Video

Advertisement


केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा अयोध्या से जोड़ी जाएगी पवित्र नगरी ओरछा
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा अयोध्या से जोड़ी जाएगी पवित्र नगरी ओरछा

केन्द्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि बुन्देलखण्ड की धरती विशेषकर ओरछा में रामलला सरकार की भूमि पर आम लोगों के आवागमन से जुड़े बुनियादी कार्य को करने का सौभाग्य मिला है। उन्होंने कहा कि जैसे अयोध्या को जनकपुर से जोड़ा जा रहा है, वैसे ही पवित्र नगरी ओरछा को भी अयोध्या से जोड़ा जाएगा, इसकी कार्य-योजना बना रहे है। केन्द्रीय मंत्री गडकरी आज निवाड़ी जिले के ओरछा में 6800 करोड़ रूपये की लागत से 18 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि जैसे अयोध्या में 84 कोसी परिक्रमा पद-पथ का निर्माण किया जा रहा है। उसी तर्ज पर ओरछा एवं आसपास के क्षेत्रों को जोड़ते हुये श्रीराम पद-पथ का निर्माण किया जाये। इसमें श्रीराम के जीवन वृतान्त से जुड़ी बातों की कार्य-योजना का समावेश हो। जैसे अयोध्या का वर्णन पुराणों में मिलता है, उसी तर्ज पर श्रीराम से जुड़े संदर्भ एवं वॉल पेंटिंग आदि से जुड़ी बातों को जोड़ कर कार्य-योजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि पीताम्बरा पीठ दतिया-झांसी-ओरछा सर्किट के निर्माण का रोडमेप तैयार करें। ओरछा के बस स्टैण्ड को आधुनिक बनाने के साथ सौन्दर्यीकरण टूरिज्म की दृष्टि से विकसित करने के लिये प्रस्ताव दें।

 

केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि मध्यप्रदेश और बुन्देलखण्ड की सड़क अधो-संरचना को वर्ष 2024 तक अमेरिका के समतुल्य पहुँचा देंगे। गडकरी ने राज्य सरकार के लगभग एक हजार करोड़ रूपये लागत के सड़क एवं पुलियाओं के निर्माण के प्रस्ताव को स्वीकृत प्रदान की। उन्होंने कहा कि फोरलेन मार्ग के निर्माण होने पर भोपाल से कानपुर तक का सफर केवल 7-8 घण्टे में पूरा किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि राम हमारे रोम-रोम में बसे है। हमारा अस्तित्व और प्राण भी राम है। श्रीराम भारत की पहचान हैं। भगवान श्रीराम और तुलसीदास बच्चों की पुस्तकों में पढ़ाये जायेंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि उज्जैन में महाकाल महालोक की तर्ज पर ओरछा में रामराजा लोक और चित्रकूट में वनवासी रामलोक का निर्माण किया जायेगा। साथ ही राज्य सरकार राम-वन-गमन पथ पर भी काम करेगी। ओरछा को अयोध्या से जोड़ा जायेगा। केन्द्रीय मंत्री गडकरी द्वारा मध्यप्रदेश को जो सहयोग दिया जा रहा है, उससे हम प्रदेश के सभी बस स्टैंड को आकर्षक और पर्यटन की दृष्टि से विकसित करेंगे। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री गडकरी के परामर्श पर ओरछा में आधुनिक बस स्टैंड के निर्माण के लिये यथाशीघ्र भूमि उपलब्ध कराने की घोषणा की।

 

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अद्भुत नेतृत्व में मध्यप्रदेश ही नहीं, देश को जोड़ने का काम हो रहा है। यह कार्य केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी सड़कों का जाल बिछाकर कर रहे हैं। गडकरी आज बुंदेलखंड सहित मध्यप्रदेश को 6800 करोड़ रूपये की लागत वाली 550 किमी लंबी 18 सड़क परियोजनाओं की सौगात देने आये हैं। इतना ही नहीं गडकरी ने उज्जैन में महाकाल बाबा के दर्शन के लिये रेलवे स्टेशन से रोप-वे का निर्माण करवा कर श्रद्धालुओं की यात्राओं को सुगम बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार के आहवान पर गडकरी अब तारामाई के दर्शन के लिये भी रोप-वे का निर्माण करायेंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को विकास में अग्रणी बनाने के लिये केन्द्र सरकार से पूरा सहयोग मिल रहा है। आज का दिन, बुंदेलखंड क्षेत्र के लिये अद्भुत दिन है, क्योंकि हमारे प्रिय गडकरी जी अनेक सड़कों की सौगाते लेकर आये हैं। मध्यप्रदेश के विकास के लिये हमने उनसे जो मांगा, उन्होंने उसकी पूर्ति तत्काल की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अकेले बुंदेलखंड क्षेत्र में ही 44 हजार करोड़ रूपये की सड़कें बन रही हैं। इस क्षेत्र को केन-बेतवा परियोजना की सौगात भी मिल चुकी है। इस परियोजना से शीघ्र ही बुंदेलखंड के खेतों की प्यास बुझेगी और यह क्षेत्र उत्पादन में पंजाब-हरियाणा को भी पीछे छोड़ देगा।

 

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में डबल इंजन की सरकार चल रही है। शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, राशन, पेयजल, आवास के साथ अन्य बुनियादी सुविधाएँ आमजन को उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही अधो-संरचना का कार्य भी व्यापक स्तर पर किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 2 माह में निवाड़ी जिले के घर-घर नल से जल उपलब्ध करवा दिया जायेगा। केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने कहा कि देश-प्रदेश और बुन्देलखंड के लिये सौगात का दिन है। एक दिन में ही इतनी राष्ट्रीय मार्ग परियोजनाएँ मिली हैं। साथ ही जामनी-बेतवा नदी पर पुल बन जाने से लोगों की बरसों पुरानी मांग पूरी हुई है। केन्द्रीय जल शक्ति राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहा कि पहले बुंदेलखंड की चर्चा होती थी तो पलायन और भुखमरी की बात होती थी। लेकिन जितनी विरासत बुंदेलखंड में है उतनी देश के किसी हिस्से में नहीं है। शायद कोई छल हमारे साथ हुआ था जो अब समाप्त हो गया। आज हम विकास के मार्ग पर हैं। खजुराहो सांसद व्ही.डी. शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सड़कों का नेटवर्क सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुँचा है, जिसका परिणाम है कि प्रदेश के लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधा मिलने के साथ ही प्रदेश के विकास को भी गति मिली है।

 

लोक निर्माण एवं निवाड़ी जिले के प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव ने कार्यक्रम में स्वागत भाषण दिया। उन्होंने बताया कि वर्ष 2014 के बाद प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग की सड़कें तेजी से बनी हैं। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री गड़करी से सेतुबन्ध योजना में 23 में से शेष रहे 8 फ्लाईओवर स्वीकृत करने की मांग रखी। बेतवा नदी पर ओरछा से टीकमगढ़ मार्ग पर 25 करोड़ रूपये की लागत वाले उच्च स्तरीय पुल का लोकार्पण हुआ। मोहारी से सतई घाट (खण्ड-2) के 4 लेन चौड़ीकरण का निर्माण कार्य NH-934, लम्बाई 40 कि.मी. लागत 711 करोड़ रूपये, सतई घाट से चौका खण्ड के 4 लेन चौड़ीकरण का निर्माण कार्य NH-934 लम्बाई 56 कि.मी. लागत 1071 करोड़ रूपये, दमोह से शाहगढ़ तक पेव्ड शोल्डर के साथ 2 लेन सड़क का निर्माण कार्य MH-539 लम्बाई 74 कि.मी. लागत 708 करोड़ रूपये, टीकमगढ़ से ओरछा तक पेव्ड शोल्डर के साथ 2 लेन सड़क का निर्माण कार्य NH-539 लम्बाई 79 कि.मी. लागत 741 करोड़ रूपये, कैथी पढ़रिया कला बायपास, पटना-तमौली बायपास, जस्सो बायपास व नागौद बायपास पर पेव्ड शोल्डर के साथ 2 लेन बायपास मार्ग का निर्माण NH-943 लंबाई 15 किमी लागत 158 करोड़ रूपये, पेव्ड शोल्डर के साथ 2 लेन हरपालपुर बायपास का निर्माण कार्य NH 339 लम्बाई 10 कि.मी. लागत 114 करोड़ रूपये, राष्ट्रीय राजमार्ग 39 से सकरिया ककरहटी-गुनोर-डिघौरा से NH 943 तक मार्ग उन्नयन कार्य लम्बाई 29 कि.मी. लागत 67 करोड़ रूपये, गढ़ाकोटा में सागर-दमोह रोड पर फ्लायओवर का निर्माण लम्बाई 620 मी. लागत 38 करोड़ रूपये, मदिवादो रजपुरा रोड का निर्माण कार्य लम्बाई 25 कि.मी. लागत 40 करोड़ रूपये, सागर लिंक रोड (बरखेड़ी से गढ़पहरा) 4 लेन ग्रीनफील्ड बायपास का निर्माण कार्य NH-146 लम्बाई 28 कि.मी. लागत 525 करोड़ रूपये, चौका से म.प्र. / उ.प्र. सीमा खण्ड के 4 लेन चौड़ीकरण का निर्माण कार्य NH-934 लम्बाई 44 कि.मी. लागत 982 करोड़ रूपये, शाहगढ़ से टीकमगढ़ तक पेव्ड शोल्डर के साथ 2 लेन सड़क का निर्माण कार्य NH-539 लम्बाई 80 कि.मी. लागत 761 करोड रूपये, NH-44 बनगॉय खास से NH-39 ओरछा तिगैला तक झाँसी एवं ओरछा बायपास 4 लेन कनेक्टिविटी सड़क का निर्माण लम्बाई 18 कि.मी. लागत 520 करोड़ रूपये, पवई के चंदिया घाट तक पेव्ड शोल्डर के साथ 2 लेन पवई बायपास मार्ग का निर्माण कार्य NH-43 Extn लम्बाई 12 कि.मी. लागत 146 करोड़ रूपये, पन्ना-पहाड़ी खेरा सड़क का उन्नयन कार्य लम्बाई 39 कि.मी. लागत 82 करोड़ रूपये, छतरपुर सिटी में आकाशवाणी तिराहा से महोबा रोड तक फ्लाईओवर का निर्माण लम्बाई 760 मी लागत 65 करोड़ रूपये और सागर सिटी में सिविल लाइन से मकरोनिया रोड तक फ्लायओवर का निर्माण लम्बाई 520 मीटर लागत 45 करोड़ रूपये का शिलान्यास किया गया।

Kolar News 24 January 2023

Comments

Be First To Comment....

Page Views

  • Last day : 8796
  • Last 7 days : 47106
  • Last 30 days : 63782
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2023 Kolar News.