमडेसिविर इंजेक्शन को लेकर हो रही काला बाजारी पर उन्होंने कहा कि जिस इंजेक्शन से डॉक्टर बता रहे हैं कि जान बच सकती है। वह मेडिकल कॉलेज से चोरी हो रहे हैं। अस्पतालों में ऑक्सीजन की जरूरत है और भाजपा के चिल्लर नेता टैंकरों को रास्तों में रोककर घंटों नारियल फोड़ कर नौटंकियां कर रहे हैं, पूजा कर रहे हैं। शिवराज जी आपने तो इन टैंकरों को एम्बुलैंस का दरजा दिया था,एक सशस्त्र गार्ड रास्ते में देने की घोषणा की थी फिर इन आक्सीन टैंकरों का पूजा पाठ किस कानून के तहत भाजपाई कर रहे है?   कांग्रेस नेता ने सवाल उठाते हुए कहा कि मौत के आंकड़े शहडोल मेडिकल कॉलेजों में क्यों बढ़ते जा रहे हैं? इसका जवाब किसी को तो देना होगा। मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों में करोड़ों रुपए की सुरक्षा एजेंसी काम कर रही हैं इसके बावजूद कोरोना मरीज के साथ बलात्कार की कोशिशें हो रही हैं। मीडिया बता रहा है कि लगभग ढेड़ करोड़ मूल्य के चोरी के इंजेक्शन में से दिल्ली तक पहुंच गये हैं और आज तक कोई पकड़ा नहीं गया। उन्होंने कहा कि एक नारकीय अराजकता आकार ले रही है और सरकार उन अफसरों के भरोसे हाथ पर हाथ रखे बैठी है जो व्यवस्था के तोते कब के उड़ा चुके हैं। 

Kolar News

Kolar News 19 April 2021

अनूपपुर। शहडोल मेडिकल कॉलेज में मरीजों की हुई मौत की जानकारी लगते ही प्रभारी मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने रविवार को मेडिकल कॉलेज पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया और बैठक कर समीक्षा के दौरान मरीजों की हुई मौत के मामले में अधिकारियों को दिशा निर्देश दिये। बैठक में विधायक जय सिंह मरावी, मनीषा सिंह,कमल प्रताप सिंह सहित प्रशासनिक अधिकारियों उपस्थित रहे।बैठक में मंत्री ने कहा जो भी कमियां सामने आएं उन्हें तत्काल पूरा करने के लिए मेडिकल कॉलेज के डीन और कलेक्टर शहडोल को निर्देशित किया। मंत्री ने मृतकों के प्रति शोक प्रकट करते हुए कहा कि जो घटना घटित हुई है दोबारा इस तरह की घटना ना हो इसको लेकर प्रशासन को सतर्क रहने की आवश्यकता है। सरकार के पास किसी प्रकार की कोई कमी नहीं है यदि  प्रशासनिक अधिकारियों/ कर्मचारियों की किसी कमी के कारण कोई घटना घटित होती है तो ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Kolar News

Kolar News 18 April 2021

रतलाम। कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए आक्सीजन सिलेंडरों की कमी को देखते हुए विधायक चेतन्य काश्यप ने इसकी उपलब्धता के प्रयास किए।    उन्होंने कहा कि गाजियाबाद से 2200 सिलंडर की आपूर्ति 8-10 दिन के अंदर होने की संभावना है। शहर के महावीर आक्सीजन प्लांट से 1500 सिलेेंडर का टेंकर आ चुका हैै। निजी के साथ शासकीय किसी भी स्तर पर आक्सीजन की कमी ना हो इसके प्रयास लगातार जारी है।    शहर को मिले 13 टन और जल्द आने वाले 20 टन ऑक्सीजन में से शासकीय मेडिकल कालेज के लिए 1000 सिलेंडर अतिरिक्त भरकर रखे जायेंगे और  निजी अस्पतालों को भी ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी, ताकि कहीं भी ऑक्सीजन की कमी ना हो।   काश्यप ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी दूर करने के लिए शुक्रवार रात ही निम्बाहेड़ा से 450 सिलेण्डर की व्यवस्था की गई थी। इसमें से 150 सिलेण्डर रतलाम पहुंच चुके है।

Kolar News

Kolar News 18 April 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने जीवन रक्षक संजीवनी ऑक्सीजन की निरंतर कमी झेल रहे मुख्यमंत्री के सपनों के शहर इंदौर में कल रात को जामनगर से ऑक्सीजन भरकर इंदौर आ रहे टैंकर को धार रोड चौराहे पर रोक कर, भाजपा नेताओं ने जिस प्रकार फोटो बाजी -स्वागत -सत्कार, उसे गुब्बारे से सजाने, नारियल फोडऩे के इवेंट करने में जो समय व्यर्थ किया, उनका यह कृत्य बेहद ही शर्मनाक है और ऐसा कृत्य कर भाजपा नेताओं ने इंदौर को देश भर में शर्मशार भी किया है?   नरेन्द्र सलूजा ने रविवार को एक बयान जारी कर कहा कि एक तरफ पूरे मध्यप्रदेश में अस्पतालों में ऑक्सीजन का भारी संकट व्याप्त है। प्रदेश के भोपाल, जबलपुर, सागर, खरगोन, उज्जैन, खंडवा, शहडोल में ऑक्सीजन की कमी से कई मौत की खबरें सामने आ चुकी है और इंदौर के गुर्जर हॉस्पिटल में भी 5 लोगों की ऑक्सिजन की कमी से मौत की खबर भी पिछले दिनो ही सामने आई थी।    उन्होंने कहा कि वही इंदौर में तकरीबन सभी अस्पताल प्रतिदिन ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं और घंटो ऑक्सीजन का इंतजार करते रहते हैं। ऑक्सिजन की कमी के कारण वे अपने यहां मरीजों को भर्ती करने तक से मना कर रहे हैं। ऑक्सीजन पर टिके हुए मरीजों के लिए बगैर ऑक्सीजन के एक-एक मिनट गुजारना बेहद संकट की बात है और ऐसे में ऑक्सीजन का इंतजार कर रहे शहर के अस्पतालों के लिए आये ऑक्सीजन से भरे टैंकर को चौराहे पर रोक कर, उसके करीब 45 मिनट स्वागत-सत्कार-फोटो बाजी में व्यर्थ कर भाजपा नेताओं ने अपनी असंवेदनशीलता का परिचय दिया है?   श्री सलूजा ने आरोप लगाते हुए कहा कि आपदा के इस संकटकाल में भी भाजपा नेता अवसर ढूंढ रहे हैं, उन्हें जश्न, स्वागत, उत्सव व श्रेय लेने की पड़ी है। यदि वह इस ऑक्सीजन टैंकर का श्रेय ले रहे हैं तो उन्हें ऑक्सिजन की कमी से हो रही हुई मौतों की जवाबदारी भी लेना चाहिए, यश ले रहे है तो अपयश भी ले ? उन्हें उन परिवारों की सुध भी लेना चाहिए जिन्होंने ऑक्सीजन की कमी से अपनों को खोया है। वहीं, सलूजा का कहना है कि इस बात की जांच भी होना चाहिए कि जिस अवधि में भाजपा नेताओं ने ऑक्सीजन के टैंकर को चौराहे पर रोके रखा, उस अवधि में इंदौर में ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत तो नहीं हुई या कोई मरीज ऑक्सीजन के अभाव में अस्पताल में भर्ती होने के लिए तड़पता व भटकता तो नहीं रहा? उन्होंने कहा के संकट के इस दौर में ऑक्सीजन के टैंकर को मध्यप्रदेश सरकार ने एंबुलेंस का दर्जा देकर अत्यावश्यक सेवाओं में शामिल किया है, भाजपा नेताओं के इस गैर जिम्मेदाराना, असंवेदनशील रवैये के लिए उन पर आपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए व भाजपा नेताओं को शहर वासियों से इस अशोभनीय कृत्य के लिए तत्काल माफी भी मांगना चाहिए।  

Kolar News

Kolar News 18 April 2021

भोपाल। राजधानी भोपाल के शासकीय हमीदिया अस्पताल से रेमडेसिविर इंजेक् शन के चोरी होनी की घटना पर कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश अभी तक तो माफिया राज, व्यापम और भ्रष्टाचार के कीर्तिमानों से ही बदनाम था। किंतु इस एक साल के शासन ने तो सारे ही रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। इसी एक साल में मध्यप्रदेश में नकली प्लाज्मा बनाने वाला माफिया पैदा हुआ फिर नकली रेमडेसीविर इंजेक्शन बनाने वाला पैदा हुआ और अब अस्पतालों से रेमडेसीविर चुराने वाले और ब्लैक में बेचने वाले गिरोह भी सामने आने लगे हैं। मध्यप्रदेश के लिए एक राज्य के रूप में इससे अधिक शर्मनाक स्थिति क्या हो सकती है? कि हर व्यक्ति इस आपदा को अवसर समझकर लूटने में लग गया है ।   भूपेन्द्र गुप्ता ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि जब जीवन बचाने की जद्दोजहद में जनता खुद सर पर सिलेंडर रखकर घूम रही है तब जीवन रक्षक दवाओं की चोरी वह भी मेडिकल कॉलेज जैसी जगह पर मध्य प्रदेश के प्रशासन के नाम पर कलंक है। ऐसे मंत्रियों को पद पर बने रहने का क्या औचित्य है ? गुप्ता ने कहा कि पूरी सरकार केवल और केवल चुनाव जीतने में लगी है उसे ना तो मरघट में इंतजार करते शव दिख रहे हैं ना ही उन शवों के कारण हजारों परिवारों की चीत्कार । चंद अधिकारियों की बेजान व्यवस्था मध्य प्रदेश को भी बेदम कर रही है और सरकार उन्हें दुलार रही है।

Kolar News

Kolar News 17 April 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण से हाहाकार मचा है। प्रशासन मौतों पर पर्दा डाल रहा है, जबकि श्मशान में जलती लाशें कोरोना से मौतों की गवाही दे रही हैं। राजधानी भोपाल के श्मसान घाट लाशों के ढेर लगने से हालात ऐसे बने कि अब जगह कम पड़ गई है। शवों के अंतिम संस्कार के लिए घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। भोपाल, जबलपुर समेत कई बड़े शहरों के श्मशान घाटों में शवदाह के लिए लकड़ी का भी टोटा पड़ रहा है। ऐसे हालात में राजधानी के विश्राम घाटों की व्यवस्था को बेहतर करने में भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष और भोपाल पूर्व महापौर आलोक शर्मा जुटे है।   दरअसल शुक्रवार को भोपाल में भदभदा विश्राम घाट में अंतिम संस्कार के लिए लकडिय़ों की कमी हो रही थी। श्मशान घाट ट्रस्ट की मांग पर भोपाल के लिए रायसेन और नर्मदापुरम (होशंगाबाद) से लकड़ी मांगी गई थी लेकिन नर्मदापुरम के वन अधिकारियों ने यह कहते हुए असमर्थता जता दी कि हमारे जिले में भी मामले बढ़ रहे हैं। सूचना मिलते ही भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक शर्मा पांच ट्रक लकड़ी लेकर भदभदा विश्राम घाट पहुंच गए। यहां उन्होंने कोरोना गाइडलाइंस का पालन कर कार्यकर्ताओं के साथ विश्राम घाट में लकड़ी उतरवाई। लगातार विश्राम घाट में अव्यवस्था की मिल रही जानकारी के बाद आलोक शमा खुद मैदान में उतरे। उल्लेखनीय है कि भोपाल महापौर रहते हुए आलोक शर्मा ने विश्राम घाटों के कई विशेष काम किए थे। उन्हें विश्राम घाट वाले महापौर के नाम से भी जाना जाता है। बता दें जिन श्मशान घाटों में सामान्य दिनों में एक महीने में एक हजार क्विंटल लकड़ी लगती थी, वहां अब ढाई से तीन हजार क्विंटल की जरूरत पड़ रही है।

Kolar News

Kolar News 16 April 2021

छतरपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं खजुराहो के सांसद विष्णुदत्त शर्मा शुक्रवार को पन्ना से छतरपुर जाते समय चंद्रनगर स्थित अर्चना वेयर हाउस पर पहुंचे और गेहूं खरीदी का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान शर्मा ने किसानों से बातचीत की और गेहूं खरीदी की लेकर किसानों के लिए पानी और तौल कांटे बढ़ाने जैसी सुविधाओं को इंतजाम करने निर्देश दिए।   सांसद  विष्णुदत्त शर्मा कोरोना महामारी को लेकर अपने संसदीय क्षेत्र कटनी, पन्ना और खजुराहो के प्रवास पर हैं। इसी क्रम में शुक्रवार को पन्ना से खजुराहो जाते समय शर्मा चंद्रनगर में हो रही गेहूं खरीदी केंद्र पर पहुंचे। यहां उन्होंने किसानों से गेहूं खरीदी के बारे में जानकारी ली और उनकी समस्याओं को सुना। निरीक्षण के दौरान उपस्थित गोदाम प्रभारी राम अवतार पाठक ने शर्मा को बताया कि यहां रोजाना करीब 30 किसानों से खरीदी हो रही है। किसानों को मैसेज के माध्यम से सूचना देकर ख़रीदी केंद्र पर अपनी उपज बेचने के लिए बुलाया जाता है। उन्होंने बताया कि इस खरीदी केंद्र पर 4 तौल कांटे हैं, जिससे किसानों को अपनी उपज बेचने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ता है। शर्मा ने इस अवसर पर तौल कांटे बढ़ाने और किसानों के लिए पानी की उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए।इस अवसर प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर, छतरपुर जिलाध्यक्ष मलखान सिंह चौहान, अरविंद पटेरिया सहित अन्य पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 16 April 2021

गुना।  गुना विधायक गोपीलाल जाटव और जिले के आरोन क्षेत्र निवासी भाजपा नेता मुनेश रघुवंशी का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। वायरल ऑडियो में गुना विधायक भाजपा नेता को उसकी औकात बता रहे हैं। साथ ही उसे जड़ से मिटाने की बात कहते हुए सुनाई दे रहे हैं।    दरअसल सोशल मीडिया में एक ऑडियो वायरल हो रहा है। यह ऑडियो पूर्व मंत्री और वर्तमान गुना विधायक गोपीलाल जाटव का बताया जा रहा है। वायरल ऑडियो में विधायक गोपीलाल जाटव एक भाजपा नेता को धमकाते हुए सुनाई दे रहे हैं। ऑडियो में विधायक भाजपा नेता से कह रहे हैं कि तुम्हें तुम्हारी औकात याद दिला दूंगा। वायरल ऑडियो से यह समझ आ रहा है कि किसी दुकान के खुलने को लेकर बातचीत हो रही है। विधायक कह रहे हैं कि मुझे मिट्टी और कूड़े की तरह मत समझना। हम संबंध निभा रहे हैं, की संबंध है। पूछ वो काकाजी से हम संबंध निभा रहे हैं । इसके अलावा विधायक पूर्व विधायक देवेंद्र सिंह रघुवंशी पर भी टिप्पणी करते सुनाई दे रहे हैं। इस टिप्पणी को लेकर जिले का रघुवंशी समाज भी खासा नाराज हो गया है।  हालांकि बाद में एक बयान जारी कर विधायक ने अपने ऑडियो से छेड़छाड़ की बात कहते हुए हमेशा ही रघुवंशी समाज का सम्मान करने की बात कही है।

Kolar News

Kolar News 14 April 2021

भोपाल।  मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। कोरोना से बिगड़े हालातों के बीच अब राजनीति भी तेज हो गई हैं। मध्यप्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी, अस्पतालों में बेड नहीं, इलाज नहीं, स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाल स्थिति व सरकार द्वारा इस संबंध में निरंतर बोले जा रहे वक्‍तव्‍य लेकर कांग्रेस के विधायक व पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, पीसी शर्मा, आरिफ मसूद और कुणाल चौधरी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से " हमारी सांसे बचा लो " की गुहार लगाते हुए भोपाल में मिंटो हॉल स्थित गांधी प्रतिमा पर मौन धरने पर बैठ गए हैं।   ऑक्सीजन संकट को लेकर भोपाल के मिंटो हॉल के सामने कांग्रेस विधायक ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ धरने पर बैठ गए हैं। धरने पर बैठे पूर्व मंत्री जीतू पटवारी बताया कि मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन की कमी को लेकर आज भोपाल में मिंटो हॉल स्थित गांधी प्रतिमा स्थल पर गांधीवादी तरीके से प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी से मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन भेजने का अनुरोध किया है।    उन्होंने कहा कि मप्र के सीएम ने जिस तरह से मप्र की जनता के सामने झूठ परोसा, एक साल लगातार आत्मनिर्भरता की बात करते रहे, दूसरे पिंडामिक में सब उनकी पोल खुल गई। आज ऑक्सीजन की कमी के कारण हमारे परिवारजन अपनी जान की शहादत दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं देश के प्रधानमंत्री से आग्रह करता हूं, मेरे मुख्यमंत्री और सरकार असहाय हो गई हैं। आप हमें सांसे दे दो, हम आपके साथ है।    पूर्व मंत्री ने कहा कि महराष्ट्र और गुजरात ने ऑक्सीजन के लिए असमर्थता जाहिर कर दी है। ऐसे में परेशानी और बढ़ गई है, मुख्यमंत्री झूठ बोल रहे हैं, लोगों की जान जा रही है। प्रधानमंत्री से आग्रह है आप सांसे लौटा दो, ऑक्सीजन की आपूर्ति करा दो, जो जरूरी दवाएं हैं जीने के लिए वो दिला दो। मध्‍य प्रदेश भयावह हो गया है, लकड़ी शमसान घाट में मिलने में परेशानी आने लगी है। हालात बद से बदतर हैं इससे बढ़ी महामारी और अराकजकता का माहौल अन्‍यत्र कहीं देखने को नहीं मिल रहा है, जो मप्र में है।    इसी के साथ जीतू पटवारी का कहना यह भी रहा कि मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की डिमांड और सप्लाई में बड़ा अंतर है। भयावह स्थिति है। ऑक्सीजन की कमी से जानें जा रही हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी से आग्रह है कि वो साँसों से मध्य प्रदेश को आत्मनिर्भर करें। 

Kolar News

Kolar News 14 April 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री व मीडिया प्रभारी के.के.मिश्रा ने पूरे प्रदेश में कोरोना संक्रमण की भयावहता, चिकित्सकीय सेवाओं,सुविधाओं,मौत के वास्तविक आंकड़ों को लेकर सरकार व नौकरशाहों पर निरन्तर सफेद झूठ परोसने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि इस स्थिति का लाभ लेकर निजी अस्पताल भी संक्रमितों का कैशलेस उपचार नहीं कर रहे हैं,मजबूरीवश निर्धन -मध्यमवर्गीय परिवार अपने गहने/मकान गिरवी रखकर परिजनों की जान बचाने पर मजबूर हैं।     प्रदेश कांग्रेस महामंत्री के.के.मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री,एसीएस (स्वास्थ्य), आयुक्त स्वास्थ्य, औषधि व ड्रग कंट्रोलर,जिलों के कलेक्टर्स सभी सफ़ेद झूठ बोल रहे हैं कि ऑक्सीजन की कमी नहीं है। ऑक्सीजन से कोई मौत नहीं हुई है। रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध हैं,लेकिन ब्लैक में। अब तो कालाबाजारी करने वालों ने टोसिलिजुमैब इंजेक्शन भी बाजार से गायब कर दिए हैं, इनका भी ब्लैक शुरू हो गया है। यही नहीं कुछ प्रमुख जिलों में स्थानीय भाजपा नेता व उनसे जुड़े लोगों के ही नाम प्रामाणिक रूप से इस कालाबाजारी में सामने आए हैं। मिश्रा ने यह भी कहा कि कमलनाथ सरकार गिराने के बाद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान सहित तमाम भाजपा नेता,मंत्रीगण कोरोना के पहले दौर के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ को जवाबदार बता रहे थे, लेकिन अब कोरोना के दूसरे दौर में अकर्मण्यता/असफलता का दोषी किसे मानते हैं?

Kolar News

Kolar News 13 April 2021

भोपाल। किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने मंगलवार को कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए हरदा, होशंगाबाद और बैतूल में मौजूदा स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने सतत निगरानी करते हुए तत्काल आवश्यकता अनुसार जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। समीक्षा में ऑनलाइन क्षेत्रीय सांसद और विधायक भी मौजूद थे।   मंत्री पटेल ने परिस्थिति अनुसार जिला मुख्यालयों में वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि होम क्वारेंटाइन हुए मरीज़ों की समुचित देखभाल की जाकर उन्हें समय-समय पर आवश्यकतानुसार मार्गदर्शन और चिकित्सा सहायता उपलब्ध करवाई जाए।   मंत्री पटेल ने निर्देशित किया कि आवश्यकतानुसार नए कंटोनमेंट जोन बनाये जाएं। किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाये। कंटोनमेंट जोन के लिए गाइड-लाइन का पालन सख्ती से कराया जाना सुनिश्चित करें।  इसमें किसी प्रकार की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने महाराष्ट्र से सटे बैतूल जिले के लिए राज्य की सीमा पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए।   कृषि मंत्री पटेल ने जन-प्रतिनिधियों से अपील की कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए जन-जागरूकता के प्रसार में शासन-प्रशासन का अधिक से अधिक सहयोग करें।

Kolar News

Kolar News 13 April 2021

होशंगाबाद। सांसद उदयप्रताप सिंह ने विधायक सोहागपुर  विजय पाल सिंह एवं  कलेक्टर  धनंजय सिंह के साथ 13 अप्रैल मंगलवार को जिला अस्पताल पहुंचकर कोविड  उपचार स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया। उनके द्वारा सर्वप्रथम कोविड आईसीयू वार्ड का निरीक्षण किया एवं चिकित्सकों से जानकारी ली गई । सिविल सर्जन द्वारा बताया गया कि चिकित्सा अधिकारियों, पैरा मेडिकल स्टाफ एवं सपोर्ट स्टाफ की नियुक्ति की जा रही है। शासन से अनुमति मिल गयी है जल्द ही कोविड आईसीयू  शुरू हो जाएगा। इसके बाद सांसद द्वारा कोविड टीकाकरण केंद्र का अवलोकन किया गया एवं टीकाकरण की उपलब्धि की जानकारी ली। सिविल सर्जन जिला चिकित्सालय द्वारा कोविड टीकाकरण कार्य की जानकारी दी तथा वैक्सीन की उपलब्धता बताई। सांसद सिंह द्वारा सिविल सर्जन एवं उपस्थित अधिकारियों  से  निजी चिकित्सकों को अनुबंधित करने के सम्बन्ध में चर्चा की गई, जिससे शासकीय अस्पतालों में आने वाले कोरोना मरीजों को तेजी से इलाज मुहैया हो सके।          सांसद सिंह  ने बताया कि  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रतिदिन सभी जिलों में कोविड की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की जा रही है  एवं हर सम्भव बेहतर उपचार सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी तेजी से फैल रही है, कोरोना संक्रमण को  प्रभावी रूप से रोकने के लिए शासन प्रशासन के साथ समाज के सभी नागरिकों की नैतिक जिम्मेदारी है कि सहयोग करें। आमजन कोरोना गाइडलाइन का पालन करें, बिना जरूरी काम के घर से बाहर ना निकले, मास्क का उपयोग करें, सुरक्षित दूरी का पालन करें। सांसद सिंह ने कहा कि होशंगाबाद जिले में जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया जाएगा। सांसद सिंह द्वारा जिला अस्पताल की कोरोना संबंधी स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के प्रति संतोष व्यक्त किया गया । इस दौरान अखिलेश खण्डेलवाल , एसडीएम आदित्य रिछारिया, सिविल सर्जन डॉ दिनेश डेहेलवार, सीएमओ नगरपालिका होशंगाबाद, सहित विभिन्न विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Kolar News

Kolar News 13 April 2021

भोपाल। देश में आज नव संवत्सर हिंदू नववर्ष, चैत्र नवरात्रि, बैसाखी, गुड़ी पड़वा और चेटीचंड की धूम है। चैत्र नवरात्र आज मंगलवार से आरंभ रहा है। चैत्र नवरात्रि से हिंदू नववर्ष की शुरूआत होती है। हिंदू पंचांग के अनुसार, चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि के पहले दिन से ही हिन्दू नववर्ष आरंभ हो जाता है। हिन्दू नववर्ष यानी कि नव-संवत्सर 2078 के आरंभ होते ही शुभ कामों की भी शुरूआत हो जाएगी। इन खास मौके पर मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश वासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है।   सीएम शिवराज ने चैत्र नवरात्र और हिन्दु नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि मंगल और शुभ्रत्व की बेला में चैत्र शुक्ल प्रतिपदा विक्रमी संवत 2078 के शुभ अवसर पर आपको नव संवत्सर की अशेष शुभकामनाएं! यह नव वर्ष आपके जीवन में अपार खुशियां, उत्साह, उल्लास, उत्तम स्वास्थ्य और समृद्धि लेकर आये, यही कामना! चैत्र नवरात्रि की आपको आत्मीय बधाई! सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके। शरण्ये त्र्यंबके गौरी नारायणि नमोऽस्तुते।। मैया अपने समस्त नौ दिव्य स्वरूपों के साथ घर-घर पधारें और सबका मंगल व कल्याण करें। उनकी कृपा से आपका जीवन धन-धान्य, सुख, समृद्धि से सदैव भरा रहे! जय मां अम्बे!   एक अन्य ट्वीट कर सीएम शिवराज ने अन्य त्यौहारों की शुभकामनाएं देते हुए लोगों से घरों में रहकर पर्व मनाने की अपील की है। सीएम शिवराज ने कहा ‘आप सबको उगादि, गुड़ी पड़वा, चैत्र शुक्लादि, चेटीचंड, बैसाखी, विशु, पुथांडु, वैशाखादि, बोहाग बिहू, नवरेह और सजीबू चेइराओबा की आत्मीय बधाई!ये पर्व आपके जीवन को नव उत्साह, उल्लास और आनंद से समृद्ध करें; आप सदैव आनंदित एवं स्वस्थ रहें; यही शुभकामनाएं! आपसे यह आग्रह भी कि ये पर्व आप घर में ही अपनों के बीच मनायें। कोविड19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए यह आवश्यक भी है। जीवन में संयम और उत्साह संतुलन जरूरी है। परिस्थितियां सामान्य होने के बाद हम सब पुन: आने वाले त्योहारों को सोल्लास, सोत्साह और भरपूर आनंद के साथ मनायेंगे।  

Kolar News

Kolar News 13 April 2021

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री रामेश्वर पटेल का शनिवार देर रात निधन हो गया है। वे कई दिनों से अस्पताल में भर्ती थी। रामेश्वर पटेल के निधन का समाचार मिलते ही पार्टी में शोक की लहर छा गई। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने रामेश्वर पटेल के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि दी है।   कमलनाथ ने अपने शोक संदेश में कहा पूर्व मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री रामेश्वर पटेल के दुखद निधन का समाचार प्राप्त हुआ। परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। सहकारिता , कृषि क्षेत्र व सामाजिक क्षेत्र में उनके किये गये कार्य अविस्मरणीय है। उनका निधन कांग्रेस परिवार के लिये अपूरणीय क्षति है। ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणो में स्थान व पीछे परिजनो को यह दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करे। बता दें कि रामेश्वर पटेल अर्जुनसिंह के मुख्यमंत्री काल में प्रदेश के कृषि राज्यमंत्री रहे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर पटेल का सहकारी कृषि संस्थानों में खासा जनाधार और प्रभाव था। इसके चलते उनकी छवि किसान नेता की भी रही। वे तीन बार मध्य प्रदेश राज्यसहकारी बैंक के अध्यक्ष रहे।

Kolar News

Kolar News 11 April 2021

दमोह। दमोह उपचुनाव में भितरघात से आशंकित भारतीय जनता पार्टी अपने स्तर पर कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती है। इसी क्रम में पार्टी ने पूर्व मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया को उपचुनाव का नगर प्रभारी बनाया है।   दमोह उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी की ओर से पूर्व मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया प्रबल दावेदार के रूप में उभरे थे। लेकिन पूर्व में हुए समझौते के अनसुार पार्टी को पूर्व विधायक राहुल लोधी को टिकट देना पड़ा। इसके चलते उपचुनाव में लगातार भितरघात की आशंका जताई जा रही है। हालांकि वरिष्ठ नेता जयंत मलैया कई सभाओं के माध्यम से इस आशंका को निर्मूल बताते हुए अपनी सफाई दे चुके हैं। लेकिन पार्टी संगठन इस मामले में अपनी ओर से कोई गुंजाइश नहीं छोड़ना चाहता। इसी के चलते शुक्रवार को हुए बूथ सम्मेलन के दौरान जयंत मलैया को दमोह के दोनों मंडलों का चुनाव प्रभारी बनाए जाने की बात कही गई।   दमोह उपचुनाव के प्रभारी प्रदेश सरकार के मंत्री भूपेंद्रसिंह ने उनके नाम की घोषणा की। सिद्धार्थ मलैया दमोह नगर के चुनाव प्रबंधन का कार्य देखेंगे। इस नियुक्ति पर सिद्धार्थ मलैया ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, प्रदेश प्रभारी पी. मुरलीधर राव एवं प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा का आभार जताया है।

Kolar News

Kolar News 9 April 2021

भोपाल। पूर्व मंत्री एवं विधायक पीसी शर्मा ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर भोपाल में कोरोना महामारी के बढते प्रकोप में भोपाल के कोविड अस्पतालों एवं कोविड सेंटरों पर रेमडेसिविर इंजेक्शन, आक्सीजन, और पर्याप्त बेड की व्यवस्था करने की मांग की है।   उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि जिस तरह से दिनों-दिन कोरोना महामारी अन्य क्षेत्र शहरों के साथ ही भोपाल में भयंकर रुप से पैर पसार रही है। कोरोना संक्रमण के बाद मरीजों की जान पर्याप्त इलाज और सुविधाएं नही मिलने की वजह से जा रही है। प्रदेश में संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है इस वजह से सरकार कई शहरी क्षेत्रो में लंबे समय के लिए लॉकडॉउन लगा रही है। अस्पतालों में रेमडेसिविर इंजेक्शन, आक्सीजन व पर्याप्त बेड की व्यवस्था कोविड सेंटरों में नहीं होने की वजह से यह लडाई गहराती जायेगी।   उन्होंने सरकार को पांच बिंदुओं में सुझाव देते हुए कहा कि मप्र सरकार सभी कोविड सेंटरो पर रेमडेसिविर इंजेक्शन की पर्याप्त व्यवस्था करे जिससे इंजेक्शन के आभाव में किसी की जान न जाए। इसके अलावा अस्पतालों में पर्याप्त बेड बढ़ाये जाये, रोज कई मरीज अस्पतालों में बेड के अभाव में वापस कर दिये जाते है इसलिए तुरंत बेड की संख्या बढाई जाए। साथ ही आक्सीजन की पर्याप्त सप्लाई सभी कोविड अस्पतालों व सभी कोविड सेंटर को मप्र सरकार कराये। जिससे आक्सीजन के आभाव में किसी की जान न जाए। कोविड सेंटर बढ़ाये जाये जैसे भोपाल के निर्माणाधीन काटजू अस्पताल में कोविड सेंटर बनाया जाए। एक कोविड कंट्रोल रुम बनाया जाए जिसमें किस अस्पताल में बेड खाली है, कहां वेंटीलेटर एवं कहां आक्सीजन की व्यवस्था है इसकी जानकारी सभी कोविड मरीजों को तुरंत मिले।

Kolar News

Kolar News 9 April 2021

भोपाल। कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी शहरों में शुक्रवार शाम 6.00 बजे से सोमवार सुबह 6.00 बजे तक के लिए लॉकडाउन घोषित किया है। लेकिन एकमात्र दमोह जिले को इससे मुक्त रखा गया है। मीडिया में प्रकाशित समाचारों के अनुसार सरकार की ओर से कहा गया है कि दमोह में चूंकि चुनाव आचार संहिता लगी है, इसलिए वहां लॉकडाउन का फैसला निर्वाचन आयोग को लेना है। इधर, विपक्षी कांग्रेस पार्टी ने इसे लेकर सरकार की नीयत पर सवाल उठाए हैं और इसे गंदी राजनीति का प्रतीक बताया है।   प्रदेश कांग्रेस महामंत्री और मीडिया प्रभारी के.के.मिश्रा ने सरकार द्वारा दमोह जिले को लॉकडाउन से बाहर रखने को लेकर दिये गए तर्क को अपनी असफलता छुपाने का प्रयास बताया है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश सरकार और भाजपा चुनाव आयोग की आड़ लेकर गंदी राजनीति कर रहे हैं।    मिश्रा ने हिस से बातचीत के दौरान कहा कि हाल ही में जब प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए थे, तब भी कोरोना को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय और निर्वाचन आयोग ने गाइडलाइन जारी की थी। लेकिन सरकार और भाजपा ने उस गाइडलाइन का सीधे तौर पर उल्लंघन किया। भाजपा और उसकी प्रदेश सरकार ने हजारों लोगों की सभाएं और रैलियां कीं। मिश्रा ने पूछा कि जो प्रदेश सरकार और भाजपा आज दमोह में लॉकडाउन न लगाने को लेकर निर्वाचन आयोग की आड़ ले रहे हैं, उस समय उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्रालय और चुनाव आयोग की गाइडलाइन का पालन क्यों नहीं किया?

Kolar News

Kolar News 9 April 2021

भोपाल। पर्यावरण, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग मंदसौर जिले के विभिन्न गांवों का दौरा कर लोगों को मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, साबुन से हाथ धोने आदि एहतियातों से लोगों को जागरूक कर रहे हैं।    इसी कड़ी में मंत्री डंग ने बुधवार को रूपारेल, धामनिया, कुण्डाल, कांटिया, तखतपुरा, कुण्डाल का डेरा, रेहटडी, अजयपुर और अजयपुर का खेड़ा गांवों का दौरा कर लोगों को समझाईश दी। डंग ने सुवासरा तहसील के ग्राम धामनियां में ऑगनवाड़ी भवन का लोकार्पण भी किया। भ्रमण के दौरान डंग ग्रामीणों की समस्याओं से भी रूबरू हो रहे हैं।   बता दें कि मंत्री डंग गुरुवार, 8 अप्रैल को ग्राम करनाली, गोपालपुरा, किशोरपुरा, पालाखेड़ी, सेमलिया रानी, रामाखेड़ी, गलिहारा, फतेहपुर चिकली, करणपुरा, मामादेव, चिकला और धाराखेड़ी गांव का भ्रमण कर लोगों को समझाईश देंगे। मंत्री डंग गांवों के गणमान्य नागरिकों को भी साथ में लेकर लोगों को कोरोना से बचाव के उपाय और कोरोना के दुष्परिणामों के बारे में बता रहे हैं। 

Kolar News

Kolar News 7 April 2021

भोपाल। मप्र कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के स्वास्थ्य आग्रह को नौटंकी भरा इवेंट बताते हुए गंभीर आरोप लगाए हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कोरोना महामारी के इस विकट, भीषण संकटकाल में जनता को भगवान भरोसे छोड़, चुनौतियों का सामना करने की बजाय, ज़मीनी मैदान छोडक़र मिंटो हॉल में 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर बैठ गये?   उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि प्रदेश की जनता को बड़ी उम्मीद थी कि लाखों खर्च कर किए जाने वाले इस "स्वास्थ्य आग्रह " से इस महामारी में प्रदेश को कुछ लाभ मिलेगा, प्रदेशवासियों का भला होगा, अस्पतालों में इलाज के लिए बेड उपलब्ध होंगे, गरीबों को मुफ्त इलाज मिलेगा, वैक्सीनेशन और टेस्टिंग को लेकर कोई कठोर निर्णय होंगे, ऑक्सीजन एवं कोरोना के इलाज में लगने वाली दवाइयों की कमी को दूर करने को लेकर कोई ठोस कार्य योजना का ऐलान होगा लेकिन खोदा पहाड़ निकली चुहिया?   कांग्रेस नेता ने कहा कि लाखों रुपये खर्च कर, पूरी सरकारी मशीनरी को ठप कर, शिवराज जी ने इस स्वास्थ्य आग्रह के मंच का उपयोग सिर्फ अपनी कई दिन पुरानी घोषणाओं को फिर से करने के लिए किया? बड़ा शर्मनाक है कि एक वर्ष बाद भी शिवराज जी समाधान की बजाय सुझाव माँग रहे हैं? उन्होंने कहा कि टेस्टिंग की दर पहले ही कम हो चुकी है, चेस्ट स्कैन की दर पहले ही कम हो चुकी है, छत्तीसगढ़ की बसों को बैन करने का निर्णय हो चुका है, बेड बढ़ाने की बात पहले ही की जा चुकी है लेकिन मुख्यमंत्री ने अपनी सारी पुरानी घोषणाओं को इकट्ठा कर इस स्वास्थ्य आग्रह के मंच से वापस उन्हीं घोषणाओं का दोहरा दिया?   नरेन्द्र सलूजा ने सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसा लग रहा है कि शायद 24 घंटे का यह स्वास्थ्य आग्रह प्रदेश के घोषणा वीर मुख्यमंत्री द्वारा अपनी पुरानी घोषणाओं को फिर से करने के लिए ही किया गया क्योंकि इस स्वास्थ्य आग्रह से प्रदेश को कोई लाभ नहीं हुआ। इस कोरोना महामारी में कोरोना पर नियंत्रण के लिए कोई ठोस निर्णय नहीं हुए, यह सिर्फ एक इवेंट बनकर रह गया? बेहतर होता कि अपनी पुरानी घोषणाओं को मुख्यमंत्री जी ऐसे ही दोहरा देते ताकि प्रदेश के खजाने पर इस स्वास्थ्य आग्रह से पड़ा लाखों रुपये का खर्च बच जाता और इन लाखों रुपये से कई गरीबों का मुफ़्त इलाज हो जाता लेकिन एक नौटंकी भरा इवेंट आयोजित कर, लाखों रुपये खर्च कर शिवराज सिंह जी ने यह बता दिया कि उनमें कोई संवेदनशीलता बची नहीं है और उनकी प्रचार की भूख अभी भी समाप्त नहीं हुई है।

Kolar News

Kolar News 7 April 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष गिरीश गौतम ने अपने एक दिवसीय दिल्ली के प्रवास के दौरान मंगलवार देर रात भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा से मुलाकात की और विभिन्न विषयों पर चर्चा की। विधानसभा अध्यक्ष गौतम एक दिवसीय यात्रा पर दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं एवं भारत सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों से मुलाकात कर बुधवार को भोपाल लौट आए हैं।    विधानसभा अध्यक्ष गौतम ने इसकी जानकारी साझा करते हुए बताया कि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला जी से स्वास्थ्य कारणों के कारण मुलाकात नहीं हो पाई है। उन्होंने बिडला जी से दूरभाष पर स्वास्थ्य की जानकारी ली एवं जल्द ठीक होने की शुभकामनाएं दी। भोपाल लौटने पर विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम भोपाल के मिंटो हाल पहुंचे और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा करोना से निपटने के लिए किये जा रहे 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह कार्यक्रम में शामिल हुए।

Kolar News

Kolar News 7 April 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को स्वास्थ्य आग्रह के बाद राजधानी भोपाल के मिंटो हॉल परिसर से वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा जिलों और संभागों के विभिन्न संगठनों प्रमुख नागरिकों और समाज-सेवियों से चर्चा की। मुख्यमंत्री चौहान को इस दौरान कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए अनेक महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए गए।   मुख्यमंत्री चौहान से इंदौर और उज्जैन संभाग के जन-प्रतिनिधियों और प्रमुख व्यक्तियों की चर्चा के दौरान इंदौर के डॉ. भंडारी, खरगोन के कल्याण अग्रवाल, झाबुआ के मनोज अरोड़ा और रतलाम के एम.के. जैन ने चर्चा की। मुख्यमंत्री चौहान ने इंदौर के नागरिकों से बातचीत में कहा कि जिस तरह स्वच्छता के मामले में इंदौर पूरे देश में प्रथम है, उसी तरह कोरोना का संक्रमण रोकने में भी इंदौर को आगे रहना है। झाबुआ के नागरिकों ने कहा कि फिलहाल हाट बाजार और साप्ताहिक बाजार नहीं लगना चाहिए, इससे भीड़ पर नियंत्रण किया जा सकता है।   रतलाम के नागरिकों का सुझाव था कि वैक्सीनेशन कोरोना संक्रमण को रोकने में सक्षम है। वैक्सीनेशन कार्य से संबंधित विशेष प्रचार-प्रसार भी होना चाहिए। यह प्रचार व्यक्तिगत, संस्थागत और सरकार के स्तर पर होगा तो आम लोगों का मनोबल बढ़ेगा। वैक्सीन के प्रति विश्वास में वृद्धि होगी। वैक्सीनेशन संक्रमण की समाप्ति का अचूक माध्यम है।

Kolar News

Kolar News 6 April 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन एक पौधा लगाने के संकल्प के क्रम में मंगलवार को भोपाल के स्मार्ट उद्यान में पीपल का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने नागरिकों से पौधारोपण करने की अपील भी की।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए लिखा है कि -‘आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में पीपल का पौधा रोपा है। पीपल का पौधा और वृक्ष प्रगति का प्रतीक है। मध्यप्रदेश के समस्त नागरिक साल में एक बार पौधा अवश्य लगाएं। परिवार के सदस्यों के जन्मदिन या वैवाहिक वर्षगाँठ पौधरोपण कर मनाई जाएगी तो इसमें अद्भुत आनंद की अनुभूति होगी।’   पीपल का महत्व पीपल एक छायादार वृक्ष है। पर्यावरण शुद्ध करता है। इसका धार्मिक महत्व भी है। सर्दी-जुकाम जैसी समस्या में भी पीपल लाभदायक होता है। पीलिया हो जाने पर पीपल के 3-4 नए पत्तों के रस में मिश्री मिलाकर बनाए गए शरबत को पीना बेहद फायदेमंद होता है।

Kolar News

Kolar News 6 April 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन एक पौधा लगाने के संकल्प के क्रम में मंगलवार को भोपाल के स्मार्ट उद्यान में पीपल का पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने नागरिकों से पौधारोपण करने की अपील भी की।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए लिखा है कि -‘आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में पीपल का पौधा रोपा है। पीपल का पौधा और वृक्ष प्रगति का प्रतीक है। मध्यप्रदेश के समस्त नागरिक साल में एक बार पौधा अवश्य लगाएं। परिवार के सदस्यों के जन्मदिन या वैवाहिक वर्षगाँठ पौधरोपण कर मनाई जाएगी तो इसमें अद्भुत आनंद की अनुभूति होगी।’   पीपल का महत्व पीपल एक छायादार वृक्ष है। पर्यावरण शुद्ध करता है। इसका धार्मिक महत्व भी है। सर्दी-जुकाम जैसी समस्या में भी पीपल लाभदायक होता है। पीलिया हो जाने पर पीपल के 3-4 नए पत्तों के रस में मिश्री मिलाकर बनाए गए शरबत को पीना बेहद फायदेमंद होता है।

Kolar News

Kolar News 6 April 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने प्रदेश की शिवराज सरकार पर कोरोना से हो रही मौतों के आंकड़े छिपाने का गंभीर आरोप लगाया है। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया कि कांग्रेस शुरू से ही आरोप लगा रही है कि शिवराज सरकार कोरोना से हो रही मौतों के आंकड़े छुपाकर, झूठे आँकड़े दिखाकर उसमें बड़ा हेरफेर कर रही है। साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से इस्तीफे की मांग की है।   नरेन्द्र सलूजा ने अपने बयान में कहा कि कल इंदौर में 24 घंटे में 25 लोगों की कोविड से मौत की जानकारी सामने आयी है, जबकि सरकारी आंकड़ों के मुताबिक इंदौर में 4 दिन में से 12 मौतें बताई गई है और वही भोपाल में 17 कोविड शवों का अंतिम संस्कार हुआ, जबकि सरकारी रिकॉर्ड में सिर्फ 2 मौतें ही दर्ज है ? उन्होंने कहा कि कांग्रेस शुरू से ही आरोप लगा रही है कि सरकार कोरोना से हो रही मौतों के आंकड़ों में हेर फेर कर उसे छुपाने का काम कर रही है और कल सरकार की ओर से जिम्मेदार अधिकारी प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने पत्रकार वार्ता में बयान देते हुए कहा कि " हम सौ फ़ीसदी ग्यारंटी नहीं देते कि हमारे द्वारा बताये गए आँकड़े एकदम सही ही होंगे "? इसी से समझा जा सकता है कि सरकार का कोरोना महामारी पर कोई नियंत्रण नहीं है, सरकार पूरी तरह से फेल साबित हो चुकी है। जब सरकार के जिम्मेदार अधिकारी ही इस तरह के बयान देंगे तो समझा जा सकता है कि आखिर जनता किस पर विश्वास करें? जब सरकारी आंकड़ों की ही कोई गारंटी नहीं है तो प्रदेश भगवान भरोसे हो चला है ?   सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता सलूजा ने कहा कि इससे समझा जा सकता है कि प्रदेश कोरोना संक्रमण के मामले में किस भयावह स्थिति पर पहुंच चुका है? सरकार कोरोना पर नियंत्रण के मामले में पूरी तरह से असफल साबित हो चुकी है, शायद इसीलिए जिम्मेदारी से भागते हुए मुख्यमंत्री मिंटो हाल पर 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर बैठ चुके हैं क्योंकि सरकार से कोरोना की स्थिति संभल नहीं रही है ? इस बयान के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को तत्काल अपने पदो से इस्तीफा देना चाहिए।

Kolar News

Kolar News 6 April 2021

भोपाल, 05 अप्रैल (हि.स.)। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से अपील की है कि वे प्रदेश की जनता पर कृपा करें, उनके जन जागरूकता अभियान के नाम पर जारी दिखावटी अभियान तत्काल बंद करें क्योंकि इन अभियानों से कोरोना पर नियंत्रण की तो कोई संभावना नहीं अपितु कोरोना संक्रमण बढऩे की ज़रूर संभावना है क्योंकि इन अभियानों के दौरान कोरना गाइडलाइन का जमकर मजाक उड़ा रहा है ? कांग्रेस नेता ने सोमवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा कि आज मुख्यमंत्री भोपाल में मास्क लगाने के जागरूकता अभियान के तहत निकले, सबसे पहले उन्होंने अपने परिवार के सदस्यों को मास्क लगाया। वैसे भी मास्क उनको लगाया जाता है जो मास्क नहीं लगाते हैं, तो क्या मुख्यमंत्री के परिवार के लोग अभी तक मास्क नहीं पहनते थे क्या? उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि यदि मुख्यमंत्री जी का परिवार पहले से ही मास्क लगा लगा रहा था तो फिर मास्क लगाने का दिखावा क्यों और यदि वह मास्क नहीं लगा रहे थे तो यह तो उनके परिवार की गंभीर लापरवाही है? वहीं मुख्यमंत्री आज भोपाल की सडक़ों पर चुनावी रैली की तरह आगे की गाड़ी में लगे बड़ी संख्या में कैमरों के साथ निकले। उनके साथ लंबा-चौड़ा कारों का काफिला भी था, उनके काफिले के कारण जगह-जगह जाम लग रहा था, जिससे भी शारीरिक दूरी का नियम खत्म हो रहा था। सलूजा ने कहा कि मुख्यमंत्री जहां भी जा रहे थे वहां पर भी भारी भीड़ उमड़ रही थी और भीड़ में कहीं भी शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं हो रहा था। कोरोना की गाइडलाइन का जमकर मजाक उड़ रहा था ? वाहनों में लोग ठसाठस भरे हुए थे। इसके पूर्व भी मुख्यमंत्री जब भोपाल और इंदौर में लोगों को मास्क लगाने और शारीरिक दूरी का  गोला बनाने के लिए निकले थे, तब भी इसी प्रकार कोरना की गाइडलाइन का जमकर मजाक उड़ा था। नरेन्द्र सलूजा ने कहा कि इससे अच्छा हो कि मुख्यमंत्री अपने कक्ष में बैठकर प्रदेश में वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के प्रयास करें, अस्पतालों में इलाज के लिए प्रदेश की जनता को बेड उपलब्ध कराएं, गरीबों को मुफ्त इलाज मिले इसकी व्यवस्था करें, टेस्टिंग व वैक्सीनेशन बढ़ाएं, टेस्टिंग की दर कम कराएं, रैपिड टेस्ट, ट्रेसिंग, सर्वे बढ़ाएं, अस्पतालों में इलाज की दर तय कराएं तो वह प्रदेशवासियों के हित में होगा और उसकी आज प्रदेशवासियों को आवश्यकता भी है। मुख्यमंत्री तत्काल अपना यह दिखावटी जागरूकता अभियान बंद करें, जिस अभियान से कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण तो नहीं हो सकेगा, अपितु संक्रमण बढऩे का खतरा और बढ़ रहा है ?

Kolar News

Kolar News 5 April 2021

गुना 5 अप्रैल (हि.स.) । भारतीय जनता पार्टी 6 अप्रैल को अपना स्थापना दिवस मनाने जा रही है।भाजपा जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिंह सिकरवार ने बताया कि पार्टी के स्थापना दिवस पर मंडल में ‘सेवा ही संगठन’ के ध्येय वाक्य के साथ स्वच्छता अभियान, मास्क वितरण एवं एक बार में उपयोग होने वाले प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का संकल्प दिलाया जाएगा।  इसके साथ ही सेवा भावी कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे।  इस दौरान सभी बूथ अध्यक्ष अपने-अपने निवास पर पार्टी का झंडा लगाकर मिष्ठान एवं फल वितरण करेंगे।  कार्यकर्ताओं को भेंट किए।   स्थापना दिवस के तहत  भाजपा कार्यालय पर सोमवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं डॉ श्यामाप्रसाद मुखर्जी के चित्र प्रत्येक के बूथ कार्यकर्ताओं को भेंट किए गए। इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष हरिसिंह यादव, जिला उपाध्यक्ष गिर्राज भार्गव, मंडल अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव, जिला सोशल मीडिया प्रभारी विकास जैन नखराली, ब्रजेश शर्मा आदि उपस्थित रहे।    जिलाध्यक्ष श्री सिकरवार ने कहा कि भाजपा स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा सरकार की उपलब्धियों एवं योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की जाएगी। बूथ पर रहने वाले सभी कार्यकर्ता नये सदस्यों एवं शुभचिंतकों को कार्यक्रम में आमंत्रित करेंगे। प्रदेश के सभी जिला कार्यालयों पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भाजपा के गौरवसाली इतिहास व विकास यात्रा पर व्याख्यान प्रस्तुत किए जाएंगे।  कार्यक्रम में गणमान्य नागरिक एवं मेधावी विद्यार्थी सम्मान समारोह आयोजित किए जाएंगे। 

Kolar News

Kolar News 5 April 2021

इंदौर। शिवराज कैबिनेट में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर की गाड़ी रविवार देर रात दुर्घटनाग्रस्त हो गई। स्पीड ब्रेकर पर गाड़ी की गति कम करने के दौरान यह हादसा हुआ। हालांकि मंत्री उषा ठाकुर को किसी प्रकार की चोट नहीं आई है और वह सुरक्षित हैं।   जानकारी अनुसार आईपीएस कॉलेज के पास रविवार देर रात मंत्री उषा ठाकुर की गाड़ी को चालक ने स्पीड ब्रेकर पर वाहन की गति को कम किया, तभी पीछे से आ रही बाइक ने उनकी कार को टक्कर मार दी। हादसे से मंत्री उषा ठाकुर की गाड़ी का पिछला कांच टूट गया। घटना से मंत्री उषा ठाकुर और उनके स्टाफ को चोट नहीं आई है। मामले की सूचना मिलने से मौके पर पहुंची राजेंद्र नगर पुलिस केस दर्ज कर कार्रवाई कर रही है।

Kolar News

Kolar News 5 April 2021

पन्ना। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व खजुराहो सांसद विष्णुदत्त शर्मा शनिवार को एक दिवसीय प्रवास पर पन्ना पहुंचे। यहां उन्होंने अनेक कार्यक्रमों में भाग लिया। जिले में भ्रमण के दौरान ग्रामीणों ने प्रदेश अध्यक्ष शर्मा का भव्य स्वागत किया। इस दौरान उपस्थित जनसमुदाय को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि हम हर समय समाज सेवा और विकास के बारे में सोचते हैं, काम करते हैं ये हमारी पार्टी के संस्कार हैं। ग्राम दहलान चौकी पहुंचने पर ग्रामीणों ने प्रदेश अध्यक्ष शर्मा का भव्य स्वागत किया। प्रदेश अध्यक्ष की उपस्थिति में  ग्रामीणों को आयुष्मान कार्ड वितरित किये गये। इस दौरान शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के सारे कार्यकर्ता जनता की सेवा में लगे हैं। इस कोरोना महामारी के समय भी टीका लगवाने के प्रति लोगों को जागरूक करने में अपनी अहम भूमिका अदा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये हमारी पार्टी के संस्कार हैं कि हम हर समय समाज के विकास के बारे में सोचते हैं और काम करते हैं।आपके सुझावों पर होगा कामसांसद शर्मा ने ग्राम नयागॉव में ब्लाक स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी होने के कारण आयुष्मान कार्ड के वितरण का कार्यक्रम प्रतीकात्मक तौर पर आयोजित किया जा रहा है।  आप सभी के आयुष्मान कार्ड बन गये हैं,  आपको शासन की इस जन कल्याणकारी योजना का सीधा लाभ मिलेगा और आपके साथ-साथ आपके परिवार को भी इस योजना का लाभ मिलेगा। जीवन को बचाने के लिए यह योजना महत्वपूर्ण है। मैं आप सबसे अपील करता हॅू कि कोरोना महामारी से अपना बचाव करें, शासन के द्वारा जो दिशा निर्देश जारी किये जा रहे हैं,  उनका पालन करें। शर्मा ने कहा कि इस क्षेत्र के विकास के लिये मुझे जो भी सुझाव आपके द्वारा प्राप्त हुये हैं उन सभी पर मैं काम करूंगा और आने वाले समय में आपको परिणाम दिखेगा।केन-बेतवा परियोजना से हरा-भरा होगा बुंदेलखंडसासंद शर्मा ने अजयगढ़ में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कहा कि केन बेतवा लिंक परियोजना लोगों के लिये वरदान साबित होगी और बुन्देलखण्ड केन बेतवा के जल से सिंचित होकर हरा भरा होगा। लाखों लोगों के घर तक पीने योग्य पानी पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि केन बेतवा लिंक परियोजना से 62 लाख घरों तक पीने का पानी पहुंचाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इस परियोजना से पन्ना टाइगर रिजर्व के बफर एरिया सहित किसी क्षेत्र को कोई नुकसान नहीं होगा एवं टाईगर रिजर्व को फायदा ही होने वाला है। जानवरों के लिए पीने के पानी की व्यवस्था हो जायेगी। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष के साथ मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, जिलाध्यक्ष रामबिहारी चौरसिया, जिला पंचायत अध्यक्ष रविराज यादव सहित स्थानीय नेता मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Kolar News

Kolar News 3 April 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगामी पांच अप्रैल को शिवपुरी और अशोकनगर के पोहरी-मुंगावली क्षेत्र में विभिन्न विकास कार्यों की सौगात देने जा रहे थे, लेकिन कोरोना के चलते उनका पोहरी-मुंगावली दौरान स्थगित कर दिया गया है।   मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा शनिवार को ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी देते हुए बताया कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 5 अप्रैल को पोहरी और मुंगावली दौरे को स्थगित किया है। मणि खेड़ा समूह जल प्रदाय योजना, राजघाट बांध समूह जल प्रदाय, बैढऩ समूह जल प्रदाय योजना आदि के भूमिपूजन का कार्य किसी अन्य अवसर पर किया जायेगा। जागरूक रहें, स्वस्थ रहें।

Kolar News

Kolar News 3 April 2021

भोपाल। मराठा सम्राट छत्रपति शिवाजी महाराज की आज शनिवार को पुण्यतिथि है। आज इस अवसर पर पूरा देश उन्हें याद कर रहा है और श्रद्धासुमन अर्पित कर रहे हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्म साल 1630 में हुआ था। उन्हें शिवाजी भोसले के नाम से भी जाना जाता है। मराठा साम्राज्य की स्थापना शिवाजी महाराज ने ही की थी। शिवाजी महाराज की मृत्यु 3 अप्रैल 1680 को हुई थी। हर साल पुण्यतिथि पर उन्हें लोग श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर शिवाजी महाराज को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा ‘हर इंसान को सबसे पहले अपने राष्ट्र, फिर गुरु, तब माता-पिता की तरफ ध्यान देना चाहिए, क्योंकि राष्ट्र से बढक़र कुछ भी नहीं- छत्रपति शिवाजी महाराज।  अप्रतिम साहस एवं वीरता के प्रतीक, मराठा गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि। एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा राष्ट्र के गौरव और सम्मान के लिए आजीवन युद्धरत रहने वाले महान योद्धा छत्रपति शिवाजी महाराज जी की शौर्य गाथा हर युग में युवाओं को देश के मान एवं स्वाभिमान की रक्षा हेतु मर-मिटने के लिए प्रेरित करती रहेगी। भारत की महान विभूति के चरणों में सादर नमन!   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा ‘हिन्दवी स्वराज के प्रणेता, धर्म और मानवीय मूल्यों की रक्षार्थ अपना सम्पूर्ण जीवन न्यौछावर करने वाले राष्ट्र नायक छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर उन्हें नमन। मराठा सम्राट शिवाजी का न्यायपूर्ण शासन एवं गौरव गाथाएं अनंतकाल तक लोगों को राष्ट्रधर्म के लिए प्रेरित करती रहेंगी।   भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा ‘भारत वर्ष के लोकोत्तर वीर पुरुष, 'हिन्दवी स्वराज' के संस्थापक, प्रेरणादायी युगपुरुष छत्रपति शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा ‘अपने आत्मबल को जगाने वाला,खुद को पहचानने वाला,मानव जाति के कल्याण की सोच रखने वाला,पूरे विश्व पर राज कर सकता है- छत्रपति शिवाजी महाराज। मराठा साम्राज्य की नींव रखने वाले धर्मरक्षक, साहस और शौर्य के प्रतीक छत्रपति शिवाजी महाराज जी की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि।

Kolar News

Kolar News 3 April 2021

अशोकनगर। जिले में जुआ-सट्टा एवं पर चलन पर रोक लगाने के लिए गुना सांसद डॉ.केपी यादव ने प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से भेंट कर जुआ-सट्टा की हकीकत से उन्हें वाकिफ कराया है। सांसद डॉ.केपी यादव ने शुक्रवार को बताया कि  क्षेत्र में अवैध जुआ-सट्टा व स्मैक का चलन बढऩा चिंताजनक है, जिस पर प्रभावी रूप से अंकुश लगना चाहिए। उनके क्षेत्र में इस तरह के अपराधों की रोकथाम के लिए उनके द्वारा प्रदेश के  गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से मुलाकात कर सख्त प्रतिबंध लगाने हेतु मांग की, इनके साथ ही सांसद ने गौ-तस्करी पर भी रोक लगाने की मांग की गई है।   दरअसल, क्षेत्र में जुआ-सट्टा स्मैक आदि असामाजिक गतिविधियों से युवाओं का भविष्य बर्बाद हो रहा है। इन कृत्यों से घरों में आपसी कलह व घरेलू हिंसा के मामलों  में बढ़ोतरी हो रही है, जिन पर रोकथाम के लिए व क्षेत्र में बढ़ रही अवैध गौ तस्करी के कई मामले लगातार सामने आने के बाद एवं विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार मांग उठाये जाने पर सांसद डॉक्टर के पी यादव ने गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से भेंटकर क्षेत्र में इन गतिविधियों को रोकने हेतु आवश्यक कार्यवाही की मांग की।    सांसद डॉक्टर के पी यादव ने कहा कि हमें अपने क्षेत्र के युवाओं का भविष्य बचाना है। जुआ सट्टा से बर्बाद होते परिवारों को उस नर्क से बाहर निकालना है। ऐसे व्यक्ति समाज के लिए अभिशाप है जो इन कार्यों में संलग्न रहते हैं व पुलिस प्रशासन की सख्तीआवश्यक है। समाज व प्रशासन के समन्वय से इन पर रोक लगे। समाज के संभ्रांत नागरिकों को एकजुट होकर इन गतिविधियों के खिलाफ खड़ा होना होगा। जिसके लिए उन्हें आवश्यक पुलिस सुरक्षा प्राप्त हो एवं ऐसी गतिविधियों को मिल रहे संरक्षण बंद हो ऐसा गृह मंत्री से निवेदन किया है।    

Kolar News

Kolar News 2 April 2021

गुना। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई व चांचौड़ा से कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह और चांचौड़ा की पूर्व विधायक ममता मीणा एक बार फिर आमने-सामने आ गए हैं। दोनों ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करते हुए तंज कसे हैं।    विधायक लक्षमण सिंह ने बीते रोज पत्रकार वार्ता में कहा था कि मुख्यमंत्री यदि गंभीर हैं, तो हम जानकारी देते हैं, भू माफियाओं पर कार्रवाई करें। प्रशासन की हिम्मत नहीं है, बड़ी मछलियों पर कार्रवाई करे। उन्होंने चांचौड़ा की पूर्व विधायक पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले सैंया थे कोतवाल और अब भैया भये कोतवाल। सैंया और भैया के बीच जमीनों पर कब्जा करने और लूटने का काम जारी है। उन्होंने राजस्व मंत्री व पंचायत मंत्री को भी भूमाफिया बताया।    अब चांचौड़ा की पूर्व विधायक व भाजपा नेता ममता मीणा ने आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि पति पढ़-लिखकर का आईपीएस बने हैं। आप पढ़ लिए होते तो ऐसी बातें नहीं करते। उन्होंने कहा, गर्मी का पारा बढ़ते ही कांग्रेस के बुजुर्ग नेता के दिमाग का पारा बढऩे लगता है। हमारे भैया मुख्यमंत्री शिवराज सिंह प्रदेश की सभी बहनों के कोतवाल हैं। उनके कोतवाल रहते बहनें सुरक्षित हैं। अतिक्रमण के आरोपों पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता खुद ऐसे लोगों को साथ लेकर घूमते हैं, जिन्होंने सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर रखा है। उनके खिलाफ क्यों नहीं धरना देते।   अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करे सरकार लक्ष्मण सिंह ने कहा कि सरकार भू माफिया के विरुद्ध प्रदेश समेत गुना में भी कार्रवाई शुरू करे। वन भूमि पर सबसे ज्यादा कब्जा गुना में हैं। गरीब लोगों के घर तोड़ रहे हैं, उन्हें आपस में लड़ा रहे हैं। भूमाफिया उनकी जमीन गिरवी रख लेते हैं। सरकार बमोरी से ऐसे कब्जे हटाना शुरू करे। बमोरी में आदिवासियों को आगे करके जंगल कटवाया। लक्ष्मणसिंह ने कहा, जिले में दो तरह के तहसीलदार काम कर रहे हैं। एक कब्जा करने वाले तहसीलदार हैं। दूसरे कब्जा हटाने वाले।

Kolar News

Kolar News 2 April 2021

कटनी। बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करने के लिए समस्त कार्यकर्ता पूर्ण तन्मयता के साथ जुट जाएं। भाजपा का कार्यकर्ता सेवाभावी कार्यकर्ता होता है जो अपने सामाजिक दायित्व का निर्वहन सदैव कुशलता के साथ करता है। इसलिए पार्टी का प्रत्येक कार्यकर्ता अपने सामाजिक दायित्वों के प्रति सजग रहे।  उक्त विचार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  विष्णुदत्त शर्मा ने शुक्रवार को कटनी जिले के सभी मंडल अध्यक्षों की बैठक को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।जनता की तकलीफों के प्रति संवेदनशील रहेंमण्डल अध्यक्षों की बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि सेवा ही संगठन की बुनियाद है। इसी मंत्र पर चलकर पार्टी आज इस मुकाम तक पहुंची है। इसलिए हमें सदैव जनता के  दुख-तकलीफ के प्रति सजग और संवेदनशील रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि आयुष्मान कार्ड का वितरण हर एक पात्र व्यक्ति तक हो जाए, इसकी चिंता करें। कोरोना की वेक्सीन लगवाने के लिए अधिक से अधिक लोग आगे आएं, इसके लिए जनजागरण करें।निकाय और पंचायत चुनाव के लिए तैयार रहेंप्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि आने वाले नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव के लिए मंडल अध्यक्ष और कार्यकर्ता अभी से जुट जाएं। मंडलों में प्रत्येक बूथ तथा इन बूथों की समितियों का गठन तय समय पर हो जाना चाहिए। प्रत्येक बूथ के कार्यकर्ताओं को उनके बूथ तथा क्षेत्र की जानकारी अवश्य होनी चाहिए। शर्मा ने कहा कि  6 अप्रैल को भाजपा का स्थापना दिवस हर मण्डल में बूथ स्तर पर आयोजित किया जाना है।  इसी तरह 14 अप्रैल को बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर जी की जयंती पर सेवा के कार्यक्रम आयोजित करना है। इन दोनों ही कार्यक्रमों में अधिक से अधिक लोगों की सहभागिता हो, इसकी चिंता करें।

Kolar News

Kolar News 2 April 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश में राजधानी भोपाल स्थित मंत्रालय समेत सभी जिला मुख्लायों पर कलेक्टर कार्यालयों में परम्परा के मुताबिक अप्रैल माह के प्रथम कार्यदिवस गुरुवार को वंदेमातरम् गायन से कामकाज की शुरुआत हुई। इस दौरान सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों ने संगीत की धुन पर वंदेमातरम और मध्यप्रदेश गान का सामूहिक गायन किया।    राजधानी भोपाल में राष्ट्र-गीत वंदे-मातरम एवं राष्ट्र-गान 'जन गण मन' का सामूहिक गायन मंत्रालय स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्क में संपन्न हुआ। इस अवसर पर पुलिस बैंड ने मधुर धुनें प्रस्तुत की। वंदे मातरम गायन में पर्यटन, संस्कृति और आध्यात्म मंत्री ऊषा ठाकुर एवं स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) और सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री इन्दर सिंह परमार, अपर मुख्य सचिव विनोद कुमार सहित मंत्रालय, सतपुड़ा एवं विंध्याचल भवन के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।   राज्य शासन के निर्देश पर प्रतिमाह प्रथम कार्यदिवस पर सरकारी दफ्तरों में सामूहिक वंदेमातरम् गायन का आयोजन होता है। इसी क्रम में आज भोपाल समेत सभी संभागीय एवं जिला मुख्यालयों पर कमिश्नर्स-कलेक्टर्स कार्यालय में वंदेमातरम् का सामूहिक गायन हुआ। इस दौरान सभी कर्मचारी-अधिकारी मौजूद रहे। इसके बाद सरकारी कार्यालयों में कामकाज की शुरुआत हुई।

Kolar News

Kolar News 1 April 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर चल पड़ी है। राजधानी भोपाल समेत इंदौर, उज्जैन और जबलपुर जैसे जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति पर चिंता जताई है, साथ ही सरकार से कोरोना की रोकथाम के लिए ठोस कदम उठाने की मांग की है।   कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के आंकड़े भयावह होते जा रहे हैं। भोपाल-इंदौर जैसे शहरों में संक्रमण दर उच्चतम स्तर पर पहुंच चुकी है? प्रदेश के कई जिलों में अस्पताल मरीजों से भरे पड़े हैं, विभिन्न जिलों से अस्पतालों में बेड नहीं मिलने, इलाज नहीं मिलने की निरंतर शिकायतें आ रही है। निजी अस्पतालों की मनमर्जी, लूट-खसोट चालू हो चुकी है, कोरोना के इलाज में लगने वाले इंजेक्शन व दवाइयों की मनमानी दरें वसूली जा रही है।   कमलनाथ ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि सरकार को तत्काल आवश्यक व कड़े कदम उठाना चाहिए। टेस्टिंग-ट्रेसिंग, सर्वे व वैक्सीनेशन के काम व दायरे को तेजी से आगे बढ़ाना चाहिये, अस्पतालों में पर्याप्त बेड की उपलब्धता, मरीजों को तत्काल इलाज मिले इसको लेकर भी आवश्यक इंतजाम करना चाहिए।

Kolar News

Kolar News 1 April 2021

हरदा। कृषि मंत्री कमल पटेल मंगलवार को हरदा नगर के मिडिल स्कूल ग्राउंड स्थित दीनदयाल रसोई पहुंचे। कृषि मंत्री कमल पटेल ने अपने पोते अंशराज पटेल का जन्मदिन रसोई में दीन दुखियों के साथ मिलकर मनाया। इस मौके पर सभी को भोजन सेवा सहयोग करके अनुकरणीय पहल की है।   इस मौके पर मंत्री पटेल ने कहा कि दीनहीनों व असहाय लोगों के लिए दोनों समय का भोजन नि:शुल्क वितरित किया जाता है। लॉकडाउन में भी दो लाख लोगों को भोजन कराया गया। रसोई का संचालन नगर के जागरूक लोगों के नगर पालिका अध्यक्ष सुरेंद्र जैन द्वारा जनसहयोग से विगत 5 वर्षों से निरंतर किया जा रहा है। जिसमें कई परिवार व समाजसेवी अपने परिजनों के जन्मदिन व शादी की वर्षगांठ एवं अन्य खुशियों के अवसर पर रसोई में आकर लोगों को भोजन सेवा में सहयोगी बनते है। इस दौरान नगर पालिका अध्यक्ष सुरेंद्र जैन, देवी सिंह सांखला, राधेश्याम डूडी, हरि पटेल, निवास जाट, अशोक राठौर, दीपक शर्मा, सरगम जैन, मनोहर लाल शर्मा, लोकेश मराठा, पार्षद मनोज महलवार, पार्षद ओम मोरछले सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Kolar News

Kolar News 30 March 2021

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान होली की छुट्टी पर परिवार के साथ पन्ना में है वही गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा माता वैष्णो देवी की यात्रा पर है। सीएम और गृहमंत्री की छुट्टी पर कांग्रेस ने निशाना साधा है।   कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा है कि मध्यप्रदेश में कानून व्यवस्था की अराजक स्थिति को कौन संभालेगा? यह प्रश्न प्रदेश की जनता के मन में कौंध रहा है। अभी तक तो पुलिस के लोग पिट रहे थे, वन विभाग के कर्मचारी पिट रहे थे। अवैध खनन वाले चांदमारी कर  रहे थे । केवल मजिस्ट्रेट रह गए थे सो अब उन्हें भी अपराधी दड़ेग़म चाकू मार रहे हैं।  कट्टे के बट से मार रहे हैं। मध्य प्रदेश में इन परिस्थितियों के लिए कौन जिम्मेदार है?   भूपेंद्र गुप्ता ने तंज कसते हुए कहा कि टाइगर जी छुट्टी पर हैं और जो नरों में उत्तम हैं ऐसे मंत्री मंदिर की यात्रा पर हैं। गुप्ता ने सरकार से सवाल किया है कि तो इन परिस्थितियों को कौन संभालेगा ? इसका जवाब सरकार की तरफ से आना चाहिए । उन्होंने कहा कि पटवारियों के घर से करोड़ों रुपए की संपत्ति पकड़ी जा रही है। राजधानी में भूमाफिया के बेटे पुलिस को खदेड़ रहे हैं। भाजपा के पूर्व मंत्रियों के परिजनों के फार्म हाउस से करोड़ों की नगदी और कई किलो सोने की लूट हो रही है, लेकिन सरकार मौन है। उसकी तरफ से एक बयान भी नहीं आया है। क्या यह मौन इस बात का संकेत है कि कोरोना की तरह कानून व्यवस्था भी सरकार ने राम भरोसे छोडक़र आत्मनिर्भर बना दी है?   कांग्रेस नेता ने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत की फटकार से भी अविचलित अपराधी पुलिस की पकड़ से दूर थे। जो अपराधी अभी भी फरार चल रहे हैं उन्हें पकडऩे के लिये सुप्रीम कोर्ट की फटटकार का इंतजार कर रही है। पुलिस गोली चलाकर आत्मरक्षा तो कर रही है किंतु हाथ में वायरलेस सेट होने और आसपास थाने चौकियां होने के बावजूद भी अवैध दस-दस अवैध ट्रेक्टर-ट्राली सुरक्षित भागने में सफल हो रहे हैं। प्रदेश की जनता जानना चाहती है कि कब तक उसे बंगाल चुनाव में व्यस्त गृहमंत्री के दायित्व की कीमत चुकानी पड़ेगी?

Kolar News

Kolar News 30 March 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश शासन के लोक निर्माण विभाग ने जबलपुर शहर में केन्द्रीय सड़क एवं अधोसंरचना निधि से निर्माणाधीन फ्लाय ओवर ब्रिज के निर्माण के लिए 161 करोड़ 43 लाख रुपये की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की है। यह जानकारी रविवार को जनसंपर्क अधिकारी अनिल वशिष्ठ ने दी।    उन्‍होंने बताया कि लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि तकनीकी स्वीकृति के अनुसार निविदायें आमंत्रित कर फ्लाय ओवर का निर्माण कार्य प्रारंभ करायें। भार्गव ने कहा है कि ओवर ब्रिज का कार्य गुणवत्तापूर्ण और समय-सीमा में करवाया जाना सुनिश्चित करें ताकि नागरिकों को शीघ्र और लम्बे समय तक आवागमन की सुविधा का लाभ मिल सके।

Kolar News

Kolar News 28 March 2021

दमोह। कांग्रेस नेता देवेन्द्र चौरसिया की हत्या के आरोप में लम्बे समय से फरार चल रहे दमोह जिले की पथरिया विधानसभा क्षेत्र की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की विधायक राम बाई के पति गोविंद सिंह ने रविवार सुबह ग्वालियर में पुलिस महानिरीक्षक के समक्ष समर्पण कर दिया था। इसके बाद एसटीएफ की टीम उन्हें लेकर हटा पहुंची और स्थानीय न्यायालय में पेश किया, जहां पर न्यायाधीश के आदेश पर उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।   गौरतलब है कि दो साल पहले हटा के कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया और उनके पुत्र पर अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया था, जिसमें गंभीर रूप से घायल हुए देवेन्द्र चौरसिया की उपचार के दौरान मौत हो गई थी। इस मामले में पुलिस ने अन्य लोगों के साथ बसपा विधायक राम बाई के पति गोविंद सिंह को आरोपित बनाया था। तभी से गोविन्द सिंह फरार चल रहे थे। पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। इस मामले में पुलिस और एसटीएफ की टीम उन्हें लगातार तलाश कर रही थी।    रविवार सुबह गोविंद सिंह परिहार का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह खुद को भिंड में सुबह 5 बजे सरेंडर करने की बात कह रहा था। इस बीच ग्वालियर एसटीएफ चीफ विपिन माहेश्वरी ने स्थानीय पुलिस की मदद से गोविंद सिंह को भिंड बस स्टैंड से गिरफ्तार करने का दावा किया। दमोह एसपी हेमंत चौहान ने की आरोपित गोविंद सिंह के गिरफ्तार होने की पुष्टि की। एसपी चौहान ने बताया कि एसटीएफ की टीम गोविन्द सिंह को लेकर रविवार को दोपहर हटा पहुंची थी और यहां अदालत में पेश कर उन्हें जेल भेज दिया गया है।

Kolar News

Kolar News 28 March 2021

बालाघाट। मध्यप्रदेश शासन के पूर्व कृषि मंत्री एवं वर्तमान विधायक गौरीशंकर बिसेन ने रविवार को नगरीय क्षेत्र बालाघाट के वार्ड नंबर-33 में लगभग 900 मीटर लंबाई की 04 सीमेंट कांक्रीट रोड निर्माण के लिए भूमिपूजन किया। इन सीमेंट कांक्रीट सड़कों का निर्माण कार्य 38 लाख 59 हजार रुपये की लागत से किया जायेगा। इन सीमेंट कांक्रीट सड़क निर्माण के लिए विधायक बिसेन ने अपनी विधायक निधि से यह राशि मंजूर की है।   अवधपुरी-पंवार-ले-आउट में आयोजित भूमिपूजन कार्यक्रम में विधायक बिसेन ने कहा कि बालाघाट के वार्ड नंबर-33 अवधपुरी पंवार-ले-आउट एवं हरिओम नगर में सीमेंट-कांक्रीट सड़क निर्माण के लिए बहुत दिनों से मांग की जा रही थी। पक्की सड़क नहीं होने से यहां के लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता था। कालोनाईजर्स ने प्लाटिंग कर कालोनियां तो बना दी है, लेकिन कालोनाईजर्स एक्ट का पालन नहीं किया और कालोनी में अधोसंरचना विकास के कार्य नहीं किये। जिसके कारण कालोनियों के विकास का जिम्मा नगर पालिका के ऊपर आ गया है। अब जो भी कालोनाईजर्स कालोनी बनायें तो उसे कालोनाईजर्स एक्‍ट का पालन करना होगा और कालोनी में अधोसंरचना विकास कार्य करने के बाद ही प्लाट विक्रय करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि वार्ड नंबर-33 के लोगों की समस्या को देखते हुए विधायक निधि से लगभग 40 लाख रुपये की राशि सीमेंट-कांक्रीट की सड़क के लिए स्वीकृत की गई है और शीघ्र ही सीमेंट कांक्रीट की पक्की सड़क बनकर तैयार हो जायेगी। विधायक बिसेन ने सीमेंट-कांक्रीट सड़क निर्माण की एजेंसी से कहा कि वह सड़क का कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ समय सीमा में पूर्ण करायें।   बिसेन ने कहा कि प्रदेश सरकार नगरीय विकास पर भी विशेष ध्यान दे रही है। पॉलिटेक्निक कॉलेज रोड पर सेन चौक से जागपुर घाट तक एवं हनुमान चौक से रेल्वे स्टेशन तक डिवाईडर वाली चौड़ी सड़क निर्माण के लिए एक करोड़ 50 लाख रुपये की राशि शासन से प्राप्त हो चुकी है। प्रदेश सरकार के वर्ष 2021-22 के बजट में बालाघाट जिले को चार रेल्वे ओव्हर ब्रिज की सौगत मिली है। इसमें सरेखा रेल्वे क्रांसिंग, बैहर रोड, भटेरा रोड एवं वारासिवनी रोड पर वैनगंगा पुल के पहले रेल्वे क्रासिंग पर ओव्हर ब्रिज बनाना शामिल है। इसके साथ ही वैनगंगा नदी पर बालाघाट-जागपुर के बीच उच्च स्तरीय पुल निर्माण के लिए बजट में प्रावधान किया गया है।    विधायक बिसेन ने बताया कि मंडी बोर्ड से धपेरा-कुम्हारी के बीच वैनगंगा नदी पर पुल निर्माण के लिए पहले 20 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये थे। लेकिन इस वर्ष वैनगंगा में आई बाढ़ के कारण इस पुल की डिजाईन में संशोधन किया गया है। जिसके कारण पुल की लागत बढ़ गई है। मंड़ी बोर्ड से पुल की डिजाईन में संशोधन के बाद 10 करोड़ 06 लाख रुपये की राशि और स्वीकृत कर दी गई है।   विधायक निधि की राशि से वार्ड नंबर-33 अवधपुरी कालोनी में 281-281 मीटर लंबाई की सीमेंट-कांक्रीट दो सड़कें 09-09 लाख रुपये की लागत से बनायी जायेंगी। इसी प्रकार वार्ड नंबर-33 हरिओम नगर में 200 मीटर लंबाई की सड़क 06 लाख 36 हजार रुपये एवं 133 मीटर लंबाई की सड़क 04 लाख 25 हजार रुपये की लागत से बनायी जायेगी। कार्यक्रम में लता एलकर, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष अनिल धुवारे, मौसम हरिनखेड़े, सुरजीत सिंह ठाकुर, भूवन रहांगडाले, योगेश बिसेन, राजेश लिल्हारे, बिहारी पप्पू चौधरी, उमाशंकर ऊर्फ बब्लू बिसेन एवं वार्ड नंबर-33 के नागरिक उपस्थित रहे।

Kolar News

Kolar News 28 March 2021

भोपाल। विश्‍वास सिर्फ कार्यक्रमों, योजनाओं या सिर्फ भाषणों में ही नहीं जताया जाता, अपनी बात लेख के माध्‍यम से भी जन-जन तक सहजता के साथ पहुंचाई जा सकती है। कल तक मध्‍य प्रदेश में कांग्रेस के साथ रहे और हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होकर मंत्री बनाए गए विधायक गोविन्‍द सिंह राजपूत ने अब मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं उनके नेतृत्‍व में चल रही सरकार के कामों के समर्थन का एक नया तरीका अपनाया है। उन्‍होंने बैठकों और कार्यक्रमों के बाद अपनी ओर से लेख लिखकर भी जता दिया है कि मध्‍य प्रदेश में सीएम शिवराज की अगुआई में सरकार जनहित में इतना अधिक अच्‍छा कार्य एवं फैसले ले रही है कि उसे विश्‍वास का कहीं कोई खतरा नहीं। जनता खुश है।    गोविंद सिंह राजपूत ने अपने इस लेख में लिखा है कि मुख्यमंत्री जो स्वयं एक गाँव में जन्में और पले-बढ़े हैं, ने किसान को तकलीफों के  चक्रव्यूह से निकालने का मार्ग खोजा, जिससे पटवारी को भगवान समझने वाला किसान अब स्वयं को अन्नदाता महसूस करने लगा है। मुख्यमंत्रीजी की मंशा के अनुरूप राजस्व मंत्री के रूप में मैंने किसानों की समस्याओं के निराकरण के लिए राजस्व कार्यों में तकनीकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी के उपयोग से कभी भी और कहीं भी की तर्ज पर सुविधा उपलब्ध कराने की पहल की है। पिछले एक वर्ष में राजस्व सेवाओं को और अधिक सुगम एवं सहज बनाने एवं इन सेवाओं को किसानों और आम नागरिकों तक आसानी से पहुँचाने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी का राजस्व अभिलेखों के लिये अधिक से अधिक उपयोग किया गया है। इसका परिणाम यह है कि भू-अभिलेखों के कम्प्यूटरीकरण नेशनल काउंसिल फॉर अप्लाइड इकोनामिक रिसर्च की रिपोर्ट में पूरे भारत में मध्यप्रदेश ने प्रथम स्थान मिला है।   उन्‍होंने लिखा है कि आज की स्थिति में प्रदेश के समस्त 56 हजार 761 ग्रामों के लगभग एक करोड़ 51 लाख भूमि स्वामियों के 3 करोड़ 97 लाख खसरा नंबरों का इलेक्ट्रॉनिक डाटाबेस तैयार किया जा चुका है। भूमि-बंधक की प्रक्रिया को ऑन लाइन कर किसानों को आसानी से ऋण प्राप्त करने, ऑन लाइन डायवर्सन मॉडयूल द्वारा डायवर्सन की सुविधा दी गई है। साथ ही नामांतरण और बँटवारे की प्रक्रिया को भी एकदम सरल बना कर उसे कम्प्यूटरीकृत किया है।   इस लेख में श्री राजपूत ने यह भी बताया है कि अब नागरिक घर बैठकर कभी भी और कहीं भी की तर्ज पर अपनी भूमि के खसरे, नक्शे एवं बी 1 की कॉपी प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा एमपीऑनलाईन के 30 हजार से भी ज्यादा केन्‍द्र और लोक सेवा केन्द्रों से भी यह सेवा प्राप्त की जा सकती है। वहीं, मंत्री राजपूत लिखते हैं कि प्रदेश स्तर पर फसल का डाटा संकलित करने के साथ ही सारा एप से किसान अब अपनी फसल की जानकारी खुद दर्ज कर सकता है। फसल की क्षति की जानकारी, कृषि एवं उद्यानिकी की जानकारी एक ही स्थान पर एकत्र की जा रही है। वहीं, मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना में भी काम यहां बहुत प्रभारी रूप से हुआ है। पिछले वर्ष 22 सितंबर 2020 को प्रारंभ की गई इस योजना में वित्तीय वर्ष में दो समान किश्तों में प्रदेश के 57 लाख 50 हजार किसानों को एक हजार 150 करोड़ रूपये का भुगतान किया गया है।   स्वामित्व योजना में आबादी क्षेत्रों का सर्वे हो रहा है, अभी तक 2 हजार 800 गाँवों में आबादी सर्वे में 2 हजार गाँवों के नक्शे तैयार कर लिए गए हैं और 500 गाँवों के 38 हजार 473 भू-स्वामियों के अधिकार अभिलेख तैयार कर लिए गए हैं। जिसके बाद वे लोग भी बैंक लोन इत्‍यादि ले सकते हैं, जिनके घर तो है, लेकिन घर के कागज नहीं । इसी तरह से राजस्‍व मंत्री ने कोर्स नेटवर्क से सटीक सीमांकन की बात अपने लेख में की है।   अंत में प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री राजपूत लिखते हैं कि इस तरह प्रदेश में पिछले एक साल में मुख्यमंत्री चौहान की मंशा के अनुरूप किसानों और आम नागरिकों की समस्याओं के हल के लिये राजस्व विभाग के अधीन बहुआयामी कार्य किये गये हैं।

Kolar News

Kolar News 25 March 2021

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नरसिंहगढ़ (जिला राजगढ़) के पूर्व विधायक सिद्धूमल खिलवानी के निधन पर दु:ख व्यक्त किया है। श्री सिद्धूमल लोकतंत्र सेनानी भी रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने स्व. सिद्धूमल की आत्मा की शांति और उनके परिजन को यह दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना ईश्वर से की है।   उल्‍लेखनीय है कि स्‍व. सिद्धूमल खिलवानी नरसिंहगढ़ जनसंघ से दो बार लगातार विधायक रहे थे। उनकी अंतिम इच्‍छा थी कि वे अपना देह दान करें।  

Kolar News

Kolar News 25 March 2021

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास कैलाश सारंग ने बुधवार हमीदिया अस्पताल पहुंचकर कोविड सेंटर की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद उन्होंने गांधी मेडिकल कॉलेज में उच्च स्तरीय बैठक कर तमाम व्यवस्थाओं पर चर्चा की।   मंत्री सारंग ने कहा कि राज्य सरकार कोविड संक्रमण रोकने के लिये भरकस प्रयास कर रही है। साथ ही संक्रमित व्यक्ति के इलाज की पूरी व्यवस्था भी सरकार द्वारा की जा रही है। इस दौरान बताया गया कि अभी हमीदिया अस्पताल के कोविड सेंटर में 390 बिस्तर की व्यवस्था की गई है। साथ ही 120 बिस्तर की और व्यवस्था की जा रही है। आने वाले समय में 400 बिस्तरों की और व्यवस्था की जायेगी। अभी हमीदिया में केवल 94 मरीज भर्ती हैं।   मंत्री सारंग ने सभी से अपील की है कि मास्क पहने और स्वयं की और अपने परिवार की सुरक्षा करें। उन्होंने कहा कि इसके लिये व्यापक रूप से जन-जागरूकता जरूरी है। लोगों को खुद आगे बढ़कर जागरूक होना होगा। उन्‍होंने बताया कि वेक्सीनेशन का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग का भी वेक्सीनेशन शुरू हो जायेगा। प्रदेश में अभी तक लगभग 26 लाख डोज लगाये जा चुके है।   सारंग ने कहा कि डाक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टॉफ लगातार जनसेवा के इस कार्य में लगे है। उन्हें प्रोत्साहित करने की जरूरत है। मरिजों की देख-रेख के लिये स्टॉफ एवं डॉक्टर्स की रोस्टर वाइज ड़यूटी लगाई जाये। टीम भावना के साथ डॉक्टर्स काम करें। विभाग के एच.ओ.डी. भी इस सेवा कार्य मे अपना सहयोग दें।   बैठक में अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान, संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत, आयुक्त चिकित्सा शिक्षा निशांत बडबड़े, डीन डॉ. अरूणा कुमार, अधीक्षक डॉ. आई.डी. चौरासिया डॉ. लोकेन्द्र दबे सहित अन्य डॉक्टर्स एवं वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।   टी.बी. अस्पताल की व्यवस्थाओं को देखा मंत्री सारंग हमीदिया अस्पताल के बाद टी.बी. अस्पताल पहुंचे। सारंग ने यहाँ कोविड के लिये तैयार सेंटर को देखा। साथ ही उन्होंने टी.बी. अस्पताल नई ओ.पी.डी. का लोकर्पण भी किया।

Kolar News

Kolar News 24 March 2021

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मीडिया महासचिव के.के.मिश्रा ने कोरोना संक्रमण को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न प्रायोजित अभियानों को ‘छपास रोग’ से ग्रसित बताते हुए कहा कि जब पूरी सरकार ही इस ‘छपास रोग’ से मुक्ति नहीं पाना चाहती है, तो कोरोना संक्रमण से मुक्ति कैसे मिलेगी?   के के मिश्रा ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि इस संक्रमण से लड़ाई दृढ़-संकल्पों से ही लड़ी जा सकती है, किंतु जब सत्ता में बैठे जवाबदार लोग ही जनसमुदाय के बीच घुसकर गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाएं, फोटो खिंचवाने के कभी न थमने वाले शौक को पूरा करने के लिए खुद संक्रमण परोसें, तब क्या होगा यह बेहद चिंतनीय है? उन्होंने यह भी कहा कि अपनी खरीदी हुई सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर मुख्यमंत्री को उज्जैन महाकाल के दर्शन करने जाना था, उनकी धार्मिक आस्थाओं पर काँग्रेस को कोई भी आपत्ति नहीं है, किंतु उसके पूर्व उन्होंने इंदौर के पलासिया स्थित व्यस्ततम इलाके 56 मार्केट में सार्वजनिक मंच लगवाया, प्रायोजित कार्यक्रम के तहत सैकड़ों की संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ इक_ी कर कोरोना संक्रमण परोसने का राजनैतिक अभियान चलाया, जो घोर आपत्तिजनक और गंभीर चिंता का विषय है। मिश्रा ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे ‘छपास रोग’ से इतर इस विषयक सरकार की दृढ़ इच्छाशक्ति को सार्वजनिक करें तो बेहतर होगा।

Kolar News

Kolar News 24 March 2021

भोपाल। आज यानि सोमवार को विश्व जल दिवस है। हर वर्ष 22 मार्च को यह दिवस मनाया जाता है। ब्राजील में रियो डी जेनेरियो में वर्ष 1992 में आयोजित पर्यावरण तथा विकास का संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में विश्व जल दिवस मनाने की पहल की गई। इस कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों के बीच में जल संरक्षण का महत्व, साफ पीने योग्य जल का महत्व आदि बताना था। विश्व जल दिवस पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी जनता से जल संरक्षण की अपील की है।     मुख्यमंत्री शिवराज ने विश्व जल दिवस पर ट्वीट कर पानी की महत्ता बताते हुए इसे संरक्षित करने का संकल्प लेने का आग्रह किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून! जल संरक्षण हमारा दायित्व ही नहीं, कर्तव्य भी है। जल की हर बूंद में जीवन है। जल बचेगा, तो जीवन बचेगा और हमारी भावी पीढिय़ां अधिक खुशहाल व समृद्ध होंगी। आइये, #WorldWaterDay पर जल रूपी जीवन को बचाने का संकल्प लें और प्राण-प्रण से प्रयास करें।   भाजपा महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर कहा ‘विश्व जल दिवस' पर आईए, जल की एक-एक बूंद बचाने और जल संरक्षण के प्रति जागरूकता बढ़ाने का संकल्प लें!  

Kolar News

Kolar News 22 March 2021

भोपाल। 'विश्व जल दिवस' के अवसर पर 'केन-बेतवा सम्पर्क परियोजना के लिए आज मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश के बीच हुए मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट  पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं खजुराहो सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने प्रसन्नता व्यक्त की है। आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के प्रति आभार भी प्रेषित किया। इसके साथ ही शर्मा ने कहा कि यह परियोजना बुंदेलखंड क्षेत्र को सूखा मुक्त बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। दूसरे अर्थों में यह बुंदेलखंड में प्रगति की नई सुबह लेकर आएगी। उन्होंने कहा कि खजुराहो सांसद होने के नाते मेरे द्वारा 9 जुलाई 2019 को इस मुद्दे को लोकसभा में उठाया गया था और विभाग के मंत्रियों को भी इस संबंध में पत्र लिखे गए थे।प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि 'केन-बेतवा सम्पर्क परियोजना' समझौते से आज श्रद्धेय स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के उस सपने को भी पूरा करने की शुरुआत हो रही है, जो उन्होंने नदियों को आपस में जोड़ने के लिये देखा था। उन्होंने कहा कि केन नदी का उद्गम स्थान कटनी से है, जो कि मेरे संसदीय क्षेत्र में आता है। इस नदी पर बरियारपुर डैम है जो कि पन्ना जिले में आता है। इस डैम के बारे में 1977 में  मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश सरकार के बीच जल बंटवारे को लेकर एक समझौता हुआ था, लेकिन उत्तरप्रदेश सिंचाई विभाग का स्वामित्व होने के कारण मध्यप्रदेश को इस बांध से निकलने वाली नहर का पानी नहीं मिल पा रहा था। इस कारण आज भी पन्ना और छतरपुर जिले के सैकड़ों गांवों में पीने के पानी और सिंचाई की समस्या हो रही है।शर्मा ने कहा कि केन-बेतवा सम्पर्क परियोजना की महत्ता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इससे सिंचाई, पेयजल आपूर्ति और बिजली निर्माण जैसे कई उद्देश्यों की पूर्ति हो सकेगी। इसके साथ ही इस परियोजना से मप्र के पन्ना, टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, दमोह, विदिशा, शिवपुरी रायसेन एवं दतिया तथा उत्तरप्रदेश के बांदा, महोबा, झांसी एवं ललितपुर जैसे सूखाग्रस्त जिलों को बहुत लाभ होने वाला है। आज हुए समझौते पर शर्मा ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, जल शक्ति राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया के प्रति भी आभार प्रकट किया है और क्षेत्र की जनता को बधाई दी है।

Kolar News

Kolar News 22 March 2021

भोपाल। ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी पर विश्व के सबसे बड़े फ्लोटिंग सोलर प्लांट का निर्माण किया जा रहा है। करीब 3000 करोड़ रुपये की लागत से 600 मेगावाट क्षमता का यह सोलर फ्लोटिंग प्लांट नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा तैयार किया जा रहा है।   आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट के लिए प्रदेश के नवीन, नवकरणीय ऊर्जा एवं पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग सोमवार को तेलंगाना में हैदराबाद के समीप रामागुंडम में स्थित फ्लोटिंग सोलर प्लांट का अवलोकन करने पहुंचे। रामागुंडम में एनटीपीसी द्वारा स्थापित यह देश का सबसे बड़ा सोलर फ्लोटिंग प्लांट है। डंग ने प्लांट से संबंधित सभी आयामों की विस्तृत जानकारी ली, इस मौके पर उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक कर प्लांट की विस्तृत जानकारी ली और स्थल अवलोकन कर प्लांट की कार्यप्रणाली को समझा।   मध्य प्रदेश में नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी पर फ्लोटिंग सोलर प्लांट का निर्माण किया जा रहा है। करीब 3000 करोड रुपये की लागत से 600 मेगावाट क्षमता का यह  प्लांट विश्व का सबसे बड़ा सोलर फ्लोटिंग प्लांट होगा। उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की परिकल्पना को साकार करने में नवीन, नवकरणीय ऊर्जा विभाग अग्रसर है और सौर ऊर्जा प्लांट के माध्यम से इस दिशा में बड़े कार्य किए जा रहे हैं।

Kolar News

Kolar News 22 March 2021

भोपाल। आज विश्व डाउन सिंड्रोम दिवस मनाया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने दिसम्बर 2011 में डाउन सिंड्रोम के बारे में लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए 21 मार्च को विश्व डाउन सिंड्रोम दिवस के रूप में घोषित किया था। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विश्व डाउन सिंड्रोम दिवस पर इस बीमारी पीडि़त बच्चों पर स्नेह लुटाने की सलाह दी है।    मुख्यमंत्री ने रविवार को ट्वीट करते हुए कहा है कि -‘डाउन सिंड्रोम से पीडि़त बच्चों को अधिक देखभाल, प्रेम और स्नेह की आवश्यकता होती है। घर में या आस-पास के सभी ऐसे बच्चों पर अपना अधिक स्नेह लुटाइये, इन्हें बेहतर जीवन जीने में मदद कीजिये। इनकी निश्छल मुस्कान आपके जीवन को आनंद के एक नये प्रकाश से आलोकित कर देगी।’   उल्लेखनीय है कि डाउन सिंड्रोम एक आनुवांशिक विकार है जो असामान्य कोशिका विभाजन के कारण गुणसूत्र 21 से अतिरिक्त आनुवांशिक सामग्री की वजह से होता है। डाउन सिंड्रोम वाले चेहरे की पहचान स्पष्ट रूप से आसानी हो जाती है, इसके कारण बुद्धि कमजोर होती है, विकास देर से होता है और इसके साथ थाइरॉइड या दिल का रोग भी हो सकता है।

Kolar News

Kolar News 21 March 2021

भोपाल। केन्द्र सरकार द्वारा पारित तीन नये कृषि कानूनों की वापसी और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानून बनाये जाने की मांग को लेकर पिछले चार महीने से देशभर में चल रहे किसान आंदोलन के आव्हान पर 26 मार्च को होने वाले भारत बंद का वामपंथी धर्मनिरपेक्ष दलों ने समर्थन किया है।   मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव अरविंद श्रीवास्तव, सीपीआई(एमएल) की केंद्रीय कमेटी के सदस्य देवेंद्र सिंह चौहान, समानता दल के प्रदेशाध्यक्ष इंजी. महेश सिंह कुशवाह, लोकतांत्रिक जनता दल के प्रदेशाध्यक्ष दिलीप सिंह पटेल ने शुक्रवार को जारी संयुक्त बयान में कहा है कि देश की कृषि को कारपोरेट के हवाले करने और किसानों को उनकी ही जमीनों से बेदखल करने के साथ ही देश की अन्न सुरक्षा को खतरे में डालने वाले इन कानूनों का देश भर में विरोध हो रहा है। संसद में भी जिन राजनीतिक दलों ने पहले इन कानूनों का समर्थन किया था, वे अब इन्हें वापस लेने की मांग कर रहे हैं। इन दलों की ओर से कहा गया है कि यह कानून सिर्फ किसानों और कृषि के ही खिलाफ नहीं हैं, बल्कि गरीब की रोटी को भी कारपोरेट की तिजोरी में बंद कर देने की साजिश का हिस्सा हैं। गरीब के मुंह के निवाले को छीनने वाले इन कानूनों का देश का हर तबका विरोध कर रहा है।   वामपंथी धर्मनिरपेक्ष दलों ने कहा है कि नरेंद्र मोदी सरकार की निजीकरण की नीतियों का अब तो मुखर विरोध हो रहा है। बैंकों की दो दिवसीय सफल हड़ताल के बाद बीमा क्षेत्र की सफल हड़ताल ने भी संघर्षरत किसानों की आवाज में आवाज मिलाई है। वामपंथी धर्मनिरपेक्ष दलों ने देश के साथ ही मध्यप्रदेश में भी 26 मार्च के भारत बंद को सफल बनाने की अपील की है। उल्लेखनीय है कि 26 नवम्बर को शुरू हुए शांतिपूर्ण किसान आंदोलन को 26 मार्च को पूरे चार माह हो रहे हैं।

Kolar News

Kolar News 19 March 2021

भोपाल। छतरपुर जिले के घुवारा ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष इंद्र प्रताप सिंह की गोली मारकर हत्या किए जाने की दुखद घटना पर मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने एक जांच दल घटनास्थल पर भेजने का निर्णय लिया गया है, जो मौके पर जाकर संबंधित पक्षों से चर्चा कर अपनी रिपोर्ट मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सौंपेगा।   प्रदेश कांग्रेस द्वारा जांच दल में पूर्व मंत्री हर्ष यादव, पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर, पूर्व मंत्री यादवेंद्र सिंह, विधायक आलोक चतुर्वेदी, विधायक नीरज दीक्षित, विधायक विक्रम सिंह ‘‘नातीराजा और किरण अहिरवार को शामिल किया गया है।  

Kolar News

Kolar News 18 March 2021

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी की प्रेरणा का केन्द्र बिन्दु भारत है। समाज के हर व्यक्ति को आगे बढ़ाना और अंतिम व्यक्ति को मुख्य धारा से जोड़ना ही भारतीय जनता पार्टी का लक्ष्य रहा है। यह बात भाजपा प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद जी ने सोमवार को भाजपा किसान मोर्चा के पदाधिकारियों की बैठक में कही। बैठक को किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष दर्शनसिंह चौधरी एवं प्रदेश महामंत्री रणवीर सिंह रावत ने भी संबोधित किया।   किसान मोर्चा पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए हितानंद जी ने कहा कि भाजपा किसान मोर्चा संगठन का महत्वपूर्ण मोर्चा है। केन्द्र और प्रदेश सरकार की प्राथमिकता में गांव और किसान हैं। इस दृष्टि से मोर्चा अपने संगठन का विस्तार बूथ स्तर तक करे। मोर्चा कृषि व उससे जुडे क्षेत्रों में नवाचार करने वाले किसानों और लोगों को पार्टी से जोड़े। केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं का लाभ किसानों तक पहुंचाए। उन्होंने संगठन की दृष्टि से अधिक से अधिक प्रवास करने,  कार्यकर्ताओं की चिंता करने  तथा  संगठन तंत्र की मजबूती के लिए काम करने की सलाह दी।बैठक में पार्टी के प्रदेश महामंत्री रणवीर सिंह रावत ने किसान मोर्चा को और अधिक संगठनात्मक ताकत देने की सलाह दी। वहीं, मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष दर्शन सिंह चौधरी ने कहा कि कार्यकर्ता इस तरह से कार्य करें कि किसान मोर्चा की ताकत से मूल संगठन को अधिक से अधिक लाभ मिले। बैठक का संचालन मोर्चा के महामंत्री विनोद सिंह जादौन ने किया एवं आभार मोर्चा के कोषाध्यक्ष देवेन्द्रनाथ चतुर्वेदी ने माना।

Kolar News

Kolar News 15 March 2021